उत्तराखंड प्रवासी यात्रा पंजीकरण: Parvasi Yatra dsclservices.org.in Apply Online

उत्तराखंड प्रवासी यात्रा पंजीकरण | Uttarakhand Migrant Workers Registration at dsclservices.org.in | प्रवासी श्रमिक ऑनलाइन आवेदन फार्म |  COVID-19 उत्तराखंड प्रवासी यात्रा ऑनलाइन आवेदन 

दोस्तों आज हम आपको उत्तराखंड प्रवासी यात्रा पंजीकरण के बारे में बता रहे हैं जैसे कि सब लोग जानते ही हैं पिछले 40 दिन से कोरोना वायरस के चलते देश में लाॅक डाउन लगा हुआ है। इसी की वजह से बहुत से प्रवासी मजदूर, लोग, और छात्र विभिन्न राज्यों में फंसे हुए हैं। उन्हें  बहुत सी परेशानियों का सामना भी करना पड़ रहा है। इस बात को ध्यान में रखते हुए उत्तराखंड राज्य सरकार ने अपने मजदूरों और अन्य लोगों को अपने राज्य वापस बुलाने के लिए एक ऑनलाइन पोर्टल शुरू किया है। जिसका नाम, “रजिस्ट्रेशन ऑफ माइग्रेंट्स एंड अदर्स फॉर ट्रैवलिंग टू उत्तराखंड” है। इस पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराकर देश के विभिन्न राज्यों से मजदूरों और लोगों को जो लोक डाउन में फंसे हुए हैं वापस आ सकते हैं।

Uttarakhand Migrant Workers Registration

इस योजना के अंतर्गत केवल उत्तरखंड के मजदूरों , अन्य लोगो , और छात्रों को ही पात्र माना जायेगा | जैसे की आप सभी लोग जानते है की कोरोना वायरस की वजह से सरकार ने सभी लोगो के आवाजाही पर भी रोक लगा दी थी। जिस कारण जो लोग अपने राज्य से दूसरे राज्य में कार्य करने गए थे वे वही फंस गए | राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी दूसरे राज्य में फसे हुए है और वह अपने घर वापस जाना चाहते है तो वह सबसे पहले ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते है |  प्रवासी मजदूर अपने राज्य कोरोना टेस्ट करवाने  के बाद  ही जा पाएंगे । प्रवासी को घर जाते ही १४    दिन क्वारंटीन किया जायेगा । आइये हम आपको बतायेगे की आप किस प्रकार ऑनलाइन आवेदन कर सकते है | 

मुख्य विशेषता उत्तराखंड प्रवासी यात्रा पंजीकरण

पंजीकरण का नाम उत्तराखंड प्रवासी यात्रा पंजीकरण
घोषणा मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत
आरम्भ तिथि 30 अप्रैल 2020
उद्देश्य प्रवासी लोगो को उत्तराखंड वापस लाना
आवेदन ऑनलाइन पोर्टल द्वारा
ऑफिशियल वेबसाइट https://dsclservices.org.in/uttarakhand-migrant-registration.php

प्रवासी यात्रा पंजीकरण के लिए जरूरी कागजात  ( पात्रता ) 

  • आवेदक उत्तराखंड का स्थायी निवासी होना चाहिए | 
  • आवेदक का नाम 
  • आधार कार्ड
  • उम्मीदवार का मूल पता प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • परिवार में सदस्यों की संख्या
  • जिसे राज्य में  फंसे है वहां का पता

Migrant Workers Registration

उत्तराखंड सरकार द्वारा प्रवासी नागरिको के लिए गाइड लाइन

  • प्रवासी मजदूरों और नागरिकों को सबसे पहले ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना पड़ेगा।
  • रजिस्ट्रेशन कराने के लिए आधार कार्ड नंबर का होना अनिवार्य है।
  • कोरोनावायरस लाॅक डाउन के कारण कोई भी व्यक्ति अपनी मर्जी से अपने घर नहीं जा सकता।
  • रजिस्ट्रेशन हो जाने के बाद आवेदक के मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा।
  • अपने घर वापस जब ही जा सकेंगे जब उत्तराखंड सरकार निर्णय लेगी।
  • प्रवासी मजदूरों और व्यक्तियों को घर वापस आते ही 14 दिन क्वारंटीन में रखा जाएगा।
  • इसके अलावा उनका कोरोना टेस्ट भी करवाया जा सकता है।

Lockdown Movement Pass

उत्तराखंड प्रवासी यात्रा पंजीकरण- dsclservices.org.in Apply Online

उत्तराखंड प्रवासी यात्रा पंजीकरण
  • इस लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने इस वेबसाइट का होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको “प्रवासी यात्रा हेतु पंजीकरण कोविड-19” का ऑप्शन दिखाई देगा इस पर आपको क्लिक करना है।
  • इस पर क्लिक करते ही आपके सामने एक आवेदन फॉर्म खुलकर आएगा।

इसके बाद आपको अपने से संबंधित जानकारी भरनी होगी जिन्हें हम आपको स्टेप बाय स्टेप समझा रहे हैं

पर्सनल जानकारी

पर्सनल जानकारी भरने के लिए आपको निम्नलिखित स्टेप्स को फॉलो करना पड़ेगा।

  • आवेदक का नाम 
  • जिस राज्य में फंसे हुए हैं वहां का पता 
  • कोरोना के लक्षण है या नहीं यह बताना होगा 
  • कैटेगरी को सेलेक्ट करना होगा 
  • आवेदक की आयु 
  • आवेदक का लिंग 
  • रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर 
  • आधार कार्ड नंबर 
  • सत्यापन करने की सहमति 
  • मोबाइल आरोग्य सेतु ऐप में स्टेटस

आप जिस राज्य में रह रहे हैं वहां की जानकारी

  • राज्य का नाम
  • जिला का नाम
  • शहर का नाम
  • परिवार के सदस्यो की संख्या जो आपके साथ उत्तराखंड आना चाहते है। 
  • यात्रा का तरीका

उत्तराखंड का पता जहां आप रहते हैं

  • जिले का नाम 
  • तहसील का नाम 
  • शहर का नाम
  • गांव का नाम 
  • उत्तराखंड में रहने वाले किसी रिश्तेदार या दोस्त का नाम और मोबाइल नंबर

घोषणा पर टिक का निशान लगाएं 

  • मैं घोषणा करता हूँ की मेरे द्वारा प्रदान की गयी जानकारी सही है और मेरे ज्ञान में है।  
  • मुझे पता है जब मैं यात्रा के बाद उत्तराखंड वापस आऊंगा तो मुझे अनिवार्य १४ दिनों के लिए क्वारिनटिन से गुजरना पड़ सकता है।  
  • यदि मेरे द्वारा दी गयी जानकारी गलत पायी जाती है तो महामारी अधिनियम या आपदा प्रबंधन में कार्यवाही की जा सकती है। 
  • इस घोषणा पर आपको टिक का निशान लगाना होगा।
  • इसके बाद आपको आवेदन फॉर्म में सभी जानकारी सही तरीके से भरनी होगी और उसके बाद सबमिट बटन पर क्लिक करना है।

इसके बाद आपके मोबाइल नंबर पर एक मैसेज आएगा इसमें आपको बता दिया जाएगा कि आप का रजिस्ट्रेशन हो गया है इसके बाद आपको परिवहन विभाग के फोन का इंतजार करना पड़ेगा। जैसे ही बस का इंतजाम होगा आपको सूचित कर दिया जाएगा।

Leave a Comment