यूपी शिशु हितलाभ योजना 2022: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, पात्रता व लाभ

UP Shishu Hitlabh Yojana ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करे और एप्लीकेशन फॉर्म कैसे भरे एवं यूपी शिशु हितलाभ योजना पात्रता व लाभ की जाँच करे | जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा श्रमिकों के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाओं का संचालन किया जाता है। जिससे कि उनके जीवन स्तर में सुधार किया जा सके। हाल ही में उत्तर प्रदेश सरकार ने यूपी शिशु हितलाभ योजना का शुभारंभ किया है। इस योजना के माध्यम से श्रमिकों के नवजात शिशु के लिए पौष्टिक आहार की व्यवस्था की जाएगी। इस लेख के माध्यम से आपको UP Shishu Hitlabh Yojana का पूरा ब्यौरा प्रदान किया जाएगा। आप इस लेख को पढ़कर यूपी शिशु हितलाभ योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकेंगे। इसके अलावा आपको इस योजना की पात्रता से संबंधित जानकारी भी प्रदान की जाएगी। तो आइए जानते हैं कि कैसे यूपी शिशु हित लाभ योजना 2022 का लाभ प्राप्त करें।

UP Shishu Hitlabh Yojana

UP Shishu Hitlabh Yojana 2022

यूपी शिशु हितलाभ योजना उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा launch किया गया है। इस योजना के माध्यम से भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण board के अंतर्गत पंजीकृत श्रमिकों के नवजात शिशु के लिए पौष्टिक आहार की व्यवस्था की जाएगी। यह व्यवस्था बच्चे की 2 वर्ष की आयु पूर्ण होने तक के लिए की जाएगी। इस योजना का लाभ सभी registered कर्मकारों के अधिकतम दो बच्चों को प्रदान किया जाएगा। सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत लड़का होने पर ₹10000 एवं लड़की होने पर ₹12000 प्रति शिशु की दर से वर्ष में एक बार एकमुश्त राशि प्रदान की जाएगी।

इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए beneficiary या उनके परिवार का कोई भी सदस्य प्रसव के 1 year के भीतर निकटतम श्रम विभाग या संबंधित तहसील के तहसीलदार या संबंधित विकास खंड कार्यालय के पास application form जमा कर सकता है। दूसरे वर्ष में UP Shishu Hitlabh Yojana का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी द्वारा इस बात का प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा कि संबंधित शिशु जीवित है।

यूपी शिशु हितलाभ योजना का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य श्रमिकों के बच्चों के लिए पौष्टिक आहार की उपलब्धता सुनिश्चित करना है। इस योजना के माध्यम से बच्चे की 2 वर्ष की आयु होने तक सरकार द्वारा बच्चे के पौष्टिक आहार के लिए financial assistance प्रदान की जाएगी। यह financial assistance लड़का होने की स्थिति में ₹10000 की एवं लड़की होने की स्थिति में ₹12000 की होगी। UP Shishu Hitlabh Yojana के संचालन से प्रदेश के श्रमिकों के जीवन स्तर में सुधार आएगा। इसके अलावा वह सशक्त एवं आत्मनिर्भर भी बनेंगे। अब प्रदेश के श्रमिकों के बच्चों का बेहतर विकास हो सकेगा क्योंकि उनको पौष्टिक आहार की प्राप्ति होगी |

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना

Key Highlights Of UP Shishu Hitlabh Yojana 2022

योजना का नामयूपी शिशु हितलाभ योजना
किसने आरंभ कीउत्तर प्रदेश सरकार
लाभार्थीउत्तर प्रदेश के श्रमिक
उद्देश्यश्रमिकों के बच्चों के जन्म पर पौष्टिक आहार प्रदान करना।
आधिकारिक वेबसाइटhttps://upbocw.in/
साल2022
आवेदन का प्रकारOnline/offline
राज्यउत्तर प्रदेश

यूपी शिशु हित लाभ योजना के लाभ तथा विशेषताएं

  • इस योजना उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा launch किया गया है।
  • यूपी शिशु हित लाभ योजना के माध्यम से भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण board के अंतर्गत पंजीकृत श्रमिकों के नवजात शिशु के लिए पौष्टिक आहार की व्यवस्था की जाएगी।
  • यह व्यवस्था बच्चे की 2 वर्ष की आयु पूर्ण होने तक के लिए की जाएगी।
  • इस योजना का लाभ सभी registered कर्मकारों के अधिकतम दो बच्चों को प्रदान किया जाएगा।
  • सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत लड़का होने पर ₹10000 एवं लड़की होने पर ₹12000 प्रति शिशु की दर से वर्ष में एक बार एकमुश्त राशि प्रदान की जाएगी।
  • UP Shishu Hitlabh Yojana का लाभ प्राप्त करने के लिए beneficiary या उनके परिवार का कोई भी सदस्य प्रसव के 1 year के भीतर निकटतम श्रम कार्यालय या संबंधित तहसील के तहसीलदार या संबंधित विकास खंड कार्यालय के पास application form जमा कर सकता है।
  • दूसरे वर्ष में इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी द्वारा इस बात का प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा कि संबंधित शिशु जीवित है।

UP Shramik Panjikaran

UP Shishu Hitlabh Yojana की पात्रता

  • आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के अंतर्गत पंजीकृत होना चाहिए।
  • एक परिवार के केवल दो बच्चे ही इस योजना का लाभ प्राप्त करने के पात्र हैं।

महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • आयु का प्रमाण
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी आदि

यूपी शिशु हितलाभ के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम लाभार्थी को प्रसव के 1 साल के भीतर निकटतम श्रम कार्यालय या संबंधित तहसील के तहसीलदार या संबंधित विकास खंड कार्यालय में खंड विकास अधिकारी से आवेदन पत्र प्राप्त करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको आवेदन पत्र में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • अब आप को आवेदन पत्र से सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज अटैच करने होंगे।
  • इसके पश्चात आपको यह आवेदन पत्र उसी कार्यालय में जमा करना होगा जहां से आपने इसकी प्राप्ति की है।
  • इस प्रकार आप UP Shishu Hitlabh Yojana के अंतर्गत आवेदन कर सकेंगे।

Leave a Comment