UP Agriculture: upagriculture.com Kisan Registration, पंजीकरण की स्थिति

उत्तर प्रदेश सरकार ने अपने यहां के किसानों को विभिन्न प्रकार की केंद्रीय एवं राज्य सरकारी योजनाओं का लाभ एक ही जगह प्रदान करने के लिए upagriculture.com Kisan Registration की सुविधा को लांच किया है। UP Agriculture पोर्टल सुविधा के माध्यम से किसान एक ही जगह विभिन्न प्रकार की सरकारी योजनाओं के तहत आवेदन कर सकते हैं और लाभ की प्राप्ति कर सकते हैं। प्रदेश सरकार का UP Agriculture को शुरू करने एक ही लक्ष्य था कि किसानों को उनके हित में शुरू की गई योजनाओं का लाभ एक ही जगह देकर उन्हें अलग-अलग पोर्टल पर जाने और सरकारी दफ्तरों के चक्कर काटने से छुटकारा दिलवाया जा सके। यदि आप उत्तर प्रदेश के एक किसान हैं और यूपी एग्रीकल्चर की सुविधा का लाभ उठाना चाहते है तो आप हमारे इस आर्टिकल को नीचे तक अवश्य पढ़ें। क्योंकि आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम इस सुविधा से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारियां प्रदान करने जा रहे हैं।

UP Agriculture

UP Agriculture 2022

यूपी एग्रीकल्चर की सुविधा उत्तर प्रदेश के किसानों के लिए शुरू की गई है। लेकिन इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए राज्य के किसान भाइयों को upagriculture.com पोर्टल पर जाकर अपना पंजीकरण करना होगा। क्योंकि इस पोर्टल का लाभ केवल पंजीकृत किसानों को ही दिया जाएगा। राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई इस सुविधा के माध्यम से किसान राज्य में अपने हित में संचालित की जाने वाली अनेकों योजनाओं एवं सेवाओं का लाभ घर बैठे ही आसानी से ले सकते हैं। जिससे उनके समय और पैसे दोनों की बचत होगी।

  • कृषि विभाग, उत्तर प्रदेश द्वारा UP Agriculture पर समय-समय पर सेवाओं एवं सूचनाओं की जानकारी भी अपडेट की जाती रहती हैं। जिससे किसानों को ‌समय पर कृषि से जुड़ी सेवाओं एवं सूचनाओं की जानकारी बिना किसी परेशानी के ऑनलाइन प्राप्त हो सके।
  •  किसान‌ इस पोर्टल के माध्यम से अलग-अलग योजना के लिए अलग-अलग पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया से बचेंगे।

UP Agriculture Token Generate 

upagriculture.com Key Highlights

पोर्टल का नामयूपी एग्रीकल्चर
शुरू किया गयाउत्तर प्रदेश सरकार द्वारा
लाभार्थीराज्य के सभी किसान भाई
उद्देश्यविभिन्न प्रकार की सरकारी योजनाओं का लाभ प्रदान करना
साल2022
पंजीकरण प्रक्रियाऑनलाइन
अधिकारिक वेबसाइटhttp://upagriculture.com/

UP Agriculture के माध्यम से दी जाने वाली कुछ महत्वपूर्ण सुविधाएं

  • किसान क्रेडिट कार्ड हेतु आवेदन
  • एफपीओ शक्ति
  • अपना पंजीकरण नंबर जाने
  • समस्या निवारण प्रणाली
  • अनुदान खाते में भेजने की प्रगति जाने
  • लाभार्थियों की सूची
  • किसान कल्याण मिशन
  • सफलता की कहानी
  • कहां, किसको क्या लाभ मिला
  • महत्वपूर्ण योजनाओं में लाभ वितरण
  • सहभागी फसल निगरानी एवं निदान प्रणाली
  • यंत्र खेत/तलाब पर अनुदान हेतु टोकन निकाले

कीट रोग नियंत्रण योजना

यूपी एग्रीकल्चर पोर्टल पर उपलब्ध नई सूचनाएं

  • कोषागार के नए फॉर्मेट पर DDO लॉगइन में बेनेफिसिअरी फाइल जनरेट करने के लिए Both के विकल्प पर जाकर जनरेट बेनेफिसिअरी फाइल new format (Green Tab) चुनें।
  • चार जनपद शामली,श्रावस्ती,हापुड़ तथा संभल जिनका कोषागार खाता इलाहबाद बैंक में है वह कोषागार के नए फॉर्मेट पर DDO लॉगइन में बेनेफिसिअरी फाइल जनरेट करने के लिए Both के विकल्प पर जाकर जनरेट बेनेफिसिअरी फाइल new format (Blue Tab) चुनें।
  • DBT सम्बन्धी समस्या समाधान के लिए DBT पोर्टल पर “सुझाव एवं शिकायतें” में “कृषि विभाग के अधिकारियों के लिये” लिंक उपलब्ध “ऑनलाइन समस्या निवारण प्रणाली” पर अनुरोध पत्र भेजें। इसके लिए लॉगइन आई०डी० एवं पासवर्ड उप कृषि निदेशक को उपलब्ध कराया गया सी.यू.जी. लॉगइन आई०डी० एवं पासवर्ड ही होगा।

किसानों के लिए UP Agriculture पोर्टल पर उपलब्ध नई अपडेट

  • पी एम कुसुम योजना के बैंक ड्राफ्ट डी०डी० लोगिन से अपलोड करें
  • INSITU यंत्रो की नयी व्यवस्था में अपलोडिंग की प्रगति रिपोर्ट
  • Bill Monitoring System – Directorate of Agriculture
  • कृषि यंत्रों के DBT की प्रगति (सोलर पंप के अतिरिक्त)
  • सोलर पंप लाभार्थी चयन सत्यापन प्रगति
  • किसान सहायता
  • सुझाव एवं शिकायतें
  • IFSC कोड खोंजे
  • यंत्रों की भौतिक लक्ष्य की चयन के सापेक्ष प्रगति रिपोर्ट
  • द मिलियन फारमर्स स्कूल (किसान पाठशाला) प्रतिभागी कृषक सूची
  • मृदा स्वास्थ्य कार्ड अनुश्रवण तंत्र
  • प्रमोशन ऑफ एग्रीकल्चर मैकेनाइजेशन फार इन – सीटू मैनेजमेंट ऑफ क्राप रेजिड्यू योजना अन्तर्गत कृषि यंत्रों का विवरण
  • 35 कॉलम की लाभार्थीवार रिपोर्ट
  • डी० बी० टी० के माध्यम से वितरित अनुदान के लाभार्थियों की विस्तृत सूची
  • फार्म मशीनरी बैंक के लिए समूह पंजीकरण की सूची
  • उद्यान ए़वं खाद्य प्रसंस्करण विभाग उत्तर प्रदेश की योजनाओं के लिए पंजीकरण
  • ग्राम स्तर पर स्थानीय उद्यमियों के द्वारा मृदा परीक्षण प्रयोगशाला की स्थापना हेतु आवेदन
  • CRM Implements Empanelment
  • बीजग्राम योजना सीड नेट रिपोर्ट

UP Kisan Karj Rahat List 

यूपी एग्रीकल्चर का उद्देश्य

प्रदेश सरकार ने किसानों के लिए UP Agriculture kisan Registration को कृषि से जुड़ी जानकारी और अनेकों तरह की कृषि योजनाएं का लाभ प्रदान करने के उद्देश्य से शुरू किया है। क्योंकि किसानों को कृषि से जुड़ी जानकारी और कृषि योजनाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए कृषि विभाग या किसी सरकारी दफ्तर जाना पड़ता था। जिसके कारण उनके समय और पैसे दोनों की बर्बादी होती थी और उन्हें काफी कठिनाइयों का सामना भी करना पड़ता था। लेकिन अब उत्तर प्रदेश के किसान यूपी एग्रीकल्चर पर रजिस्ट्रेशन करके कृषि से जुड़ी जानकारी आसानी से अपने घर बैठे ही इंटरनेट के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं और साथ ही सरकार द्वारा किसानों के हित में संचालित की जाने वाली योजनाओं एवं सेवाओं का लाभ भी आसानी से उठा सकते हैं। इस ऑनलाइन सुविधा के माध्यम प्रदेश के किसान डिजिटल प्लेटफॉर्म से भी जुड़ेंगे। जिससे डिजिटलकरण को भी बढ़ावा मिलेगा।

upagriculture.com Kisan Registration का लाभ

  • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा अपने राज्य के सभी किसान भाइयों के लिए UP Agriculture पोर्टल की सुविधा की शुरुआत की गई है।
  • राज्य के किसानों को ‌इस पोर्टल का लाभ लेने के लिए इसके तहत अपना रजिस्ट्रेशन करना अनिवार्य है तभी वह इस पोर्टल का लाभ ले सकेंगे अन्यथा नहीं।
  • इस ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से किसान भिन्न-भिन्न प्रकार की कृषि से संबंधित जानकारी और योजनाओं के बारे में घर बैठे ही पता कर सकते हैं।
  • पंजीकृत किसानों का डाटा इस पोर्टल पर सुरक्षित रखा जाएगा। ताकि उन्हें विभिन्न योजनाओं का लाभ समय पर आसानी से दिया जा सके।
  • UP Agriculture Kisan Registration के माध्यम से किसानों को सरकारी कार्यालयों एवं विभागों में जाकर लंबी-लंबी लाइनों में खड़े होने से छुटकारा मिलेगा।
  • अब राज्य में कृषि से जुड़ी योजनाओं एवं सेवाओं से जुड़ी प्रक्रिया में पारदर्शिता आएगी और पात्र किसानों को आसानी से उनके लिए शुरू की गई योजनाओं एवं सेवाओं का लाभ मिल सकेगा।
  • इस ऑनलाइन पोर्टल पर पंजीकृत सभी किसानों को राज्य सरकार द्वारा डीबीटी की सहायता से योजना के लाभ के रूप में प्रदान की जाने वाली आर्थिक सहायता सीधे उनके बैंक खातों में भेजी जाएगी।

यूपी कृषि उपकरण सब्सिडी योजना

यूपी एग्रीकल्चर रजिस्ट्रेशन हेतु पात्रता

  • केवल उत्तर प्रदेश के किसान ही यूपी एग्रीकल्चर पर रजिस्ट्रेशन करने के पात्र है।
  • किसान को उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी भी होना चाहिए।
  • रजिस्ट्रेशन करने हेतु आवेदक किसान का बैंक खाता मोबाइल नंबर और आधार से लिंक होना चाहिए।

महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • वोटर आईडी कार्ड
  • मोबाइल नंबर (आधार से लिंक हो)
  • बैंक खाता (जो आधार और मोबाइल नंबर से लिंक हो)
  • आईएफएससी कोड
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

UP Agriculture पर रजिस्ट्रेशन करने कैसे करें?

  • सबसे पहले आपको यूपी एग्रीकल्चर की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
UP Agriculture
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको पंजीकरण के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा।
  • इस पेज पर आपको तीन विभागों के तहत योजनाओं हेतु पंजीकरण करने के विकल्प दिखाई देंगे।
    • कृषि विभाग की योजनाओं हेतु
    • उद्यान विभाग की योजनाओं हेतु
    • गन्ना विभाग की योजनाओं हेतु   
  • इन विकल्पों में से आपको जिस विभाग की योजना के तहत आवेदन करना है उस विकल्प पर क्लिक दे।
  • इसके बाद आपके सामने पंजीकरण फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारियों को दर्ज करके सभी आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड कर देना है।
  • इसके बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार से आपकी पंजीकरण प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

UP Agriculture पोर्टल पर लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको UP Agriculture की Official Website पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको यूजर लॉगइन बॉक्स में पूछी गई सभी जानकारी जैसे- जनपद यूजरनेम एवं पासवर्ड आदि को दर्ज कर देना है।
  • इसके बाद आपको लॉगइन विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • इस प्रकार से आप यूपी एग्रीकल्चर पर लॉगइन कर सकते हैं।

upagriculture.com पर टोकन जेनरेट करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको UP Agriculture की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको यंत्र/ खेत तलाब पर अनुदान हेतु टोकन निकाले के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • अब आपके सामने अगला पेज खुलकर आ जाएगा।
UP Agriculture Token generate
  • इस पेज पर आपको यंत्र हेतु टोकन की व्यवस्था देखने को मिलेगी। इस पेज पर आपको दिए गए यंत्रों हेतु  टोकन जनरेट करें के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक ओर नया पेज खुलकर आ जाएगा।
  • इस पेज पर आपको पूछी गई सभी जानकारी जैसे- जनपद, पंचायत संख्या आदि का चयन करके सर्च के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपको अपनी आवश्यकतानुसार किसी एक यंत्र के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपको आगे बढ़े के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • इस प्रकार से आप टोकन जनरेट कर सकते हैं।

UP Agriculture आवेदन स्थिति चेक करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको यूपी एग्रीकल्चर की Official Website पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको पंजीकरण की प्रगति के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा।
  • इस पेज पर आपको अपनी किसान पंजीकरण संख्या दर्ज करके कैप्चा बॉक्स में कैप्चा विवरण को दर्ज कर देना है।
  • अब आपको सर्च के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • जैसे ही आप सर्च के विकल्प पर क्लिक करेंगे आपके सामने आपके आवेदन की स्थिति खुलकर आ जाएगी।

लाभार्थियों की सूची देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको यूपी एग्रीकल्चर की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको लाभार्थियों की सूची के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुल कर आ जाएगा।
लाभार्थियों की सूची
  • इस पेज पर आपको मदवार, योजना वार, वर्ष वार सम्रग, सीजन वार, संस्था वार, सोलर की योजनाओं हेतु, उद्यम विभाग की योजनाओं हेतु, अन्य विभाग योजना हेतु के विकल्प दिखाई देंगे।
  • अब आपको अपनी आवश्यकतानुसार विकल्प पर जाकर वर्ष, समस्त मौसम और समस्त विवरण का चयन करके सूची देखे के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • जैसे ही आप सूची देखें के विकल्प पर क्लिक करेंगे आपके सामने लाभार्थियों की सूची खुलकर आ जाएगी।

UP Agriculture पर अपने पंजीकरण संख्या कैसे जाने?

  • सबसे पहले आपको यूपी एग्रीकल्चर की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको अपना पंजीकरण नंबर जाने के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक पेज खुलकर आ जाएगा जिस पर आपको फिर से अपना पंजीकरण नंबर जाने के विकल्प पर क्लिक करना है।
पंजीकरण संख्या कैसे जाने?
  • अब आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आ जाएगा। जिस पर आपको जनपद, ब्लॉक, कृषक, किसान की आईडी, मोबाइल, नंबर खाता संख्या आदि दर्ज करना है।
  • इसके बाद आपको सर्च के विकल्प पर क्लिक कर देना है। अब आपके सामने आपकी पंजीकरण की संख्या खुलकर आ जाएगी।

Leave a Comment