सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) 2024: ब्याज दर हुई 8.2 प्रतिशत, नियम, पात्रता एवं दस्तावेज

Sukanya Samriddhi Yojana:- केंद्र सरकार द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत बेटियों के भविष्य को उज्जवल बनाने और उनकी पढ़ाई, उच्च शिक्षा एवं शादी आदि के खर्चो को वहन करने के लिए एक नई योजना शुरू की गई हैं। जिसका नाम सुकन्या समृद्धि योजना है। यह एक छोटी बचत योजना है। जिसके अंतर्गत 10 वर्ष से कम आयु की बेटी के माता पिता उसके भविष्य को सुरक्षित करने के लिए इस योजना के अंतर्गत निवेश कर सकते हैं। इस योजना में कम से कम 250 रुपए और ज्यादा से ज्यादा 1.5 लाख रुपए निवेश किया जा सकते हैं। यह योजना केवल बेटियों के लिए ही बनाई गई है। जिसमें निवेश कर बेटी के भविष्य में होने वाले खर्चों की पूर्ति की जा सकेगी। इस योजना के अंतर्गत 15 साल तक निवेश कर बेटी की शिक्षा एवं शादी आदि के खर्चो के लिए फंड एकत्रित किया जा सकता है कोई भी माता-पिता अभिभावक बच्चियों के नाम पर खाता खोल सकते हैं।

अगर आप भी अपनी बेटी के नाम से निवेश करना चाहते हैं तो आप सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत निवेश कर अपनी बेटी का भविष्य उज्जवल कर सकते हैं। आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से Sukanya Samriddhi Yojana से संबंधित संपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराएंगे।

Sukanya Samriddhi Yojana 2023

Sukanya Samriddhi Yojana 2024

बेटियों के नाम पर निवेश करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा सुकन्या समृद्धि योजना चलाई जा रही है। इस योजना के तहत सालाना 10,000 रुपए की रकम जमा की जा सकती है जो मैच्योरिटी के समय 4.48 लाख रुपए को जाएगी। यह योजना देश की बेटियों का भविष्य सुरक्षित करने के लिए शुरू की गई है। जिसके अंतर्गत परिवार का कोई भी सदस्य जैसे माता-पिता यानी कोई अभिभावक बेटी के नाम पर सुकन्या समृद्धि खाता खुलवा सकता है। इस स्कीम में न सिर्फ आपको ऊंचा ब्याज मिलेगा बल्कि सरकार द्वारा समर्थित होने की वजह से यह स्कीम 100% सुरक्षित भी है। लंबी अवधि में नियमित निवेश कर इस योजना की सहायता से मैच्योरिटी पर एक साथ बड़ा पैसा जुटाया जा सकता है। सुकन्या समृद्धि योजना का खाता आप अपने किसी भी नजदीकी पोस्ट ऑफिस या अधिकृत बैंक जाकर खुलवा सकते हैं। 

Latest Update:- 31 मार्च 2024 तक सुकन्या समृद्धि योजना खाताधारक पूरा कर लें  यह काम, नहीं तो निष्क्रिय कर दिया जाएगा खाता

केंद्र सरकार द्वारा बेटियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए शुरू की गई सुकन्या समृद्धि योजना के खाताधारकों को एक वित्त वर्ष में 250 रुपए की मिनिमम राशि निवेश करना आवश्यक होता है। अगर ऐसे में अपने इस वित्त वर्ष में अभी तक मिनिमम राशि निवेश नहीं की है तो इस काम को जल्द से जल्द पूरा कर लें। क्योंकि आपके पास मिनिमम राशि जमा करने के लिए 31 मार्च 2024 तक का समय है। अगर आप 31 मार्च तक मिनिमम राशि जमा नहीं करते हैं तो आपके खाते को निष्कर्ष कर दिया जाएगा। और आपको निष्क्रिय खाते को दोबारा चालू करने के लिए 50 रुपए प्रति वर्ष के हिसाब से पेनल्टी देनी होगी। इसलिए 31 मार्च 2024 तक सुकन्या समृद्धि योजना खाताधारक मिनिमम राशि निवेश कर लें।

सुकन्या समृद्धि योजना के लिए ब्याज दर बढ़कर 8.2 प्रतिशत

सरकार ने नए साल पर सुकन्या समृद्धि योजना में निवेश करने वाले निवेशकों को ब्याज दर बढ़ाते हुए बड़ी सौगात दी है। इस वित्त वर्ष 2023-24 की चौथी तिमाही के लिए सुकन्या समृद्धि योजना के ब्याज दरों को 8 फीसदी से बढ़ाकर कर 8.2 फीसदी कर दिया गया है। इस योजना के तहत पहले निवेशकों को 8 फीसदी ब्याज दिया जाता था लेकिन अब सुकन्या समृद्धि योजना के लिए जनवरी से मार्च तिमाही के दौरान ब्याज दर बढ़ाकर 8.2 प्रतिशत कर दिया गया है। हालांकि सरकार ने दूसरी योजनाओं की ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है। सुकन्या समृद्धि योजना को छोड़कर किसी भी योजना की ब्याज दरें नहीं बढ़ाई गई है। इस वित्त वर्ष में यह दूसरी बार है जब इस योजना के लिए सरकार ने ब्याज दर में बढ़ोतरी की है। इससे पहले पहली तिमाही के दौरान सरकार ने ब्याज दर 7.6 प्रतिशत से बढ़ाकर 8 फीसदी कर दिया था। बेटियों के लिए चलाई जा रही इस योजना की ब्याज दरों में मौजूदा वित्त वर्ष में सरकार ने 0.6 प्रतिशत की बढ़ोतरी की है। 

SSY Calculator

सुकन्या समृद्धि योजना 2024 के बारे में जानकारी

योजना का नाम  Sukanya Samriddhi Yojana
शुरू की गई  केंद्र सरकार द्वारा
लाभार्थी0 से 10 वर्ष की बालिकाएं  
उद्देश्य  बेटियों के भविष्य को बेहतर बनाना
निवेश राशि  न्यूनतम 250, अधिकतम 1.5 लाख
निवेश अवधि15 वर्ष तक  
ब्याज दर8% प्रतिवर्ष   
साल2024

Sukanya Samriddhi Yojana में बेहतर ब्याज, साथ में टैक्स फ्री

सुकन्या समृद्धि योजना में निवेश करने पर 8% का ब्याज मिलता है। इस पर मौजूद यानी जुलाई से सितंबर 2023 की तिमाही के लिए मिलने वाले ब्याज दर 8 प्रतिशत सालाना है। यह योजना टैक्स फ्री योजना है जिस पर ट्रिपल यानी तीन अलग-अलग स्तरों पर टैक्स में छूट दी जाती है। सबसे पहले आपको इसमें 1.5 लाख रुपए तक सालाना निवेश करने पर इनकम टैक्स एक्ट के क्षेत्र 80c के तहत छूट मिलेगी। दूसरी आपको मिलने वाले रिटर्न पर टैक्स नहीं लगता है और तीसरा लाभ यह है कि मैच्योरिटी पर मिलने वाली रकम भी पूरी तरह टैक्स फ्री होती है।

मैच्योरिटी पीरियड

Sukanya Samriddhi Yojana के तहत परिपक्वता अवधि यानी मैच्योरिटी 21 साल की है लेकिन आपको 15 साल तक इस योजना के अंतर्गत निवेश करना होता है। यानी निवेश बंद होने के 6 साल बाद खाता मैच्योर होता है तो आपकी जमा पर बचे 6 साल में योजना के तहत तय ब्याज मिलता रहता है। जिसमें आपको कंपाउंडिंग का भी लाभ मिलता है। यदि आप नवजात बच्ची का सुकन्या समृद्धि अकाउंट खोलते हैं तो वह उसके लिए 21 साल होने पर मैच्योर होगा। इसी तरह यदि आपने अपनी 4 साल की बेटी के लिए अकाउंट खुलवाया है तो उसकी उम्र 25 साल होने पर ही मैच्योरिटी अमाउंट मिलेगा। बेटी 18 साल होने के बाद अपना अकाउंट खुद हैंडल कर सकती है।

कन्या सुमंगला योजना

सुकन्या समृद्धि योजना में अधिकतम जमा राशि

Sukanya Samriddhi Yojana के अंतर्गत 10 साल से कम आयु की बेटी के लिए पोस्ट ऑफिस में खाता खोला जा सकता है। इस योजना के तहत दो बेटियों के अलग-अलग अकाउंट खोल सकते हैं जुड़वा बेटियां है तो दो से अधिक अकाउंट भी खोले जा सकते हैं। सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत एक वित्त वर्ष के दौरान कम से कम 250 रुपए जमा करना आवश्यक है जबकि पूरे वित्त वर्ष के दौरान अधिकतम 1.5 लाख रुपए जमा किए जा सकते हैं। इस रकम को आप चाहे तो हर महीने बाटकर भी जमा कर सकते हैं। ओर आप हर महीने 12,500 रुपए खाते में डालकर भी साल में 1.5 लाख रुपए जमा कर सकते हैं। इसी तरह अगर आप हर साल सुकन्या समृद्धि योजना में 1,11,400 रुपए का निवेश करते हैं तो मैच्योरिटी पर 50 लाख रुपए की राशि मिलेगी। 

सुकन्या समृद्धि योजना में निवेश कैसे करें?

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत 15 वर्ष तक पैसा जमा किया जाता है। यदि आपकी मासिक किस्त है तो साल में 12 न्यूनतम किस्त जमा करनी होगी और सालाना में एक किस्त जमा करनी होगी। इस योजना के अंतर्गत आप अपने नजदीकी पोस्ट ऑफिस या किसी भी बैंक ब्रांच के माध्यम से निवेश कर सकते है। आप इस योजना के तहत निम्नलिखित साधनों के माध्यम से आसानी से पैसे जमा कर सकते हैं।

  • नगद
  • चेक
  • डिमांड ड्राफ्ट
  • ऑनलाइन ई ट्रांसफर (यदि उपलब्ध हो)

Sukanya Samriddhi Yojana की पेशकश करने वाले बैंक

सुकन्या समृद्धि योजना में नए अकाउंट के लिए आप आवेदन फार्म पोस्ट ऑफिस या इसमें शामिल निजी क्षेत्र के बैंक से प्राप्त कर सकते हैं इसके अलावा आप आरबीआई की वेबसाइट और बैंकों की वेबसाइट से सुकन्या समृद्धि योजना के लिए नया अकाउंट आवेदन फॉर्म भी डाउनलोड कर सकते हैं। सुकन्या समृद्धि योजना की पेशकश करने वाले बैंक की सूची नीचे दी गई है जो कि निम्न प्रकार है।  

  • इंडियन बैंक
  • स्टेट बैंक ऑफ इंडिया
  • बैंक ऑफ महाराष्ट्र
  • पंजाब एंड सिंध बैंक
  • इंडियन ओवरसीज बैंक
  • यूको बैंक
  • IDBI बैंक
  • बैंक ऑफ बड़ौदा
  • बैंक ऑफ इंडिया
  • एचडीएफसी बैंक
  • केनरा बैंक
  • सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया
  • एक्सिस बैंक
  • यूनियन बैंक ऑफ इंडिया
  • पंजाब नेशनल बैंक
  • आईसीआईसीआई बैंक

फ्री सिलाई मशीन योजना

सुकन्या समृद्धि योजना के लाभ एवं विशेषताएं

  • इस योजना के अंतर्गत 10 वर्ष से कम आयु की बालिका के नाम पर अकाउंट खोला जा सकता है।
  • सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत कोई भी व्यक्ति 1 वर्ष में न्यूनतम 250 और अधिकतम 1.5 लाख रुपए सालाना निवेश कर सकते हैं।
  • Sukanya Samriddhi Yojana सरकारी योजना है इसलिए गारंटी रिटर्न प्रदान करती है।
  • सुकन्या समृद्धि अकाउंट को देश के एक हिस्से से दूसरे हिस्से में ट्रांसफर किया जा सकता है। वहीं मैच्योरिटी के बाद भी खाता बंद नहीं करने पर ब्याज का लाभ मिलता है।
  • बालिका की आयु 18 वर्ष होने पर उसकी शिक्षा के लिए 50% राशि निकालने का ऑप्शन दिया गया है।
  • गोद ली गई पुत्री के लिए भी इस योजना के अंतर्गत निवेश किया जा सकता है।
  • सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत 15 वर्ष तक प्रीमियम राशि जमा करनी होती है जिसके लिए मैच्योरिटी अवधि 21 वर्ष निर्धारित की गई है।
  • वित्तीय वर्ष 2023-24 के मुताबिक इस योजना में 8% की दर से ब्याज दिया जा रहा है।
  • 18 वर्ष की होने के बाद बालिका अपना अकाउंट खुद मैनेज कर सकती है।

Sukanya Samriddhi Yojana के लिए पात्रता

  • सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट केवल बालिका के नाम पर माता-पिता या कानूनी अभिभावकों द्वारा ही खोला जा सकता है।
  • अकाउंट खोलने के समय बालिका की आयु 10 वर्ष से कम होनी चाहिए।
  • सुकन्या समृद्धि योजना के तहत एक परिवार को केवल दो अकाउंट खोलने की अनुमति होगी।
  • एक बालिका के एक से अधिक सुकन्या समृद्धि अकाउंट नहीं खोले जा सकते हैं।
  • केवल दो बालिकाओं के पहले बेटी होने के बाद दूसरी बार जुड़वा बेटियां होने की की स्थिति में तीन बेटियों का खाता खुलवाया जा सकता है।

आवश्यक दस्तावेज

  • बालिका का जन्म प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • माता-पिता का पैन कार्ड, आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर

मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना

सुकन्या समृद्धि योजना 2024 के तहत आवेदन कैसे करें?

  • सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत अकाउंट खोलने के लिए सबसे पहले आपको अपने नजदीकी पोस्ट ऑफिस या किसी भी बैंक ब्रांच में जाना होगा।
  • वहां जाकर आपको सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत निवेश करने हेतु आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा।
  • इसके बाद आपको बालिका की ओर से अकाउंट खोलने निवेश करने वाले माता-पिता /अभिभावक की जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको जरूरी दस्तावेजों की कॉपी के साथ फॉर्म को संलग्न करना होगा।
  • सारी प्रक्रिया पूर्ण करने के बाद आपको यह आवेदन फॉर्म प्रीमियम राशि के साथ पोस्ट ऑफिस या बैंक में जमा कर देना होगा।
  • इस प्रकार आप सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं।

FAQs

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत न्यूनतम कितने रुपए निवेश कर सकते हैं?

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत न्यूनतम 250 रुपए निवेश किये जा सकते हैं। 

क्या सुकन्या समृद्धि योजना में शेष राशि पर लोन लिया जा सकता है?

जी नहीं सुकन्या समृद्धि योजना की शेष राशि पर लोन की सुविधा उपलब्ध नहीं है। आप इस योजना के अंतर्गत केवल 18 वर्ष की आयु होने पर 50% राशि निकाल सकते हैं। 

Leave a Comment