Soil Health Card Scheme 2022: मृदा स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड योजना क्या है,ऑनलाइन आवेदन

Soil Health Card Scheme Benefits, मृदा स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड योजना क्या है | Soil Health Card Scheme ऑनलाइन आवेदन | मृदा स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड प्रिंट कैसे करे |Soil Health Card Scheme

सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम को भारत सरकार द्वारा वर्ष  2015 में देश के किसानो को लाभ पहुंचाने के लिए शुरू की गयी है | इस योजना के अंतर्गत देश के किसानो की जमीन की मिट्टी की गुणवत्ता का अध्ययन करके एक अच्छी फ़सल प्राप्त करने में सहायता दी जाएगी | इस Soil Health Card Scheme के तहत किसानों को एक हेल्थ कार्ड दिया जायेगा, जिसमें किसानों के जमीन की मिट्टी किस प्रकार की है इसकी जानकारी (Farmers will be informed about the soil type of the land ) दी जाएगी और किसान अपनी जमीन की मिटटी की गुणवत्ता के आधार पर अच्छी फसल की खेती कर सके |

Table of Contents

Soil Health Card Scheme 2022

केंद्र सरकार Soil Health Card प्रत्येक 3 साल में किसानों को प्रदान किया जाएगा। कार्ड किसानों को उनके खेतों की गुणवत्ता के अनुरूप प्रदान किया जाएगा जो कि 3 साल के लिए 1 बार होगा। इस स्कीम के अनुसार सरकार का 3 साल के अंदर ही पूरे भारत में लगभग 14 करोड़ किसानों को यह कार्ड जारी (The objective is to issue this card to about 14 crore farmers in India.) करने का उद्देश्य है | इस मृदा हेल्थ कार्ड में खेतों के लिए  पोषण/ उर्वरकों के बारे में बताया जाएगा | सॉइल हेल्थ कार्ड एक रिपोर्ट कार्ड है जिसमे मिट्टी के गुण के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की जाएगी |

कृषि उड़ान योजना

हर खेत हर स्वास्थ्य अभियान का शुभारंभ

Soil Health Card Scheme के अंतर्गत देश के 75 lakh किसानों के खेत में मिट्टी की जांच का अभियान चलाया जाएगा। इस अभियान का नाम हर खेत हर स्वास्थ्य अभियान होगा। हर खेत हर स्वास्थ्य अभियान के अंतर्गत राज्य के 140 block की कृषि योग्य भूमि की जांच की जाएगी। मिट्टी की जांच करने के पश्चात किसानों को soil health card प्रदान किया जाएगा। जिससे कि किसानों को मिट्टी की गुणवत्ता का पता चलेगा एवं उसी आधार पर वह अपने खाद व उर्वरक प्रयोग कर सकेंगे। इस अभियान के माध्यम से स्वस्थ उत्पादन प्राप्त करने में सहायता प्राप्त होगी। सरकार द्वारा यह लक्ष्य 4 वर्षों में पूर्ण किया जाएगा।

  • किसानों द्वारा soil health card को विभाग की website या अपने फोन नंबर या मेरी फसल मेरा ब्यौरा registration number दर्ज करके download कर सकते हैं। द्वारा इस संबंध में हर खेत स्वस्थ खेत portal भी launch किया गया है। विभाग की ओर से मिट्टी का नमूना एकत्रित करने एवं उसका विश्लेषण करने की पुस्तक का भी विमोचन किया जाएगा।
  • इस portal के माध्यम से विभाग द्वारा मिट्टी के लिए लिए गए नमूनों का registration भी किया जाएगा। Registration के पश्चात किसानों को mobile पर एक s.m.s. प्राप्त होगा। जिसके माध्यम से उनको पता चलेगा कि उनके खेत की मिट्टी के नमूने की जांच करने के लिए किस प्रयोगशाला में भेजा गया है। इसके अलावा किसान को मिट्टी की जांच की report भी प्रदान की जाएगी।

सॉइल हेल्थ कार्ड योजना 2022 का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश के किसानो को उनकी ज़मीन की अध्य्यन करके मृदा स्वास्थ्य कार्ड प्रदान करना | जिससे किसान ज्यादा से ज्यादा खेती कर सके | किसानों को उनके खेतों की मिट्टी के स्वास्थ्य के अनुसार फसल लगाने  के लिए प्रोत्साहित करना है | Soil Health Card Scheme 2022 के ज़रिये मिट्टी की गुणवत्ता अनुसार फसल लगाने से फसल की उत्पादक क्षमता बढ़ेगी जिससे कि किसानों की आय भी बढ़ेगी और  खाद के उपयोग से मिट्टी के आधार और संतुलन को बढ़ावा देना है जिससे किसानों को कम कीमत में अधिक पैदावर मिल सके. |

Soil Health Card Scheme 2022 Highlights

योजना का नाम सॉइल हेल्थ कार्ड योजना
इनके द्वारा शुरू की गयी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी
कब शुरू की गयी वर्ष 2015
उद्देश्य देश के किसानो को लाभ पहुँचाना
विभाग कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय भारत सरकार
ऑफिसियल वेबसाइट https://soilhealth.dac.gov.in/

सोयल हेल्थ कार्ड में दर्ज जानकारी

  • मिट्टी की सेहत
  • खेत की उत्पादन क्षमता
  • पोषक तत्व की मौजूदगी एवं पोषक तत्व की कमी
  • मिट्टी में नमी की मात्रा
  • अन्य उपस्थित पोषक तत्व
  • खेतों की गुणवत्ता सुधारने हेतु उचित दिशा निर्देश

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना

Soil Health Card Scheme का स्कीम स्ट्रक्चर

नेशनल लेवल – सरकार द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर इस योजना के कार्यान्वयन के लिए नेशनल एडवाइजरी कमिटी का गठन किया जाएगा। जिसके चेयरमैन सेक्रेटरी होंगे। इस कमेटी के माध्यम से इस योजना के दिशा निर्देश निर्धारित किए जाएंगे। इसके अलावा एक्जीक्यूटिव कमेटी का भी गठन किया जाएगा। इस कमेटी के माध्यम से इस योजना के अंतर्गत एक्शन प्लान को विभिन्न राज्यों में लागू किया जाएगा। इसके अलावा इस योजना के अंतर्गत होने वाली गतिविधियों पर निगरानी भी एग्जीक्यूटिव कमेटी के माध्यम से रखी जाएगी।

स्टेट लेवल – इस योजना का संचालन राज्य स्तर पर करने के लिए स्टेट लेवल एग्जीक्यूटिव कमिटी का गठन किया जाएगा। इस कमेटी को प्रत्येक राज्य में गठित किया जाएगा। स्टेट लेवल एग्जीक्यूटिव कमिटी स्टेट नोडल डिपार्टमेंट के माध्यम संचालित की जाएगी। इसके अलावा इस कमेटी के माध्यम से एक्शन प्लान को मंजूरी प्रदान की जाएगी। इस योजना की निगरानी भी राज्य स्तर पर स्टेट लेवल एग्जीक्यूशन कमेटी द्वारा की जाएगी। स्टेट लेवल एग्जीक्यूटिव कमिटी के माध्यम से विभिन्न प्रकार के सहयोग प्रदान किए जाएंगे जिससे की इस योजना का सफलतापूर्वक संचालन किया जा सके।

डिस्टिक लेवल – सरकार द्वारा एक डिस्ट्रिक्ट लेवल एग्जीक्यूटिव कमेटी का भी गठन किया जाएगा।  इस कमेटी के माध्यम से जिला स्तर पर योजना का कार्यान्वयन किया जाएगा। डिस्ट्रिक्ट लेवल एग्जीक्यूटिव कमिटी के ज्वाइंट डायरेक्टर मेंबर सेक्रेटरी होंगे। इसके अलावा एग्रीकल्चर/ हॉर्टिकल्चर ऑफिसर इस कमेटी के मेंबर होंगे।

सोहेल सैंपलिंग में शामिल एजेंसी

  • सीजी कृषि विभाग के कर्मचारी और मृदा परिषद प्रयोगशाला
  • साइंस कॉलेजेस एवं छात्र एवं फल टेस्टिंग लैबोरेट्री स्टाफ
  • राज्य कृषि विश्वविद्यालय और उनके मृदा परीक्षण कर्मचारी

परीक्षण मैं शामिल एजेंसी

  • निविदा के माध्यम से निजी एवं आउटसोर्सिंग एजेंसी
  • मुद्रा परीक्षण प्रयोगशालाओं
  • साइंस कॉलेज
  • परीक्षण प्रयोगशाला

सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम के कॉम्पोनेंट

  • सोयल हेल्थ कार्ड – सोयल हेल्थ कार्ड मिट्टी की उर्वरता की स्थिति और फसल उत्पादक को प्रभावित करने वाले अन्य महत्वपूर्ण मृदा मापदंडों की क्षेत्र विशिष्ट विस्तृत रिपोर्ट है। इस कार्ड के माध्यम से सॉइल से संबंधित सभी जानकारी किसान को प्रदान की जाती है। जिससे कि किसान खेती कर सकें। यह कार्ड प्रत्येक 3 वर्षों में किसानों को प्रदान किया जाएगा। जिससे कि किसान गुणवत्तापूर्ण खेती कर सकें। किसानों को कीटनाशक के प्रयोग से संबंधित जानकारी भी प्रदान की जाएगी। जिससे कि कीटनाशक के प्रयोग का बेहतर प्रबंधन किया जा सके। इस योजना के माध्यम से सॉइल की अनियमित चेकिंग भी की जाएगी। यह चेकिंग बाहरी एजेंसी के माध्यम से की जाएगी।
  • मृदा विश्लेषण के लिए प्रशिक्षण – SAUs/ICARसंस्थानों के माध्यम से 20 प्रतिभागियों की बैच में मृदा केमिस्ट छात्र एवं जेआरएफ को मृदा विश्लेषण और उर्वरक सिफारिशों के लिए 1 सप्ताह का व्यावहारिक अभिविन्यास प्रशिक्षण आयोजित किया जाएगा। जिससे कि इस योजना का सफलतापूर्वक कार्यान्वयन किया जाए। इस प्रशिक्षण के माध्यम से सॉइल केमिस्ट छात्रों को मृदा से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की जाएगी।
  • पोषक तत्वों के लिए वित्तीय सहायता –  केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय और अन्य कृषि महाविद्यालयों के अंतर्गत विशेषज्ञों द्वारा किसानों के लिए मिट्टी से संबंधित जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। इन कार्यक्रमों के माध्यम से किसानों को पोषक तत्व से संबंधित जानकारी प्रदान की जाएगी। जिससे कि वह गुणवत्तापूर्ण खेती कर सकें। वह सभी किसान जो इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए रुचि रखते हैं उनको आवेदन करना होगा।
  • क्षमता निर्माण एवं नियमित निगरानी और मूल्यांकन – राज्यों द्वारा SAU/ICAR संस्थानों के साथ तकनीकी एवं लाइन स्टाफ के लिए ओरियंटेशन आयोजित किया जाएगा। संतुलित पोषण आहार अभ्यास के कार्यान्वयन को सुगम बनाने के लिए लक्षित जिलों में समन्वय समितियों का गठन किया जाएगा। इसके अलावा पोषक तत्व के लिए वित्तीय सहायता के लिए चिन्हित किसानों को पंजीकृत किया जाएगा।

 परम्परागत कृषि विकास योजना

Soil Health Card Scheme 2022 मुख्य तथ्य

  • इस योजना के अंतर्गत देश के किसानो की  खेतों की मिट्टी जांच करके  मृदा स्वास्थ्य कार्ड प्रदान करना है।
  • Soil Health Card Scheme 2022 का लाभ देश एक 14 करोड़ किसानो को सरकार द्वारा प्रदान  किया जायेगा |
  • किसानों को उनके खेतों के अनुसार फसल लगाने का सुझाव दिया जाएगा |
  • इस कार्ड के तहत किसानों को एक रिपोर्ट दी जाएगी, एवं इस रिपोर्ट में उनकी जमीन की मिट्टी की पूरी जानकारी होगी |
  • मृदा स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड 2022 के तहत किसानो को एक खेत के लिए हर 3 साल में एक मृदा स्वास्थ्य कार्ड दिया जायेगा |
  • भारत सरकार ने इस योजना के तहत 568 करोड़ रूपये का बजट तय किया गया है |
  • देश के सभी किसान इस योजना का लाभ उठा सकते है |
  • केंद्र सरकार द्वारा मृदा स्वास्थ्य कार्ड वितरण के पहले चरण (वर्ष 2015 से 2017) में 10.74 करोड़ कार्ड और दुसरे चरण (वर्ष 2017-2019) में 11.69 करोड़ कार्ड वितरित किये गए हैं।
  • इन कार्डों की सहायता से किसान अपने खेतों की मृदा के बेहतर स्वास्थ्य और उर्वरता में सुधार के लिये पोषक तत्त्वों का उचित मात्रा में उपयोग करने के साथ ही मृदा की पोषक स्थिति की जानकारी प्राप्त कर रहे हैं।

Soil Health Card Scheme के लाभ तथा विशेषताएं

  • Soil Health Card को केंद्र सरकार द्वारा आरंभ किया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से किसान अपने खेत की मिट्टी की उपज बढ़ा सकते हैं।
  • मुद्रा स्वास्थ्य कार्ड योजना के नाम से भी इस योजना को जाना जाता है।
  • इस योजना के अंतर्गत एक कार्ड प्रदान किया जाता है जिसके माध्यम से किसान अपने खेत की जमीन की मिट्टी का प्रकार जान सकता है।
  • यदि किसानों को अपने खेत की मिट्टी का प्रकार पता होगा तो उन्हें मिट्टी की गुणवत्ता के अनुसार फसल लगाने में आसानी होगी और अच्छी खेती की जा सकेगी एवं ज्यादा मुनाफा प्राप्त किया जा सकेगा।
  • किसानों को उनके खेत की मिट्टी से संबंधित सभी जानकारी मुद्रा स्वास्थ्य कार्ड के माध्यम से प्रदान की जाएगी।
  • सन 2015 में इस योजना को आरंभ किया गया था।
  • इस योजना को किसानों की आय में वृद्धि करने एवं खाद के उपयोग से मिट्टी के आधार और संतुलन को बढ़ाने के उद्देश्य से आरंभ किया गया था।
  • कम कीमत में फसल की अधिक पैदावार भी इस योजना के माध्यम से सुनिश्चित की जा सकेगी।
  • इस योजना के अंतर्गत जो सॉइल हेल्थ कार्ड किसानों को प्रदान किया जाएगा उसमें किसानों को अपने खेत के अनुसार फसल लगाने के सुझाव भी प्रदान किए जाएंगे।
  • इस कार्ड के माध्यम से किसानों को यह भी जानकारी प्रदान की जाती है कि मिट्टी के अंदर कितनी मात्रा में क्या चीज है एवं किस फसल के लिए कितनी खाद और कौन सी खाद का उपयोग किया जाए।
  • सॉइल हेल्थ कार्ड योजना के माध्यम से किसानों के उत्पाद में भी बढ़ोतरी होगी।

सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम 2022 कैसे काम करता है ?

  • सर्वप्रथम अधिकारी आपके खेत की मिट्टी के सेम्पल को इकठ्ठा करेंगे |
  • इसके बाद मिट्टी को परीक्षण के लिए लेबोरेटरी में भेजा जायेगा |
  • वहां विशेषज्ञ मिटटी की जाँच करते हैं और मिटटी के बारे में सभी जानकारियाँ प्राप्त करते हैं।
  • इसके बाद वे विभिन्न मिट्टी के सैंपल की ताकत और कमजोरी की सूची बनायेंगे.
  • यदि मिट्टी में कुछ कमी है तो उसके सुधार के लिए सुझाव देंगे और उसकी एक सूची बनायेंगे |
  • उसके बाद इस रिपोर्ट को एक-एक करके किसान के नाम के साथ ऑनलाइन अपलोड किया जाता है |
  • जिससे की किसान अपने मिटटी का रिपोर्ट जल्द से जल्द देख सके और उनके मोबाइल पर भी इसकी जानकारी दी जाती है।

मृदा हेल्थ कार्ड पर उपस्थित जानकारी

  • मिट्टी की सेहत
  • खेत की उत्पादक क्षमता
  • पोषक तत्व की मौजूदगी एवं पोषक तत्व की कमी
  • पानी की मात्रा यानी नमी
  • अन्य उपस्थित पोषक तत्व
  • खेतों की गुणवत्ता सुधारने हेतु उचित दिशनिर्देश।

Soil Health Card Scheme में आवेदन कैसे करे ?

देश के जो इच्छुक लाभार्थी मृदा स्वास्थ् कार्ड योजना के तहत आवेदन करना चाहते है तो वह नीचे दिए गए तरीके को फॉलो करे |

  • सर्वप्रथम आवेदक को योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा | Official Website पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा |
Soil Heath Card Scheme
  • इस होम पेज पर आपको Login के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा | इस ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने आगे का पेज खुल जायेगा इस पेज पर आपको अपने State का चयन करना करना होगा |
सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम
  • स्टेट का चयन करने के बाद आपको Continue के बटन पर क्लिक करना होगा | इसके बाद आपके सामने आगे का पेज खुल जायेगा |
  • इस पेज पर आपको लॉगिन फॉर्म खुल जायेगा इसमें आपको नीचे New Registration के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा | ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जायेगा |
मृदा स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड  Application Form
  • इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म में आपको User Organisation Details, Language, User Details, User Login Account Details आदि सभी पूछी गयी जानकारी भरनी होगी |
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा | सफल रजिस्ट्रेशन के बाद आपको लॉगिन करना होगा | आपको होम पेज पर  लॉगिन फॉर्म को खोलना होगा |
login form soil health card
  • लॉगिन फॉर्म में आपको अपना यूज़र नेम ,और पासवर्ड डालकर होगा | इस तरह आप मृदा स्वास्थय कार्ड के लिए आवेदन कर सकते है |

सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम प्रिंट कैसे करे?

  • सबसे पहले आपको Official Website पर जाना होगा | Official Website पर जाने के बाद आपके सामने होम  पेज खुल जायेगा |
  • इस होम पेज पर आपको Farmer Corner में Print Soil Health Card का ऑप्शन दिखाई देगा आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा |
Soil Health Card Scheme
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा | इस पेज पर आपको अपने state का चयन करना होगा |
  • चयन करने के बाद आपके सामने एक फॉर्म खुल जायेगा | इस फॉर्म में आपको district, villege, farmers name आदि जानकारी भरनी होगी |
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा | इसके पश्चात् आपके सामने मृदा स्वास्थ्य कार्ड खुल जायेगा और आप प्रिंट कर ले |

Soil Health Card पर लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको Soil Health Card Scheme की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खोलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको लॉगइन के लिंक पर क्लिक करना होगा।
मृदा स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड योजना
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा। जिसमें आपको अपने राज्य का चयन करना होगा।
  • अब आपको Continue के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको Username, Paasword तथा Captcha Code भरकर Login के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप लॉगिन कर पाएंगे।

अपना सैंपल ट्रैक करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको सॉइल हेल्थ पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। अब आपके सामने होम पेज खोलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको Farmer Corner के अंतर्गत ट्रैक your सैंपल के लिंक पर क्लिक करना होगा।
मृदा स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड योजना
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको अपने राज्य, जिले, मंडल तथा गांव का चयन करना होगा तथा फार्मर का नाम, विलेज ग्रिड नंबर तथा सैंपल नंबर दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको Search के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • आप का सैंपल स्टेटस आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगा।

सॉइल टेस्टिंग लैबोरेट्री लोकेट करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको सॉइल हेल्थ पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खोलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको फार्मर्स कॉर्नर के अंतर्गत लोकेट् सॉइल टेस्टिंग लैबोरेट्री के लिंक पर क्लिक करना होगा।
Soil Health Card Scheme
  • उसके बाद आपके सामने एक नया पेज खोलकर आएगा जिसमें आपको अपने राज्य तथा डिस्ट्रिक्ट का चयन करना होगा।
  • अब आपको View Report या फिर व्यू मैप के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • यदि आप व्यू रिपोर्ट के बटन पर क्लिक करेंगे आपके सामने सॉइल टेस्टिंग लैब की सूची खुलकर आ जाएगी और यदि आप व्यू मैप के बटन पर क्लिक करेंगे तो आपके सामने मैप खुलकर आएगा जिसमें आपको सारे नजदीकी सॉइल टेस्टिंग लैबोरेट्री मिल जाएंगी।

सैंपल रजिस्ट्रेशन मोबाइल ऐप डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको Soil Health Card की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खोलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको Download टैब के अंतर्गत सैंपल रजिस्ट्रेशन मोबाइल एप के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे यह ऐप आपके मोबाइल फोन में डाउनलोड होना शुरू हो जाएगा।
  • आप इसे डाउनलोड करके इंस्टॉल कर सकते हैं।

टेस्ट रिजल्ट एंट्री मोबाइल ऐप डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको सॉइल हेल्थ पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खोलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको डाउनलोड टैब के अंतर्गत टेस्ट रिजल्ट एंट्री मोबाइल एप के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे यह ऐप आपके मोबाइल फोन में डाउनलोड होना शुरू हो जाएगा।
  • आप इसे डाउनलोड करके इंस्टॉल कर सकते हैं।

सीएससी लॉगिन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको सोयल हेल्थ कार्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको डिजिटल सेवा कनेक्ट के लिंक पर क्लिक करना होगा।
सीएससी लॉगिन
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुलकर आएगा।
  • इस पेज पर आपको अपना यूजरनेम या ईमेल आईडी तथा पासवर्ड दर्ज करना होगा।
  • अब आपको साइन इन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप सीएससी लॉगइन कर पाएंगे।

सॉइल हेल्थ डैशबोर्ड देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको सोयल हेल्थ कार्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको सॉइल हेल्थ डैशबोर्ड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
सॉइल हेल्थ डैशबोर्ड
  • जैसे ही आप इस विकल्प पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको अपना राज्य, जिला, sub-district एवं विलेज का चयन करना होगा।
  • अब आपको सर्च के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप सोयल हेल्थ डैशबोर्ड देख पाएंगे।

कॉम्पोनेंट प्रोग्रेस देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको सोयल हेल्थ कार्ड स्कीम की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको कंप्लेंट प्रोग्रेस के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपकी स्क्रीन पर निम्नलिखित ऑप्शन खुलकर आएंगे।
    • SHM
      • स्टेट वाइज
      • कम्युलेटिव
    • SHC
  • आपको अपनी आवश्यकतानुसार विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको राज्य तथा फाइनैंशल ईयर का चयन करना होगा।
  • अब आपको व्यू के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप कॉम्पोनेंट प्रोग्रेस देख सकेंगे।

प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर की सूची देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको सोयल हेल्थ कार्ड स्कीम की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको जोन वाइज प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर ऑफ KVKs के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
Soil Health Card Scheme
  • इसके पश्चात आपकी स्क्रीन पर एक पीडीएफ फाइल खोलकर आएगी।
  • इस फाइल में आप कोऑर्डिनेटर की सूची देख सकेंगे।

आईसीएआर इंस्टीट्यूट से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको सोयल हेल्थ कार्ड स्कीम की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको आईसीएआर इंस्टीट्यूट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
आईसीएआर इंस्टीट्यूट से संबंधित जानकारी
  • अब आपकी स्क्रीन पर एक पीडीएफ फाइल खोलकर आएगी।
  • इस फाइल में आप इंस्टीट्यूट से संबंधित जानकारी देख सकेंगे।

जोनल प्रोजेक्ट डायरेक्टर से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको सोयल हेल्थ कार्ड स्कीम की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको जोनल प्रोजेक्ट डायरेक्टर ऑफ KVKs के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
जोनल प्रोजेक्ट डायरेक्टर से संबंधित जानकारी
  • अब आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आप जोनल प्रोजेक्ट डायरेक्टर से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।

स्कीम प्रोग्रेस देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको सोयल हेल्थ कार्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको स्कीम प्रोग्रेस के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
Soil Health Card Scheme
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको स्कीम प्रोग्रेस की कैटेगरी का चयन करना होगा।
  • जैसे ही आप इन प्रोग्रेस की कैटेगरी का चयन करेंगे स्कीम प्रोग्रेस रिपोर्ट आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

पोर्टल एंट्री की प्रोग्रेस देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको सोयल हेल्थ कार्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको प्रोग्रेस ऑफ पोर्टल एंट्री के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
Soil Health Card
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आप पोर्टल एंट्री की प्रोग्रेस देख सकते हैं।

सीएससी डैशबोर्ड देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको सोयल हेल्थ कार्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको सीएससी डैशबोर्ड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
सीएससी डैशबोर्ड
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें निम्नलिखित ऑप्शन होंगे।
    • स्टेट वाइज सैंपल रजिस्टर्ड बाय सीएससी यूजर्स–काउंट
    • सैंपल रजिस्टर्ड बाय सीएससी यूजेस–काउंट
    • सैंपल रजिस्टर्ड बाय सीएससी यूजर
    • डेट वाइज, यूजर वाइज सैंपल रजिस्टर्ड बाय सीएससी यूजेस
  • आपको अपनी आवश्यकतानुसार विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको राज्य, साल, महीने, तिथि, vle आदि का चयन करना होगा।
  • अब आपको व्यू के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप सीएससी डैशबोर्ड देख पाएंगे।

क्रॉप्स के लिए फर्टिलाइजर डोसेज से संबंधित जानकारी देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको सोयल हेल्थ कार्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको फर्टिलाइजर डोसेज फॉर क्रॉप्स के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको राज्य तथा जिले का चयन करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको निम्नलिखित जानकारी दर्ज करनी होगी।
    • अवेलेबल नाइट्रोजन
    • ऑर्गेनिक कार्बन
    • अवेलेबल फास्फोरस
    • अवेलेबल पोटेशियम।
  • अब आपको कंटिन्यू के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • क्राफ्ट के लिए फर्टिलाइजर डोसेज से संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

एडिशनल क्रॉप्स का सॉइलहेल्थ कार्ड प्रिंट करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको सोयल हेल्थ कार्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको प्रिंट सोइल हेल्थ कार्ड फॉर एडीशनल क्रॉप्स के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
 सॉइलहेल्थ कार्ड प्रिंट
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको अपने राज्य का चयन करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको कंटिन्यू के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको निम्नलिखित जानकारी दर्ज करनी होगी।
    • राज्य
    • डिस्ट्रिक्ट
    • सब डिस्ट्रिक्ट/मंडल
    • विलेज
    • ग्राम पंचायत
    • फार्मर नेम
    • विलेज ग्रिड नंबर
    • सैंपल नंबर
  • इसके पश्चात आपको सर्च के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • सोयल हेल्थ कार्ड आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगा।
  • अब आपको डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • सॉइल हेल्थ कार्ड आपके डिवाइस में डाउनलोड हो जाएगा।
  • डाउनलोड करने के बाद आप सोयल हेल्थ कार्ड का प्रिंट निकाल सकते हैं।

Contact us

  • सबसे पहले आपको योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा। इस होम पेज पर आपको Contact Us का ऑप्शन दिखाई देगा आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
contact details
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा। इस पेज पर आपको सारी कांटेक्ट डिटेल्स मिल जाएगी।

Helpline Number

हमने अपनी इस लेख के माध्यम से सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम 2022 से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी आपको प्रदान कर दी है। यदि आप अभी भी किसी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं तो आप हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके या फिर ईमेल के माध्यम से अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं। हेल्पलाइन नंबर तथा ईमेल आईडी कुछ इस प्रकार है।

Leave a Comment