Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme 2024: अंतरजातीय विवाह पर मिलेंगे 10 लाख, पात्रता देखें

Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme:- जैसा कि हम सभी जानते हैं कि आज भी हमारे समाज में इंटर कास्ट मैरिज का विरोध किया जाता है लेकिन सामाजिक समरसता कायम रखने के लिए और अस्पृश्यता का निवारण करने हेतु सरकार द्वारा विभिन्न कार्य किए जा रहे हैं। ताकि अंतरजातीय विवाह के भेदभाव को खत्म किया जा सके। इसी दिशा में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा एक नई योजना की शुरुआत की गई है। जिसका नाम Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme है। इस योजना के तहत राजस्थान के नागरिकों को अंतरजातीय विवाह करने पर सरकार द्वारा प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। अगर आप राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना से जुड़ी अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको यह आर्टिकल विस्तार पूर्वक अंत तक पढ़ना होगा

Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme

Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme 2024

राजस्थान सरकार द्वारा इंटर कास्ट मैरिज स्कीम की शुरुआत की गई है। राज्य सरकार द्वारा इंटर कास्ट मैरिज करने पर 10 लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी। ताकि अंतरजातीय विवाह करने वाले जोड़ों को आर्थिक सहायता प्रदान की जा सके। और अंतरजातीय विवाह करने वाले लड़का और लड़की अपना जीवन बिना किसी समस्या के व्यतीत कर सकें। प्रोत्साहन राशि का लाभ प्राप्त करने के लिए विवाहित जोड़े को 1 महीने के भीतर आवेदन करना होगा तभी उन्हें इस योजना का लाभ मिलेगा।

Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme के अंतर्गत अनुसूचित जाति वर्ग के युवक व युवती जो किसी सवर्ण हिंदू युवक अथवा युवती से विवाह करता है तो उसे इस योजना का लाभ मिलेगा। राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना का संचालन सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा किया जा रहा है। राजस्थान इंटरकास्ट मैरिज स्कीम का लक्ष्य किसी दूसरे जाति धर्म में विवाह करने को प्रोत्साहन देना और समाज में लोगों की मानसिकता को बदलना है।

राजस्थान बेरोजगारी भत्ता

राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के बारे में जानकारी

योजना का नाम  Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme
संबंधित विभाग  सामाजिक न्याय एवं सशक्तिकरण विभाग राजस्थान
योजना की शुरुआत  2017
लाभार्थी  अंतरजातीय विवाह करने वाले जोड़े
उद्देश्यअंतरजातीय विवाह को प्रोत्साहन देना एवं समाज में फैली गलत मानसिकता को दूर करना
प्रोत्साहन राशि10 लाख रुपए  
राज्यराजस्थान  
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन/ऑफलाइन  
अधिकारिक वेबसाइट  https://sjmsnew.rajasthan.gov.in/sjms/Login.aspx

अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना राजस्थान का उद्देश्य

Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य अंतरजातीय विवाह को बढ़ावा देना है। और अंतरजातीय विवाह को लेकर समाज में फैली गलत मानसिकता को दूर करना है। इस योजना के तहत समाज में किसी दूसरे जाति धर्म में विवाह करने पर सरकार द्वारा विवाहित जोड़े को 10 लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी। ताकि राज्य के युवक और युवती बिना किसी भेदभाव के अपनी पसंद का जीवन साथी चुन सके। यह प्रोत्साहन राशि सीधे लाभार्थियों के बैंक खाते में भेजी जाएगी। जिसके लिए विवाहित जोड़े को 1 साल के अंदर ही इस योजना का लाभ प्राप्त करने हेतु आवेदन करना होगा।

राजस्थान मुख्यमंत्री गैस सिलेंडर योजना

Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme के अंतर्गत मिलने वाली राशि

  • डॉक्टर सविता बेन अंबेडकर योजना के अंतर्गत अंतरजातीय विवाह करने पर पति पत्नी को 10 लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी।
  • इस योजना के तहत 5 लाख रुपए पति पत्नी के नाम पर 8 साल के लिए फिक्स्ड डिपॉजिट कराएं जाएंगे।
  • बाकी बचे 5 लाख रुपए पति-पत्नी के ज्वाइंट बैंक अकाउंट में जमा कराए जाएंगे ताकि विवाहित जोड़े अपने लिए आवश्यक और घरेलू सामान को खरीद सके। 

राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के लाभ एवं विशेषताएं

  • राजस्थान सरकार द्वारा अंतरजातीय विवाह करने पर विवाहित जोड़ों को 10 लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी।
  • आर्थिक सहायता राशि सीधे विवाहित जोड़ों के बैंक खाते में ट्रांसफर की जाएगी।
  • अगर कोई लड़का या लड़की इस योजना के अंतर्गत दूसरी जाति में शादी करते हैं तो उसे इस योजना का लाभ मिलेगा।
  • इस योजना के माध्यम से अंतरजातीय विवाह पर प्रतिबंध के कारण घर से भागने वाले जोड़ों को सरकार द्वारा सुरक्षा प्राप्त होगी।
  • Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme के तहत अंतरजातीय विवाह करने वाले जोड़ों को एकमुश्त राशि का लाभ मिलेगा। जिससे उन्हें अपना जीवन व्यतीत करने में सहायता मिलेगी।
  • समाज में फैली अंतरजातीय विवाह को लेकर व्यापक कुरीतियों को नष्ट करके समाज में समानता की भावना पैदा होगी।
  • राजस्थान जनजाति विवाह प्रोत्साहन योजना के तहत प्रोत्साहन राशि प्राप्त नए जोड़े अपना घर आसानी से बसा सकेंगे।
  • अपनी पसंद के जीवन साथी के साथ शादी करना इस बात को राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के माध्यम से बढ़ावा मिल सकेगा।
  • घर वालों के दबाव में आकर शादी करने के कारण हो रहे अपराधों को इस योजना के माध्यम से रोका जा सकेगा। 

जन कल्याण पोर्टल राजस्थान 

Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme के लिए पात्रता

  • राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के लिए आवेदक को राजस्थान का मूल निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक की आयु 35 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए। उम्मीदवार के पास विवाह प्रमाण पत्र होना आवश्यक है।
  • इस योजना के तहत आवेदन करने वाले उम्मीदवारों के ऊपर किसी भी प्रकार का कोई भी आपराधिक मामला दर्ज नहीं होना चाहिए।
  • Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme का लाभ लेने के लिए पति-पत्नी की वार्षिक आय 2.5 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • पहली बार अंतरजातीय विवाह करने वाले पति पत्नी ही इस योजना के लिए पात्र होंगे।
  • विवाह होने के 1 साल के भीतर ही राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • वोटर कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र का विवरण
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक खाता विवरण
  • कोर्ट मैरिज प्रमाण पत्र
  • शादीशुदा जोड़े की संयुक्त फोटो
  • हाईस्कूल की मार्कशीट (अगर हो तो) 

Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme के तहत ऑफलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको अपने सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण विभाग या जिला अधिकारी के कार्यालय जाना होगा।
  • वहां जाकर आपको कार्यालय के अधिकारी से राजस्थान इंटर कास्ट मैरिज स्कीम के तहत आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा।
  • आवेदन फॉर्म प्राप्त करने के बाद आपको फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक दर्ज करना होगा।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको आवेदन फॉर्म में मांगे गए आवश्यक दस्तावेजों को संलग्न करना होगा।
  • इसके बाद आपको यह आवेदन फॉर्म वापस ले जाकर सामाजिक न्याय सशक्तिकरण विभाग के कार्यालय या जिला अधिकारी के कार्यालय में जमा कर देना होगा।
  • इसके बाद आपके आवेदन फॉर्म की जांच की जाएगी।
  • अगर आप इस योजना के लिए पात्र माने जाते हैं तो आपको Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme का लाभ प्रदान किया जाएगा।  

राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

  • सबसे पहले आपको SJMS पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने कुछ इस तरह का पेज खुल जाएगा।
Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme
  • अब आपको न्यू यूजर सिंगल साइन ऑन (SSO) पोर्टल पर रजिस्टर करें के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme
  • यहां पर आपको Jan Aadhar,Bhamasha, Facebook, Google इनमें से किसी एक के माध्यम से लॉगिन करना होगा।
  • लॉगिन होंने के बाद आपको Utility के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको Advance Search के ऑप्शन पर क्लिक कर Utility, Social Justice &Empowerment Department और डॉक्टर सविता अंबेडकर Inter Caste Marriage का चयन करना होगा।
  • अब आपको अगले पेज पर Application Form के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जाएगा।
  • अब आपका आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी आवश्यक जानकारी को ध्यानपूर्वक दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको फॉर्म में मांगी गए आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • शादी का प्रमाण पत्र, पति-पत्नी का शपथ पत्र, जिला प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, पति-पत्नी का 10वीं प्रमाण पत्र आदि।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको Submit के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आपकी Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme के तहत ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

Leave a Comment