Poshan Pakhwada 2024 – पोषण पखवाड़ा क्या है? कब शुरू होगा, कैसे भाग ले

Poshan Pakhwada:- पोषण के महत्व के बारे में जागरूकता फैलाने जन आंदोलन और जन भागीदारी के माध्यम से स्वस्थ खाने की आदतों को बढ़ावा देने के लिए महिला और बाल विकास मंत्रालय पूरे देश में पोषण पखवाड़ा का आयोजन कर रहा है। यह 9 मार्च से 23 मार्च 2024 तक चलेगा। Poshan Pakhwada भारत सरकार की एक महत्वपूर्ण पहल है जो कुपोषण को दूर करने और लोगों के स्वास्थ्य और जीवन स्तर में सुधार करने में मदद करती है। देशभर में कुपोषण संबंधित स्वास्थ्य मुद्दों को संबोधित करने के उद्देश्य से भारत सरकार द्वारा 2018 में राष्ट्रीय पोषण मिशन के तहत पोषण अभियान को शुरू किया गया। आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से पोषण पखवाड़ा क्या है? इसके उद्देश्य लाभ एवं विशेषताएं से संबंधित संपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराएंगे। Poshan Pakhwada 2024 से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए आपको यह आर्टिकल विस्तार पूर्वक अंत तक पढ़ना होगा।

Poshan Pakhwada

पोषण पखवाड़ा क्या है?

पूरे देश में 9 मार्च से 23 मार्च 2024 तक महिला और बाल विकास मंत्रालय द्वारा पोषण पखवाड़ा का आयोजन किया जा रहा है। पोषण पखवाड़ा भारत सरकार की एक महत्वपूर्ण पहल है जो पोषण के महत्व के बारे में जागरूकता को बढ़ावा और आबादी के बीच स्वस्थ भोजन की आदतों को बढ़ावा देता है। पखवाड़ा एक 15 दिवसीय अभियान है। जिसे साल में दो बार मनाया जाता है। आमतौर पर भारत सरकार द्वारा पोषण पखवाड़ा मार्च और सितंबर में देशभर में विभिन्न गतिविधियों कार्यक्रम के साथ आयोजित किया जाता है। यह 15 दिवसीय अभियान देश भर में पोषण आहार प्रथाओं और महिलाओं के स्वास्थ्य के बारे में जागरूकता चलाने के लिए चलाया जाता है। स्वस्थ खानपान की आदतें विकसित करने और उसके प्रति जन जागरूकता बढ़ाने के 2018 में पोषण अभियान की शुरुआत के बाद से ही हर साल Poshan Pakhwada और पोषण माह के रूप में जन आंदोलन मनाया जा रहा है। इस बार 9 मार्च से 23 मार्च 2024 तक  पोषण पखवाड़ा का छठा आयोजन किया गया है। 

महिला उद्यम निधि योजना

Poshan Pakhwada 2024 का उद्देश्य

पोषण पखवाड़ा का मुख्य उद्देश्य विशेष रूप से महिलाओं, बच्चों और कमजोर समूह के बीच उचित पोषण के महत्व पर जोर देकर कुपोषण संबंधित स्वास्थ्य मुद्दों को संबोधित करना है। यह अभियान मां एवं शिशु स्वास्थ्य में सुधार, बच्चों में बौनेपन और कमजोरी को कम करने और एनीमिया तथा अन्य पोषण संबंधी कर्मियों को दूर करने पर केंद्रित है। इसी के साथ पोषण के बारे में जागरूकता और ज्ञान को बढ़ावा देकर अभियान का उद्देश्य विशेषकर महिलाओं और बच्चों के समग्र कल्याण विकास में योगदान करना है।

पोषण पखवाड़ा 2024 के अंतर्गत होने वाली गतिविधियां

देशभर में Poshan Pakhwada के दौरान विभिन्न गतिविधियां आयोजित की जाती है। जिनमें से कुछ निम्न प्रकार है।

  • स्कूलों में पोषण शिक्षा कार्यक्रम
  • पोषण संबंधी प्रदर्शनियां और मेले
  • सामुदायिक भोजनों का आयोजन
  • आंगनबाड़ी केंद्र पर पोषण जागरूकता शिविर
  • पोषण संबंधी रेडियो वार्ता और टेलीविजन कार्यक्रम
  • पोषण संबंधी प्रतियोगिता जैसे निबंध, लेखन, चित्रकला और वाद विवाद प्रतियोगिताएं

Poshan Pakhwada 2024 के केंद्रित क्षेत्र

पोषण पकवाड़ा के दौरान मुख्य गतिविधियों और जागरूकता के लिए निम्नलिखित क्षेत्र केंद्रित होंगे।

  • पोषण भी पढ़ाई भी (पीबीपीबी)- बेहतर प्रारंभिक बचपन देखभाल और शिक्षा को बढ़ावा देना।
  • जनजातीय, पारंपरिक, क्षेत्रीय, स्थानीय आहार प्रथाएं पोषण के बारे में संवेदनशील बनाना।
  • गर्भवती महिलाओं का स्वस्थ्य शिशु एवं छोटे बच्चों का आहार (IYCF) अभ्यास।

अन्य महत्वपूर्ण विषयों में शामिल

  • मिशन लाइफ के माध्यम से पोषण में सुधार।  (जल संरक्षण वर्षा जल संचयन)
  • टिकाऊ खाद्य प्रणालियों के लिए बाजरा और पोषण वाटिका (रसोई उद्यान) को बढ़ावा देना।
  • एनीमिया का परीक्षण करें इलाज करें और बात करें। 
  • आयुष पद्धतियों के माध्यम से स्वस्थ जीवन शैली अपनाना।
  • जल स्वच्छता और हाइजीन और डायरिया प्रबंधन पर ध्यान दें।
  • आंगनबाड़ी केंद्रों में स्वस्थ बालक प्रतिस्पर्धा में बच्चों की नियमित वृद्धि निगरानी को बढ़ावा देना।   

सीनियर सिटीजन कार्ड

Poshan Pakhwada 2024 के लाभ एवं विशेषताएं

  • पोषण पखवाड़ा लोगों को अपने खाने में बदलाव लाने के लिए प्रेरित करता है।
  • लोगों को कुपोषण और उसके प्रभावों के बारे में जागरूक करता है। 
  • यह अभियान लोगों को घर पर पोषण वाटिका लगाने के लिए प्रेरित करता है।
  • पोषण पखवाड़ा के माध्यम से लोगों को स्वास्थ्य भोजन की आदतों और पोषक तत्वों के महत्व के बारे में शिक्षित किया जाता है।
  • यह लोगों को विभिन्न सरकारी योजनाओं कार्यक्रमों के बारे में जानकारी प्रदान करता है जिससे उन्हें पोषण में सुधार करने में मदद मिलती है। 
  • Poshan Pakhwada विभिन्न सरकारी और गैर सरकारी संगठनों को पोषण के सुधार के लिए मिलकर काम करने के लिए प्रेरित करता है।
  • कुपोषण स्तर में कमी लाने में पोषण पखवाड़ा मदद करता है।
  • महिलाओं और बच्चों में कुपोषण के मामलों को कम करने में सहायता करता है।
  • राष्ट्रीय विकास में पोषण पखवाड़ा योगदान देता है। 
  • Poshan Pakhwada समुदाय को कुपोषण के खिलाफ लड़ाई में भाग लेने के लिए प्रेरित करता है।

पोषण पखवाड़ा का हिस्सा कैसे बन सकते हैं?

Poshan Pakhwada का हिस्सा बनने के लिए आप अपने आशा कार्यकर्ताओं और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से संपर्क कर सकते हैं। आप अपने परिवार और समुदाय के लोगों को पोषण के बारे में बात कर जागरुक कर सकते हैं। इसके अलावा आप सोशल मीडिया पर भी #PoshanPakhwada2024 का उपयोग कर जागरूकता फैला सकते हैं। नीचे कुछ तरीके दिए गए जिन्हें अपनाकर आप पोषण पखवाड़ा में भाग ले सकते है।

  • पोषण जागरूकता कार्यक्रमों में भाग लें।
  • पोषण वाटिका लगाएं।
  • स्वस्थ भोजन की आदतों को अपनाएं।
  • अपने परिवार और समुदाय के लोगों को पोषण के महत्व के बारे में बताएं।
  • सरकारी और गैर सरकारी संगठनों द्वारा आयोजित पोषण कार्यक्रमों में भाग लें। 

FAQs

पोषण पखवाड़ा क्या है?

भारत में पोषण संबंधी जागरूकता को बढ़ाने और स्वस्थ खाने की आदतों को अपनाने के लिए पोषण पखवाड़ा भारत सरकार के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय की एक महत्वपूर्ण पहल है।

Poshan Pakhwada का इस बार कौन सा आयोजन किया जा रहा है?

Poshan Pakhwada का इस बार छठा आयोजन किया जा रहा है। 

Leave a Comment