PM Janman Yojana 2024: पीएम जनमन योजना की पहली किस्त जारी, लाभार्थी सूची चेक

PM Janman Yojana (PM PVTG):- देश के आदिवासी विशेष कमजोर जनजाति समूह के कल्याण हेतु प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 नवंबर 2023 को लगभग 24,000 करोड़ रुपए के बजट के साथ पीएम जनजाति आदिवासी न्याय महा अभियान को लॉन्च किया है। इस योजना के माध्यम से आदिवासी समाज के लोगों को बेहतर और आजीविका के अवसरों जैसी बुनियादी सुविधा और जरूरत को सुनिश्चित करने का काम किया जाएगा। पीएम मोदी ने कहा कि बीजेपी की अटल बिहारी वाजपेई की सरकार ने आदिवासी समाज के लिए अलग से मंत्रालय बनाया और एक अलग बजट आवंटित किया है। पहले की तुलना में आदिवासी कल्याण का बजट 6 गुना बढ़ाया गया है। ताकि प्रधानमंत्री जनमन योजना के तहत सरकार आदिवासी समूह और आदिम जनजातियों तक पहुंच कर उनका पूरा विकास सुनिश्चित कर सके।

आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से प्रधानमंत्री जनमन योजना से जुड़ी जानकारी उपलब्ध कराएंगे। साथ ही आपको बताएंगे कि PM Janman Yojana के तहत आदिवासी समूह और आदिम जनजातियों को क्या-क्या सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी?

PM Janman Yojana (PM PVTG Mission) 2023

PM Janman Yojana (PM PVTG Mission) 2024

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा जनजातीय गौरव दिवस के अवसर पर झारखंड के खूंटी जिले में बिरसा मुंडा की जयंती पर पीएम जनजातीय आदिवासी न्याय महा अभियान पीएम जनमन योजना (PM PVTG Yojana) की शुरुआत की गई है। इस योजना को विशेष रूप से आदिवासियों के कल्याण हेतु बनाया गया है जिसके लिए प्रधानमंत्री ने 24,000 करोड़ रुपए के बजट के साथ इस योजना को लॉन्च किया है। पीएम मोदी ने इस दौरान कहा कि विकसित भारत के संकल्प का एक प्रमुख आधार पीएम जनमन या पीएम जनजाति आदिवासी न्याय महा अभियान है। प्रधानमंत्री जनमन योजना के तहत सरकार आदिवासी समूह और आदिम जातियां तक पहुंचेगी जिनमें से अधिकांश लोग अब तक जंगलों में रहते हैं। इस अभियान के तहत स्वास्थ्य और पोषण तक बेहतर पहुंचे और टिकाऊ रहन-सहन के मौके जैसी बुनियादी सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

प्रधानमंत्री ने जारी की 15th किस्त

15th Jan 2024 Update:- पीएम जनमन योजना की पहली किस्त 1 लाख लोगों को होगी जारी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 15 जनवरी 2024 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पीएम जनमन योजना की पहली किस्त जारी करेंगे। पीएम मोदी प्रधानमंत्री जनजाति आवासीय न्याय महा अभियान  (PM Janman) के तहत प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण के 1 लाख लाभार्थियों को पहली किस्त जारी की जाएगी। इस अवसर पर प्रधानमंत्री पीएम जनमन योजना के लाभार्थियों से बातचीत भी करेंगे। केंद्र सरकार द्वारा पीएम जनमन योजना के लिए 24000 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है। देश के गरीब और पिछड़े वर्ग के नागरिकों का प्रधानमंत्री जनमन योजना के तहत कई तरह की सुविधा दी जा रही है। इस योजना के लाभार्थियों को पहली किस्त का बेसब्री से इंतजार है। 

प्रधानमंत्री जनमन योजना 2024 के बारे में जानकारी

योजना का नामPM PVTG Mission
शुरू की गईप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा  
लाभार्थीजनजातीय आदिवासी समुदाय के नागरिक  
उद्देश्यजनजातीय  आदिवासी समुदाय के नागरिकों का विकास सुनिश्चित करना
बजट राशि  24000 करोड़ रुपए
श्रेणीकेंद्र सरकारी योजना  
साल  2024
आधिकारिक वेबसाइट  जल्द लॉन्च होगी  

PM PVTG Mission का उद्देश्य

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा पीएम जनमन योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य देश के जनजातीय  आदिवासी समुदाय के नागरिकों का विकास सुनिश्चित करना है ताकि आदिवासी जनजातियों की जिंदगी में बदलाव लाकर उनका कल्याण किया जा सके। इसलिए इस योजना के माध्यम से आदिवासी जनजातियों के परिवारों को सड़क और दूरसंचार कनेक्टिविटी, बिजली पहुंचाने, सुरक्षित आवास, स्वच्छ पेयजल, सुविधा उपलब्ध करने का काम किया जाएगा। इसके अलावा शिक्षा, स्वास्थ्य, पोषण तक इन जनजातियों की पहुंच बनाने के लिए बुनियादी सुविधा और जरूरत को पूरा करने का काम किया जाएगा।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान

अलग से इन जातियों का विकास किया जाएगा सुनिश्चित

पीएम जनजाति आदिवासी न्याय महा अभियान (PM PVTG Yojana) को प्रधानमंत्री मोदी ने आदिवासियों गौरव के प्रतीक बिरसा मुंडा की जयंती और तीसरे जनजातीय गौरव दिवस के मौके पर इस मिशन की शुरुआत करते हुए कहा कि सरकार ने लाखों की आबादी वाले 75 ऐसे आदिवासी समुदाय और आदिम जनजाति की पहचान की है जो देश के 22000 से अधिक गांव में रहते हैं। जो अति पिछड़े हुए हैं। इनकी संख्या लाखों में है जोकि विलुप्त होने के कगार पर है। और कहा कि सरकारें पहले आंकड़ों को जोड़ने का काम करती थी लेकिन मैं आंकड़ों को नहीं बल्कि जिंदगी को जोड़ना चाहता हूं। केंद्र सरकार इस अभियान के लिए 24,000 करोड़ रुपए खर्च करेगी। इसके अलावा शत प्रतिशत टीकाकरण, स्किल सेल रोग उन्मूलन, पीएमजेएवाई, टीबी उन्मूलन, पीएम सुरक्षित मातृत्व योजना, पीएम मातृ वंदना योजना, पीएम पोषण, पीएम जन योजना आदि योजनाओं के लिए इन जनजातियों को पूरा विकास अलग से सुनिश्चित किया जाएगा।

प्रधानमंत्री जनमन योजना क्रांतिकारी बदलाव लाएगी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा कहा गया है कि देश के हर कोने में आदिवासी योद्धाओं ने स्वतंत्रता संग्राम में भाग लिया है और देश का कोई ऐसा कोना नहीं है जहां आदिवासी नायकों ने ब्रिटिश साम्राज्य से लोहा नहीं लिया। जनजातीय समुदाय के लोगों ने देश का गौरव बढ़ाया है। और कहा कि प्रधानमंत्री विशेष कमजोर जनजाति समूह (PM PVTG) विकास मिशन भी एक तरह की पहल है। जो देश के 18 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में रहने वाले 75 आदिवासी समुदाय और आदिम जनजातियों को कवर करेंगी। देश के 220 जिलों में और 22,544 गावों में रहते हैं। उनकी आबादी करीब 28 लाख है। और ये जनजातियां जंगलों में अक्सर बिखरी हुई, सुदूर और दुर्गम बस्तियों में निवास करती है। यह योजना इनकी जिंदगी में क्रांतिकारी बदलाव लाएगा। 

क्याक्या सुविधाएं कराई जाएगी उपलब्ध

प्रधानमंत्री विशेष रूप से कमजोर जनजातीय समूह मिशन के तहत लगभग 28 लाख पीवीटीजी को दायरे में लाया जाएगा। सरकार के आधिकारिक बयान के अनुसार इस मिशन के तहत आदिवासी जनजातियों के लिए विभिन्न कार्यक्रम को चलाया जाएगा। ताकि आदिवासियों का कल्याण किया जा सके। 24,000 करोड़ रुपए के बजट वाले इस मिशन के माध्यम से पीवीटीजी परिवार और बस्तियों को जनजातियों की बेहतर पहुंच बनाने और स्थाई आजीविका के अवसरों जैसी बुनियादी सुविधा और जरूरत को पूरा करने के लिए निम्नलिखित सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएगी।

  • PVTG क्षेत्र में सड़क और टेलीफोन कनेक्टिविटी,
  • पावर,
  • सुरक्षित घर,
  • पीने का साफ पानी,
  • सफाई,
  • शिक्षा,
  • स्वास्थ्य,
  • पोषण तक बेहतर पहुंच
  • रहन-सहन के मौके आदि। 

 प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम

PM PVTG Mission FAQs
प्रधानमंत्री जन्म योजना को कब शुरू किया गया?

प्रधानमंत्री जनमन योजना को 15 नवंबर 2023 को शुरू किया गया।

PM PVTG Mission को किसने लॉन्च किया?

प्रधानमंत्री जनजाति आदिवासी न्याय महा अभियान को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा झारखंड में लॉन्च किया गया।

PM Janman Yojana 2024 के तहत कितने रुपए का बजट निर्धारित किया गया है?

पीएम जनमन योजना के तहत 24000 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है।

PM PVTG Mission का लाभ किसे मिलेगा?

PM PVTG Mission का लाभ देश के 18 राज्यों और केंद्र प्रशासित प्रदेशों में रहने वाले 75 आदिवासी समुदाय और आदिम जनजातियों को मिलेगा।

Leave a Comment