पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022: हेल्थ कार्ड रजिस्ट्रेशन

Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana Apply और राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजन हेल्थ कार्ड, Cashless Chikitsa Yojana Online Registration | | राज्य एवं केंद्र सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार की योजनाओं के माध्यम से देश के नागरिकों को कैशलैस ट्रीटमेंट मोहिया कराया जाता है। इन योजनाओं के माध्यम से लाभार्थियों को एक कार्ड प्रदान किया जाता है। इस कार्ड को अस्पताल में दिखाकर लाभार्थी कैशलेस उपचार की सुविधा प्राप्त कर सकता है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा भी राज्य कर्मचारियों एवं पेंशनर्स के लिए ऐसी ही एक योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना का नाम पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलैस चिकित्सा योजना है। इस योजना के माध्यम से राज्य के कर्मचारियों और पेंशनर्स को निजी अस्पतालों में कैशलेस इलाज की सुविधा प्राप्त होगी। इस लेख के माध्यम से आपको Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana का पूरा ब्यौरा प्रदान किया जाएगा।

Table of Contents

Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana 2022

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से राज्य कर्मचारियों एवं पेंशनर्स को ₹500000 तक के कैशलेस उपचार की सुविधा मुहैया कराई जाएगी। इस योजना को लागू करने के लिए शासनादेश उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 7 जनवरी 2022 को जारी कर दिया गया है। इसके अलावा इस योजना को लागू करने का आदेश उत्तर प्रदेश शासन के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद की ओर से जारी कर दिया गया है। इस योजना के माध्यम से राज्य कर्मचारियों, पेंशनर एवं उनके परिवार के नागरिकों को कैशलेस उपचार की सुविधा प्रदान की जाएगी।

  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन स्टेट हेल्थ कार्ड बनवाया जाएगा। यह कार्ड स्टेट एजेंसी फॉर हेल्थ इंटीग्रेटेड सर्विसेज द्वारा बनाया जाएगा।
  • यह जिम्मेदारी सभी विभाग अध्यक्षों की होगी कि वह इस बात का ध्यान रखें कि उनके विभाग के कर्मियों व पेंशनर्स के स्टेट हेल्थ कार्ड बन जाए।
  • इसके अलावा वह सभी निजी अस्पताल जो आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत मरीजों का उपचार कर रहे हैं उनको भी यह सुविधा प्रदान की गई है।
Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना का किया शुभारंभ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा 21 जुलाई सन् 2022 को बुधवार के दिन पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना का शुभारंभ किया जाएगा। इस योजना के माध्यम से प्रदेश के 22 लाख कर्मचारी एवं पेंशनर्स के साथ-साथ उनके 75 लाख से भी अधिक आश्रित परिवार के सदस्यों को भी लाभ की प्राप्ति होगी। लाभार्थियों को इस योजना के तहत एक यूनिक नंबर का हेल्थ आईडी कार्ड मुहैया करवाया जाएगा। जिसकी सहायता से वह और उसके आश्रित परिवार के सदस्य 1 साल में आयुष्मान भारत योजना के तहत सूचीबद्ध निजी अस्पतालों में ₹500000 तक के कैशलैस ट्रीटमेंट की सुविधा प्राप्त कर सकते हैं। साथ ही सरकारी अस्पतालों में लाभार्थी असीमित कैशलेस ट्रीटमेंट का लाभ उठा सकता है। “आयुष्मान भारत हॉस्पिटल लिस्ट” यहां देखें

राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के बजट की पहली किस्त की गई जारी

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं कि इस योजना के तहत राज्य कर्मचारियों एवं पेंशनर्स को कैशलेस स्वास्थ्य सुविधा प्रदान करने के लिए उत्तर प्रदेश में लागू किया गया है। राज्य सरकार द्वारा  इस योजना का सन् 2022-23 में सुचारू रूप से संचालन करने के लिए 100 करोड़ रुपए का बजट आवंटित किया गया है। जिसकी 10 करोड़ रुपए की पहली किस्त बुधवार के दिन जारी कर दी गई है। आयुष्मान भारत योजना के तहत राज्य में लगभग 1900 प्राइवेट अस्पताल कवर्ड है। इन्हीं अस्पतालों के माध्यम से Pandit Deendayal Upadhyay Rajya karmchari Cashless chikitsa Yojana 2022 के लाभार्थियों को भी ₹500000 तक के निशुल्क इलाज की सुविधा प्रदान की जाएगी। जिन राज्य कर्मचारियों या पेंशनर्स ने अभी तक इस योजना के तहत अपना आवेदन नहीं किया है तो वह जल्द से जल्द इस योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर अपना आवेदन करके हेल्थ आईडी कार्ड बनवा लें।

30 लाख से अधिक नागरिकों को प्राप्त होगा लाभ

इस योजना का लाभ प्रदेश के सरकारी चिकित्सा संस्थान, निजी अस्पताल, मेडिकल कॉलेज के माध्यम से भी प्रदान किया जाएगा। चिकित्सा शिक्षा विभाग द्वारा चिकित्सा संस्थानों एवं मेडिकल कॉलेजों के लिए 200 करोड़ रुपए एवं जिला अस्पतालों के लिए 100 करोड़ रुपए का कॉर्पस बनाया गया है। कॉरपस फंड के माध्यम से सरकारी चिकित्सालय को इलाज पर होने वाले खर्च का 50% धनराशि देनी होंगी। बाकी 50% धनराशि उपयोगिता प्रमाण पत्र उपलब्ध करवाने पर वित्त विभाग द्वारा प्रदान की जाएगी। इस इलाज की सुविधा के साथ-साथ वर्तमान व्यवस्था के अनुसार इलाज होने के उपरांत चिकित्सा प्रतिपूर्ति किए जाने का विकल्प भी प्रदान किया जाएगा। इस योजना के माध्यम से 30 लाख से अधिक नागरिकों को लाभ पहुंचेगा।

आयुष्मान भारत कार्ड

Key Highlights Of Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana

योजना का नामपंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना
किसने आरंभ कीउत्तर प्रदेश सरकार
लाभार्थीउत्तर प्रदेश के नागरिक
उद्देश्यकैशलेस उपचार की सुविधा उपलब्ध करवाना
आधिकारिक वेबसाइटhttps://sects.up.gov.in/index.aspx
साल2022
आवेदन का प्रकारऑनलाइन/ऑफलाइन
राज्यउत्तर प्रदेश

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना का उद्देश्य

Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana का मुख्य उद्देश्य लाभार्थियों को कैशलेस उपचार की सुविधा उपलब्ध करवाना है। इस योजना के माध्यम से राज्य कर्मचारियों एवं पेंशनर को ₹500000 तक का कैशलेस इलाज मुहैया कराया जाएगा। अब इस योजना के पात्र लाभार्थियों को अपना इलाज करवाने के लिए किसी पर भी निर्भर रहने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। क्योंकि सरकार द्वारा उनके इलाज का खर्च उठाया जाएगा। लाभार्थी सरकारी एवं निजी अस्पतालों के माध्यम से अपना इलाज करवा सकते हैं। यह योजना प्रदेश के नागरिकों को सशक्त एवं आत्मनिर्भर बनाएगी। इसके अलावा इस योजना के संचालन से देश के नागरिकों के जीवन स्तर में भी सुधार आएगा।

यूपी मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कौशल चिकित्सा योजना का कार्यान्वयन

  • इस योजना के अंतर्गत कॉरपस फंड का प्राविधान उत्तर प्रदेश के सरकारी कर्मचारियो तथा उनके परिवारों के आश्रित सदस्य को कैशलेस चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए किया जाएगा।
  • उपयोगी प्रमाण पत्र प्रस्तुत करके वित्त विभाग से उपचार के समय उपयोग होने वाली अग्रिम कॉरपस फंड की आवंटित धनराशि 50% शेष रह जाने पर अतिरिक्त धनराशि की मांग की जा सकेगी।
  • कैशलेस सुविधा की कोई भी अधिकतम सीमा निर्धारित नहीं की गई है।
  • लाभार्थी की पहचान स्टेट हेल्थ कार्ड की सहायता से की जाएगी।
  • पहचान के उपरांत उनको चिकित्सालय में भर्ती करवाने के पश्चात निशुल्क चिकित्सा उपलब्ध करवाई जाएगी।
  • चिकित्सालय को प्रदान किए गए फंड से बिल का संयोजन किया जाएगा।
  • लाभार्थी को उपचार में प्रोसीजर, जांच एवं आवश्यक दवाएं प्रदान की जाएंगी।
  • उन दवाओं की बिलिंग अनुमन्य नहीं होंगी जो खाद्य वस्तु, टॉनिक अथवा प्रसाधन के रूप में प्रयुक्त की जा रही है। ऐसी दवाइयों का भुगतान लाभार्थी द्वारा खुद किया जाएगा।
  • कैशलेस सुविधा का कार्ड बनने तक की अवधि में उपरोक्त राजकीय चिकित्सा संस्थानों/ अस्पतालों में अंत रोगी के रूप में करवाई गई चिकित्सा के अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक द्वारा सत्यापित बीजक के आधार पर प्रशासनिक विभाग के द्वारा पूर्ण प्रतिपूर्ति कर दी जाएगी। ऐसी बीजक का परीक्षण मुख्य चिकित्सा अधिकारी से करवाना आवश्यक नहीं होगा।

निजी अस्पतालों में उपचार की व्यवस्था

  • आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत एंपैनल्ड निजी अस्पतालों में भी पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के लाभार्थियों द्वारा इलाज करवाया जा सकता है।
  • निजी अस्पताल में इलाज करवाने की प्रति लाभार्थी सीमा प्रति वर्ष ₹500000 तक की होगी।
  • आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत निजी चिकित्सालयों में केवल सामान्य वार्ड ही उपलब्ध हैं। पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के अंतर्गत कर्मचारी के पे बैंड के अनुसार प्राइवेट वार्ड की सुविधा भविष्य में उपलब्ध करवाई जाएगी।

स्टेट हेल्थ कार्ड

  • इस योजना के अंतर्गत आने वाले सभी लाभार्थियों के लिए स्टेट हेल्थ कार्ड बनाया जाएगा।
  • इस कार्ड के माध्यम से लाभार्थी की पहचान की जाएगी। जिसके पश्चात उनको कैशलेस चिकित्सा उपलब्ध करवाई जाएगी।
  • स्टेट हेल्थ कार्ड में लाभार्थियों के विवरण के साथ उनके परिवार के आश्रित सदस्यों का भी विवरण उपस्थित होगा।
  • स्टेट हेल्थ कार्ड समय से बनवाने का दायित्व विभाग अध्यक्षों को सौंपा गया है।
  • ऑनलाइन स्टेट हेल्थ कार्ड बनाने की जिम्मेदारी चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अधीन कार्यरत सचिव की होगी जो आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना किस स्टेट नोडल एजेंसी है।
  • इस योजना के कार्यान्वयन के लिए एक संयुक्त निर्देशक के अधीन एक पृथक सेल की स्थापना की जाएगी। जिसमें 2 चिकित्सक, 2 डाटा एनालिस्ट, 1 सॉफ्टवेयर डेवलपर, 2 कंप्यूटर ऑपरेटर, 2लेख कार एवं 1 सहायक स्टाफ सम्मिलित होगा।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना का आईडी प्लेटफार्म

  • सभी लाभार्थियों का डाटा संरक्षित करने के लिए एक पोर्टल डेवलपमेंट तथा स्थापित करने हेतु स्टेट डाटा सेंटर में सरवर की स्थापना की जाएगी।
  • इस पोर्टल का डेवलपमेंट एवं रखरखाव सचिव द्वारा किया जाएगा।

चिकित्सा प्रतिपूर्ति की व्यवस्था

  • इस योजना के अंतर्गत ओपीडी उपचार के उपरांत भी चिकित्सा प्रतिपूर्ति की व्यवस्था लागू रहेगी।
  • पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के अंतर्गत लाभार्थियों के लिए वर्तमान व्यवस्था के अनुसार किसी भी चिकित्सालय में इलाज के उपरांत चिकित्सा प्रतिपूर्ति प्राप्त करने का विकल्प भी उपलब्ध रहेगा।

Karmchari Cashless Chikitsa Yojana वित्तीय उपाशय

  • इस योजना के अंतर्गत निजी चिकित्सालयों के माध्यम से लाभार्थी एवं उसके परिवार को अधिकतम ₹500000 तक की चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी।
  • यह लाभ प्राप्त करने के लिए प्रति लाभार्थी परिवार को ₹1102 की दर से सचिव को दिया जाएगा।
  • यदि इस दर को भविष्य में संशोधित किया जाता है तो संशोधित दर के अनुसार धनराशि उपलब्ध करवाई जाएगी।
  • राजकीय मेडिकल कॉलेज/ चिकित्सा संस्थान/ चिकित्सा विश्वविद्यालय अथवा स्वशासी राज्य चिकित्सा महाविद्यालय अग्रिम धनराशि उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से 200 करोड़ रुपए का एक कॉर्पस चिकित्सा शिक्षा विभाग में बनाया गया है।
  • इस कॉरपस में प्रथम किस्त के रूप में अधिकतम 50% की अग्रिम राशि उपलब्ध करवाई जाएगी।
  • इन चिकित्सालय को दिए गए अग्रिम राशि की 50% की उपयोगिता का प्रमाण पत्र उपलब्ध करवाने पर उनको अगली किस्त उपलब्ध करवाई जाएगी।
  • चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अस्पतालों को अग्रिम धनराशि उपलब्ध करवाने के लिए 100 करोड रुपए का कॉरपस बनाया जाएगा।
  • अगली किस्त चिकित्सा संस्थान द्वारा दिए गए 50% राशि का उपयोग प्रमाण पत्र उपलब्ध करवाने पर प्रदान की जाएगी।
  • दोनों विभागों में कॉरपस की धनराशि को सरकारी बैंक में पृथक खाता खोल कर रखा जाएगा।
  • चिकित्सा संस्थानों द्वारा लाभार्थियों पर खर्च किए गए व्यय का प्रथम लेखा-जोखा रखा जाएगा।
  • सभी बिल एवं अभिलेख भी सुरक्षित रखे जाएंगे जिससे कि समय पर ऑडिट कराया जा सके।
  • इस योजना के माध्यम से 30 लाख से अधिक नागरिकों को लाभ पहुंचेगा।

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के लाभ तथा विशेषताएं

  • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना का शुभारंभ किया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से राज्य कर्मचारियों एवं पेंशनर्स को ₹500000 तक के कैशलेस उपचार की सुविधा मुहैया कराई जाएगी।
  • इस योजना को लागू करने के लिए शासनादेश उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 7 जनवरी 2022 को जारी कर दिया गया है।
  • इसके अलावा इस योजना को लागू करने का आदेश उत्तर प्रदेश शासन के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद की ओर से जारी कर दिया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से राज्य कर्मचारियों, पेंशनर एवं उनके परिवार के नागरिकों को कैशलेस उपचार की सुविधा प्रदान की जाएगी।
  • ऑनलाइन स्टेट हेल्थ कार्ड के माध्यम से इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • यह कार्ड स्टेट एजेंसी फॉर हेल्थ इंटीग्रेटेड सर्विसेज द्वारा बनाया जाएगा।
  • यह जिम्मेदारी सभी विभाग अध्यक्षों की होगी कि वह इस बात का ध्यान रखें कि उनके विभाग के कर्मियों व पेंशनर्स के स्टेट हेल्थ कार्ड बन जाए।
  • इसके अलावा वह सभी निजी अस्पताल जो आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत मरीजों का उपचार कर रहे हैं उनको भी यह सुविधा प्रदान की गई है।
  • इस योजना का लाभ प्रदेश के सरकारी चिकित्सा संस्थान, निजी अस्पताल, मेडिकल कॉलेज के माध्यम से भी प्रदान किया जाएगा।
  • चिकित्सा शिक्षा विभाग द्वारा चिकित्सा संस्थानों एवं मेडिकल कॉलेजों के लिए 200 करोड़ रुपए एवं जिला अस्पतालों के लिए 100 करोड़ रुपए का कॉर्पस बनाया गया है।
  • कॉरपस फंड के माध्यम से सरकारी चिकित्सालय को इलाज पर होने वाले खर्च का 50% धनराशि देनी होंगी।
  • बाकी 50% धनराशि उपयोगिता प्रमाण पत्र उपलब्ध करवाने पर वित्त विभाग द्वारा प्रदान की जाएगी।
  • इस इलाज की सुविधा के साथ-साथ वर्तमान व्यवस्था के अनुसार इलाज होने के उपरांत चिकित्सा प्रतिपूर्ति किए जाने का विकल्प भी प्रदान किया जाएगा।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना की पात्रता

  • आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • केवल उत्तर प्रदेश सरकार के कर्मचारी इस योजना का लाभ प्राप्त करने के पात्र है।
  • पेंशनर्स द्वारा भी इस योजना का लाभ प्राप्त किया जा सकता है।

महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • आयु का प्रमाण
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी
  • राशन कार्ड आदि

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना आवेदन प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको इस योजना की Official Website पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
 Pandit Deendayal Upadhyay Rajya karmchari Cashless Chikitsa Yojana
  • अब आपको हम पेज पर मौजूद रजिस्ट्रेशन के ऑप्शन पर क्लिक करना है
  • इसके पश्चात आपके सामने एक एप्लीकेशन फॉर्म खुल जाएगा
  • इस एप्लीकेशन फॉर्म आपको अपनी सभी जरूरी जानकारी प्रदान करनी है
  • जानकारी प्रदान करने के पश्चात आपको सभी जरूरी दस्तावेज अपलोड करने हैं
  • इसके बाद आपको प्रदान की गई जानकारी चेक करनी है
  • अंत में आपको रजिस्टर के ऑप्शन पर क्लिक करना है
  • इस तरीके से आप सफल आवेदन कर सकते हैं

स्टेट हेल्थ कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें

  • सबसे पहले आपको पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको Apply for State Health Card के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा।
  • यहां पर आपको अपना आधार लिंक मोबाइल नंबर दर्ज करना है
Pandit Deendayal Upadhyay Rajya karmchari Cashless Chikitsa Yojana स्टेट हेल्थ कार्ड के लिए
  • इसके पश्चात आपको जनरेट ओटीपी के ऑप्शन पर क्लिक करना है
  • आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी प्राप्त होगा
  • आपको यह ओटीपी यहां प्रदान करना है
  • इसके पश्चात आपके सामने एक एप्लीकेशन फॉर्म खुल जाएगा
  • इस एप्लीकेशन फॉर्म में आपको अपनी सभी जरूरी जानकारी प्रदान करनी है
  • जानकारी प्रदान करने के पश्चात आपको सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करना है
  • इस तरीके से आप स्टेट हेल्थ कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं

आवेदन की स्थिति देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको Check Application Status के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा।
Pandit Deendayal Upadhyay Rajya karmchari Cashless Chikitsa Yojana
आवेदन की स्थिति देखने की प्रक्रिया
  • इस पेज पर आपको आधार नंबर एवं कैप्चा कोड दर्ज करना है।
  • इसके बाद आपको सर्च के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • अब संबंधित जानकारी आपको अपनी कंप्यूटर स्क्रीन पर प्राप्त हो जाएगी।

आवेदन पत्र में संशोधन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको Pandit Deendayal Upadhyay Rajya karmchari Cashless Chikitsa Yojana 2022 की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको Employee/Pensinor Application के टैब पर क्लिक करना है।
  • अब आपके सामने कई सारे ऑप्शन खुलकर आ जाएंगे जिसमें से आपको Edit Application पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा।
Pandit Deendayal Upadhyay Rajya karmchari Cashless Chikitsa Yojana आवेदन पत्र में संशोधन
  • इस पेज में आपको अपना आधार नंबर एवं कैप्चा कोड डालकर सेंड ओटीपी के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी प्राप्त होगा। जिसे आपको ओटीपी बॉक्स में दर्ज करना है।
  • जैसे ही आपको ओटीपी बॉक्स में ओटीपी दर्ज करेंगे आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारियों को ध्यानपूर्वक पढ़कर दर्ज कर देना है।
  • इसके बाद आपको सेव के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार से आप अपने आवेदन पत्र में संशोधन कर सकते हैं।

एप्लीकेशन डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको इस योजना की Official Website पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको Employee/Pensinor Application के सेक्शन के तहत Downloaded Application पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपके सामने एक पेज खुलकर आ जाएगा जिस पर आपको अपना आधार नंबर एवं कैप्चा कोड डालकर सेंट ओटीपी के बटन पर क्लिक करना है।
आवेदन पत्र में संशोधन
  • अब आपको अपने रजिस्टर्ड मोबाइल पर प्राप्त हुए ओटीपी को ओटीपी बुक्स में दर्ज कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक ओर नया पेज खुलकर आ जाएगा।
  • जिस पर आपको एप्लीकेशन लिंक दिखाई देगा। अब आपको इस लिंक पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने एप्लीकेशन खुलकर आ जाएगी।
  • अब आप डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक करके एप्लीकेशन डाउनलोड कर सकते हैं।

लॉगिन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले इस योजना की आधिकारिक वेबसाइटपर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको ‌DDO/Login के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपको आधार नंबर एवं कैप्चा कोड डालकर सेंट ओटीपी के बटन पर क्लिक करना है।
लॉगिन करने की प्रक्रिया
  • अब आपको अपने रजिस्टर्ड मोबाइल पर प्राप्त हुए ओटीपी को ओटीपी बुक्स में दर्ज कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने लॉगइनफॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • इस फॉर्म में आपको Username एवं Password दर्ज करना है।
  • अब आपको लॉगिन के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • इस प्रकार से आप लॉगइन कर सकते हैं।

संपर्क विवरण कैसे देखें?

  • सबसे पहले आपको इस योजना की Official Website पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको Contact Us के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • जैसे ही आप इस विकल्प पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा।
संपर्क विवरण कैसे देखें?
  • इस पेज पर आप संपर्क विवरण देख सकते हैं।

FAQs देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना की आधिकारिक वेबसाइटपर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको FAQs के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपके सामने FAQs से संबंधित जानकारी पीडीएफ फॉर्मेट में खुलकर आ जाएगा।
  • अगर आप इसे डाउनलोड करना चाहते हैं तो ऊपर दिए गए डाउनलोड के चिन्ह् पर क्लिक करके डाउनलोड कर सकते हैं।

Leave a Comment