पढ़ो परदेश योजना: ऑनलाइन आवेदन Padho Pardesh Yojana in Hindi

Padho Pardesh Yojana Apply Online, Guidelines, पढ़ो परदेश योजना ब्याज मुक्त ऋण के लिए ऑनलाइन आवेदन, पात्रता, Padho Pardesh Scheme Application Form

हम सभी जानते हैं कि आज के समय में उच्च शिक्षा प्राप्त करना कितना मुश्किल हो चुका है। क्योंकि उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए बड़े-बड़े कॉलेजों की फीस भी अत्यधिक होती है। जिससे भरने में विद्यार्थी असमर्थ होते हैं। देश के बहुत से विद्यार्थी की रूचि विदेश पढ़ने की होती है लेकिन आर्थिक स्थिति कमजोर होने कारण है बाहर पढ़ने में असमर्थ होते हैं। जिसके कारण वे विदेश में शिक्षा प्राप्त नहीं कर पाते हैं और उनका सपना अधूरा रह जाता है। ऐसे सभी विद्यार्थियों के लिए जो विदेश में पढ़ना चाहते हैं। केंद्र सरकार द्वारा उन सभी विद्यार्थियों के लिए एक योजना का निर्माण किया गया है। जिसका नाम पढ़ो परदेश योजना है। इस योजना के तहत केंद्र सरकार द्वारा गरीब व मध्यम वर्ग के लोगों को विदेश पढ़ाई के लिए ब्याज मुक्त ऋण प्रदान कराया जाएगा। अगर आप भी इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं। तो आपको यह आर्टिकल ध्यान पूर्वक पढ़ना होगा क्योंकि हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से Padho Pardesh Yojana से जुड़ी सभी जानकारी प्रदान करेंगे।

Padho Pardesh Yojana

Padho Pardesh Yojana 2022

वर्ष 2013-14 में उस समय के तत्काल कैबिनेट मंत्री श्री मुख्तार अब्बास नकवी जी के द्वारा पढ़ो परदेश योजना की शुरुआत की गई थी। इस योजना के तहत सरकार उन सभी विद्यार्थियों को ब्याज मुक्त ऋण देगी जो कि परदेश में उच्च शिक्षा प्राप्त करना चाहते हैं। लेकिन उनके पास उच्च शिक्षा प्राप्त करने हेतु परदेश जाने के लिए पैसे नहीं है। देश के उन सभी अल्पसंख्यक और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के विद्यार्थियों को केंद्र सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इसके अलावा सभी विद्यार्थियों को सरकार द्वारा ऋण पर सब्सिडी भी दी जाएगी। मिनिस्ट्री ऑफ माइनर अफेयर्स के माध्यम से Padho Pardesh Yojana का संचालन किया जा रहा है। इस योजना के माध्यम से अल्पसंख्यक वर्ग के तहत आने वाले गरीब विद्यार्थी जो कि परदेश में उच्च शिक्षा प्राप्त करने का सपना देखते हैं उनका सपना साकार हो सकेगा। यह योजना हर धर्म और जाति के लोगों के लिए विकसित की गई है।

MOMA Scholarship

पढ़ो परदेश योजना Key Highlights

योजना का नामPadho Pardesh Loan Scheme
योजना की शुरुआतवर्ष 2013-14 में
शुरु की गईकेंद्र सरकार द्वारा
संबंधित विभागअल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय भारत सरकार
उद्देश्यअल्पसंख्यक और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्रों को विदेश में उच्च शिक्षा प्राप्त करने हेतु आर्थिक सहायता प्रदान करना
लाभार्थीदेश के सभी अल्पसंख्यक और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्र
लाभपरदेश में उच्च शिक्षा प्राप्त करने हेतु ऋण प्रदान करना और ऋण पर सब्सिडी
आवेदन प्रक्रियाऑफलाइन

Padho Pardesh Scheme का उद्देश्य

केंद्र सरकार द्वारा पढ़ो परदेश योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य अल्पसंख्यक और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्रों को विदेश में उच्च शिक्षा प्राप्त करने हेतु आर्थिक सहायता प्रदान करना है। इस योजना के तहत परदेश में उच्च शिक्षा प्राप्त करने हेतु विद्यार्थियों को सरकार द्वारा ऋण प्रदान किया जाएगा और ऋण पर सब्सिडी भी दी जाएगी। सरकार द्वारा इस योजना के तहत विद्यार्थियों को 20 लाख रुपए तक का ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। जिससे वे विदेश में उच्च शिक्षा प्राप्त कर अपना भविष्य उज्जवल बना सकेंगे। और अपना विदेश में पढ़ने का सपना साकार कर सकेंगे।

Begum Hazrat Mahal Scholarship

पढ़ो परदेश योजना विशेषताएं

  • Padho Pardesh Yojana को उन विद्यार्थियों के लिए शुरू किया गया है जो विदेश जाकर उच्च शिक्षा प्राप्त करने का सपना देख रहे हैं।
  • इस योजना के माध्यम से देश के सभी पात्र छात्रों को विदेश में उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए ऋण प्रदान किया जाएगा।
  • भारत सरकार के Ministry Of Minor Affairs के अंतर्गत पढ़ो परदेश योजना को शुरू किया गया था।
  • इस योजना के माध्यम से आर्थिक रूप से कमजोर छात्र ऋण लेकर आसानी से पढ़ो परदेश योजना के अंतर्गत आवेदन कर उच्च शिक्षा परदेश में प्राप्त कर सकेंगे।
  • सभी पात्र विद्यार्थियों को पढ़ो परदेश योजना के द्वारा दिए जाने वाले वाले ऋण पर सरकार द्वारा अनुदान भी प्रदान किया जाएगा। और इस योजना की खास बात यह है कि पात्र विद्यार्थियों को ब्याज मुक्त ऋण उपलब्ध कराया जाएगा और इस ऋण से विद्यार्थी अपनी शिक्षा विदेश जाकर प्राप्त कर सकेंगे।
  • Padho Pardes Yojana के अंतर्गत लिए जाने वाले इस ऋण को चुकाने की आवश्यकता तब तक नहीं होगी। जब तक कि वह अपनी शिक्षा पूर्ण न कर ले।
  • विद्यार्थी को ऋण चुकाने हेतु पर्याप्त समय दिया जाएगा।

Padho Pardesh Yojana के तहत ऋण प्राप्त करने हेतु मान्यता प्राप्त बैंक

  • भारतीय बैंक एसोसिएशन (IBA)
  • कॉपरेटिव बैंक (Co-operative Bank)
  • प्राइवेट बैंक (Private Bank)
  • पब्लिक सेक्टर बैंक (Public Sector Bank) आदि जो भी भारतीय बैंक एसोसिएशन से जुड़े हो।

पढ़ो परदेश योजना के तहत ऋण के नियम

  • पढ़ो परदेश योजना के तहत ऐसे सभी पात्र छात्र जो विदेश में जाकर अपनी उच्च शिक्षा प्राप्त करना चाहते हैं इस योजना के तहत केवल 20 लाख रुपए तक का ऋण बैंकों के माध्यम से ले सकते हैं।
  • पात्र लाभार्थियों को कोर्स पूरा होने के बाद 1 साल और 6 महीने तक के टाइम पीरियड में ऋण वापस करने की छूट होगी।
  • छात्रों को दी गई इस अवधि के बाद बैंक का ऋण चुकाना अनिवार्य होगा।
  • इस योजना के अंतर्गत पहले कोई किस्त या कोई ब्याज डिग्री लेने से पहले नहीं भरना होगा।

प्रधानमंत्री छात्रवृत्ति योजना

Padho Pardesh Yojana के लाभ

  • Padho Pardesh Yojana के अंतर्गत विद्यार्थी कई प्रकार के लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
  • इस योजना के तहत सरकार द्वारा विद्यार्थी को उच्च शिक्षा प्राप्त करने हेतु ब्याज के बिना ही लोन प्रदान किया जाएगा।
  • पढ़ो परदेश योजना के अंतर्गत कोई भी अल्पसंख्यक आवेदक विद्यार्थी बैंक से 20 लाख तक का ऋण ले सकता है।
  • अगर किसी विद्यार्थी की आधी शिक्षा देश में बाकी की शिक्षा विदेश में पूरी हुई हो तो ऐसी स्थिति में लोन की राशि पर किसी भी प्रकार का ब्याज नहीं लिया जाएगा।
  • इस सहायता राशि पर विद्यार्थी को सरकार द्वारा 100 प्रतिशत सब्सिडी दी जाएगी।
  • पढ़ो परदेश योजना के माध्यम से विद्यार्थी लोन प्राप्त कर अपने भविष्य को उज्जवल बना सकेंगे।

पढ़ो परदेश योजना के लिए योग्यता एवं पात्रता

  • पढ़ो परदेश योजना का लाभ केवल भारतीय विद्यार्थी को ही प्राप्त होगा।
  • इस योजना का लाभ अल्पसंख्यक वर्ग के तहत आने वाले गरीब एवं जरूरतमंद विद्यार्थियों को मिलेगा।
  • मान्यता प्राप्त शैक्षिक संस्थान से शिक्षा प्राप्त करने हेतु ही इस योजना के तहत विद्यार्थियों को लोन मिलेगा।
  • यदि निवेदक इस योजना के तहत विदेश से शिक्षा प्राप्त कर रहा है तो वह संस्थान का मान्यता प्राप्त होना जरूरी है।
  • आवेदक इस योजना के तहत किसी उच्च शिक्षा यानी Phil, Phd, MBA, PG Diploma का विद्यार्थी होना चाहिए।
  • विद्यार्थी के परिवार की वार्षिक आय 6 लाख या इससे कम होनी चाहिए।
  • सभी जाति धर्म या लिंग के विद्यार्थी इस योजना के तहत आवेदन कर सकते हैं।
  • केंद्र सरकार द्वारा नॉमिनेट किए गए बैंकों द्वारा ही इस योजना के तहत ऋण लिए जाने का लाभ मिलेगा।
  • देश के अल्पसंख्यक छात्र केवल 20 लाख रुपए तक के लिए ही ऋण पर सब्सिडी ले सकेंगे।

Padho Pardesh Yojana के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • लोन एप्लीकेशन फॉर्म
  • आय प्रमाण पत्र
  • अल्पसंख्यक प्रमाण पत्र
  • एडमिशन और कोर्स से संबंधित पेपर्स
  • बैंक खाते का विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटो

सीखो और कमाओ योजना

पढ़ो परदेश योजना के तहत आवेदन कैसे करें?

  • सबसे पहले आपको जहां पढ़ाई के लिए जाना है उस विदेशी कॉलेज का Allotment पत्र लेकर आपको किसी भी सरकारी बैंक में जाकर पढ़ो परदेश योजना का आवेदन पत्र प्राप्त करना होगा।
  • आवेदन फॉर्म प्राप्त करने के बाद आपको उस फॉर्म में ध्यानपूर्वक सभी मांगी गई जानकारी को दर्ज करना होगा।
  • उसके बाद फिर आपको आवेदन फॉर्म के साथ मांगे गए सभी आवश्यक दस्तावेजों को संलग्न करना होगा।
  • अब आपको यह आवेदन फॉर्म बैंक में ही जमा कर देना होगा।
  • आपके फॉर्म को बैंक द्वारा मिनिस्ट्री ऑफ वेलफेयर में भेजा जाएगा।
  • जहां पर आपकी योग्यता का निर्णय दिया जाएगा कि आप इस योजना के लिए योग्य है या नहीं।
  • इसके बाद आपको इस योजना के तहत ऋण प्रदान किया जाएगा।

Leave a Comment