एक देश एक राशन कार्ड योजना: One Nation One Ration Card, जून 2020 से आरंभ

एक देश एक राशन कार्ड योजना के अंतर्गत किसी भी क्षेत्र के नागरिक राशन कार्ड के माध्यम से देश के किसी भी राज्य से पीडीएस राशन की दुकान से राशन प्राप्त कर सकेंगे | इस बात की घोषणा केंद्रीय खाद्य मंत्री और सार्वजनिक वितरण मंत्री  रामविलास पासवान जी के द्वारा की गयी है| इस योजना के तहत देश के लोग किसी भी राज्य की पीडीएस की दुकान से अपने हिस्से का राशन लेने में पूर्ण रूप से स्वतंत्र रहेंगे | One Nation One Ration Card देश के हर एक नागरिक को राहत पहुंचाएगी | इस योजना के शुरू होने से सभी नागरिको को काफी फायदा होगा |

One Nation One Ration Card Scheme

इस योजना को पायलट प्रोजेक्ट के तोर पर फ़िलहाल दो क्लस्टर राज्यों आंध्र प्रदेश -तेलंगाना और महाराष्ट्र -गुजरात में शुरू की गयी है इसके बाद अब आंध्र प्रदेश के लोग तेलंगाना में और तेलंगाना के लोग आंध्र प्रदेश में किसी भी राशन की दुकान से राशन ले सकते है इसी तरह महाराष्ट्र के लोग गुजरात में और गुजरात के लोग महाराष्ट्र में जाकर वहाँ की राशन की दुकान से राशन ले सकते है | आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से One Nation One Ration Card Scheme से जुडी सभी जानकारी प्रदान करने जा रहे है अतः हमारे इस आर्टिकल को ध्यानपूर्वक पढ़े |

एक देश एक राशन कार्ड योजना

प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना 

एक राष्ट्र एक राशन कार्ड स्कीम

केंद्रीय खाद्य मंत्री का कहना है की इस योजना को 1 जून 2020 तक पुरे देश में लागू कर दिया जायेगा और उन्होंने कहा है कि मौजूदा समय में राशन कार्ड के लिए 14 राज्यों में पीओएस मशीन कि सुविधा शुरू हो चुकी है जल्द ही अन्य राज्य में इस सुविधा को शुरू किया जायेगा | अगर कोई व्यक्ति एक राज्य से किसी दूसरे राज्य में रहने लगता है तो वह उस राज्य की किसी भी पीडीएस राशन की दुकान से अपने हिस्से का राशन ले सकता है |इस एक राष्ट्र एक राशन कार्ड स्कीम को लागू करने के लिए  केंद्र सरकार को सभी पीडीएस दुकानों पर पीओएस लगाना होगा | खाद्य मंत्री रामविलास पासवान जी ने जून 2019 को  सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशो को इस One Nation One Ration Card Scheme को शुरू करने का 1 साल तक का समय दिया था |

एक देश एक राशन कार्ड योजना का उद्देश्य

  • एक देश एक राशन कार्ड योजना का उद्देश्य है कि देश में फ़र्ज़ी राशन कार्ड को रोकने में मदद मिलेगी और देश में चल रहे भष्टाचार को रोका जा सकेगा |
  • इस योजना के लागू होने के बाद यदि कोई व्यक्ति एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाता है तो उसे राशन लेने में कोई परेशानी नहीं होगी |
  • इस एक राष्ट्र एक राशन कार्ड स्कीम का फायदा प्रवासी मजदूरों को अधिक होगा | इन लोगो को पूरी खाद्य सुरक्षा मिलेगी |
  • केंद्र सरकार इस योजना को समय रहते ही पुरे देश के विभिन्न राज्यों में आरम्भ करना चाहती है जिससे अधिक से अधिक लोग इस योजना का लाभ उठा सके |

One Nation One Ration Card Scheme के मुख्य तथ्य

योजना का नाम एक देश एक राशन कार्ड योजना
इनके द्वारा पेश किया गया श्री राम विलास पासवान
उद्देश्य यह सुनिश्चित करने के लिए कि कोई भी व्यक्ति सब्सिडी वाले खाद्यान्न प्राप्त करने से वंचित न रहे  
योजना की समय सीमा 30 जून 2030
लाभार्थी अखिल भारतीय राशन कार्ड धारक
नोडल एजेंसी भारतीय खाद्य निगम

सबसे पहले इन राज्यों  में लागू की जाएगी योजना

आपको बता दे कि राशन कार्ड देश के 11 राज्यों में आधार से लिंक किया जा चुका है इन राज्यों में राशन का आवंटन प्वांइट ऑफ सेल के ज़रिये किया जा रहा है | यह योजना 1 जनवरी 2020 को आध्र प्रदेश ,तेलंगाना गुजरात, महाराष्ट्र ,हरियाणा ,झारखण्ड ,पंजाब ,कर्नाटक ,केरल त्रिपुरा ,राजस्थान आदि इन सभी 11 राज्यों मे लागू की जाएगी | खाद्य और सार्वजनिक वितरण विभाग इस योजना को बढ़ावा देते हुए बड़े स्तर पर काम कर रही है |

एक देश एक राशन कार्ड योजना के लाभ

  • देश का कोई भी व्यक्ति इस योजना का लाभ जून 2020 से उठा सकता है |
  • जो लोग गरीब है और रोजगार की  तलाश में एक राज्य से दूसरा राज्य में जाते है वह एक देश एक राशन कार्ड योजना का लाभ उठा सकते है |
  • हर उपभोक्ता अपने राशन कार्ड की सहायता से अपने हिस्से के अनाज को किसी भी पीडीएस दुकान से पारदर्शिता और बड़ी ही आसानी से खरीद सकता है |
  • देश के कई राज्यों में पीडीएस प्रणाली के एकीकृत प्रबंधन की शुरुआत बड़ी ही तेज़ी से चल रही है जिसके अंतर्गत आंध्र प्रदेश ,गुजरात ,कर्नाटक ,राजस्थान हरियाणा ,झारखण्ड ,केरल ,त्रिपुरा तेलंगाना ,महाराष्ट्र आदि राज्य शामिल है |

एक देश एक राशन कार्ड योजना में आवेदन कैसे करे?

देश के किसी भी राशन कार्ड धारक को एक देश एक राशन कार्ड योजना के अंतर्गत किसी भी तरह का ऑनलाइन तथा ऑफलाइन आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है सभी राज्य  और केंद्र सरकार स्वयं उपलब्ध आकड़ो के अनुसार लाभार्थियों के राशन कार्ड फ़ोन पर आधार कार्ड से सत्यापित कर लिंक करेंगी | इसके बाद इंटीग्रेटेड मैनेजमेंट पब्लिक डिस्टीब्यूशन सिस्टम के अंतर्गत आकड़ो को उपलब्ध कराएगी | जिससे पात्र सभी नागरिक देश के किसी भी कोने से अपने हिस्से का राशन ले सकेंगे |

Leave a Comment