One District One Product 2021: उत्तर प्रदेश एक जिला एक उत्पाद योजना

up one district one product portal|one district one product scheme in hindi| उत्तर प्रदेश एक जिला एक उत्पाद योजना

One District One Product योजना को 24 जनवरी  2018 को प्रदेश के जनपदों में पारम्परिक शिल्प एवं लघुउद्ययमो (Traditional Crafts and Small Enterprises ) के संरक्षण के लिए और उसमे अधिक से अधिक रोजगार सृजन करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी के द्वारा लॉन्च किया गया है | इस योजना के तहत जिसके द्वारा उत्तर प्रदेश के सभी जिलों का अपना एक प्रोडक्ट होगा, जो उस जिले की पहचान बनेगा। यह बिजनेस सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम (MSME) के श्रेणी में रखा गया है। इस एक जिला एक उत्पाद योजना के तहत राज्य के बेरोजगार युवाओ को रोजगार के भी अवसर प्रदान(Unemployed youth are also being provided employment opportunities.) किये जा रहे है |

Table of Contents

उत्तर प्रदेश एक जिला एक उत्पाद योजना

इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के 75 जनपदों के  5 सालो में 25 लाख लोगो को रोजगार मिलेगा | इन छोटे लघु एवं मध्य उद्योग से 89 हजार करोड़ से अधिक का निर्यात उत्तर प्रदेश से किया जा चूका है.| उत्तर प्रदेश में भी छोटे लघु उद्योग है जहा पर विशेष पदार्थ बनकर देश विदेश में जाता है | उत्तर प्रदेश के काच का सामान ,लखनवी कढ़ाई से युक्त कपडे, विशेष चावल आदि बहुत फेमस है. ऐसे सभी आइटम छोटे से गांव के छोटे-छोटे कलाकार बनाते है, लेकिन उन्हें कोई नहीं जानता है | उत्तर प्रदेश एक जिला एक उत्पाद योजना  के तहत इन खोये हुए कलाकारों  को सरकार रोजगार देगी और उत्तरप्रदेश में जो भी जिला, जनपद जिस विशेष सामान के लिए प्रसिद्ध है , उधर के लघु उद्योग को पैसा देगी, वहां पर काम करने वालों को आगे बढ़ाएगी।

One District One Product

17 राज्यों में 54 इनक्यूबेशन केंद्र खोले जाएंगे

35 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों के 707 जिलों को केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय द्वारा एक जिला एक उत्पाद के लिए अनुमोदित कर दिया गया है। जिसके लिए 17 राज्यों में 50 से अधिक इनक्यूबेशन केंद्र खोलने की मंजूरी प्रदान कर दी गई है। इन 17 राज्यों में कर्नाटका, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, जम्मू कश्मीर, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, तेलंगाना, छत्तीसगढ़, हिमाचल प्रदेश, केरला, सिक्किम, आंध्र प्रदेश, ओडिशा एवं उत्तराखंड शामिल है। इन राज्यों में 54 कॉमन इनक्यूबेशन सेंटर खोले जाएंगे। इन इनक्यूबेशन सेंटर के माध्यम से नए उद्यमियों को विभिन्न प्रकार की मदद प्राप्त होगी। सभी नए उद्यमियों को विभिन्न प्रकार की तकनीकी जानकारी उपलब्ध कराने के लिए 491 जिलों में विशेषज्ञ नियुक्त किए जाएंगे।

सूक्ष्म खाद प्रसंस्करण उद्योगों के विकास के लिए वित्तीय एवं तकनीकी सहायता

वन डिस्टिक वन प्रोडक्ट के अंतर्गत सभी राज्यों में उद्यमियों के लिए प्रशिक्षण की सुविधा भी उपलब्ध करवाई जाएगी। यह प्रशिक्षण उनको 470 जिला स्तरीय प्रशिक्षकों के माध्यम से प्रदान किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत बनाए गए उत्पादों की मार्केटिंग एवं ब्रांडिंग के लिए नफेड और ट्राईफेड की सहायता प्राप्त की जाएगी। कृषि व बागवानी उत्पाद जैसे कि अनन्नास, बाजरा आधारित उत्पाद, धनिया, मखाना, शहद आदि की मार्केटिंग तथा ब्रांडिंग नेफेड द्वारा की जाएगी एवं इमली, मसाले, आमला, ढाले, अनाज, आदि की ब्रांडिंग एवं मार्केटिंग ट्राईफेड द्वारा की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत सूक्ष्म खाद्य प्रसंस्करण उद्यमियों के विकास के लिए एवं उनको विभिन्न प्रकार की वित्तीय एवं तकनीकी सहायता प्रदान करने के लिए सन 2020-21 से लेकर सन 2024-25 तक 10000 करोड रुपए की राशि खर्च की जाएगी।

One District One Product 2021 Highlights

योजना का नाम One District One Product
इसके द्वारा शुरू की गयी मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी के द्वारा
लॉन्च की तारीक 24 जनवरी 2018
विभाग सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम तथा निर्यात प्रोत्साहन विभाग
उद्देश्य  जिले के छोटे, मध्यम और परंपरागत उद्योगो का विकास
ऑफिसियल वेबसाइट http://odopup.in/hi

वन डिस्टिक वन प्रोडक्ट नई अपडेट

जैसे आप सभी लोग जानते हैं वन डिस्टिक वन प्रोडक्ट उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा लांच किया गया था। इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के प्रत्येक जिले का एक प्रोडक्ट होगा जो उस जिले की पहचान बनेगा। इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य प्रदेश में उत्पादन को बढ़ावा देना था और रोजगार के अवसर पैदा करना था। 3 दिसंबर 2020 को शामली जिले में लोन मेले का आयोजन किया गया था।इस लोन मेले में कई सारी सरकारी योजनाओं के अंतर्गत जिले के नागरिकों को एमएलए तेजेंद्र निर्मल तथा डीएम जसजीत कौर के द्वारा लोन वितरित किए गए थे।

सरकार द्वारा One District One Product 2021 के अंतर्गत ओडीओपी टूल किट लाभार्थियों को प्रदान की गई थी। जिसकी राशि 38 लाख रुपए है। कुल मिलाकर वन डिस्टिक वन प्रोडक्ट के अंतर्गत 28.75 लाख रुपए का लोन 9 लाभार्थियों को तथा 21 लाख रुपए का लोन 4 लाभार्थियों को लोन मेले में प्रदान किया गया था।

एक जनपद एक उत्पाद योजना का उद्देश्य

प्रदेश सरकार का उद्देश्य है कि प्रत्येक जनपद के हस्तकला ,हस्तशिल्प एवं विशिष्ट हुनर को सुरक्षित एवं विकसित किया जाये | ताकि उस जनपद में रोजगार सृजन हो और अथिक समृद्धि का लक्ष्य हासिल हो सके ये तभी हो सकता  है  जब जनपद के विशिष्ट उत्पाद के लिए कच्चा माल ,डिज़ाइन प्रशिक्षण तकनीकी एवं बाजार उपलब्ध कराया जा सके | वन डिस्ट्रिक वन प्रोडक्ट के जरिए छोटे – छोटे कारीगरों को स्थानीय स्तर पर भी अच्छा मुनाफा मिल सकेगा और उन्हें  अपना घर, जिला छोड़कर दूर किसी दूसरी जगह नही भटकना पड़ेगा | इस One District One Product योजना के ज़रिये प्रदेश के जनपदों के सभी कलाकारों को आर्थिक रूप से भी मदद करना |

One District One Product Scheme 2021 के मुख्य तथ्य

  • वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट स्कीम से राज्य के छोटे से छोटे गांव का नाम देश  प्रदेश में प्रसिद्ध होगा और यह योजना युवाओं को भी आकर्षित करेगी, जिससे बेरोजगार युवाओ को  नए रोजगार के अवसर  मिलेंगें।
  • उत्तर प्रदेश में यह योजना के अनर्गत  जिलों के छोटे, मध्यम और पारंपरिक उद्योगों (Small, Medium, and Traditional Industries)  के विकास में वृद्धि होगी |
  • इस योजना के तहत उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए नई टेक्नोलॉजी का प्रयोग और कारीगरों को ट्रेनिग दी जायेगा ताकि वह प्रोडक्ट मार्केट में दुसरे प्रोडक्ट की बराबरी कर सके |
  • One District One Product Scheme 2021 में हर जनपद  के लिए उत्पाद का चयन वहाँ की परंपरा और उपलब्धता के आधार पर किया गया है जैसे आगरा चमड़ा उत्पाद के लिए, फिरोजाबाद काँच की चुडियो के लिए, इलाहाबाद अमरुद फ्रूट प्रोसेसिंग के लिए आदि |
  • एक जनपद एक उत्पाद योजना का उद्देश्य उत्तर प्रदेश के 75 जनपदों में विशिष्ट पारंपरिक उत्पाद औद्योगिक केंद्रों की स्थापना कर उन पारंपरिक उद्योगों का विस्तार करना है जो राज्य के संबंधित जनपदों के पर्याय हों ।

यूपी एक जिला एक उत्पाद योजना के लाभ

  • Uttar Pradesh One District One Product Scheme 2021 के तहत लगभग 25 लाख बेरोजगार युवाओं (Unemployed Youths) को नौकरियां मिलेंगी और राज्य का सकल घरेलू उत्पाद (GDP) 2 प्रतिशत बढ़ाएगा।
  • इस योजना का लाभ छोटे स्थानीय कारोबारियों ,शिल्पियों ,बुनकरों एवं उद्यमियों को प्रदान किया जायेगा |
  • उत्तर प्रदेश के 75 जनपदों के शिल्पियों ,बुनकरों एवं उद्यमियों के लिए ये योजना मिल का पत्थर सिद्ध होगी |
  • यूपी एक जिला एक उत्पाद योजना के सफल कार्यान्वयन के बाद, सभी उत्पादों को अंतर्राष्ट्रीय मान्यता (International Recognition) मिलेगी। इसके अलावा, ये उत्पाद ब्रांड बन जाएंगे और ब्रांड यूपी (Brand UP) की पहचान भी बन जाएग़ी।
  • इस योजना के अंतर्गत प्रदेश के लघु, मध्यम और रेगुलर उद्योगों को आर्थिक रूप से मदद प्रदान करेगी |
  • इस योजना के अंतर्गत सहज ऋण की उपलब्धता , अनुदान की व्यवस्था , सामान्य सुविधा केंद्र की स्थापना , विपणन की सुविधा ,आधुनिक तकनीक एवं प्रशिक्षण आदि से सम्बंधित सुविधा प्रदान की जाएगी | जो प्रदेश में आधिकारिक रोजगार एवं आर्थिक उन्नति का काम करेगी |

एक जनपद एक उत्पाद योजना के तहत जिला और उत्पाद की सूची

जिले का नाम उत्पाद का नाम जिले का नाम उत्पाद का नाम  
आगरा चमड़ा उत्पाद हापुड़ होम फर्निशिंग
अमरोहा वाद्य यंत्र (ढोलक) हाथरस हैंडलूम
अलीगढ़ ताले एवं हार्डवेयर हमीरपुर हींग
औरेया दूध प्रसंस्करण (देसी घी) जालौन जूते
आजमगढ़ काली मिट्टी की कलाकृतियाँ जौनपुर हस्तनिर्मित कागज कला
आंबेडकर नगर वस्त्र उत्पाद झांसी ऊनी कालीन (दरी)
अयोध्या गुड़ कौशाम्बी सॉफ्ट ट्वॉयज
अमेठी मूँज उत्पाद कन्नौज खाद्य प्रसंस्करण (केला)
बदायू ज़री जरदोज़ी उत्पाद कुशीनगर इत्र
बागपत होम फर्नीशिंग कानपुर देहात केला फाइबर उत्पाद
बहराइच गेहूँ डंठल (हस्तकला) उत्पाद कानपुर नगर एल्युमिनियम बर्तन
बरेली ज़री-ज़रदोज़ी कासगंज चमड़ा उत्पाद
बलिया बिंदी उत्पाद लखीमपुरखीरी ज़री-जरदोज़ी
बस्ती काष्ठ कला ललितपुर जनजातीय शिल्प
बलरामपुर खाद्य प्रसंस्करण (दाल) लखनऊ ज़री सिल्क साड़ी
भदोही कालीन (दरी) महाराजगंज चिकनकारी एवं ज़री ज़रदोज़ी
बांदा शज़र पत्थर शिल्प मेरठ फर्नीचर
बिजनौर काष्ठ कला महोबा खेल की सामग्री
बाराबंकी वस्त्र उत्पाद मिर्ज़ापुर गौरा पत्थर
बुलंदशहर सिरेमिक उत्पाद मैनपुरी कालीन
चंदौली ज़री-ज़रदोज़ी मुरादाबाद तारकशी कला
चित्रकूट लकड़ी के खिलौने मथुरा धातु शिल्प
देवरिया सजावट के सामान मुज़फ्फर नगर सैनिटरी फिटिंग
इटावा वस्त्र उद्योग मऊ गुड़
एटा घुंघरू, घंटी एवं पीतल उत्पाद पीलीभीत वस्त्र उत्पाद
फरुखाबाद वस्त्र छपाई प्रतापगढ़ बांसुरी
फतेहपुर बेटशीट एवं आयरन फैब्रीकेशन वर्क्स प्रयागराज खाद्य प्रसंस्करण (आंवला)
फ़िरोज़ाबाद कांच के उत्पाद रायबरेली काष्ठ कला
गौतमबुद्ध नगर रेडीमेड गार्मेंट रामपुर पैचवर्क के साथ एप्लिक वर्क, जरी पैचवर्क
गाज़ीपुर जूट वॉल हैंगिंग संत कबीर नगर ब्रासवेयर
गाज़ियाबाद अभियांत्रिकी सामग्री शाहजहांपुर ज़री-ज़रदोज़ी
गोंडा खाद्य प्रसंस्करण (दाल) शामली लौहकला
गोरखपुर टेराकोटा सहारनपुर लकड़ी पर नक्काशी
श्रावस्ती जनजातीय शिल्प सोनभद्र कालीन
संभल हस्तशिल्प (हॉर्न-बोन) सुल्तानपुर मूँज उत्पाद
सिद्धार्थनगर काला नमक चावल उन्नाव ज़री-जरदोज़ी
सीतापुर दरी वाराणसी बनारसी रेशम साड़ी

One District One Product 2021 से जुडी अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए आप एक जनपद एक उत्पाद योजना उत्तर प्रदेश की ऑफिसियल वेबसाइट पर जा सकते है और योजना से जुडी सभी जानकारी प्राप्त कर सकते है |

ऐमेज़ॉन कला हाट एप्लीकेशन फॉर्म भरने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको वन नेशन वन प्रोडक्ट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको बायर एंड सेलर प्लेटफार्म के टैब पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको ऐमेज़ॉन के टैब पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको बायर के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने आवेदन फॉर्म खुलकर आएगा।
  • आपको इस फॉर्म में पूछी गई जानकारी जैसे कि नाम, कांटेक्ट नंबर, बिजनेस नेम, बिजनेस ऐड्रेस, सिटी, स्टेट, पिन कोड आदि दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप आवेदन कर पाएंगे।

ODOP लाभ राशि योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया

  • इसके बाद आपको न्यू यूजर रजिस्ट्रेशन के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म खुलकर आएगा जिसमें पूछी गई जानकारी भरकर आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको ओ डी ओ पी लाभ राशि योजना के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको पूछ गई जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।

ODOP ट्रेनिंग तथा टूलकिट योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

blank
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल पर आएगा जिसमें आपको एक जनपद एक उत्पाद परीक्षण एवं टूलकिट योजना के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब यदि आप पहले से रजिस्टर्ड है तो आपको अपना यूजरनेम तथा पासवर्ड दर्ज करके लॉग इन करना होगा और यदि आप पहले से रजिस्टर्ड नहीं है तो आपको न्यू यूजर रजिस्ट्रेशन के लिंक पर क्लिक करके आवेदन फॉर्म भरना होगा।
  • अब आपके सामने ODOP ट्रेनिंग तथा टूलकिट योजना का आवेदन फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • आपको फॉर्म में पूछी गई जानकारी ध्यान पूर्वक दर्ज करनी होगी।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप आवेदन कर पाएंगे।

ऐमेज़ॉन कला हाट एप्लीकेशन फॉर्म भरने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको वन डिस्टिक वन प्रोडक्ट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको बायर्स एंड सेलर्स प्लेटफार्म के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको अमेजॉन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको सेलर्स के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
ऐमेज़ॉन कला हाट एप्लीकेशन फॉर्म
  • उसके पश्चात आपके सामने ऐमेज़ॉन कला हाट एप्लीकेशन फॉर्म खुल कर आएगा।
  • आपको इस फॉर्म में निम्नलिखित जानकारी दर्ज करनी होगी।
    • नाम
    • ईमेल आईडी
    • कांटेक्ट नंबर
    • बिजनेस नेम
    • बिजनेस ऐड्रेस
    • सिटी
    • स्टेट
    • पिन कोड आदि
  • इसके पश्चात आप को सबमिट कर विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप ऐमेज़ॉन कला हाट एप्लीकेशन फॉर्म भर पाएंगे।

सभी महत्वपूर्ण डाउनलोड करने की प्रक्रिया

रिपोर्ट डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको वन डिस्टिक वन प्रोडक्ट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको रिपोर्ट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको मिनट्स ऑफ मीटिंग के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
रिपोर्ट डाउनलोड
  • अब आपके सामने एक सूची खुल कर आएगी।
  • आपको इस सूची में अपनी आवश्यकतानुसार विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने पीडीएफ फॉर्मेट में रिपोर्ट खुलकर आएगी।
  • अब आपको डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप रिपोर्ट डाउनलोड कर पाएंगे।

एग्जीबिशन एवं फेयर से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको वन डिस्टिक वन प्रोडक्ट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको एग्जिबिशन एंड फेयर के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने निम्नलिखित ऑप्शन खुल कर आएंगे।
  • आपको अपनी आवश्यकतानुसार विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आप एग्जिबिशन एवं फेयर से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

टेंडर डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको वन डिस्टिक वन प्रोडक्ट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको टेंडर्स के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
टेंडर डाउनलोड
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर सभी टेंडर की सूची होगी।
  • आपको अपनी आवश्यकता अनुसार टेंडर के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने पीडीएफ फॉर्मेट में एक फाइल खुल कर आएगी।
  • इसके पश्चात आप को डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप टेंडर डाउनलोड कर पाएंगे।

फीडबैक देने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको वन डिस्टिक वन प्रोडक्ट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको कांटेक्ट अस के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको फीडबैक के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
फीडबैक
  • इसके बाद आपके सामने फीडबैक फॉर्म खुल कर आएगा।
  • आपको इस फॉर्म में निम्नलिखित जानकारी दर्ज करनी होगी।
    • नाम
    • ईमेल आईडी
    • पोस्टल ऐड्रेस
    • कंट्री
    • स्टेट
    • सिटी
    • फोन नंबर
    • कमेंट/सजेशन
    • कैप्चा कोड
  • अब आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप फीडबैक दे पाएंगे।

कांटेक्ट करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको वन डिस्टिक वन प्रोडक्ट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको कॉन्टेक्ट अस के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको रिच अस के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
कांटेक्ट
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आप संपर्क विवरण देख कर कांटेक्ट कर सकते हैं।

संपर्क विवरण देखने की प्रक्रिया

संपर्क विवरण
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आप संपर्क विवरण देख सकते हैं।

हेल्पलाइन नंबर

हमने अपने इस लेख के माध्यम से आपको वन नेशन वन प्रोडक्ट से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान कर दी है। यदि आप अभी भी किसी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं तो आप टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं। हेल्पलइन नंबर 18001800888 है।

Leave a Comment