मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिकों के बच्चों हेतु निशुल्क कोचिंग सहायता 2024: आवेदन करें

Mukhyamantri Nirman Shramik Nishulk Coaching Sahayata Yojana

जैसे कि हम सभी जानते हैं कि आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण मेधावी छात्र प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए महंगी कोचिंग की सुविधा प्राप्त नहीं कर पाते है जिसके कारण उनका सपना अधूरा रह जाता है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए छत्तीसगढ़ भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण मंडल के पंजीकृत हितग्राहियों के लिए Mukhyamantri Nirman Shramik Nishulk Coaching Sahayata Yojana का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से श्रमिक परिवार के बच्चों को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए निशुल्क कोचिंग की सुविधा प्रदान की जाएगी। इस योजना के तहत श्रमिकों के बच्चों को प्रतियोगी परीक्षाओं जैसे पीएससी, सीजी व्यापम, एसएससी आदि की निशुल्क कोचिंग उपलब्ध कराने का प्रावधान किया गया है।

छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा चयनित कोचिंग संस्थानों के माध्यम से निर्माण श्रमिकों एवं उनके बच्चों को निशुल्क कोचिंग उपलब्ध कराई जाएगी। जिससे श्रमिकों के बच्चे भी अधिकारी बन सकेंगे। अगर आप भी छत्तीसगढ़ के मूल निवासी है और श्रम विभाग के अंतर्गत पंजीकृत है और अपने बच्चों को निशुल्क कोचिंग सहायता उपलब्ध कराना चाहते हैं तो आपको यह आर्टिकल विस्तार पूर्वक अंत तक पढ़ना होगा। क्योंकि आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिकों के बच्चों हेतु निशुल्क कोचिंग सहायता योजना 2024 से संबंधित संपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराएंगे। ताकि आप जान सके कि इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने हेतु पात्रता क्या है, और किस प्रकार आप इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं। 

Table of Contents

Mukhyamantri Nirman Shramik Nishulk Coaching Sahayata Yojana 2024

छत्तीसगढ़ भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण मंडल के पंजीकृत श्रमिक के परिवार के छात्रों के कल्याण के लिए मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिकों के बच्चों हेतु निशुल्क कोचिंग सहायता योजना शुरू की गई है। इस योजना के माध्यम से श्रमिक परिवार के बच्चों को प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए निशुल्क कोचिंग मिलेंगी। राज्य के पंजीकृत श्रमिक एवं पंजीकृत श्रमिक वर्ग के छात्रों को योग्यता अनुसार लोक सेवा आयोग, छत्तीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मण्डल, कर्मचारी चयन आयोग, बैंकिंग, रेलवे, पुलिस भर्ती एवं अन्य प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए निशुल्क कोचिंग प्रदान की जाएगी। यह कोचिंग 4 से 10 माह तक दी जाएगी। इस योजना के तहत राज्य के 10 जिलों में निशुल्क कोचिंग शुरु होने जा रही है।

निशुल्क कोचिंग की सुविधा जुलाई माह से शुरु होगी। Mukhyamantri Nirman Shramik Nishulk Coaching Sahayata Yojana का लाभ लेने के लिए इच्छुक एवं पात्र हितग्राही स्वयं या चॉइस सेंटर या श्रम कार्यालय के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। यह योजना खास तौर पर पंजीकृत श्रमिकों के बच्चों को निशुल्क कोचिंग सहायता प्रदान कर प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी पूरी करने में सहायता प्रदान करना है जिससे कि वह अपना सपना साकार कर सके। 

छत्तीसगढ़ नौनिहाल छात्रवृत्ति योजना

मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिकों के बच्चों हेतु निशुल्क कोचिंग सहायता योजना 2024 के बारे में जानकारी

योजना का नामMukhyamantri Nirman Shramik Nishulk Coaching Sahayata Yojana
शुरू की गईछत्तीसगढ़ सरकार द्वारा  
संबंधित विभागभवन एवं सन्निर्माण कर्मकार कल्याण मंडल  
लाभार्थीराज्य के श्रमिकों के बच्चे  
उद्देश्यपंजीकृत श्रमिकों के बच्चों को निशुल्क कोचिंग सहायता प्रदान करना
राज्यछत्तीसगढ़  
आवेदन प्रक्रियाऑफलाइन ऑनलाइन  
आधिकारिक वेबसाइट  https://cglabour.nic.in/

Mukhyamantri Nirman Shramik Nishulk Coaching Sahayata Yojana 2024 का उद्देश्य

छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिकों के बच्चों के लिए निशुल्क कोचिंग सहायता योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राज्य के पंजीकृत श्रमिक परिवार के बच्चों को प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए बेहतर सुविधाओं की जरूरत को पूरा करने के लिए निशुल्क कोचिंग सहायता प्रदान करना है। ताकि राज्य लोक सेवा आयोग (पीएससी), छत्तीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापम) और बैंकिंग समेत अन्य प्रतियोगी परीक्षा के लिए निश्चित कोचिंग की सुविधा मिल सके। क्योंकि आर्थिक स्थिति कमजोर होने का श्रमिक परिवार के बच्चे प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए कोचिंग नहीं ले पाते जिसके कारण उनका सपना अधूरा रह जाता है जिसके कारण वह भी अपने माता-पिता की तरह मजदूरी कर अपना जीवन यापन करने के लिए मजबूर हो जाते है

लेकिन अब ऐसा नहीं होगा क्योंकि पीएससी, व्यापम और बैंकिंग समेत अन्य प्रतियोगी परीक्षा के लिए श्रमिकों के बच्चों को निशुल्क कोचिंग मिलेगी। जिससे छात्र-छात्राओं के उज्जवल भविष्य का निर्माण हो सकेगा।

जुलाई महीने से श्रमिकों के बच्चों को मिलेगी निशुल्क कोचिंग

छत्तीसगढ़ सरकार ने 29 जून 2024 को वित्त वर्ष जुलाई महीने से श्रमिकों के बच्चों को निशुल्क कोचिंग देने का फैसला किया है। जिसके माध्यम से राज्य के पंजीकृत श्रमिकों के छात्र छात्राओं को निशुल्क कोचिंग सहायता प्रदान की जाएगी।Mukhyamantri Nirman Shramik Nishulk Coaching Sahayata Yojana के तहत सरकार द्वारा चयनित कोचिंग संस्थानों के माध्यम से विद्यार्थियों को निशुल्क कोचिंग उपलब्ध कराई जाएगी। राज्य के श्रम मंत्री लखन लाल देवांगन ने बताया कि श्रमिक परिवार के बच्चों को प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए बेहतर सुविधाओं की जरूरत है। उन्होंने बताया कि अधिक हितग्राही की मृत्यु 9 जून 2020 से पहले हुई है तब भी इस योजना के लिए उनके बच्चे पात्र होंगे। साथी में हितग्राही जो मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिक मृत्यु एवं दिव्यांग सहायता योजना से जुड़े हुए हैं वह भी इस योजना का लाभ कर सकते हैं।   

राजीव युवा उत्थान योजना

ऑफलाइन के साथसाथ ऑनलाइन भी मिलेगी कोचिंग

मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिकों के बच्चों के लिए निशुल्क कोचिंग सहायता योजना के तहत मिलने वाली कोचिंग ऑनलाइन के साथ-साथ ऑफलाइन भी मिलेगी। ताकि विभिन्न परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्र छात्राओं को दोनों का विकल्प मिल सके। क्योंकि कुछ छात्र समय या दूरी के कारण ऑफलाइन की कोचिंग लेना चाहते हैं। इसलिए उनको ऑनलाइन के अलावा ऑफलाइन भी कोचिंग की सुविधा मिलेगी। Mukhyamantri Nirman Shramik Nishulk Coaching Sahayata Yojana के लिए छात्र छात्राओं में उत्साह देखने को मिल रहा है। जिसके लिए जिले में विद्यार्थियों के लिए 50-50 छात्र छात्राओं के बैच बनाए जाएंगे। बैच बनाने के लिए जिलों से आए आवेदन का परीक्षण कर बैच बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। 

किन जिलों में शुरू होने जा रही कोचिंग की सुविधा

Mukhyamantri Nirman Shramik Nishulk Coaching Sahayata Yojana के लिए छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य के 10 जिलों  में पीएससी, व्यापम, बैंकिंग प्रतियोगी परीक्षा की कोचिंग शुरू की जाएगी। राज्य के कौन-कौन से जिले में शुरू होने जा रही है मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिकों के बच्चों के लिए निशुल्क कोचिंग योजना इसकी जानकारी नीचे दी गई है।

  1. दुर्ग
  2. धमतरी
  3. राजनांदगांव
  4. महासमुंद
  5. कोरबा
  6. रायपुर
  7. रायगढ़
  8. जांजगीर
  9. चांपा
  10. बिलासपुर

मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिकों के बच्चों हेतु निशुल्क कोचिंग सहायता योजना के लिए पात्रता

  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन को छत्तीसगढ़ राज्य का मूल निवासी होना चाहिए।
  • राज्य के केवल श्रमिकों के बच्चों को ही निशुल्क कोचिंग का लाभ मिलेगा।
  • श्रमिक को भवन एवं अन्य सन्निर्माण कल्याण बोर्ड के अंतर्गत पंजीकृत होना चाहिए।
  • पंजीकरण श्रमिक के पास कम से कम 1 वर्ष की नियमित सदस्यता होनी चाहिए।
  • श्रमिक के पहले दो बच्चे ही इस योजना के लिए पात्र होंगे।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • श्रमिक पंजीकरण कार्ड
  • स्व घोषणा प्रमाण पत्र 
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री ज्ञान प्रोत्साहन योजना

मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिकों के बच्चों हेतु निशुल्क कोचिंग सहायता योजना 2024 के तहत आवेदन कैसे करें?

योजना के तहत राज्य के पंजीकृत श्रमिकों के बच्चों को निशुल्क कोचिंग सहायता का लाभ प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन प्रक्रिया के माध्यम से आवेदन करना होगा क्योंकि यह कोचिंग ऑनलाइन के साथ-साथ ऑफलाइन भी मिलेगी ताकि विभिन्न परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्र-छात्राओं को दोनों का विकल्प मिल सके। कुछ छात्र समय और दूरी के कारण ऑफलाइन ही कोचिंग लेना चाहते हैं जिनको यह सुविधा मिलेगी। Mukhymantri Nirman Shramikon Ke Bacchon Hetu Nishulk Coaching Sahayata Yojana ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया नीचे दी गई है जो कि कुछ इस प्रकार है।

  • सबसे पहले आपको छत्तीसगढ़ शासन, श्रम विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिकों के बच्चों हेतु निशुल्क कोचिंग सहायता योजना 2024 के तहत आवेदन कैसे करें?
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको आवेदन करें के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जाएगा।
  • अब आपका आवेदन फॉर्म में पूछी गई जानकारी को ध्यानपूर्वक दर्ज करना होगा। जैसे आवेदक का नाम, पिता का नाम, पता, शैक्षिक योग्यता, उम्र और जाति, मोबाइल नंबर ईमेल आईडी आदि की जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको मांगे गए दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • अंत में आपको सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप क्लिक करेंगे आपको पंजीकरण संख्या प्राप्त होगी। जिसे आपको अपने पास सुरक्षित रखना होगा।
  • इस प्रकार आप मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिकों के बच्चों हेतु निशुल्क कोचिंग सहायता योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

Mukhyamantri Nirman Shramik Nishulk Coaching Sahayata Yojana 2024 के तहत ऑफलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया

अगर आप इस योजना का लाभ लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन करने हेतु सक्षम नहीं है तो आप ऑफलाइन प्रक्रिया के माध्यम से भी इस योजना के तहत आवेदन कर सकते हैं। ऑफलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया कुछ इस प्रकार है।

  • सबसे पहले आपको अपने जिले के श्रम विभाग कार्यालय जाना होगा।
  • वहां जाकर आपको संबंधित अधिकारी से मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिकों के बच्चों हेतु निशुल्क कोचिंग सहायता योजना का आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा।
  • आवेदन फॉर्म प्राप्त करने के बाद आपको उसमें पूछी गई सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको आवेदन फॉर्म में मांगे गए जरूरी दस्तावेजों को फॉर्म के साथ संलग्न करना होगा।
  • अब आपको यह आवेदन फॉर्म दस्तावेजों सहित उसी कार्यालय में जमा कर देना होगा जहां से अपने प्राप्त किया था।
  • आवेदन फॉर्म जमा करते समय आपको अधिकारी द्वारा रसीद दी जाएगी। जिसे आप अपने पास सुरक्षित रखना होगा। 

FAQs

निशुल्क कोचिंग योजना के अंतर्गत कौन-कौन सी प्रतियोगी परीक्षा के लिए निशुल्क कोचिंग की सुविधा श्रमिकों के बच्चों को मिलेगी?

निशुल्क कोचिंग योजना के अंतर्गत पीएससी, व्यापम, बैंकिंग प्रतियोगी परीक्षा के लिए निशुल्क कोचिंग की सुविधा श्रमिकों के बच्चों को मिलेगी।

Mukhyamantri Nirman Shramik Nishulk Coaching Sahayata Yojana के तहत राज्य सरकार द्वारा कब से निशुल्क कोचिंग शुरु करने का फैसला किया गया है?

Mukhyamantri Nirman Shramik Nishulk Coaching Sahayata Yojana के तहत राज्य सरकार द्वारा जुलाई माह 2024 से निशुल्क कोचिंग देने का फैसला किया गया है।

मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिक निशुल्क कोचिंग योजना के अंतर्गत प्रतियोगी परीक्षा के लिए कितने माह तक कोचिंग प्रदान की जाएगी?

इस योजना के तहत प्रतियोगी परीक्षा के लिए 4 से 10 माह तक निशुल्क कोचिंग प्रदान की जाएगी। 

Leave a Comment