राजस्थान मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना 2024: ऑनलाइन आवेदन, पात्रता

Mukhyamantri Laghu Udyog Protsahan Yojana:- जैसे कि हम सभी जानते है कि किसी भी उद्योग को स्थापित करने के लिए पैसे की आवश्यकता होती है लेकिन आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण कई बार युवा अपना खुद का उद्योग स्थापित नहीं कर पाते हैं जिसके कारण वह बेरोजगार रह जाते हैं। ऐसी समस्याओं के समाधान हेतु  राजस्थान सरकार द्वारा राज्य के शिक्षित बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार के साधन उपलब्ध कराने के लिए राजस्थान मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना के माध्यम से राज्य के युवाओं को रोजगार प्राप्ति हेतु अपने उद्योग को स्थापित करने हेतु ऋण सहायता प्रदान की जाएगी। राजस्थान मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना के तहत समाज के सभी वर्गों को नौकरी के अवसर प्राप्त हो सकेंगे। राज्य सरकार द्वारा इस योजना के माध्यम से 10 करोड़ रुपए तक का ऋण प्रदान किया जाएगा।

अगर आप भी राजस्थान राज्य के निवासी है और अपना उद्योग स्थापित करने हेतु ऋण सहायता प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको यह आर्टिकल ध्यान पूर्वक अंत तक पढ़ना होगा। क्योंकि आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से Rajasthan Mukhyamantri Laghu Udyog Protsahan Yojana 2024 से संबंधित संपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराएंगे। 

Rajasthan Mukhyamantri Laghu Udyog Protsahan Yojana 2024

Table of Contents

Rajasthan Mukhyamantri Laghu Udyog Protsahan Yojana 2024

राजस्थान में स्वरोजगार के अवसरों को बढ़ावा देने के लिए राजस्थान मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना को शुरू किया गया है। इस योजना के माध्यम से राज्य के नागरिकों को रोजगार के लघु उद्योग स्थापित करने के लिए बैंको के माध्यम से ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। साथ ही सरकार द्वारा दिए गए ऋण पर सब्सिडी भी दी जाएगी। इस योजना का नोडल विभाग आयुक्त आयोग, वाणिज्य एवं सीएसआर राजस्थान सरकार है। Mukhyamantri Laghu Udyog Protsahan Yojana के माध्यम से लाभार्थी स्वरोजगार उद्योग या फिर सर्विस सेक्टर उद्योग शुरू कर सकते हैं। इस योजना के अंतर्गत नई एंटरप्राइज स्थापित करने वाले लोग भी आवेदन कर सकते हैं इसके अलावा जो लोग विस्तार, विविधीकरण, आधुनिकरण परियोजनाओं करना चाहते हैं वह भी इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर ऋण प्राप्त कर सकते हैं।

लाभार्थियों को इस योजना के माध्यम से सरकार के अन्य योजनाओं का लाभ लेने का अवसर भी प्राप्त होगा। जिसके माध्यम से रोजगार हेतु सुगम ऋण की व्यवस्था उपलब्ध होगी। राज्य में लघु उद्योग स्थापित होने से रोजगार के नए नए अवसर पैदा होंगे। जिससे सभी लोगों को रोजगार की प्राप्ति होगी। 

इंदिरा महिला शक्ति उद्यम प्रोत्साहन योजना

राजस्थान लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना 2024 के बारे में जानकारी

योजना  का नामRajasthan Mukhyamantri Laghu Udyog Protsahan Yojana
शुरू की गईराजस्थान सरकार द्वारा  
लाभार्थीराज्य के नागरिक  
उद्देश्यबेरोजगारी दर को कम करने के लिए युवाओं को स्वरोजगार हेतु प्रोत्साहित करना
ऋण राशि25 लाख रुपए से 10 करोड़ रुपए तक  
सब्सिडी दर5% से 8%  
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन ऑफलाइन  
आधिकारिक वेबसाइट  https://sso.rajasthan.gov.in/

Mukhyamantri Laghu Udyog Protsahan Yojana  का उद्देश्य

राजस्थान सरकार द्वारा मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राज्य के बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार हेतु प्रोत्साहित करना है। इस योजना के माध्यम से नागरिकों के द्वारा स्वयं के उद्योग स्थापित करने पर आधुनिकरण कम लागत पर ऋण उपलब्ध कराकर रोजगार के नए साधनों का सृजन किया जाएगा। साथ ही सरकार द्वारा ऋण पर सब्सिडी का लाभ भी दिया जाएगा। जिसके माध्यम से ज्यादा से ज्यादा लोग लोन प्राप्त कर अपना स्वरोजगार शुरू करने के लिए प्रोत्साहित होंगे। मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना के माध्यम से बेरोजगारी दर में गिरावट आएगी। क्योंकि उद्योग हेतु ऋण प्राप्ति होने पर राज्य में अधिक से अधिक लोगों को रोजगार के अवसर मिलेंगे। 

राजस्थान मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत मिलने वाली ऋण राशि का विवरण

मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना के तहत राज्य के नागरिकों को उद्योग हेतु 25 लाख रुपए से 10 करोड़ रुपए की ऋण राशि प्रदान की जाएगी। इस योजना के तहत छोटे व्यवसाय शुरू करने के लिए 25 लाख रुपए एवं बड़े उद्योग स्थापित करने के लिए अधिकतम 10 करोड़ रुपए तक ऋण प्रदान किया जाएगा। सरकार द्वारा प्रदान किया जाने वाला ऋण बैंकों के माध्यम से उपलब्ध कराया जाएगा। साथ ही लाभार्थियों को इस योजना के अंतर्गत 5% से 8% तक की दर से सब्सिडी दी जाएगी। लाभार्थी को ऋण राशि आधुनिकरण के उद्देश्य हेतु संयंत्र मशीन, वर्क शेड, भवन, फर्नीचर, उपकरण, कच्चे माल आदि के लिए दी जाएगी। 10 लाख रुपए तक का लोन बैंक द्वारा बिना किसी इंटरव्यू के दिया जाएगा इसके अलावा अगर आप 10 लाख से अधिक का लोन लेते हैं तो ऐसे में बैंक द्वारा जांच किए जाने के बाद ही डिस्ट्रिक्ट लेवल टास्क फोर्स कमेटी के माध्यम से लोन दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादक संबल योजना

Mukhyamantri Laghu Udyog Protsahan Yojana के तहत दी जाने वाली सब्सिडी

अधिकतम ऋण राशिब्याज सब्सिडी  
25 लाख लोन राशि तक8% सब्सिडी  
25 लाख से 5 करोड़ रुपए की ऋण राशि6% सब्सिडी  
5 करोड़ रुपए से 10 करोड़ रुपए की ऋण राशि तक5% सब्सिडी  

मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना 2024 के लाभ एवं विशेषताएं

  • राजस्थान लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना के माध्यम से राज्य के नागरिकों को उद्योग शुरू करने हेतु ऋण सहायता प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के माध्यम से राज्य में औद्योगीकीकरण के क्षेत्र में वृद्धि होगी।
  • राज्य में लघु उद्योग स्थापित होने से बेरोजगारी जैसी समस्याओं में कमी आएगी।
  • मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना के माध्यम से राज्य के नागरिक 25 लाख रुपए से लेकर 10 करोड़ रुपए तक की ऋण राशि उद्योग हेतु प्राप्त कर सकेंगे।
  • इस योजना के तहत बैंकों के माध्यम से ऋण प्रदान किया जाएगा।
  • लाभार्थी को ऋण राशि 60 महीनों में या 20 तिमाहियों में देय होगी।
  • मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना के तहत ऋण पर सब्सिडी भी दी जाएगी।
  • राजस्थान सरकार द्वारा मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत लाभार्थी को 8% तक का ब्याज अनुदान के रूप में प्रदान किया जाएगा।
  • Mukhyamantri Laghu Udyog Protsahan Yojana के माध्यम से राज्य में उद्यम स्थापित हो सकेंगे जिससे राज्य के अन्य लोगों को नौकरी के अवसर मिल सकेंगे।   
  • यह योजना राज्य में फैली बेरोजगारी दर को कम करेगी एवं  रोजगार के नए अवसर को बढ़ावा देगी।  

Mukhyamantri Laghu Udyog Protsahan Yojana की ऋण देने वाली संस्थाएं

  • एसआईडीबीआई
  • रीजनल रूरल बैंक
  • शेड्यूल स्मॉल फाइनेंस बैंक
  • प्राइवेट सेक्टर शेड्यूल कमर्शियल बैंक
  • राजस्थान फाइनेंशियल कॉरपोरेशन
  • नेशनलिस्ट कमर्शियल बैंक

योजना के लाभार्थी

  • सोसाइटी सेल हेल्प ग्रुप्स
  • कंपनीज
  • इंडिविजुअल एप्लीकेंट
  • पार्टनरशिप फॉर्म्स
  • एलएलपी फॉर्म्स

राजस्थान मुख्यमंत्री युवा सम्बल योजना

Mukhyamantri Laghu Udyog Protsahan Yojana के लिए पात्रता

राजस्थान मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना के लिए आवेदन करने हेतु उम्मीदवार को निम्नलिखित पात्रता को पूरा करना होगा। पात्रता पूरी करने पर ही इस योजना के तहत आवेदन किया जा सकेगा।

  • राजस्थान मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत केवल राजस्थान के मूल निवासी ही आवेदन करने के लिए पात्र होंगे।
  • आवेदक की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए। 
  • आवेदक किसी भी बैंक द्वारा डिफाल्टर घोषित नहीं होनी चाहिए।
  • स्वयं सहायता समूह या भागीदारी फॉर्म एलएलपी फॉर्म एवं कंपनियों को राज्य सरकार के किसी विभाग के अंतर्गत पंजीकृत होना आवश्यक है। 

राजस्थान मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक के पास निम्नलिखित दस्तावेज होने चाहिए।  जिसके माध्यम से वह आवेदन कर सकते हैं।

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • स्व प्रमाणित परियोजना रिपोर्ट
  • शैक्षणिक योग्यता प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक खाता पासबुक

Mukhyamantri Laghu Udyog Protsahan Yojana 2024 के तहत आवेदन कैसे करें?

अगर आप राजस्थान के निवासी है और मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो आप नीचे दी गई प्रक्रिया को अपनाकर आसानी से घर बैठे ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। 

  • सबसे पहले आपको एसएसओ राजस्थान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। 
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • अगर आप पोर्टल पर पहले से पंजीकृत है तो आपको लॉगिन करना होगा। यदि आप पोर्टल पर पहले से पंजीकृत नहीं है तो आपको पंजीकरण करना होगा।
  • पंजीकरण करने के लिए आपको Registration के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको अपनी कैटेगरी का चयन कर पंजीकरण फॉर्म भरना होगा। 
  • पंजीकरण हो जाने के बाद आपको होम पेज पर जाकर लॉगिन करना होगा। 
  • इसके बाद आपके सामने नया पेज खुल जाएगा जहां पर आपको मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने आवेदन फॉर्म आ जाएगा। 
  • आपको यह आवेदन फॉर्म 8 चरणों में भरना होगा। 
  • जैसे सामान्य विवरण, आवेदक का विवरण, आवेदक का पूर्ण पता, प्रस्तावित कार्य स्थल का पता, प्रस्तावित वित्तीय संस्था का विवरण, वरीयता क्रम में आने का आधार और अंत में दस्तावेज अपलोड की घोषणा को दर्ज करना होगा।
  • सभी चरणों को भरने के बाद फॉर्म में मांगे गए सभी दस्तावेजों की स्कैन कॉपी को अपलोड करना होगा।
  • इसके बाद आपको सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप सफलतापूर्वक मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।   

मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना के तहत ऑफलाइन आवेदन कैसे करें?

  • ऑफलाइन आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको अपने नजदीकी बैंक में जाना होगा।
  • वहां जाकर आपको संबंधित कर्मचारी से मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना का आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा। 
  • आवेदन फॉर्म प्राप्त करने के बाद आपको उसमें मांगी गई जानकारी जैसे व्यक्तिगत, शैक्षणिक, निवास, संपर्क संबंधी और उद्योग आदि दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको मांगे गए दस्तावेजों को आवेदन फॉर्म के साथ संलग्न करना होगा।
  • अब आपको यह आवेदन फॉर्म दस्तावेजों सहित बैंक में जमा कर देना होगा। 
  • बैंक द्वारा आपके आवेदन फॉर्म और दस्तावेजों की जांच की जाएगी।
  • बैंक अधिकारी द्वारा सभी जानकारी से ही पाए जाने पर आपको बैंक के माध्यम से लोन दे दिया जाएगा। 
  • इस प्रकार आप आसानी से Mukhyamantri Laghu Udyog Protsahan Yojana के अंतर्गत ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं। 

FAQs

राजस्थान लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना के माध्यम से राज्य के नागरिकों को क्या लाभ मिलेगा?

राजस्थान लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना के माध्यम से राज्य के नागरिकों को नए उद्यमों की स्थापना एवं पूर्व स्थापित उद्यमों के विस्तार, विविधीकरण, आधुनिकरण हेतु ऋण सहायता प्रदान की जाएगी।

Rajasthan Mukhyamantri Laghu Udyog Protsahan Yojana के अंतर्गत उद्यम स्थापित करने के लिए कितने रुपए तक का लोन मिलेगा?

Rajasthan Mukhyamantri Laghu Udyog Protsahan Yojana के अंतर्गत उद्यम स्थापित करने के लिए 25 लाख रुपए से लेकर 10 करोड़ रुपए तक का लोन मिलेगा।

मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत ऋण वापस करने की अवधि कितनी है?

मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत वापस करने की अवधि 60 महीनों में 20 तिमाहियों में देय होगी। 

Leave a Comment