मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन स्टेटस, लाभार्थी लिस्ट

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना ऑनलाइन आवेदन | एमपी किसान कल्याण योजना एप्लीकेशन फॉर्म | Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana Registration | MP Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana | किसान कल्याण योजना लिस्ट

आप सभी लोग जानते हैं केंद्र सरकार ने सन 2022 का किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार और राज्य सरकार समय-समय पर किसानों के लिए कई सारी योजनाएं आरंभ करती रहती है। ऐसी एक योजना मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा आरंभ की गई है। जिसका नाम मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से इस योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जैसे कि इसके लाभ, उद्देश्य, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि। तो दोस्तों यदि आप MP Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

Table of Contents

Kisan Kalyan Yojana

इस योजना के अंतर्गत मध्यप्रदेश में रहने वाले किसानों को सरकार द्वारा दो किस्तों में आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। यह योजना किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए आरंभ की गई है। Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana 2021 के अंतर्गत आर्थिक सहायता सीधे किसान के बैंक खाते में पहुंचा दी जाएगी। जिससे कि उनकी परिस्थितियों में सुधार आए। इस योजना की खास बात यह है कि इस योजना के अंतर्गत उन किसानों को लाभ की राशि पहुंचाई जाएगी जो पीएम किसान सम्मान निधि से जुड़े हुए हैं। वह सभी किसान पीएम किसान सम्मान निधि से जुड़े हुए हैं उन्हें इस योजना के लिए अलग से आवेदन करने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। उनके खाते में पीएम किसान सम्मान निधि योजना के राशि के साथ-साथ Kisan Kalyan Yojana की राशि पहुंचा दी जाएगी।

77 लाख किसानों के खाते में ट्रांसफर किए गए 1540 करोड़ रुपए

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के माध्यम से किसानों को ₹4000 की आर्थिक सहायता मुहैया कराई जाती है। यह आर्थिक सहायता साल में दो बार दो किस्तों के माध्यम से प्रदान की जाती है। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा 23 अक्टूबर 2021 को 77 लाख किसानों के खाते में 1540 करोड़ रुपए की राशि मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत ट्रांसफर की गई। जिस के लिए मिंटो हॉल में कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया था। यह राशि सिंगल क्लिक के माध्यम से ट्रांसफर की गई। इस कार्यक्रम में किसान अधिकारियों जनप्रतिनिधि भी वर्चुअल माध्यम से भी शामली थे। इस योजना के माध्यम से किसानों की आय में वृद्धि होगी एवं उनके जीवन स्तर में भी सुधार आएगा।

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत वितरित की 1500 करोड़ रुपए की राशि

Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana के अंतर्गत प्रतिवर्ष किसानों को ₹4000 की आर्थिक सहायता मध्य प्रदेश सरकार की ओर से प्रदान की जाती है। यह आर्थिक सहायता प्रतिवर्ष ₹2000– ₹2000 की दो किस्तों में प्रदान की जाती है। यह आर्थिक सहायता सभी पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थियों को प्रदान की जाती है। 7 मई 2021 को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा मध्य प्रदेश के 75 लाख किसानों के खाते में इस योजना के अंतर्गत 1500 करोड़ रुपए की आर्थिक सहायता वितरित की जाएगी। इस बात की घोषणा मुख्यमंत्री जी के द्वारा किसानों से संवाद के दौरान की गई।

  • यह राशि 7 मई 2021 को दोपहर 3:00 बजे आयोजित होने वाले वर्चुअल कार्यक्रम के दौरान किसानों के खाते में पहुंचाई जाएगी। इस कार्यक्रम में मंत्री परिषद के सदस्य, कलेक्टर, जनप्रतिनिधि, मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के हितग्राही, कमिश्नर आदि उपस्थित होंगे।
  • मध्य प्रदेश के कृषि मंत्री श्री कमल पाटिल द्वारा भी इस योजना के अंतर्गत 7 मई को किसानों के खाते में ₹1500 करोड़ रुपए की राशि वितरित की जाने की जानकारी दी गई है। इसी के साथ मध्य प्रदेश सरकार द्वारा सन 2020–21 में दिए गए ऋण के भुगतान की अंतिम तिथि को भी बढ़ा दिया गया है।
  • पहले यह अंतिम तिथि 1 मार्च 2021 थी जिसे बढ़ाकर 30 अप्रैल 2021 किया गया था अब इस तिथि को बढ़ाकर 31 मई 2021 कर दिया गया है।

Key Highlights Of MP Kisan Kalyan Yojana

योजना का नाममध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना
किसने आरंभ कीमध्य प्रदेश सरकार
लाभार्थीमध्य प्रदेश के किसान
उद्देश्य₹4000 की आर्थिक सहायता प्रदान करना।
आधिकारिक वेबसाइटhttps://pmkisan.gov.in/
साल2021

किसान कल्याण योजना मध्य प्रदेश का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य मध्य प्रदेश के सभी किसानों को आय को बढ़ाना है। Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana के माध्यम से मध्य प्रदेश सरकार किसानों की आर्थिक सहायता करेगी  जिससे कि किसानों की आय में वृद्धि होगी। इस आर्थिक सहायता की वजह से कर्ज में डूबे किसानों को भी काफी सहायता प्राप्त होगी। इस योजना को पीएम किसान सम्मान निधि से जोड़ा गया है। जिससे की पीएम किसान सम्मान निधि योजना के सभी लाभार्थियों को इस योजना के अंतर्गत कवर किया जा सके।

23 मार्च को किसानों के खाते में पहुंचाई जाएगी राशि

इस योजना के अंतर्गत प्रति वर्ष ₹4000 की आर्थिक सहायता ₹2000 की दो किस्तों में प्रदेश के पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थियों को पहुंचाई जाएगी। वे सभी किसान इस योजना का लाभ प्राप्त सकते हैं जिन्हे किसान सम्मान निधि योजना का लाभ प्राप्त हो रहा है। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा 18 मार्च 2021 को एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत बने घरों की चाबी 1,25,000 परिवारों को सौंपी गई है। इस मौके पर मुख्यमंत्री द्वारा यह घोषणा की गई है कि 23 मार्च 2021 को किसानों को फसल नुकसान की राहत राशि पहुंचाई जाएगी और किसान कल्याण योजना की ₹2000 की किस्त की राशि किसानों के खाते में पहुंचाई जाएगी। इस योजना के माध्यम से लगभग 2000 करोड रुपए किसानों के खाते में डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से दिए जाएंगे।

20 लाख किसानों के खाते में पहुंचाई जाएगी दूसरी किस्त की राशि

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत किसानों के खाते में प्रतिवर्ष ₹4000 की राशि पहुंचाई जाती है। यह राशि ₹2000 की दो किस्तों में किसानों के खाते में पहुंचाई जाती है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा 27 फरवरी 2021 को एक कार्यक्रम आयोजित किया गया था। इस कार्यक्रम के माध्यम से उन्होंने प्रदेश के 20 लाख किसानों के खाते में 400 करोड़ रुपए की राशि पहुंचाई है। यह कार्यक्रम दमोह में आयोजित किया गया था। मुख्यमंत्री जी के द्वारा इस योजना के किसानों से सीधे संवाद भी किया गया है। इस योजना के माध्यम से किसानों को केंद्र सरकार द्वारा प्रदान किए जाने वाले किसान सम्मान निधि योजना के ₹6000 के साथ-साथ राज्य सरकार द्वारा प्रदान किए जाने वाले ₹4000 भी प्रदान किए जाएंगे। इसे मिलाकर किसानों को ₹10000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana का लाभ वह ही किसान उठा सकते हैं जिन्होंने पीएम किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत पंजीकरण करवाया हुआ है। इस योजना के अंतर्गत लाभ की राशि डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से किसानों के खाते में पहुंचाई जाती है।

किसान कल्याण योजना 20 लाख किसानों के खाते में पहुंचाई गई राशि

30 जनवरी 2021 को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा 20 लाख किसानों के खाते में सीएम किसान कल्याण योजना की किस्त की राशि पहुंचा दी गई है। लगभग 400 करोड रुपए इस योजना के अंतर्गत मुख्यमंत्री शिवराज सिंह जी के द्वारा डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से लाभार्थियों के खाते में पहुंचाए गए हैं। फरवरी एवं मार्च 2021 में किसान कल्याण योजना के अंतर्गत 400 करोड़ रुपए दुबारा किसानों के खाते में पहुंचाए जाएंगे। इस राशि को मिलाकर सरकार द्वारा लगभग 800 करोड़ रुपए लाभार्थियों के खाते में पहुंचा दिए जाएंगे।

  • अब मध्य प्रदेश का प्रत्येक किसान को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के ₹6000 तथा मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के ₹4000 मिला कर ₹10000 की आर्थिक सहायता प्रतिवर्ष प्रदान की जाएगी।
  • मुख्यमंत्री जी के द्वारा यह भी बताया गया कि प्रदेश के 2 करोड़ नागरिकों का आयुष्मान योजना के अंतर्गत आयुष्मान कार्ड भी बनवाया गया है। जिससे कि यह सभी लोग ₹500000 तक का सरकारी एवं प्राइवेट अस्पतालों में अपना इलाज करवा सकते हैं।

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना आर्थिक सहायता

मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा मध्य प्रदेश के किसानों को ₹4000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। यह आर्थिक सहायता ₹2000-₹2000 की किस्तों में प्रदान की जाएगी। 03 दिसंबर 2020 को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश के 500000 किसानों को 100 करोड रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान करेंगे। इस योजना के माध्यम से लगभग प्रदेश के 800000 किसानों को लाभ पहुंचेगा। यह घोषणा मुख्यमंत्री द्वारा नसरुल्लागंज से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कि जाएगी।

  • इस योजना के अंतर्गत 500000 किसानों को पहली किस्त के ₹2000 प्राप्त होंगे।
  • मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण का मुख्य लक्ष्य किसानों की आय में वृद्धि करना है।
  • मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान रायसेन, खंडवा, सागर, ग्वालियर और इंदौर है के किसानों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा भी करेंगे।
  • इस चर्चा में वह किसानों की समस्याएं सुनेंगे और उसका समाधान करेंगे। प्रत्येक जिले से लगभग 200 किसान मुख्यमंत्री के साथ इस चर्चा में जुड़ेंगे। इस चर्चा के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखा जाएगा।

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना लॉकडाउन के दौरान पहुंचाई गई सुविधाएं

कोरोनावायरस संक्रमण के चलते देश में लॉकडाउन लगा था। जिसके कारण किसानों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। लॉकडाउन के दौरान फसल की कटाई भी प्रभावित हो रही थी। इस समस्या को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने दिशा निर्देश जारी किए। जिससे की फसल कटाई प्रभावित ना हो। सरकार द्वारा किसानों को फसल कटाई के लिए जाने की अनुमति प्रदान की गई और नियमों को आसान बनाया गया।

  • इसी के साथ मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश सरकार ने सरकारी केंद्रों के अलावा अगर कोई अन्य संस्था या एजेंसी भी किसानों से उनकी फसल न्यूनतम समर्थन मूल्य या फिर उससे ज्यादा कीमत पर खरीदना चाहती है तो उन्हें खरीदने की अनुमति प्रदान की गई। ऐसी सभी संस्थाओं को प्रोत्साहित किया गया। कोरोनावायरस संक्रमण के चलते उत्तर प्रदेश सरकार किसानों की ढाल बनकर खड़ी रही।
  • Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana के अंतर्गत किसानों को 2 महीने की मुफ्त में जुताई और बुवाई की सुविधा भी प्रदान की गई। सरकार द्वारा सरकारी गेहूं खरीद केंद्र शुरू किया गया।
  • लोगों को कीटनाशक की दुकानें खोलने की अनुमति प्रदान की गई। यह सब सुविधाएँ लॉकडाउन के पहले हफ्ते में ही किसानों की परेशानी को देखते हुए उनको प्रदान की गई।
  • मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत लघु और सीमांत किसानों के लिए भी सरकार द्वारा ट्रैक्टरों से मुफ्त में खेतों की जुताई और बुवाई कराई गई।
  • पहले चरण में उत्तर प्रदेश के 16 जिलों में यह सुविधा प्रदान की गई। इसके अलावा सरकार द्वारा तिलहन और दलहन की फसलों के तहत सरसों, चना और मसूर का न्यूनतम मूल्य निर्धारित किया गया और उसकी सरकारी खरीद की गई।
  • वह सभी किसान जो अपनी फसल बेचने के लिए बाजार तक नहीं जा पा रहे थे उनकी फसल सरकार द्वारा मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत घर से खरीदी गई।

लॉक डाउन में सरकार द्वारा किये गए कार्य

  • सरकार द्वारा गेहूं खरीद भी सुनिश्चित की गई। 15 अप्रैल 2020 से यह गेहूं खरीद प्रारंभ हुई थी। यह गेहूं खरीद 90 दिन तक चली। जिसके दौरान 3577 लाख मैट्रिक टन गेहूं 1925 प्रति क्विंटल की दर से खरीदा गया। जिससे किसानों के खाते में 6685 रुपए वितरित किए गए।
  • किसानों के लिए राज्य और राज्यों से बाहर परिवहन की व्यवस्था भी मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत उपलब्ध कराई गई। बटाईदार और कॉन्ट्रैक्ट फार्मर के हितों पर भी ध्यान दिया गया।
  • मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत महिला किसानों पर खास ध्यान दिया गया। उन्हें अधिक सुविधाएं प्रदान की गई। धान का भुगतान सीधे किसानों के खाते में 72 घंटे के भीतर किया गया।
  • इस योजना के अंतर्गत बीज, कृषि रक्षा रसायनों आदि की बिक्री के लिए दुकान खोलने की अनुमति प्रदान की गई। कंबाइन हार्वेस्टर और दूसरे उपकरणों पर छूट प्रदान की गई।
  • Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana के अंतर्गत 45 लाख मैट्रिक टन गेहूं और धान एमएसपी पर खरीदे गए। 119 चीनी मिल लॉकडाउन के दौरान चलाई गई। 11180 गन्ने की पेराई की गई। 2.13 करोड़ किसानों को किसान सम्मान निधि योजना का लाभ पहुंचाया गया। न्यूनतम समर्थन मूल्य पर 38717 मैट्रिक टन चने की खरीद की गई। खाद्यान्न के लिए 60000 करोड़ रुपए सीधे किसानों के अकाउंट में पहुंचाए गए। 1264 लाख क्विंटल चीनी का उत्पादन किया गया।

एमपी मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना सितम्बर अपडेट

इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को सरकार द्वारा धनराशि प्रदान की जाने की प्रक्रिया आरंभ हो गई है। शनिवार को मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना का शुभारंभ करते हुए मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी ने 1.75 लाख किसानों को धनराशि ट्रांसफर की है और इससे पहले शुक्रवार 25 सितंबर को 5.70 लाख किसान परिवारों को धनराशि ट्रांसफर की गई थी। इस योजना का लाभ उठाने के लिए आपको पीएम किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत पंजीकृत होना अनिवार्य है। आपको बता दें कि इस योजना के माध्यम से प्रदेश के लगभग 77 लाख किसानों को लाभ पहुंचेगा। वह सभी किसान जिनको इस योजना के अंतर्गत लाभ मिलेगा उनकी जानकारी किसान सम्मान निधि की आधिकारिक वेबसाइट पर दर्ज कर दी जाएगी।

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना में दी जाने वाली धनराशि

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा किसान कल्याण योजना के अंतर्गत ₹2000 की दो किस्ते किसान के सीधे खाते में पहुंचाई जाएंगी। अब किसान सम्मान निधि योजना के ₹6000 तथा किसान कल्याण योजना के ₹4000 मिलाकर किसानों को प्रति वर्ष ₹10000 की सरकार की ओर से आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी  इन ₹10000 में ₹6000 केंद्र सरकार द्वारा प्रदान किए जाएंगे तथा ₹4000 राज्य सरकार द्वारा प्रदान किए जाएंगे।

Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana के लाभ तथा विशेषताएं

  • Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojanaके अंतर्गत सरकार द्वारा किसानों की आर्थिक सहायता की जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत आर्थिक सहायता की राशि ₹4000 होगी।
  • यह ₹4000 दो किस्तों में दिए जाएंगे।
  • इस योजना के अंतर्गत पीएम किसान सम्मान निधि योजना के सभी लाभार्थियों को कवर किया गया है।
  • यदि आप इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो आपको पहले पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लिए आवेदन करना होगा।
  • मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के माध्यम से किसानों की आय में बढ़ोतरी होगी।
  • इस योजना के माध्यम से किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा।
  • मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत सहायता राशि सीधे किसानों के बैंक अकाउंट में पहुंचाई जाएगी।

एमपी किसान कल्याण योजना की पात्रता

  • इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाला व्यक्ति मध्यप्रदेश का स्थायी निवासी होना अनिवार्य है।
  • आवेदक किसान होना चाहिए।
  • इस योजना के अंतर्गत आवेदक पीएम किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत रजिस्टर होना चाहिए।
  • आवेदक लघु सीमांत किसान होना चाहिए।
  • आवेदक के पास खेती योग्य भूमि होनी चाहिए जिसमें वह खेती करता हो।

किसान कल्याण योजना के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • पीएम किसान योजना का रजिस्ट्रेशन नंबर
  • आधार कार्ड
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • किसान विकास पत्र या फिर किसान क्रेडिट कार्ड
  • राशन कार्ड

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना आवेदन की प्रक्रिया

यदि आप मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपको पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभार्थी होना अनिवार्य है। यदि आपने पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लिए आवेदन नहीं किया है तो आप इसके लिए आवेदन कर के मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना का लाभ उठा सकते हैं। इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया कुछ इस प्रकार है।

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको फार्मर कॉर्नर के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको न्यू फार्मर रजिस्ट्रेशन के लिंक पर क्लिक करना होगा।
मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना
  • इसके बाद आपके सामने फार्मर रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आएगा।
  • आपको इस फॉर्म में आधार नंबर तथा इमेज कोड भरना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • आपके इस फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी भरकर सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के लिए आवेदन कर पाएंगे।

एमपी मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना लाभार्थी सूची

यदि आप मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के लाभार्थी सूची देखना चाहते हैं तो आपको प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की लाभार्थी सूची देखनी होगी। वे सभी लाभार्थी जिनको पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ मिल रहा है उनको मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना का भी लाभ प्रदान किया जाएगा। मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के लाभार्थी सूची देखने की प्रक्रिया कुछ इस प्रकार है।

  • सर्वप्रथम आपको  आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको फार्मर कॉर्नर के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको बेनिफिशियरी लिस्ट के लिंक पर क्लिक करना होगा।
Kisan Kalyan Yojana
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको अपने राज्य, डिस्ट्रिक्ट, सब डिस्टिक, ब्लॉक और गांव का चयन करना होगा।
  • अब आपको गेट रिपोर्ट के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • लाभार्थी सूची आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

Contact Us

  • सबसे पहले आपको योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • इस होम पेज पर आपको contact us का विकल्प दिखाई देगा आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा। विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
किसान कल्याण योजना
  • इस पेज पर आपको कांटेक्ट डिटेल्स मिल जाएगी।

Leave a Comment