मुख्यमंत्री चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना 2024: रजिस्ट्रेशन Shramik Sambal Yojana

Mukhyamantri Chiranjeevi Shramik Sambal Yojana:- राजस्थान सरकार द्वारा राज्य की श्रमिकों के लिए बजट 2023 में एक नई योजना को शुरू करने की घोषणा की गई है। जिसका नाम मुख्यमंत्री चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना है। इस योजना के माध्यम से राज्य के श्रमिक विभाग में पंजीकृत श्रमिकों एवं स्ट्रीट वेंडर्स को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। यह आर्थिक सहायता राज्य सरकार द्वारा श्रमिक एवं स्ट्रीट वेंडर्स को अस्पताल में भर्ती होने की स्थिति में दी जाएगी। ताकि उन्हें आर्थिक समस्याओं का सामना ना करना पड़े। मुख्यमंत्री चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना के तहत कितनी आर्थिक सहायता मिलेगी? किस प्रकार इस योजना के तहत आवेदन किया जा सकेगा। इन सभी से जुड़ी जानकारी के लिए आपको यह आर्टिकल विस्तारपूर्वक अंत तक पढ़ना होगा। क्योंकि आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से Mukhyamantari Chiranjeevi Shramik Sambal Yojana 2024 से जुड़ी सभी जानकारी उपलब्ध कराएंगे।

Mukhyamantri Chiranjeevi Shramik Sambal Yojana 2023

Mukhyamantri Chiranjeevi Shramik Sambal Yojana 2024

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा राज्य के पंजीकृत श्रमिक एवं स्ट्रीट वेंडर्स जैसे कि रेड़ी या ठेला लगाने वाले, सब्जी बेचने वाले आदि के लिए मुख्यमंत्री चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना को शुरू किया गया है। मुख्यमंत्री सिरंजीवी श्रमिक संबल योजना के माध्यम से श्रमिक एवं स्ट्रीट वेंडर्स को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत अगर पंजीकृत श्रमिक एवं स्ट्रीट वेंडर्स बीमार हो जाता है और उसे अस्पताल में भर्ती होना पड़ता है तो ऐसी स्थिति में स्ट्रीट वेंडर्स एवं श्रमिकों को बिना किसी प्रार्थना पत्र के ऑटो डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से 7 दिनों तक मिनिमम वेतन प्रदान किया जाएगा।

Rajasthan Chiranjeevi Shramik Sambal का लाभ प्राप्त कर श्रमिकों को अपना वेतन छूटने की चिंता नहीं होगी। राज्य सरकार द्वारा इस योजना के कार्यान्वयन के लिए 100 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है। इसके अलावा इस योजना का लाभ स्ट्रीट वेंडर और श्रमिकों के परिवारों के सदस्यों को भी अस्पताल में भर्ती होने के दौरान प्रदान किया जाएगा। मुख्यमंत्री चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना का लाभ राज्य के 25 वर्ष से 60 वर्ष के श्रमिक एवं स्ट्रीट वेंडर उठा सकेंगे। 

राजस्थान ग्रामीण पर्यटन योजना 

मुख्यमंत्री चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना के बारे में जानकारी

योजना का नाम  Mukhyamantri Chiranjeevi Shramik Sambal Yojana
शुरू की गईराजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा  
कब शुरू हुई  बजट 2023 के दिन
लाभार्थी  राज्य के पंजीकृत श्रमिक और स्ट्रीट वेंडर
उद्देश्य  अस्पताल में भर्ती होने के दौरान भी मिनिमम वेतन प्रदान करना
आर्थिक लाभ200 रुपए से लेकर 1400 रुपए  
राज्य  राजस्थान
साल  2024
आवेदन प्रक्रिया  ऑनलाइन/ऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइट  जल्द लॉन्च होगी  

Mukhyamantri Chiranjeevi Shramik Sambal Yojana का उद्देश्य

राजस्थान सरकार द्वारा मुख्यमंत्री चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राज्य के पंजीकृत श्रमिक या स्ट्रीट वेंडर्स को अस्पताल में भर्ती होने की स्थिति में भी उन्हें मिनिमम वेतन प्रदान करना है। ताकि श्रमिक के परिवार को आर्थिक स्थिति का सामना ना करना पड़े। क्योंकि श्रमिकों को अस्पताल में भर्ती होने पर परिवार को आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। लेकिन अब इस योजना का लाभ प्राप्त कर श्रमिक और स्ट्रीट वेंडर्स को हॉस्पिटलाइजेशन के दौरान भी खराब आर्थिक स्थिति का सामना नहीं करना पड़ेगा। क्योंकि सरकार द्वारा उन्हें अस्पताल में भर्ती होने के दौरान आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

राजस्थान शुभ शक्ति योजना

चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना के तहत प्रदान की जाने वाली आर्थिक सहायता राशि

राजस्थान चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना के तहत राज्य के पंजीकृत श्रमिक या स्ट्रीट वेंडर्स को अस्पताल में भर्ती होने की स्थिति में सरकार द्वारा कम से कम 200 रुपए से लेकर 1400 रुपए की आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी। इस योजना के तहत लाभार्थी को अधिकतम 7 दिन के लिए प्रतिदिन 200 रुपए के हिसाब से 1400 रुपए तक की आर्थिक सहायता मिलेगी। यह सहायता राशि सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में राजस्थान सरकार द्वारा हस्तांतरित की जाएगी। इस योजना का लाभ केवल लाभार्थी को हॉस्पिटलाइज होने की स्थिति में ही प्राप्त हो सकेगा।

Mukhyamantri Chiranjeevi Shramik Sambal Yojana के लाभ एवं विशेषताएं

  • राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा श्रमिक एवं स्ट्रीट वेंडर्स को आर्थिक संबल प्रदान करने हेतु मुख्यमंत्री चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना 2024 को शुरू किया गया है।
  • मुख्यमंत्री चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना का नाम पंजीकृत श्रमिक के साथ-साथ स्ट्रीट वेंडर जैसे की रेहड़ी, पटरी वाले, मोची आदि को प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से राज्य के पंजीकृत श्रमिक एवं स्ट्रीट वेंडर्स को बीमार होने की स्थिति में अस्पताल में भर्ती होने पर सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • राज्य सरकार द्वारा इस योजना के तहत अधिकतम 7 दिन का वेतन प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत न्यूनतम 200 रुपए से लेकर अधिकतम 1400 रुपए तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • यह आर्थिक सहायता लाभार्थी को ऑटो डीबीटी के माध्यम से उनके बैंक खाते में भेजी जाएगी।
  • Mukhyamantri Chiranjeevi Shramik Sambal Yojana के संचालन हेतु राजस्थान सरकार द्वारा 100 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है।
  • यह योजना बिना किसी भेदभाव के सभी लाभार्थियों को लाभ प्रदान करेगी।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त कर श्रमिकों को अपना वेतन छूटने की चिंता नहीं होगी।
  • चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना का लाभ आवेदक के सभी घर वालों को भी प्रदान किया जाएगा।
  • अब श्रमिक एवं स्ट्रीट वेंडर्स बिना किसी आर्थिक समस्या के अपना इलाज करवा सकेंगे।
  • उम्मीदवार इस योजना का लाभ प्राप्त कर आत्म निर्भर एवं सशक्त बनेंगे।

राजस्थान मुफ्त बिजली योजना

मुख्यमंत्री चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना के लिए पात्रता

  • मुख्यमंत्री चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक को राजस्थान का मूल निवासी चाहिए।
  • इस योजना के लिए केवल राजस्थान के पंजीकृत श्रमिक और स्ट्रीट वेंडर ही लाभ लेने हेतु पात्र होंगे।
  • आवेदक को कम से कम 24 घंटे के लिए अस्पताल में भर्ती होना जरूरी है। तभी उसे इस योजना का लाभ प्राप्त होगा।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन की आयु 25 से 60 वर्ष होनी चाहिए। 
  • आवेदक का बैंक खाता आधार कार्ड से लिंक होने चाहिए।

आवश्यक दस्तावेज

मुख्यमंत्री चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना के तहत आवेदन कैसे करें?

राज्य के जो भी इच्छुक श्रमिक मुख्यमंत्री श्रमिक संबल योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं उन्हें इस योजना के तहत आवेदन करना होगा लेकिन अभी आपको फिलहाल इस योजना का लाभ प्राप्त करने हेतु थोड़ा इंतजार करना होगा। क्योंकि सरकार द्वारा इस योजना का बिल पास कर दिया गया है। लेकिन अभी राजस्थान सरकार द्वारा मुख्यमंत्री चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना को लागू नहीं किया गया है। जैसे ही सरकार द्वारा इस योजना को लागू किया जाएगा। तो मुख्यमंत्री चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना में ऑनलाइन आवेदन करने हेतु आधिकारिक वेबसाइट को लॉन्च कर दिया जाएगा। साथ ही आवेदन करने से संबंधित जानकारी भी सार्वजनिक की जाएगी। जैसे ही सरकार द्वारा आवेदन करने से संबंधित जानकारी सार्वजनिक की जाएगी। तो हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से सूचित कर देंगे ताकि आप इस योजना के तहत आवेदन कर लाभ प्राप्त कर सके। 

Mukhyamantri Chiranjeevi Shramik Sambal Yojana FAQs

मुख्यमंत्री चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना क्या है?

Mukhyamantri Chiranjeevi Shramik Sambal Yojana के माध्यम से राज्य के पंजीकृत श्रमिक और स्ट्रीट वेंडर्स को अस्पताल में भर्ती होने की स्थिति में सरकार द्वारा 7 दिन तक आर्थिक सहायता के रूप में वेतन प्रदान किया जाएगा।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना को किस राज्य में शुरू किया गया है?

मुख्यमंत्री चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना को राजस्थान राज्य में शुरू किया गया है।

Mukhyamantri Chiranjeevi Shramik Sambal Yojana के तहत लाभार्थी कौन होंगे?

मुख्यमंत्री चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना के तहत लेबर डिपार्टमेंट के तहत पंजीकृत श्रमिक एवं स्ट्रीट वेंडर्स इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

राजस्थान मुख्यमंत्री चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना के तहत लाभार्थी को अधिकतम कितनी आर्थिक सहायता राशि मिलेगी?

इस योजना के तहत लाभार्थी को अधिकतम 7 दिन के लिए प्रतिदिन 200 रुपए के हिसाब से 1400 रुपए तक की आर्थिक सहायता मिलेगी।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी श्रमिक संबल योजना के लिए सरकार द्वारा कितने बजट का प्रावधान किया गया है?

Mukhyamantri Chiranjeevi Shramik Sambal Yojana के लिए राजस्थान सरकार द्वारा 100 करोड़ रुपए के बजट का प्रावधान किया गया है। 

Leave a Comment