मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना 2022: Abhyudaya Yojana नि:शुल्क कोचिंग रजिस्ट्रेशन

Mukhyamantri Abhyudaya Yojana Apply | नि:शुल्क कोचिंग रजिस्ट्रेशन | मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना आवेदन फॉर्म | मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना रजिस्ट्रेशन

उत्तर प्रदेश में कई सारे छात्र ऐसे हैं जो अपनी आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण कोचिंग प्राप्त नहीं कर पाते हैं। ऐसे सभी छात्रों के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना आरंभ की है। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से इस योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जैसे कि मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना क्या है?, इसके लाभ, उद्देश्य, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन पथरिया आदि। तो दोस्तों यदि आप UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2022 से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आपसे निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

Table of Contents

UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2022

उत्तर प्रदेश के स्थापना दिवस पर उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा आईएएस, आईपीएस, पीसीएस, एनडीएस, सीडीएस, नीट और जे ई ई जैसी प्रतियोगिताओं की परीक्षा की तैयारी करने के लिए मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना आरंभ की गई है। इस योजना के अंतर्गत ऐसे सभी छात्रों को निशुल्क कोचिंग प्रदान की जाएगी जो इन परीक्षाओं की तैयारी करना चाहते हैं लेकिन अपनी आर्थिक स्थिति के कारण नहीं कर पाते हैं। इस योजना के अंतर्गत मंडल स्तर पर छात्रों को सिलेबस एवं क्वेश्चन बैंक भी उपलब्ध करवाया जाएगा। UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2022 का कार्यान्वयन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की निगरानी में किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत कक्षाएं बसंत पंचमी के दिन से आरंभ होंगी। इस योजना के अंतर्गत छात्रों को ऑनलाइन स्टडी मटेरियल के साथ ऑफलाइन कक्षाएं भी प्रदान की जाएगी।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना

आरंभ की जाएंगी सत्र 2021-22 के लिए लखनऊ में कक्षाएं

प्रतियोगी परीक्षाओं में कोचिंग प्रदान करने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना का शुभारंभ किया गया था। इस योजना के प्रति छात्रों की रुचि बढ़ रही है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए सत्र 2021-22 में सिविल सर्विसेज, एनडीए और जेईई कोचिंग के लिए हुई परीक्षाओं में पिछले सत्र के आंकड़ों की तुलना में अधिक छात्रों का चयन किया गया है। कक्षाएं आरंभ होने से पहले सभी चयनित छात्रों का पंजीकरण किया जाएगा। यह पंजीकरण लखनऊ विश्वविद्यालय के ओएनजीसी सेंटर के माध्यम से किया जाएगा। अगले सप्ताह से कोचिंग आरंभ होने की तैयारी प्रशासन द्वारा की जा रही है। इस वर्ष की प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए अक्टूबर 2021 में परीक्षा हुई थी। इन परीक्षा के नतीजे प्रशासन द्वारा जारी कर दिए गए हैं।

लखनऊ में लगभग 5000 छात्रों का किया गया चयन

यूपीएससी के लिए लखनऊ मंडल में 4089 अभ्यर्थी सफल हुए हैं। पिछले वर्ष यह संख्या 3361 थी। इस बात की जानकारी कोऑर्डिनेटर नितेश श्रीवास्तव द्वारा प्रदान की गई है। जिनमें से 1900 छात्रों द्वारा फॉर्म जमा किए थे एवं 1200 छात्रों ने पढ़ाई की थी। नीट में 633, जेईई में 239 तथा एनडीए की तैयारी के लिए 492 छात्र सफल हुए हैं। 27 नवंबर 2021 तक इन सभी छात्रों का पंजीकरण कर लिया जाएगा। जिसके पश्चात काउंसलिंग की प्रक्रिया आरंभ हो जाएगी। जल्द कक्षाएं आरंभ होने का शेड्यूल भी जारी कर दिया जाएगा। पहले एनडीए की कक्षाएं सरोजिनी नगर में आयोजित की गई थी लेकिन अब नीट और जेईई के साथ-साथ एनडीए और सीडीएस की भी कक्षाएं आईआईटी, लखनऊ में आयोजित की जाएगी।

Key Highlights Of UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2022

योजना का नाममुख्यमंत्री अभ्युदय योजना
किस ने लांच कीउत्तर प्रदेश सरकार
लाभार्थीउत्तर प्रदेश के छात्र
उद्देश्यप्रतियोगिताओं के लिए निशुल्क कोचिंग प्रदान करना।
आधिकारिक वेबसाइटhttp://abhyuday.up.gov.in/
साल2022

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना का उद्देश्य

UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2022 का मुख्य उद्देश्य आईएएस, आईपीएस, पीसीएस, एनडीए, सीडीएस, नीट जैसी प्रतियोगिताओं के लिए छात्रों को निशुल्क कोचिंग प्रदान करना है। इस योजना के माध्यम से वह सभी छात्र जो अपनी आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण कोचिंग नहीं प्राप्त कर पाते उन सभी छात्रों को निशुल्क कोचिंग प्रदान की जाएगी। Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2022 के अंतर्गत कोचिंग प्राप्त करने के लिए छात्रों को किसी दूसरे राज्य में जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। वह अपने राज्य एवं अपने जिले से कोचिंग प्राप्त कर सकते हैं। इस योजना के माध्यम से प्रदेश के होनहार छात्रों को आगे बढ़ने का अवसर प्राप्त होगा और वह अच्छी से अच्छी कोचिंग प्राप्त करके परीक्षा में बैठ पाएंगे।

आगमी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए आरंभ होंगे पंजीकरण

20 अक्टूबर 2021 तक आगमी प्रतियोगी परीक्षाएं जैसे की सिविल सेवा, राज्य सिविल सेवा परीक्षा 2022, नीट/जेईई और एनडीए/सीडीएस 2022 की तैयारी करने के लिए मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत निशुल्क कोचिंग का पंजीकरण किया जाएगा। पंजीकरण प्रक्रिया होने के पश्चात प्रवेश के लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित की जाएगी। जिसमें जेईई की परीक्षा 21 अक्टूबर, नीट की परीक्षा 22 अक्टूबर, एनडीए/सीडीएस की परीक्षा 25 अक्टूबर तथा सिविल सेवा/राज्य सिविल सेवा की परीक्षा 26 अक्टूबर को आयोजित की जाएगी। यह परीक्षाएं दुपहर 2:00 से 3:30 तक आयोजित की जाएंगी। जिसका परिमाण वेबसाइट पर 29 अक्टूबर 2021 को प्रकाशित किया जाएगा। कोचिंग सत्र की शुरुआत 15 नवंबर 2021 से की जाएगी।

इस योजना के अंतर्गत ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों प्रकार की कोचिंग प्राप्त करने के लिए आवेदन किया जा सकता है। नवंबर माह में इस योजना को गाजियाबाद जनपद में भी आरंभ कर दिया जाएगा। इसके अलावा इस योजना के लिए आयुक्त द्वारा 15 अक्टूबर शाम 4:00 बजे तक प्रेस वार्ता का आयोजन भी होगा। इस योजना के माध्यम से प्रत्येक मंडल मुख्यालय पर युवाओं के मार्गदर्शन के लिए कोचिंग संस्थान संचालित की जाती है।

अभ्युदय योजना के अंतर्गत कोचिंग प्राप्त कर रहे छात्रों द्वारा उत्तीर्ण की गई परीक्षा

संघ लोक सेवा आयोग परीक्षा 2020 की परीक्षा में मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना में नामांकित 3 छात्रों ने परीक्षा उत्तीर्ण कर ली है। यह छात्र 3 महीने से योजना के अंतर्गत नामांकित थे। इस योजना को गरीब मेधावी छात्रों को मुफ्त कोचिंग प्रदान करने के उद्देश्य से आरंभ किया गया है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा इस योजना का शुभारंभ 15 फरवरी 2021 को किया गया था। अन्य कुछ छात्रों द्वारा जेईई परीक्षा को भी उत्तीर्ण किया गया है। जेईई के अगले बैच में प्रवेश के लिए परीक्षा 3 अक्टूबर 2021 को आयोजित होने जा रही है। इस बात की जानकारी आयुक्त लखनऊ और अभ्युदय योजना के नोडल अधिकारी रंजन कुमार द्वारा प्रदान की गई है।

कोचिंग की नई बैच के लिए आयोजित होगी प्रवेश परीक्षा

यूपीएससी प्रारंभिक की कोचिंग के लिए भी प्रवेश परीक्षा 10 अक्टूबर 2021 को आयोजित की जाएगी। इस योजना के माध्यम से यूपी सरकार द्वारा मुफ्त प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है। जिससे कि विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में छात्रों की बड़ी भागीदारी सुनिश्चित की जा सके। ऑफलाइन माध्यम से 5000 से अधिक छात्र एवं ऑनलाइन माध्यम से 10,000 से अधिक छात्रों नीट, सीडीएस, जेईई, एनडीए और सिविल सेवा परीक्षाओं की तैयारी की है।

चुने गए छात्रों को राज्य सरकार द्वारा टेबलेट भी प्रदान किया जाएगा। जिससे कि वह परीक्षा की तैयारी करने के लिए डिजिटल संसाधनों का उपयोग कर सकें। लगभग 9640 टेबलेट Mukhyamantri Abhyudaya Yojana के माध्यम से वितरित किए जाएंगे। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना के संचालन के लिए कोचिंग सेंटर भी स्थापित किए गए हैं। पहले चरण में यह कोचिंग सेंटर संभाग स्तर पर स्थापित किए गए थे। अगले चरण में यह कोचिंग सेंटर जिला स्तर पर स्थापित किए जाएंगे।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना यूपीटीईटी निशुल्क कोचिंग

इस योजना के अंतर्गत अब यूपीटीईटी 2021 की तैयारी करने वाले छात्रों को भी मुफ्त कोचिंग एवं मार्गदर्शन प्रदान किया जाएगा। मई 2021 में उत्तर प्रदेश टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट परीक्षा के लिए ऑफिशल नोटिफिकेशन विभाग द्वारा जारी की जाने की उम्मीद की जा रही है। इस परीक्षा के लिए प्रदेश में सभी डिस्ट्रिक्ट इंस्टिट्यूट ऑफ़ एजुकेशन एंड ट्रेनिंग में निशुल्क कोचिंग प्रदान की जाएगी। निशुल्क कोचिंग 15 अप्रैल 2021 से ऑफलाइन मोड में आरंभ होगी। अप्रैल 2019 में लगभग 16 लाख छात्रों ने परीक्षा के लिए पंजीकरण करवाया था। इस बार भी इतने ही छात्रों द्वारा पंजीकरण करवाने की उम्मीद की जा रही है।

यूपीटीईटी निशुल्क कोचिंग कक्षाओं का शुभारंभ

अभ्युदय योजना के अंतर्गत यूपीटीईटी की तैयारी कर रहे हैं छात्रों को डिस्ट्रिक्ट इंस्टिट्यूट ऑफ़ एजुकेशन एंड ट्रेनिंग के माध्यम से निशुल्क कोचिंग 15 अप्रैल 2021 से ऑफलाइन मोड में आरंभ करवाई जाएगी। यदि कॉरोना संक्रमण के कारण ऑफलाइन कक्षाएं नहीं आयोजित की गई तो ऑनलाइन माध्यम से निशुल्क कोचिंग इस योजना के माध्यम से प्रदान की जाएगी। यदि ऑफलाइन मोड से कक्षाएं संचालित की जाती है तो एक बैच में 120 छात्र बैठेंगे। यूट्यूब चैनल पर भी कक्षाओं की वीडियो अपलोड की जाएगी। यदि छात्रों को किसी भी प्रकार का डाउट होता है तो उस डाउट को एक्सपोर्ट्स द्वारा सुलझाया जाएगा। इन कक्षाओं के माध्यम से बीटीसी एवं टीईटी की तैयारी कर रहे छात्रों को भी लाभ पहुंचेगा। यदि आप भी इस योजना के अंतर्गत निशुल्क कोचिंग प्राप्त करना चाहते हैं तो जल्द से जल्द इस योजना के अंतर्गत आवेदन करवाएं।

अभ्युदय योजना का लाभ मिलेगा अब अति पिछड़े वर्ग में

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य यह था कि उत्तर प्रदेश के छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं की कोचिंग प्राप्त करने के लिए किसी दूसरे राज्य ना जाना पड़े एवं सभी छात्रों को निशुल्क कोचिंग प्रदान की जा सके। इस योजना के अंतर्गत अब अति पिछड़े वर्ग के छात्रों को भी कवर किया जाएगा। पिछड़े वर्ग के छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं की कोचिंग प्रदान करने के लिए रामगढ़ स्थित बाबा कीनाराम मठ के संयोजक अजीत सिंह ने रामगढ़ जिले में मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना का आरंभ कर दिया है। इस योजना को पिछड़े वर्ग के छात्रों को प्रदान करने के लिए सांसदों द्वारा भी गंभीरता पूर्वक विचार किया जा रहा है। संयोजक द्वारा यह भी बताया गया कि जिले में प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं की कोई कमी नहीं है। यदि उन्हें सही मार्गदर्शन एवं प्रशिक्षण प्राप्त हो तो वह सफल हो सकते हैं।

इस योजना के अंतर्गत छात्रों का मार्गदर्शन स्वयं आईएएस, आईपीएस, पीसीएस अधिकारियों द्वारा किया जाएगा। जिससे कि छात्रों को सही परीक्षण प्राप्त हो सकेगा। अब उत्तर प्रदेश के पिछड़े वर्ग के छात्र भी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए निशुल्क कोचिंग प्राप्त कर पाएंगे।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना का दूसरा चरण

Mukhyamantri Abhyudaya Yojana के प्रथम चरण को सफलतापूर्वक पूरा कर लिया गया है। अब इस योजना का दूसरा चरण आरंभ होने जा रहा है। इस दूसरे चरण में चयनित किए गए सभी लाभार्थियों की सूची जारी कर दी गई है। इस सूची में विंध्याचल मंडल के 669 छात्रों का चयन किया गया है। यह चयन 6 मार्च को हुए ऑनलाइन एग्जाम के माध्यम से किया गया है। इस योजना के अंतर्गत चयनित छात्रों की सूची जुबली इंका कोचिंग सेंटर पर उपलब्ध है। यह कोचिंग सेंटर सिविल लाइन रोड पर स्थित है। वह सभी छात्र जिन्होंने यह परीक्षा पास की है वह सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए निशुल्क कोचिंग प्राप्त कर सकेंगे।

  • इस योजना के पहले चरण में चयनित 200 छात्र ऑनलाइन तथा ऑफलाइन माध्यमों से कोचिंग ले रहे हैं। यह सभी छात्र जुबली कॉलेज में बने सेंटर पर प्रतिदिन 3:00 बजे से लेकर 6:15 बजे तक कोचिंग लेते हैं।
  • इस योजना के माध्यम से प्रदेश के कई छात्रों को लाभ पहुंच रहा है इस योजना के अंतर्गत सोमवार से शुक्रवार तक छात्रों की पढ़ाई करवाई जाती है उसके बाद शनिवार को छात्रों का टेस्ट लिया जाता है जिससे कि छात्रों का आकलन किया जा सके

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना प्रयागराज में बढ़ाई गई समय सीमा

16 फरवरी को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना का आरंभ किया गया है। इस योजना के अंतर्गत प्रयागराज के मंडल मुख्यालयों में अभ्युदय योजना के अंतर्गत कक्षाओं की शुरुआत की गई थी। शुरुआती दौर में प्रयागराज में केवल 2 कक्षाओं का ही संचालन किया जा रहा था। अब जिला प्रशासन के सहयोग से दो से अधिक कक्षाओं का संचालन किया जा सकेगा। जिसके लिए कक्षाओं को स्मार्ट बना लिया गया है। प्रयागराज में इस योजना के अंतर्गत प्रदान की जाने वाली कोचिंग के समय में बढ़ोतरी कर दी गई है।

  • अब जेआईसी में शाम 4 बजे से लेकर रात 7 बजे तक 4 कक्षाएं संचालित की जाएंगी। इन कक्षाओं में लगभग 500 छात्र छात्राओं को आमंत्रित किया जाएगा।
  • सोमवार को इस योजना के अंतर्गत 4 घंटे कक्षा का संचालन किया जाएगा। इसकी सूचना सभी चिन्हित छात्रों को फोन करके पहुंचा दी गई है।
  • इस योजना के अंतर्गत नवी तथा दसवीं के कुछ छात्रों ने भी पंजीकरण करवाया है। यह छात्र बोर्ड की परीक्षा के साथ इंजीनियरिंग व मेडिकल की तैयारी करना चाहते हैं।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना ऑनलाइन कक्षाएं

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना को निशुल्क कोचिंग प्रदान करने के लिए आरंभ किया गया है। इस योजना के अंतर्गत बसंत पंचमी के दिन से कक्षाएं आरंभ हो गई है। यह कक्षाएं नौरंगीलाल इंटर कॉलेज में आरंभ हुई थी। नौरंगीलाल इंटर कॉलेज में दोपहर 1:00 बजे से लेकर शाम 5:00 बजे तक तीन अलग-अलग पाली में कक्षाएं संचालित हैं। इन कक्षाओं में आईएएस, पीसीएस, जेईई समेत कई अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कराई जाती है। इस योजना के अंतर्गत एक यूट्यूब चैनल आरंभ किया गया है। इस चैनल के माध्यम से वह सभी छात्र जो केंद्र पर पढ़ाई करने के लिए नहीं आ सकते वह लाइव कक्षा ले सकते हैं और ज्ञान प्राप्त कर सकते हैं।

  • अब इस योजना के माध्यम से छात्र घर बैठे भी पढ़ाई कर सकेंगे। छात्र यदि लाइव सेशन भी ना देख पाए तो वह बाद में डाउनलोड करके वीडियो को देख सकते हैं।
  • सरकार द्वारा जल्द इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को टेबलेट का वितरण भी किया जाएगा। जिससे की वह पढ़ाई जारी रख सकें।
  • 10 मार्च 2021 को समाज कल्याण विभाग के तत्वावधान में डीएस कॉलेज में Abhyudaya Yojana की कक्षाओं का आरंभ किया जाएगा। इसमें उत्तर प्रदेश शासन एवं प्रबंधन एकेडमी के महानिर्देशक एल वेंकटेश्वर लू भी शामिल होंगे। जिसमें वह बच्चों के साथ अपने अनुभव साझा करेंगे।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत प्रदान की जाने वाली कोचिंग

  • संघ लोक सेवा आयोग
  • यूपी लोक सेवा आयोग
  • अधीनस्थ सेवा चयन आयोग
  • अन्य भर्ती बोर्ड संस्थाओं द्वारा आयोजित परीक्षाएं
  • जे ई ई
  • नीट
  • एनडीए
  • सीडीएस
  • अर्धसैनिक
  • केंद्रीय पुलिस बल
  • बैंकिंग
  • एसएससी
  • बीएड
  • टीईटी

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना रजिस्ट्रेशन की अंतिम तिथि में वृद्धि

इस योजना के अंतर्गत अब पोर्टल पर पंजीकरण करने की तारीख में वृद्धि कर दी गई है। छात्रों द्वारा 28 फरवरी 2021 को शाम 8:00 बजे तक पंजीकरण किया जा सकता है। इसके पश्चात मार्च के पहले सप्ताह में परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी। यह परीक्षाएं 5 एवं 6 मार्च को आयोजित की जाएंगी। मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत अब तक 500000 से अधिक छात्रों ने आवेदन करवाया है। इन सभी छात्रों की कक्षाएं आरंभ हो गई है। इन 500000 छात्रों में से 50000 से अधिक छात्र ऑफलाइन कक्षाओं के लिए चयनित किए गए हैं। बाकी 4.30 लाख प्रतियोगी भी परीक्षा में भाग ले सकते हैं। वे सभी छात्र जिन्होंने ऑनलाइन कक्षाओं के लिए पंजीकरण करवाया है वह भी फिजिकल क्लासेस में दाखिला लेने के लिए प्रवेश परीक्षा दे सकते हैं।

अभ्युदय योजना टेबलेट वितरण

22 फरवरी 2021 को उत्तर प्रदेश के बजट की घोषणा की गई है। इस बजट के अंतर्गत अभ्युदय योजना के 1000000 युवाओं को मुफ्त टेबलेट देने की घोषणा की गई है। टेबलेट वितरण के लिए सरकार द्वारा जल्द पात्रता शर्ते जारी की जाएंगी। इस टैबलेट के माध्यम से छात्रों को पढ़ाई करने के लिए सामग्री जुटाने में मदद मिलेगी। कोचिंग में दाखिला पाने वाले छात्रों को टेबलेट प्रदान किया जाएगा। यह दाखिला उनको प्रवेश परीक्षा के माध्यम से दिया जाएगा। छात्रों का कोचिंग के लिए चयन करने के बाद पात्र मेधावी छात्रों का टैबलेट प्रदान करने के लिए दिशानिर्देश जारी किए जाएंगे। जिसके आधार पर उनको टेबलेट दिया जाएगा।

टेबलेट के माध्यम से छात्रों को परीक्षा की तैयारी करने में मदद मिलेगी। इस टैबलेट के माध्यम से छात्रों को इंटरनेट एक्सेस मिलेगी जिससे वह अपनी परीक्षा से संबंधित जानकारी को जुटा सकेंगे। इस टैबलेट के माध्यम से शिक्षा प्राप्त करना भी आसान हो जाएगा।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना साक्षात्कार कक्षाएं

  • मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए सभी मंडलों में साक्षात्कार कक्षाओं के लिए आवेदन आरंभ हो गए हैं।
  • यूपीएससी, जेईई, एनईईट और एनडीए/सीडीएस कि साक्षात्कार कक्षाओं के लिए आवेदन 22 फरवरी दोपहर 2:00 से 28 फरवरी रात 8:00 बजे तक खुले हैं।
  • इसके पश्चात आवेदन स्वीकार नहीं किए जाएंगे।
  • वह सभी छात्र जो पहले से ही साक्षात्कार कक्षाएं आयोजित कर रहे हैं उन्हें आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है।
  • वह सभी छात्र जिन्होंने 28 फरवरी से पहले पंजीकरण किया है या पहले से ही ऑनलाइन कक्षाओं में पंजीकृत हैं वह भी इस परीक्षा को ले सकते हैं।

साक्षात्कार कक्षाओं की अनुसूची

NDA/CDS5 March (12 noon to 1pm)
JEE5 March (2pm-3pm)
NEET5 March (4pm-5pm)
UPSC6 March (2pm-3pm)

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना एक ही दिन में 1000 सब्सक्राइबर्स

Abhyudaya Yojana को उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा निशुल्क कोचिंग प्रदान करने के लिए आरंभ किया गया था। इस योजना को ना सिर्फ ऑफलाइन बल्कि ऑनलाइन भी सराहना मिल रही है। एक ही दिन में जेईई तथा नीट की कोचिंग प्रदान करने के लिए आरंभ किए गए यूट्यूब चैनल पर 1000 से ज्यादा विद्यार्थियों ने सब्सक्राइब किया है। मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत एनडीए के विद्यार्थियों के लिए भी ऑनलाइन पेज आरंभ कर दिया गया है। नीट और जेईई की परीक्षाएं यूट्यूब के माध्यम से प्रदान की जा रही हैं। जिसमें अब तक 1500 से ज्यादा छात्रों ने सब्सक्राइब किया है। 1500 में से 1000 सब्सक्राइबर पहले ही दिन हो गए थे और सब्सक्राइबर बढ़ने का सिलसिला अभी भी जारी है। इस सफलता को देखते हुए एनडीए की कोचिंग प्राप्त करने वाले छात्रों के लिए अलग से यूट्यूब चैनल बनाया गया है।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना आगरा की स्थिति

जे आई सी केंद्र पर सुबह 8:30 बजे से 10:00 बजे तक और 3:30 बजे से लेकर 5:00 बजे तक मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत दो पाली में कक्षाएं लगाई जा रही हैं। इन कक्षाओं में विद्यार्थियों को गणित, भौतिक, रसायन जीव, विज्ञान आदि जैसे विषय पढ़ाए जा रहे हैं। आगरा में इस योजना के अंतर्गत अभी दो केंद्रों पर ऑफलाइन कक्षाएं प्रदान की जा रही हैं। जो की आगरा कॉलेज तथा राजकीय इंटर कॉलेज है। आगरा कॉलेज में यूपीएससी तथा यूपीपीएससी की कोचिंग प्रदान की जा रही है। शाहजहां गंज स्थित राजकीय इंटर कॉलेज में नीट, एनडीए तथा सीडीएस की कक्षाएं प्रदान की जा रही है। आगरा कॉलेज में 250 विद्यार्थी हैं तथा राजकीय इंटर कॉलेज में 270 विद्यार्थी हैं। यदि कोई छात्र पंजीकरण नहीं करवा पाया है तब भी वह ऑफलाइन कक्षा के लिए केंद्र पर पहुंचकर कोचिंग प्राप्त कर सकता है।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना फरवरी अपडेट

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं उत्तर प्रदेश के 71 वें स्थापना दिवस पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना का आरंभ किया गया था। इस योजना के अंतर्गत आईएएस, आईपीएस, पीसीएस आदि जैसी परीक्षाओं के लिए छात्रों को कोचिंग प्रदान की जाएगी। यह कोचिंग पूरी तरह से निशुल्क होगी। इस योजना के अंतर्गत वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा छात्रों को मार्गदर्शन भी प्रदान किया जाएगा। मुख्यमंत्री जी द्वारा यह घोषणा की गई थी कि इस योजना के अंतर्गत कोचिंग क्लास बसंत पंचमी के दिन से शुरू होंगी। बरेली के जेआईसी में यह कोचिंग प्रदान की जाएगी।

  • कोचिंग में कमिश्नर द्वारा फिजिक्स तथा डीएम द्वारा इतिहास पढ़ाया जाएगा। इसी के साथ कई अन्य आला प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा भी पढ़ाया जाएगा। छात्रों को मध्यमिक स्कूल और प्राइवेट कोचिंग के उत्कृष्ट शिक्षा विषय विशेषज्ञ भी कोचिंग प्रदान करेंगे। बरेली के जेआईसी में सामान्य स्कूल समय के बाद कोचिंग की कक्षाएं प्रदान की जाएंगी।
  • कोचिंग के लिए स्मार्ट कक्षाओं का भी प्रयोग किया जाएगा। सभी छात्रों को क्वेश्चन बैंक, ऑनलाइन स्टडी मैटेरियल आदि भी प्रदान किया जाएगा। बरेली में शिक्षकों को तैयार करने की जिम्मेदारी जेडी डॉक्टर प्रताप कुमार को दी गई है। उनके द्वारा शिक्षकों का पैनल तैयार किया जाएगा। इस पैनल में शहर के सर्वशेष्ट शिक्षकों को शामिल किया गया है।

मुख्यमंत्री अभुदय योजना के अंतर्गत छात्रों का मार्गदर्शन

UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2021 के अंतर्गत केवल कोचिंग ही नहीं बल्कि आईएएस, आईपीएस और पीसीएस की तैयारी करने वाले छात्रों को मार्गदर्शन भी प्रदान किया जाएगा। ऑफलाइन कक्षाओं में विभिन्न अवसर छात्रों का मार्गदर्शन करेंगे। आईएएस, पीसीएस परीक्षा के छात्रों के लिए प्रशिक्षु आईएएस, आईपीएस, आईएफएस(वन सेवा), पीसीएस अधिकारी और एनडीए और सीडीएस के छात्रों के लिए सैनिक स्कूल के प्राचार्य मार्गदर्शन प्रदान करेंगे। मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत विषय के विशेषज्ञों को गेस्ट फैकल्टी के तौर पर भी बुलाया जाएगा। मंडल स्तर पर इस योजना के अंतर्गत परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों को सिलेबस तथा परीक्षा पैटर्न की जानकारी भी निशुल्क प्रदान की जाएगी। आधिकारिक वेबसाइट पर क्वेश्चन बैंक की डिटेल भी छात्र प्राप्त कर सकेंगे। इसके अलावा मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत उच्च स्तरीय कोचिंग संस्थाओं के स्टडी मैटेरियल भी छात्रों को प्रदान किए जाएंगे।

उत्तर प्रदेश प्रशासन एवं प्रबंधन अकैडमी को सौंपी गई जिम्मेदारी

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत स्टडी मैटेरियल प्रदान करने की जिम्मेदारी उत्तर प्रदेश प्रशासन एवं प्रबंधन एकेडमी (उपाम) को सौंपी गई है। मंडल स्तर पर प्रशिक्षण केंद्रों के संचालन व सम्मानवन की भी उपाम द्वारा निगरानी की जाएगी। यदि इस योजना के अंतर्गत छात्र ने प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण कर ली है तो मुख्य परीक्षा की तैयारी करवाने की जिम्मेदारी भी उपाम को सौंपी गई है। अपाम के द्वारा क्वेश्चन बैंक, प्रश्नोत्तरी आदि भी वेबसाइट पर उपलब्ध करवाई जाएगी। मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के माध्यम से अब आप घर बैठे ही प्रतियोगिताओं की परीक्षा की कोचिंग प्राप्त कर पाएंगे। इसके लिए आपको फीस भरने की भी आवश्यकता नहीं पड़ेगी। UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2021 के पहले चरण में 18 मंडल मुख्यालय को शामिल किया गया है। इन 18 मंडल मुख्यालयों में अभ्युदय कोचिंग सेंटर आरंभ किए जाएंग। यह कोचिंग सेंटर राज्य विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालयों में संचालित किए जाएंगे।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना ई प्लेटफार्म

प्रतिवर्ष उत्तर प्रदेश से करीब 4 से 5 लाख छात्र यूपीएससी, विभिन्न राज्य पीएससी, जे ई ई, नीट आदि परीक्षाओं में शामिल होते हैं। इसमें से ज्यादातर बच्चे आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों से आते हैं। ऐसे सभी बच्चों के लिए यह योजना बहुत लाभकारी साबित होगी। मंडलायुक्त लखनऊ के अंतर्गत ई लर्निंग कॉन्टेंट प्लेटफार्म विकसित किया जाएगा। जिसके अंतर्गत छात्रों को स्टडी मटेरियल उपलब्ध करवाया जाएगा। इस ई लर्निंग प्लेटफॉर्म पर विभिन्न अधिकारियों द्वारा परीक्षा की तैयारी के लिए वीडियो के माध्यम से अपना अनुभव साझा किया जाएगा। इस प्लेटफार्म पर लाइव सेशन तथा सेमिनार भी आयोजित की जाएंगी। इस प्लेटफार्म पर छात्र प्रश्न भी पूछे जा सकते हैं। मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत विद्यार्थी कोचिंग सेंटर पर उपलब्ध होने के साथ-साथ घर बैठे भी कोचिंग प्राप्त कर सकेंगे।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना कार्यान्वयन प्रक्रिया

  • उत्तर प्रदेश के छात्रों को प्रतिस्पर्धी परीक्षाओं की कोचिंग प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा आरंभ की गई है।
  • इस योजना के माध्यम से प्रदेश के छात्रों को प्रदेश में ही ऑफलाइन तथा ऑनलाइन माध्यम से प्रतिस्पर्धी परीक्षाओं के लिए कोचिंग प्रदान की जाएगी। जिससे कि उन्हें कोचिंग प्राप्त करने के लिए किसी दूसरे नगर या फिर राज्य में ना जाना पड़े।
  • मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के माध्यम से अब वह लोग भी कोचिंग प्राप्त कर पाएंगे जो अपनी आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण कोचिंग नहीं प्राप्त कर सकते थे। क्योंकि सरकार द्वारा यह कोचिंग निशुल्क प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत प्रदेश के छात्रों को प्रदेश तथा देश के सर्वश्रेष्ठ फैकल्टी कोचिंग प्रदान करने के लिए उपलब्ध करवाए जाएंगे।
  • प्रत्येक मंडल मुख्यालय पर युवाओं के मार्गदर्शन के लिए कोचिंग संस्थान संचालित की जाएंगी।
  • इसी के साथ उन्हें वर्चुअल माध्यम से भी जोड़ा जाएगा। जिससे कि वह छात्र भी कोचिंग प्राप्त कर सके जो मंडल मुख्यालयों तक नहीं पहुंच सकते हैं।
  • मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत आरंभ की गई कोचिंग संस्थाएं तकनीकी सुविधाओं से संपन्न होंगी तथा इनमें सर्वश्रेष्ठ फैकल्टी भी होंगे।
  • प्रदेश के योग्य अधिकारियों, आईएएस, आईपीएस, आईएफएस, पीसीएस आदि द्वारा कोचिंग संस्थानों में कोचिंग प्रदान की जाएगी।
  • कोचिंग प्रदान करने में विषय विशेषज्ञ भी शामिल होंगे।
  • मेडिकल एवं इंजीनियरिंग की कोचिंग प्रदान करने के लिए इस क्षेत्र से जुड़े शिक्षक छात्रों को उपलब्ध करवाए जाएंगे।
  • अब प्रदेश का प्रत्येक छात्र UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2021 के माध्यम से कोचिंग प्राप्त कर सकेगा। जिससे कि वह अपने उज्जवल भविष्य का निर्माण कर सकेगा।
  • अब इस योजना के माध्यम से प्रदेश के छात्र भी आत्मनिर्भरता की तरफ आगे बढ़ेंगे।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना स्टैटिसटिक्स

IAS ऑफिसर519
IPS ऑफिसर456
IFS ऑफिसर315
वीडियो सेशन218

 Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2022 के लाभ तथा विशेषताएं

  • उत्तर प्रदेश के स्थापना दिवस पर उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना आरंभ की गई।
  • इस योजना के अंतर्गत आईएएस, आईपीएस, पीसीएस, एनडीएस, सीडीएस, नीट आदि जैसी प्रतियोगिताओं की परीक्षा की तैयारी करने के लिए निशुल्क कोचिंग प्रदान की जाएगी।
  • वह सभी छात्र जो अपनी आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण कोचिंग नहीं प्राप्त कर पाते थे उनको मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत निशुल्क कोचिंग प्रदान की जाएगी।
  • UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2022 के अंतर्गत सिलेबस एवं क्वेश्चन बैंक में उपलब्ध करवाए जाएंगे।
  • इस योजना का कार्यान्वयन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की निगरानी में किया जाएगा।
  • मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत कक्षाएं बसंत पंचमी के दिन से आरंभ होंगी।
  • इस योजना के अंतर्गत छात्रों को ऑनलाइन स्टडी मटेरियल के साथ ऑफलाइन कक्षाएं भी प्रदान की जाएंगी।
  • मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत केवल कोचिंग ही नहीं बल्कि छात्रों को मार्गदर्शन भी प्रदान किया जाएगा। यह मार्गदर्शन विभिन्न अफसरों द्वारा प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत विषय विशेषज्ञों से गेस्ट लेक्चर का प्रबंध भी कराया जाएगा।
  • मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत परीक्षा पैटर्न की जानकारी भी छात्रों को प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत उच्च स्तरीय कोचिंग संस्थानों के स्टडी मेटेरियल भी छात्रों को प्रदान किए जाएंगे।
  • इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश प्रशासन एवं प्रबंधन अकैडमी को स्टडी मैटेरियल का प्रबंध करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है।
  • छात्रों द्वारा प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद मुख्य परीक्षा की तैयारी करवाने की जिम्मेदारी भी उपाम को सौंपी गई है।
  • इस योजना के प्रथम चरण में 18 मंडल मुख्यालयों को शामिल किया गया है।
  • इस योजना के अंतर्गत एक ई प्लेटफार्म भी विकसित किया जाएगा।
  • ई प्लेटफार्म के माध्यम से छात्रों को e-content प्रदान किया जाएगा। इस ई प्लेटफार्म के माध्यम से छात्र कोचिंग भी प्राप्त कर सकते हैं। ई प्लेटफार्म पर छात्र अपने प्रश्न भी पूछ सकते हैं।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए पात्रता तथा महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर

यूपी अभ्युदय योजना आरंभ

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना उन छात्रों को कोचिंग प्रदान करने के लिए आरंभ की गई है जो अपनी आर्थिक स्थिति के कारण प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए कोचिंग नहीं प्राप्त कर पाते हैं। यह कोचिंग पूरी तरह से मुक्त होगी। इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा पंजीकरण प्रक्रिया आरंभ कर दी गई है।

  • यह पंजीकरण प्रक्रिया 10 फरवरी 2021 से आरंभ कर दी गई है। बसंत पंचमी के दिन से मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत कक्षाएं आरंभ कर दी जाएंगी। इस योजना को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कोरोनावायरस संक्रमण के दौरान दूसरे राज्य में फंसे छात्रों की परेशानी को देखते हुए आरंभ किया है।
  • अब मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के माध्यम से छात्रों को परीक्षाओं की कोचिंग प्राप्त करने के लिए किसी दूसरे राज्य या फिर छेत्र में नहीं जाना पड़ेगा। वह अपने ही क्षेत्र से अच्छी से अच्छी कोचिंग प्राप्त कर पाएंगे।
  • इस योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए सरकार द्वारा 6 सदस्य राज्य स्तरीय समिति का भी गठन किया गया है।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा। होम पेज पर आपको रजिस्टर नाउ के लिंक पर क्लिक करना होगा।
UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana
  • अब आपको परीक्षा का चयन करना होगा। इसके पश्चात आपके सामने इनरोलमेंट फॉर्म खुलकर आएगा।
  • आपको इस फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि आपका नाम, फोन नंबर, ईमेल आई डी, डिवीजन, क्वालिफिकेशन, एड्रेस आदि दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको संबंधित जानकारी दर्ज करके अपने अकाउंट को वेरीफाई करना होगा।
  • इस बाद आपको कंफर्म के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत आवेदन कर पाएंगे।

यूजर लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको लॉगइन एस यूजर के लिंक पर क्लिक करना होगा।
यूजर लॉगइन
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया डायलॉग बॉक्स खुल कर आएगा जिसमें आपका अपना यूजरनेम या फिर ईमेल आईडी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको लॉगिन के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप यूजर लॉगइन कर पाएंगे।

सक्षम कक्षाओं के लिए चयन हेतु ऑनलाइन परीक्षा आवेदन प्रक्रिया

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको अपना यूजर आईडी, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • अब आपके सामने आवेदन फॉर्म खुलकर आएगा।
  • आपको आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि आपका नाम, मोबाइल नंबर, एड्रेस आदि दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप सक्षम कक्षाओं के लिए चयन हेतु ऑनलाइन परीक्षा के लिए आवेदन कर पाएंगे।

ऑफिसर लोगिन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको लॉगइन एस ऑफिसर के लिंक पर क्लिक करना होगा।
ऑफिसर लोगिन
  • इसके पश्चात आपके सामने एक डायलॉग बॉक्स खुल कर आएगा जिसमें आपको अपना यूजरनेम या फिर ईमेल आईडी तथा पासवर्ड दर्ज करना होगा।
  • अब आपको लॉगिन के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप ऑफिसर लॉगिन कर पाएंगे।

रिक्वेस्ट सेशन ऑर्गेनाइज करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको रिक्वेस्ट सेशन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको अपनी ईमेल आईडी तथा क्वेश्चन दर्ज करना होगा।
  • अब आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खोलकर आएगा।
  • इस पेज पर आपको पूछी गई जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको रिक्वेस्ट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप रिक्वेस्ट सेशन ऑर्गेनाइज कर सकेंगे।

पैनल डिस्कशन में शामिल होने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको पैनल डिस्कशन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको लॉगइन करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको पैनल डिस्कशन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको पूछी गई जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के विकल्प पर करना होगा।
  • इस प्रकार आप पैनल डिस्कशन में शामिल हो सकेंगे।

मेंटरिंग सेशन देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको मेंटरिंग सेशन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खोलकर आएगा।
  • इस पेज पर आपको अपने लॉगइन क्रैडेंशियल्स दर्ज करके लॉग इन करना होगा।
  • अब आपको पूछी गई जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के विकल्प आके करना होगा।
  • अब आप मेंटरिंग सेशन देख सकेंगे।

वेबिनार्स में शामिल होने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको वेबीनार के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको पूछी गई जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप वेबीनार में शामिल हो सकेंगे।

फ्री लर्निंग मटेरियल प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको अपने एग्जाम, सब्जेक्ट तथा पेपर का चयन करना होगा।
  • अब आपको सर्च के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • फ्री लर्निंग मटेरियल आपकी स्क्रीन पर खुलकर आ जाएगा।
  • अब आप इसे डाउनलोड कर सकते हैं।

परीक्षाओं का सिलेबस डाउनलोड करने की प्रक्रिया

परीक्षाओं का सिलेबस डाउनलोड
इंडियन फॉरेस्ट सर्विस
नेशनल डिफेंस सर्विस
सेंट्रल डिफेंस सर्विस
यूपी पब्लिक सर्विस कमीशन
  • आपको अपनी आवश्यकतानुसार विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस।पेज पर आपको डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप परीक्षाओं के लिए सिलेबस डाउनलोड कर सकेंगे।

अभ्युदय योजना लाइव सेशन देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको लॉगिन टू वॉच अभ्युदय योजना सेशन लाइव के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक डायलॉग बॉक्स खुल कर आएगा जिसमें आपको अपना यूजरनेम या फिर ईमेल आईडी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको लॉगिन के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको वॉच लाइव सेशन के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप लाइव सेशन देख पाएंगे।

पॉपुलर सेशन देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको पॉपुलर सेशन के अंतर्गत व्यू ऑल सेशन के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर सभी पॉपुलर सेशंस होंगे।
  • आप प्ले के बटन पर क्लिक करके पॉपुलर सेशन देख सकते हैं।

Nodal Agency Address

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना सेल,

यूपी अकादमी ऑफ एडमिनिस्ट्रेशन एंड मैनेजमेंट,

सेक्टर–D, अलीगंज,

लखनऊ–226024

11 thoughts on “मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना 2022: Abhyudaya Yojana नि:शुल्क कोचिंग रजिस्ट्रेशन”

  1. Dear Sir,
    Pls let me know the form of free coaching of UPSC which is provided by UP GOVT
    I am unable to fill find the application form

    Thanks
    Saurabh Vishwakarma
    UP

    Reply
  2. सर किसके लिए है यह योजना का लाभ जनसेवा केंद्र वाले कैसे प[ए

    Reply

Leave a Comment