MP Smart Fish Parlour Yojana के अंतर्गत खुलेंगे 400 स्मार्ट फिश पार्लर

MP Smart Fish Parlour Yojana Online Registration | मध्यप्रदेश स्मार्टफिश पार्लर योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन कैसे करें, पात्रता एवं लाभ जाने

देश में पहले मछली पालन सिर्फ नदियों, तालाबों और झीलों तक ही सीमित था। लेकिन फिशरीज की अब आधुनिक तकनीकों के आ जाने से लोग घर-घर में हेचरी लगाकर मछली पालन कर सकते हैं। मछली की बढ़ती डिमांड को देखते हुए इस बिज़नेस (Fish Farming) में काफी मुनाफा बढ़ता जा रहा है। मछली पालन को बढ़ावा देते हुए राज्य सरकारे भी इस दिशा में अपने अपने स्तर पर काम कर रही है। मध्य प्रदेश सरकार ने भी इसी दिशा में एक बड़ा फैसला लिया है। मध्य प्रदेश सरकार द्वारा 400 स्मार्ट फिश पार्लर (Smart Fish Parlour) खोलने की घोषणा की गई है।

अब राज्य के मछुआ समुदाय को खुले आसमान के नीचे हॉट बाजार में जमीन पर मछली बेचने से राहत मिलेगी। मछली बेचने के लिए मध्य प्रदेश सरकार द्वारा स्मार्ट फिश पार्लर (Smart Fish Parlour) तैयार कराए जाएंगे। MP Smart Fish Parlour Yojana का लाभ प्राप्त कर मछुआ समुदाय एवं मछली पालक आने वाले समय में अच्छा मुनाफा कमा पाएंगे और अपनी आय में वृद्धि कर सकेंगे। अगर आप स्मार्ट फिश पार्लर के संबंध में अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको यह आर्टिकल ध्यानपूर्वक अंत तक पढ़ना होगा।

MP Smart Fish Parlour Yojana

MP Smart Fish Parlour Yojana 2022

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा मछुआ समुदाय के लिए स्मार्ट फिश पार्लर योजना को शुरु करने की घोषणा की गई है। राज्य सरकार द्वारा राज्य में 400 स्मार्ट फिश पार्लर खोले जाएंगे। मछली पालक आने वाले समय में इस योजना के माध्यम से अच्छा मुनाफा कमा पाएंगे तथा अपनी आय को दोगुना कर सकेंगे। Smart Fish Parlour के खुलने से बाजारों में जमीन पर बैठकर मछली बेचने की चिंता से राज्य के मछली पालकों एवं मछुआरे समुदाय को राहत मिलेगी। और आधुनिक फिश पार्लर के माध्यम से मछली की मार्केटिंग करने में भी मछली पालकों को आसानी होगी। मछलियों के स्टोरेज के लिए सरकार द्वारा डीप फ्रीजर, फ्रीजर डिस्प्ले काउंटर के साथ साथ फिश कटर और मछली की छिलाई मशीनें भी मछली पालको को मुहैया कराई जाएगी। स्मार्ट फिश पार्लर खोलने के लिए सरकार द्वारा 20 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है।

Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana 

मध्य प्रदेश स्मार्ट फिश पार्लर योजना Key Highlight

योजना का नामMP Smart Fish Parlour Yojana
घोषणा की गईमध्य प्रदेश सरकार द्वारा
विभागमत्स्य विकास एवं मछुआ कल्याण विभाग
उद्देश्यराज्य में स्मार्ट फिश पार्लर बनवाना और आय में वृद्धि करना
लाभार्थीमध्य प्रदेश के मछली पालक एवं मछुआरे समुदाय के लोग
राज्यमध्य प्रदेश
साल2022
आवेदन प्रक्रियाअभी उपलब्ध नहीं
आधिकारिक वेबसाइटजल्द ही लांच होगी

MP Smart Fish Parlour Yojana का उद्देश्य

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा स्मार्ट फिश पार्लर योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राज्य में 400 स्मार्ट फिश पार्लर बनवाना और राज्य के मछली पालक एवं मछुआरे समुदाय के लोगों की आय में वृद्धि करना है। इस योजना के शुरू होने से बाजारों में जमीन पर बैठकर मछली बेचने की चिंता से राज्य के मछली पालक एवं मछुआरे समुदाय के लोगों को राहत मिलेगी। Madhya Pradesh Smart Fish Yojana के तहत 400 स्मार्ट फिश पार्लर उपलब्ध करवाने की तैयारियां शुरू कर दी गई है। जिसके लिए सरकार ने 20 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया है। स्मार्ट फिश पार्लर के माध्यम से 15,00 लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार प्राप्त होगा। राज्य के लोगों को समय पर ताजी और हाइजीनिक मछलियां मिल सकेगी।

मध्य प्रदेश बेरोजगारी भत्ता 

राज्य में खुलेंगे 1 साल में 400 फिश पार्लर

मध्य प्रदेश सरकार स्मार्ट फिश पार्लर योजना के तहत मत्स्य विकास एवं मछुआ कल्याण विभाग द्वारा आधुनिक फिश पार्लर उपलब्ध करवाने की तैयारियां शुरू कर दी गई है। मत्स्य विकास एवं मछुआ कल्याण मंत्री तुलसीराम सिलावट ने बताया है कि मध्यप्रदेश में 20 करोड़ रुपए के बजट से 400 आधुनिक फिश पार्लर बनाने का प्रावधान किया गया है। जिसके माध्यम से राज्य के लोगों को रोजगार प्राप्त होगा। इन 400 आधुनिक फिश पार्लर के माध्यम से 1,500 लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष आधार पर रोजगार मिलेगा। राज्य में फिश पार्लर खुलने से जमीन पर मछली बेचने की समस्या भी हल हो जाएगी। तथा मछली पालको को राहत मिलेगी। आधुनिक फिश पार्लर इस योजना के तहत मछली की बिक्री के लिए शोरूम का काम करेंगे।

नगरी निकाय और ग्राम पंचायत तैयार कराएगी 5 लाख के पार्लर

मध्य प्रदेश फिश पार्लर योजना के तहत एक आधुनिक मछली पार्लर बनाने के लिए 5 लाख रुपए खर्च होंगे। मध्य प्रदेश के मत्स्य विकास एवं मछुआ कल्याण विभाग द्वारा शहरी क्षेत्रों में नगरीय निकाय और ग्रामीण क्षेत्र में ग्राम पंचायतें 5 लाख रुपए की लागत से स्मार्ट मछली पार्लर तैयार करवाएगी। इस योजना के तहत निजी निवेश की कोई खबर नहीं है। सारा खर्च सरकार द्वारा ही उठाया जाएगा। मछुआरे समुदाय के लोगों के लिए राज्य सरकार द्वारा बड़ी राहत दी जाएगी।

  • मध्य प्रदेश मछली पार्लर योजना के तहत मछली पालक 10 प्रतिशत का अंशदान यानी 50,000 रुपए जमा करके फिश पार्लर अपने नाम बनवा सकते हैं।
  • इस योजना के तहत आधुनिक फिश पार्लर चलाने वाले मछली पालक को प्रत्येक महीने 1000 रुपए का किराया भी देना होगा।
  • रिपोर्ट के अनुसार एक आधुनिक फिश पार्लर तैयार करने में 3 लाख 50 हजार रुपए की लागत लगेगी।
  • जिसमें से 1 लाख रुपए अलग से आईसकूल्ड डिस्प्ले और 50 हजार रुपए का ड्रेसिंग प्लेटफार्म भी दिया जाएगा।

फ्रेश मछली मिलेगी 24 घंटे

मध्यप्रदेश में स्मार्ट फिश पार्लर खुलने से राज्य के सभी लोगों को समय पर ताजी और हाइजीनिक मछलियां मिल सकेगी। राज्य के मूल निवासी मछुआरों को यह पार्लर मछली बेचने के लिए मुहैया कराए जाएंगे। मछली पालन करने वाला कोई भी मछुआरा इन स्मार्ट फिश पार्लर से जुड़ सकता है। मछली पालको को मछली को स्टार्ट करने के लिए डीप फ्रीजर, फ्रीजर डिस्प्ले काउंटर के अलावा फिश कटर और मछली की छिलाई के लिए मशीनें भी उपलब्ध करवाई जाएगी। राज्य में स्मार्ट फिश पार्लर खुलने से 24 घंटे फ्रेश मछली मिल सकेगी।

मुख्यमंत्री जन कल्याण संबल योजना

Smart Fish Parlour के लाभ एवं विशेषताएं

  • मध्य प्रदेश सरकार द्वारा मछुआरा समुदाय के लिए राज्य में 400 स्मार्ट फिश पार्लर खोले जाएंगे।
  • स्मार्ट फिश पार्लर खुलने से राज्य के लोगों को अच्छा मुनाफा मिलेगा।
  • फिश पार्लर तैयार करने में 3 लाख 50 हजार रुपए की लागत लगेगी।  
  • मछली पालक और मछुआरों को जमीन पर बैठकर बेचने की चिंता नहीं होगी।
  • 400 Fish Parlour के माध्यम से लोगों को रोजगार प्राप्त होगा।
  • राज्य में स्मार्ट फिश पार्लर खुलने से 24 घंटे फ्रेश मछली में सकेगी।
  • मध्य प्रदेश के मत्स्य विकास एवं मछुआ कल्याण विभाग द्वारा शहरी क्षेत्रों में नगरीय निकाय और ग्रामीण क्षेत्र में ग्राम पंचायतें 5 लाख रुपए की लागत से स्मार्ट मछली पार्लर तैयार करवाएगी।
  • मछली पार्लर योजना के तहत मछली पालक 10 प्रतिशत का अंशदान यानी 50,000 रुपए जमा करके फिश पार्लर अपने नाम बनवा सकते हैं।
  • आधुनिक फिश पार्लर इस योजना के तहत मछली की बिक्री के लिए शोरूम का काम करेंगे।
  • मछलियों के स्टोरेज के लिए सरकार द्वारा डीप फ्रीजर, फ्रीजर डिस्प्ले काउंटर के साथ साथ फिश कटर और मछली की छिलाई मशीनें भी मछली पालको को मुहैया कराई जाएगी।
  • फिश पार्लर के माध्यम से 1,500 लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष आधार पर रोजगार मिलेगा।

MP Smart Fish Parlour Yojana के लिए पात्रता

  • मध्य प्रदेश स्मार्ट फिश पार्लर योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक को मध्यप्रदेश का मूल निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना के लिए केवल मछली पालक और मछुआरे ही पात्र होंगे।
  • मछली पालन करने वाला कोई भी मछुआरा स्मार्ट पार्लर के लिए पात्र होगा।

मध्य प्रदेश स्मार्ट फिश पार्लर योजना के तहत आवेदन प्रक्रिया

जैसा कि हमने आपको पहले ही बताया है कि मध्य प्रदेश सरकार द्वारा मछुआरा समुदाय के लिए स्मार्ट फिश पार्लर योजना को शुरू करने की घोषणा की गई है। जिसके तहत राज्य सरकार द्वारा 400 स्मार्ट फिश पार्लर खोले जाएंगे। मत्स्य विकास एवं मछुआ कल्याण विभाग द्वारा शहरी क्षेत्रों में नगरीय निकाय और ग्रामीण क्षेत्र में ग्राम पंचायतें 5 लाख रुपए की लागत से स्मार्ट मछली पार्लर तैयार करवाएगी। जिसका सारा खर्चा सरकार द्वारा ही उठाया जाएगा।

अगर आप इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपको अभी थोड़ा इंतजार करना होगा। क्योंकि मध्य प्रदेश सरकार द्वारा केवल अभी राज्य में 400 स्मार्ट फिश पार्लर बनवाने की घोषणा की गई है। सरकार ने आवेदन प्रक्रिया के बारे में कोई जानकारी सार्वजनिक नहीं की है। जैसे ही सरकार द्वारा आवेदन से संबंधित जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी। तो हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से सूचित कर देंगे ताकि आप भी इस योजना के तहत स्मार्ट फिश पार्लर बनवा सके।

Leave a Comment