Annadoot Yojana: अन्नदूत योजना शुरू करेगी मध्य प्रदेश सरकार, मिलेगा स्वरोजगार

MP Annadoot Yojana Apply Online | मध्य प्रदेश अन्नदूत योजना क्या है, लाभ, पात्रता, जरूरी दस्तावेज, एवं ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया जाने |

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान राज्य के युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए समय-समय पर विभिन्न प्रकार की योजनाएं लांच करते रहते है इसी क्रम में मध्यप्रदेश में युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए एक ओर नई योजना को शुरू किया जा रहा है। जिसका नाम Annadoot Yojana है। इस योजना के माध्यम से युवाओं को राज्य आपूर्ति निगम के भंडार गृहों से खाद्य सामग्री को राशन की दुकान तक पहुंचाने का काम दिया जाएगा। अगर आप मध्य प्रदेश के बेरोजगार युवा है और अन्नदूत योजना के माध्यम से रोजगार की प्राप्ति करना चाहते हैं तो आप बिल्कुल सही लेख पढ़ रहे हैं। क्योंकि आज हम आपको मध्य प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की जाने वाली इस नई योजना से जुड़ी सभी जानकारियों जैसे-सरकार का इसे शुरू करने का उद्देश्य, लाभ एवं विशेषताएं, पात्रता, आवश्यक दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि के बारे में बताने जा रहे हैं।

MP Annadoot Yojana

MP Annadoot Yojana 2022

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी अपने राज्य के युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए Annadoot Yojana को शुरू करने जा रहे हैं।  इस योजना के तहत राज्य की उचित मूल्य की राशन दुकानों तक खाद्य सामग्री पहुंचाने का काम युवाओं को सौंपा जाएगा। जिसके लिए सरकार कलेक्टरों के माध्यम से युवाओं को चिन्हित करेगी और उन्हें बैंकों से अपनी गारंटी पर वाहन लोन उपलब्ध करवाएगी। इस लोन पर राज्य सरकार द्वारा 3% ब्याज अनुदान भी दिया जाएगा। इस योजना के तहत 6 से 8 टन खाद्यान्न परिवहन की क्षमता वाले 1000 वाहन युवाओं को खरीदवाएं जाएंगे। इन वाहनों के माध्यम से ही राज्य नागरिक आपूर्ति निगम के भंडार गृहों से खाद्य सामग्री को राशन दुकानों तक पहुंचाया जाएगा।

इस समय राज्य में 26 हजार उचित मूल्य की राशन दुकानों के द्वारा 1 करोड़ 18 लाख परिवारों को खाद्य सामग्री वितरित की जा रही है जिसमें 3 लाख टन खाद्य सामग्री हर महीने दुकानों तक नागरिक आपूर्ति निगम परिवहनकर्ताओं के माध्यम से पहुंचती है। जिसमें काफी घोटाले की शिकायत आती है और सरकार द्वारा कार्यवाही भी की जाती है। इन सभी बात को ध्यान में रखते हुए सरकार ने अन्नदूत योजना की नीति बनाई है। MP CM Jan Awas Yojana शुरू करेगी मध्य प्रदेश सरकार

स्थानीय युवाओं को वाहन के लिए दिया जाएगा अनुदान 

खाद्यान्न वितरण में पारदर्शिता और बिचौलियों ठेकेदारों पर अंकुश लगाने के लिए मंत्री परिषद द्वारा ‘मुख्यमंत्री युवा अन्न दूत योजना’ को स्वीकृति प्रदान की गई है। इस योजना के तहत शासन द्वारा स्थानीय युवाओं को केंद्र से पीडीएस शॉप तक परिवहन के लिए बैंक ऋण उपलब्ध कराकर वाहन उपलब्ध कराए जाएंगे। प्रति वाहन 1.25 लाख रुपए अनुदान के हिसाब से 888 वाहनों पर 11 करोड़ 10 लाख रुपए शासन द्वारा अनुदान के रूप में भुगतान किए जाएंगे।

केंद्रों से राशन परिवहन कर उचित मूल्य दुकान तक पहुंचाने के लिए युवाओं को 7.5 मेट्रिक टन क्षमता के अधिकतम 25 लाख रुपए की कीमत का वाहन दिलवाया जाएगा। 10% कीमत के डाउन पेमेंट के लिए 1.25 लाख रूपए राज्य शासन द्वारा और हितग्राही द्वारा 1.25 लाख रुपए भुगतान किए जाएंगे। 3 हजार क्विंटल सामग्री का प्रतिमाह 4000 किलोमीटर के मान से प्रति वाहन अनुमानित है। 15 से 20 प्रतिमाह कार्य दिवस के अलावा वाहन मालिक शेष दिनों में वाहन का निजी उपयोग कर सकेंगे। जिससे उनकी आय में वृद्धि होगी।

अन्नादूत योजना का अवलोकन

योजना का नामAnnadoot Yojana
शुरू की जा रही हैमध्य प्रदेश सरकार द्वारा
लाभार्थीराज्य के युवा
उद्देश्ययुवाओं को राशन दुकानों तक खाद्यान्न पहुंचाने का काम देकर स्वरोजगार से जोड़ना
साल2022
योजना की श्रेणीराज्य स्तरीय योजना
अधिकारिक वेबसाइटजल्द ही लांच की जाएगी

MP Ration Card List 

युवाओं को ₹65 प्रति क्विंटल की दर से किया जाएगा भुगतान

Madhya Pradesh Annadoot Yojana के तहत नागरिक आपूर्ति निगम खाद्यान्न परिवहन के लिए ₹65 प्रति क्विंटल की दर से भुगतान करेगी। जिसमें परिवहन कर्ताओं को डीजल, ड्राइवर सहित अन्य खर्चे निकालने होंगे। यह 65 रुपए प्रति क्विंटल की दर केंद्र सरकार द्वारा निर्धारित की गई है। जिसमें से आधी राशि केंद्र सरकार द्वारा एवं आधी राशि राज्य सरकार द्वारा वहन की जाएगी। मध्यप्रदेश में उचित मूल्य की राशन दुकानों तक खाद्यान्न सामग्री पहुंचाने के लिए 120 परिवहनकर्ता 223 केंद्रों से खाद्यान्न का उठाव करते हैं। राज्य के अधिकांश जिलों में एक ही परिवहनकर्ता है।

Annadoot Yojana का उद्देश्य

प्रदेश सरकार का इस योजना को मध्य प्रदेश में शुरू करने का मुख्य उद्देश्य युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ना है। Annadoot Yojana के तहत युवाओं को उचित मूल्य की राशन दुकानों तक खाद्य सामग्री पहुंचाने का काम दिया जाएगा। जैसे कि आपको मालूम है कि खाद्य सामग्री पहुंचाने के लिए परिवहन की आवश्यकता होती है। इसलिए राज्य सरकार खुद अपनी गारंटी पर युवाओं को परिवहन खरीदने के लिए बैंकों के माध्यम से ऋण दिलवाएंगी और इस ऋण पर 3% का अनुदान भी देगी। अन्नादूत योजना एक तरफ तो राज्य के युवाओं को स्वरोजगार से जुड़ेगी और दूसरी तरफ नागरिक आपूर्ति निगम परिवहनकर्ताओं के द्वारा किए जाने वाले घोटाले को खत्म करेगी। यह योजना राज्य में स्वरोजगार को बढ़ावा देगी और बेरोजगारी दर में कमी लाएगी।

मध्य प्रदेश अन्नदूत योजना 2022 के लाभ एवं विशेषताएं

  • मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी ने अपने राज्य में Annadoot Yojana को शुरू करने पर सहमति प्रदान कर दी है।
  • इस योजना के तहत राज्य के युवाओं को उचित मूल्य की दुकानों तक खाद्यान्न पहुंचाने का काम सौंपा जाएगा।
  • खाद्यान्न पहुंचाने का कार्य करने के लिए परिवहन की आवश्यकता होती है जिसके लिए  प्रदेश सरकार कलेक्टरों के माध्यम से युवाओं को चिन्हित करके उन्हें बैंकों से अपनी गारंटी पर वाहन ऋण उपलब्ध करवाएगी।
  • इस ऋण पर लाभार्थी युवा को सरकार द्वारा 3% ब्याज अनुदान भी प्रदान किया जाएगा।
  • 6 से 8 टन खाद्यान्न परिवहन की क्षमता वाले 1000 वाहन इस योजना के माध्यम से युवाओं को खरीदवाएं जाएंगे।
  • Madhya Pradesh Annadoot Yojana के तहत नागरिक आपूर्ति निगम खाद्यान्न परिवहन के लिए ₹65 प्रति क्विंटल की दर से भुगतान करेगी। जिसमें परिवहनकर्ता को डीजल, ड्राइवर सहित अन्य खर्चे भी निकालने होंगे।
  • यह ₹65 प्रति क्विंटल की दर केंद्र सरकार द्वारा निर्धारित की गई है जिसमें आधी राशि केंद्र एवं आधी राशि राज्य सरकार द्वारा वहन की जाएगी।
  • राज्य में 26 हजार उचित मूल्य की राशन दुकानों के द्वारा 1 करोड़ 18 लाख परिवारों को खाद्य सामग्री वितरित की जा रही है
  • जिसमें 3 लाख टन खाद्य सामग्री प्रति माह दुकानों तक नागरिक आपूर्ति निगम परिवहनकर्ताओं के माध्यम से पहुंचती है। जिसमें कभी-कभी काफी घोटाले की शिकायत आती है।
  • अगर हम कहे तो, मध्य प्रदेश अन्नदूत योजना 2022 राज्य में युवाओं को रोजगार से जोड़ने के साथ-साथ नागरिक आपूर्ति निगम परिवहनकर्ताओं के द्वारा किए जाने वाले घोटाले पर भी रोक लगाएगी।
  • इस समय राज्य में उचित मूल्य की राशन दुकानों तक खाद्यान्न पहुंचाने के लिए 120 परिवहनकर्ता 223 केंद्रों से खाद्यान्न का उठाव कर रहे हैं। राज्य के अधिकांश जिलों में एक ही परिवहनकर्ता है।

मुख्यमंत्री उद्यम शक्ति योजना

MP Annadoot Yojana के तहत पात्रता एवं आवश्यक दस्तावेज

मध्य प्रदेश सरकार इस योजना को जल्द ही शुरू करने जा रही है। जब सरकार द्वारा इस योजना को राज्य में शुरू कर दिया जाएगा। तो सरकार द्वारा इस योजना के तहत पात्रता एवं आवश्यक दस्तावेजों की जानकारी भी प्रदान की जाएगी। तब हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से इस योजना के तहत पात्रता एवं आवश्यक दस्तावेजों की जानकारी प्रदान कर देंगे।

MP Annadoot Yojana के तहत आवेदन प्रक्रिया

राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी ने Annadoot Yojana को राज्य में लागू करने की सहमति दी दे है। जल्द ही राज्य सरकार द्वारा इस योजना को राज्य में लांच कर दिया जाएगा। जब सरकार इस योजना को राज्य में लांच करेगी, तो उस समय इस योजना से जुड़ी आवेदन की प्रक्रिया को भी सार्वजनिक करेगी। जब सरकार द्वारा अन्नादूत योजना की आवेदन प्रक्रिया को सार्वजनिक कर दिया जाएगा तो हम आपको आवेदन प्रक्रिया की जानकारी अपने इस लेख के माध्यम से साझा कर देंगे। इसलिए आपसे निवेदन है कि हमारे इस लेख के साथ बने रहे।

Leave a Comment