महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना शुरु हुई, राज्य में बनेंगे Rural Industrial Park

Mahatma Gandhi Rural Industrial Park Yojana Apply Online | MGRIP Yojana Online Registration | महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना ऑनलाइन आवेदन, लाभ एवं पात्रता | रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना एप्लीकेशन फॉर्म

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी अपने राज्य में ग्रामीण इलाकों की महिलाओं, पुरुषों एवं युवाओं को रोजगार मुहैया करवाने की दिशा में दिन प्रतिदिन कदम आगे बढ़ाते जा रहे हैं। अब मुख्यमंत्री जी ने इस दिशा में एक ओर कदम आगे बढ़ाया है जिसके लिए महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना का शुभारंभ किया है। इस योजना के तहत ग्रामीण इलाकों के चयनित गौठानों को रूलर इंडस्ट्रियल पार्क RIPA यानी आजीविका के केंद्रों के  रूप में विकसित किया जा रहा है। जिसके लिए इन पार्कों में विभिन्न आजीविकामूलक गतिविधियां संचालित की जा रही है। यह पार्क पूरी तरह से विकसित हो जाने के बाद ग्रामीण इलाकों के गरीब परिवारों के लिए रोजगार और आय के साधन उपलब्ध करवाएंगे अर्थात यह योजना राज्य के ग्रामीण इलाकों के नागरिकों को बेहतर रोजगार प्रदान करने का काम करेगी। तो आइए और हमारे इस आर्टिकल के माध्यम से Mahatma Gandhi Rural Industrial Park Yojana से जुड़ी और सभी महत्वपूर्ण जानकारियां जानिए।

Mahatma Gandhi Rural Industrial Park Yojana

Mahatma Gandhi Rural Industrial Park Yojana 2022

2 अक्टूबर 2022 को गांधी जयंती के अवसर पर छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल जी ने अपने निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना का शुभारंभ किया है। इस योजना के शुभारंभ में प्रथम चरण में प्रदेश के विभिन्न जिलों में 300 रूलर इंडस्ट्रियल पार्क का भूमि पूजन और शिलान्यास किया गया है। आपको बता दें कि ग्रामीण इलाकों के चयनित गौठानों को ही रूलर इंडस्ट्रियल पार्को में विकसित किया जा रहा है। इस योजना के प्रथम चरण में प्रत्येक विकासखंड में 2 गौठानों को रूलर इंडस्ट्रियल पार्क में विकसित किया जा रहा है। Mahatma Gandhi Rural Industrial Park Yojana का नोडल विभाग पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग को बनाया गया है। यह योजना ग्रामीण इलाकों में बड़ी संख्या में स्वयं सहायता समूह की महिलाओं एवं युवाओं को रोजगार के साथ आय के अच्छे साधन प्रदान करवायेगी। जिससे  प्रदेश के ग्रामीण इलाकों के नागरिकों के साथ-साथ प्रदेश का भी विकास होगा।

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना

Overview Of Mahatma Gandhi Rural Industrial Park Yojana

योजना का नाममहात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना
शुरू की गईमुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी के द्वारा
आरंभ तिथि2 अक्टूबर 2022
लाभार्थीप्रदेश के ग्रामीण इलाकों की महिलाएं एवं युवा
उद्देश्यरूलर इंडस्ट्रियल पार्क स्थापित करके रोजगार के अवसर बढ़ाना
साल2022
नोडल विभागपंचायत और ग्रामीण विकास विभाग
आवेदन प्रक्रियाअभी ज्ञात नहीं है।
अधिकारिक वेबसाइटजल्दी लॉन्च की जाएगी।

महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना के लिए 600 रुपए का प्रावधान

इस योजना के पहले चरण में 300 रूलर इंडस्ट्रियल पार्क विकसित किए जा रहे हैं। जिसके लिए गौठानों में 1 से 3 एकड़ जमीन पार्क के लिए आरक्षित की गई है। राज्य सरकार ने महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना के तहत 600 रुपए का प्रावधान किया है। सभी स्वीकृत रूलर इंडस्ट्रियल पार्क को 1-1 करोड़ रूपए की राशि मुहैया करवाई जाएगी। इस राशि से इन पार्कों में वर्किंग शेड एवं एप्रोच रोड का निर्माण किया जाएगा। इसके अलावा बिजली, पानी और युवाओं को ट्रेनिंग देने पर यह राशि खर्च की जाएगी।

राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना

Mahatma Gandhi Rural Industrial Park Yojana का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य के ग्रामीण इलाकों में रूलर इंडस्ट्रियल पार्क स्थापित करके रोजगार के अवसर उत्पन्न करना है। ताकि वह पर रहने वाली महिलाओं एवं युवाओं को रोजगार उपलब्ध करवाकर बेहतर आय की प्राप्ति करवाई जा सके। मुख्यमंत्री जी ने महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना का शुभारंभ करते हुए कहा है कि “इस योजना से आत्मनिर्भर गांव का महात्मा गांधी का सपना पूरा होगा, गांधी जी ने ग्राम स्वरूप की कल्पना की उसे सरकार करने के लिए हमारी सरकार काम कर रही है।” इस योजना से प्रदेश के गांव स्वावलंबी और मजबूत बनेंगे। Mahatma Gandhi Rural Industrial Park Scheme ग्रामीण क्षेत्रों में पहले से ही स्थापित गौठानो को आजीविका के केंद्रों (Rural Industrial park ) के रूप में विकसित करेगी । इस योजना के‌ तहत सुराजी गांव में गौठानों को रूलर इंडस्ट्रियल पार्क में विकसित कर दिया गया है। जिनमें वर्मी कम्पोस्ट के निर्माण, मुर्गी पालन, बकरी पालन, कृषि और उद्यानिकी फसलों और लघु वनोपजों के प्रसंस्करण की इकाईयां स्थापित की जा रही है। इसके अलावा आटा-चक्की, दाल मिल, तेल मिल की स्थापना भी की जा रही है।

Rural Industrial Park Yojana की विशेषताएं

  • छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल जी ने अपने राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के अवसर उत्पन्न करने के लिए Mahatma Gandhi Rural Industrial Park Yojana का आरंभ किया है।
  • इस योजना का शुभारंभ सीएम भूपेश बघेल जी ने अपने निवास से 2 अक्टूबर 2022 गांधी जयंती के अवसर पर वर्चुअल माध्यम से किया है।
  • सरकार द्वारा इस योजना के तहत ग्रामीण इलाकों के चयनित गौठानों को रूलर इंडस्ट्रियल पार्क विकसित में किया जाएंगा।
  • पहले चरण में 300 इंडस्ट्रियल पार्क विकसित किए जाएंगे। प्रदेश के प्रत्येक विकासखंड में 2 इंडस्ट्रियल पार्क बनेंगे।
  • पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग इस योजना का नोडल विभाग होगा।
  • महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना के लिए राज्य सरकार ने 600 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है।
  • प्रत्येक स्वीकृत किए गए रोलर इंडस्ट्रियल पार्क को एक-एक करोड़ रुपए की राशि उपलब्ध करवाई जाएगी। इस राशि से पार्कों में वर्किंग शेड, एप्रोच रोड बिजली, पानी, युवाओं को ट्रेनिंग आदि देने का काम किया जाएगा।

छत्तीसगढ़ पौनी पसारी योजना

महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना के लाभ

  • इस योजना का लाभ छत्तीसगढ़ के ग्रामीण इलाकों की गरीब महिलाओं, पुरुषों एवं युवाओं को मिलेगा।
  • मुख्यमंत्री जी का कहना है कि इस योजना से आत्मनिर्भर गांव का महात्मा गांधी का सपना पूरा होगा।
  • विकसित किए जाने वाले पार्को  में व्यवसायिक गतिविधियां जैसे-मुर्गी पालन, बकरी पालन, आटा मिल, दाल मील, तेल मील, कृषि एवं उद्यानिकी फसलों और लघु वनोपजो के प्रसंस्करण की इकाई स्थापित होंगी।
  • महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना का सीधा लाभ छत्तीसगढ़ के विकास को मिलेगा। क्योंकि इसके माध्यम से ग्रामीण इलाकों में रोजगार के अवसर उत्पन्न होंगे जिससे राज्य में बेरोजगारी दर में कमी आएगी।
  • प्रदेश के गांव इस योजना के माध्यम से स्वावलंबी और आत्मनिर्भर बनेंगे और फिर गांव भी राज्य का विकास करने में अपनी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।

Mahatma Gandhi Rural Industrial Park Yojana के तहत पात्रता

  • आवेदक को छत्तीसगढ़ का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • केवल ग्रामीण इलाकों के गरीब बेरोजगार नागरिक ही इस योजना के तहत आवेदन करने के पात्र हैं।
  • आवेदक की आयु 18 वर्ष या अधिक की होनी चाहिए।

MGRIP Scheme महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • आयु प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड

मुख्यमंत्री नोनी सशक्तिकरण सहायता योजना 

महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना के तहत आवेदन कैसे करें?

जो इच्छुक नागरिक महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं उन्हें अभी थोड़ा इंतजार करना होगा। क्योंकि अभी केवल छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल जी ने इस योजना का शुभारंभ किया है। जल्द ही सरकार द्वारा इस योजना के तहत आवेदन की प्रक्रिया को भी सार्वजनिक किया जाएगा। जब सरकार इस योजना के तहत आवेदन प्रक्रिया की जानकारी सार्वजनिक करेगी तब हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से यह जानकारी साझा कर देंगे। इसलिए आपको इस योजना के तहत आवेदन से जुड़ी जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे इस आर्टिकल के साथ जुड़े रहना होगा।

Leave a Comment