किसान सूर्योदय योजना: ऑनलाइन आवेदन (Kisan Suryoday Yojana) लाभ व पात्रता

Kisan Suryoday Yojana | किसान सूर्योदय योजना ऑनलाइन आवेदन | Gujarat Kisan Suryoday Yojana Application Form | गुजरात किसान सूर्योदय योजना लाभ व पात्रता

किसान सूर्योदय योजना का उद्घाटन हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा आज 24 अक्टूबर को अपने गृह गुजरात राज्य में वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से किया है इस योजना की घोषणा गुजरात सरकार द्वारा राज्य के किसानो को लाभ पहुंचाने के लिए किया गया है। इस योजना के अंतर्गत राज्य के किसानो को अपने खेतो में सिचाई के लिए सुबह  5 बजे से रात 9 बजे तक तीन फेज बिजली की आपूर्ति की जाएगी। प्यारे दोस्तों आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से इस Kisan Suryoday Yojana से जुडी सभी जानकारी जैसे आवेदन प्रक्रिया ,पात्रता ,दस्तावेज़ आदि प्रदान करने जा रहे है। अतः हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े और इस योजना का लाभ उठाये।

Kisan Suryoday Yojana

Kisan Suryoday Yojana

यह योजना गुजरात राज्य के किसानो के बहुत ही लाभकारी योजना है। अब गुजरात के किसानो को सिचाई के लिए पानी की परेशानी नहीं होगी। Gujarat Kisan Suryoday Yojanaके तहत राज्य के किसान दिन में सिचाई के लिए तीन फेज बिजली प्राप्त करके अपने खेतो की अच्छे से सिचाई कर सकेंगे। जिससे उन्हें काफी लाभ होगा। गुजरात राज्य सरकार ने 2023 तक इस योजना के तहत बुनियादी ढांचे को स्थापित करने के लिए 3,500 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया है। राज्य के जो किसान इस योजना का लाभ उठाना चाहते है तो उन्हें इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना होगा। इस गुजरात किसान सूर्योदय योजना के तहत पहले चरण में दाहोद, पाटण, महिसागर, पंचमहाल, छोटा उदयपुर, खेड़ा, आणंद और गिर-सोमना जिले को शामिल किया गया है शेष बाकि बचे जिलों को चरणबद्ध तरीके से इस योजना में शामिल किया जायेगा। 

Manav Garima Yojana

योजना के संचालन के लिए खर्च किए जाएंगे 35000 करोड़

सरकार द्वारा किसान सूर्योदय योजना का संचालन किसानों को सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध कराने के उद्देश्य से किया जाता है। इस योजना के अंतर्गत किसानों को तीन फेस में बिजली प्रदान की जाती है। जिसके माध्यम से वे अपने खेतों की सिंचाई करते हैं। सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत सुबह 5:00 बजे से लेकर 9:00 बजे के बीच बिजली की सप्लाई प्रदान की जाती है। किसान सूर्योदय योजना के बुनियादी ढांचे को स्थापित करने के लिए गुजरात सरकार द्वारा ₹3500 के बजट का प्रावधान किया गया है। इस योजना के अंतर्गत राज्य के लगभग 4000 गांवों के किसानों को जोड़ा जाएगा। इस योजना को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 24 अक्टूबर 2020 को आरंभ किया गया था।

प्रथम चरण में इस योजना के अंतर्गत 1 लाख किसानों को लाभ पहुंचाया जाएगा एवं दूसरे चरण में 190000 किसानों को लाभ पहुंचाया जाएगा। आने वाले 3 वर्षों में नए ट्रांसमिशन लाइन एवं सबस्टेशन को भी इंस्टॉल किया जाएगा। जिसके लिए 35000 करोड रुपए खर्च किए जाएंगे। लगभग 3.80 लाख नए बिजली कनेक्शन इस योजना के माध्यम से उपलब्ध करवाए जाएंगे। प्रत्येक बिजली कनेक्शन पर 1.60 लाख रुपए का खर्च आएगा। लेकिन किसानों को केवल ₹10000 का भुगतान करना होगा। अतिरिक्त शुल्क राज्य सरकार द्वारा वाहन किया जाएगा।

Kisan Suryoday Yojana In Highlights

योजना का नामकिसान सूर्योदय योजना
इसके द्वारा शुरू की गयीपीएम मोदी और गुजरात सरकार द्वारा
लाभार्थीराज्य के किसान भाई
उद्देश्यराज्य में सिचाई के लिए बिजली की आपूर्ति करना

1 माह में कवर किए जाएंगे 4000 ग्रामीण क्षेत्र

किसान सूर्योदय योजना को हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा गुजरात में सन 2020 में आरंभ किया गया था। इस योजना के माध्यम से किसानों को सुबह 5:00 बजे से रात 9:00 बजे तक 3 फेस में बिजली उपलब्ध करवाई जाएगी। जिससे कि किसान सिंचाई का कार्य आसानी से कर सकें। गुजरात सरकार द्वारा सन 2022 तक इस योजना के अंतर्गत गुजरात के सभी ग्रामीण क्षेत्रों को कवर किए जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस योजना के पहले चरण में 1 लाख किसानों को लाभ पहुंचा है एवं इस योजना के दूसरे चरण में 1 लाख 90 हजार किसानों को लाभ पहुंचा है।

जनवरी 2021 में Kisan Suryoday Yojana के माध्यम से गुजरात सरकार द्वारा 4000 ग्रामीण क्षेत्रों को कवर किए जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। यह घोषणा गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी जी के द्वारा की गई है। इस योजना के माध्यम से आने वाले 3 सालों में गुजरात सरकार द्वारा नए ट्रांसमिशन लाइन एवं सब स्टेशन इंस्टॉल किए जाएंगे जिसकी अनुमानित लागत 35000 करोड रुपए होगी।

किसान सूर्योदय योजना का दूसरा चरण

राज्य की मुख्यमंत्री विजय रुपाणी जी ने किसान सूर्योदय योजना का दूसरा चरण आरभ कर दिया है इस योजना के तहत पहले चरण में 1 लाख किसानों को कवर किया गया है, जबकि दूसरे चरण में 1 लाख 90 हजार किसानों को शामिल किया जाएगा।इस योजना के अंतर्गत राज्य के किसानो को अपने खेतो में सिचाई के लिए 3. 80 लाख नए बिजली के कनेक्शन उपलब्ध कराये जायेगे। इस योजना के तहत एक बिजली के कनेक्शन पर 1. 60 लाख रूपये का खर्ज होगा। लेकिन इनमे से किसानो से 10 रूपये लेकर उन्हें बिजली का कनेक्शन दिया जायेगा। बाकि का खर्च राज्य सरकार स्वयं करेगी।राज्य मुख्यमंत्री जी ने यह भी कहा है कि राज्य सरकार जनवरी 2021 के अंत तक 4000 गावो को इस योजना के अंतर्गत कवर करेगी। इसकी घोषणा मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने उत्तर गुजरात के बयाड में की।

Suryashakti Kisan Yojana

Kisan Suryoday Yojana जनवरी अपडेट

सरकार द्वारा सन 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए किसान सूर्योदय योजना गुजरात सरकार द्वारा आरंभ की गई थी। इस योजना के अंतर्गत राज्य के किसानों को दिन में बिजली प्रदान की जाएगी। जिससे की कृषि कार्य करने में कोई परेशानी नहीं आए। ज्योति ग्राम योजना के बाद किसान सूर्योदय योजना एक बड़ी और ऐतिहासिक योजना है। जिससे कि किसानों का विकास होगा। किसान सूर्योदय योजना के अंतर्गत राज्य में 11.50 बिजली कनेक्शन प्रदान किए गए हैं। मंगलवार को मुख्यमंत्री विजय रूपाणि जी के द्वारा अरवल्ली जिले से दूसरे चरण के अंतर्गत उत्तर गुजरात क्षेत्र के पहले चरण का लोकार्पण किया गया।

इस लोकार्पण में उन्होंने यह बताया कि अब गुजरात के 600 गांवों के किसानों को दिन में बिजली प्रदान की जाएगी। जिससे कि किसानों की आय दोगुनी होने का लक्ष्य प्राप्त किया जा सकेगा। इस योजना को जल्द राज्य के सभी जिलों में लागू किया जाएगा। इसी के साथ मुख्यमंत्री जी द्वारा कई योजनाओं के बारे में बताया गया। जिससे कि किसानों की आय दोगुनी होगी। इन सभी योजनाओं के माध्यम से खेती और गांव दोनों समृद्ध बनेंगे। जिसके साथ पूरा राज्य तथा देश समृद्ध बनेगा। अब किसानों को Kisan Suryoday Yojana माध्यम सेकृषि कार्यों के लिए बिजली जल्द से जल्द प्रदान कि जाएगी।

किसान सूर्योदय योजना का उद्देश्य

जैसे की आप लोग जानते है कि गुजरात राज्य के किसानो पानी की समस्या होने के कारण अपने खेतो में सिचाई नहीं कर पा रहे है जिसकी वजह से गुजरात के किसानो को भरी नुकसान उठाना पड़ रहा है। इसी समस्या को देखते हुए हमारे देश के प्रधानमंत्री जी ने इस किसान सूर्योदय योजना को गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी के नेतृत्व में गुजरात राज्य में शुरू किया है। इस योजना के ज़रिये राज्य के किसानो को दिन में सिचाई के लिए सुबह 5 बजे से रात 9 बजे तक बिजली प्रदान करना। जिससे वह अपने खेतो में दिन में सिचाई कर सके। इस योजना के ज़रिये किसानो की आदमी के बढ़ोतरी होगी। इस Kisan Suryoday Yojana के ज़रिये सिंचाई के लिए दिन के समय बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित करना।

पीएम मोदी द्वारा अन्य परियोजनाओं का उद्घाटन

हमारे देश के प्रधानमंत्री जी के गुजरात राज्य में किसान सूर्योदय योजना के आलावा दो और परियोजनाओं का उद्घाटन किया है जिनका नाम है यूएन मेहता इंस्टीट्यूट ऑफ़ कार्डियोलॉजी एंड रिसर्च के साथ संबद्ध पीडियाट्रिक हार्ट अस्पताल और गिरनार रोपवे।  यह तीनों योजनाए एक प्रकार से गुजरात की शक्ति, भक्ति, स्वास्थ्य के प्रतीक हैं। प्रधानमंत्री जी ने जूनागढ़ जिले में गिरनार रोपवे और अहमदाबाद स्थित यू एन मेहता हृदयरोग संस्थान और शोध केंद्र से संबंद्ध बच्चों के हृदयरोग से संबंधित अस्पताल का भी उद्घाटन किया। यह योजनाए हाल ही में 130 करोड़ रुपये की लागत से यह पूरी हुई है।

PM Kisan Samman Sammelan 

Gujarat Kisan Suryoday Yojana मुख्य तथ्य

  • इस योजना के तहत अगले 2-3 वर्षों में लगभग साढ़े 3 हजार सर्किट किलोमीटर नयी ट्रांसमिशन लाइनों को बिछाने का काम किया जायेगा
  • गुजरात राज्य सरकार ने 2023 तक इस Kisan Suryoday Yojana के तहत बुनियादी ढांचे को स्थापित करने के लिए 3,500 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया है।
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने  आज शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अपने गृह राज्य गुजरात में तीन परियोजनाओं का उद्घाटन किया।
  • गुजरात किसान सूर्योदय योजना के तहत पहले चरण में दाहोद, पाटण, महिसागर, पंचमहाल, छोटा उदयपुर, खेड़ा, आणंद और गिर-सोमना जिले को शामिल किया गया है शेष बाकि बचे जिलों को चरणबद्ध तरीके से इस योजना में शामिल किया जायेगा।
  • इस योजना के ज़रिये राज्य में ट्रांसमिशन की बिल्कुल नयी कैपेसिटी तैयार करके ये काम किया जा रहा है।

Gujarat Kisan Suryoday Yojana के लाभ

  • इस योजना का लाभ गुजरात राज्य के किसानो को पहुंचाया जायेगा।
  • राज्य के किसानो को इस योजना के तहत अपने खेतो में सिचाई के लिए दिन में सुबह 5 बजे से लेकर रात 9 बजे तक बिजली की सुविधा की जाएगी। जिससे वह अपने खेतो में सिचाई कर सकते है।
  • Kisan Suryoday Yojana के ज़रिये किसानो को पानी को लेकर समस्या दूर होगी।

किसान सूर्योदय योजना में आवेदन कैसे करे ?

राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी इस योजना के तहत सिचाई के लिए बिजली प्राप्त करने के लिए आवेदन करना चाहते है तो उन्हें अभी थोड़ा इंतज़ार करना होगा। क्योकि आज के दिन यानि 24 अक्टूबर को  ही हमारे देश के प्रधानमंत्री जी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से इस किसान सूर्योदय योजना का उद्घाटन किया है। इस योजना के तहत अभी ऑनलाइन आवेदन  को लेकर कोई अधिकारी सूचना जारी नहीं की गयी है। जैसे ही गुजरात सरकार द्वारा इस Gujarat Kisan Suryoday Yojana के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आवेदन प्रक्रिया को शुरू कर दिया जायेगा। हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से बता देंगे।

Leave a Comment