हिमाचल प्रदेश सहारा योजना 2022: HP Sahara Yojana Online Apply, पात्रता, लाभ

हमारे देश में कई परिवारों की आर्थिक स्थिति इतनी कमजोर है कि वह पैसों की तंगी के कारण अपनी गंभीर बीमारी तक का इलाज नहीं करवा पाते हैं। इसी बात को देखते हुए हिमाचल प्रदेश सरकार ने अपने राज्य के गरीब परिवारों को गंभीर बीमारी के समय आर्थिक रूप से सहारा देने के लिए हिमाचल प्रदेश सहारा योजना की शुरुआत की है। HP Sahara Yojana के माध्यम से प्रदेश के गंभीर बीमारी से पीड़ित लोगों को इलाज करवाने के लिए हर महीने आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। ताकि वह निश्चिंत होकर अपनी गंभीर बीमारी का अच्छे से इलाज करवा सकें। यदि आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो हमारे इस लेख को जरूर पढ़ें। क्योंकि आज हम आपको अपने इस लेख में Himachal Pradesh Sahara Yojana 2022 से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारियां जैसे-उद्देश्य, लाभ एवं विशेषताएं, पात्रता, आवश्यक दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि के बारे में विस्तारपूर्वक बताने जा रहे हैं।

HP Sahara Yojana

Himachal Pradesh Sahara Yojana 2022

हिमाचल प्रदेश सरकार ने अपने राज्य के गरीब परिवारों से संबंध रखने वाले गंभीर बीमारी से पीड़ित लोगों को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए 9 फरवरी को हिमाचल प्रदेश सहारा योजना को आरंभ किया था। वर्तमान समय में इस योजना के माध्यम से गंभीर बीमारी से पीड़ित लोगों को 3000 रुपए प्रतिमाह के हिसाब से यानी 48000 रुपए वार्षिक इलाज करवाने के लिए दिए जाते हैं। यह योजना पैरालिसिस, पार्किंसंस, कैंसर, मस्कुलर डिस्ट्रॉफी, हीमोफिलिया, थैलेसीमिया एवं रीनल फेल्योर जैसी विशिष्ट गंभीर बीमारियों को कवर करती है। परंतु जब इस योजना को वित्तीय वर्ष 2019-20 में शुरू किया गया था तो उस समय इस योजना के तहत 2.482 करोड़ रुपए आवंटित किए गए थे और लाभार्थियों को ₹2000 प्रतिमाह इलाज करवाने हेतु प्रदान किए जाते थे। मुख्यमंत्री जी का Himachal Pradesh Sahara Yojana को शुरू करने का एक ही लक्ष्य है कि गरीब लोगों को उनकी गंभीर बीमारी के समय लंबे समय तक वित्तीय रूप से सहारा दिया जा सके। जिससे वह अपनी बीमारी का अच्छे से उपचार करवा सकें।

आयुष्मान भारत योजना 

हिमाचल प्रदेश सहारा योजना Overview

योजना का नामHimachal Pradesh Sahara Yojana
शुरू की गईहिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा
लाभार्थीगंभीर बीमारी से पीड़ित लोग
उद्देश्यगरीब लोगों को उनकी गंभीर बीमारी का इलाज करवाने हेतु आर्थिक सहायता प्रदान करना
आर्थिक सहायता₹3000 प्रतिमाह (₹36000 वार्षिक)
साल2022
योजना का प्रकारराज्य सरकारी योजना
आवेदन प्रक्रियाऑफलाइन/ ऑनलाइन
अधिकारिक वेबसाइटhttps://sahara.hpsbys.in/

HP Sahara Yojana के तहत ‌ कवर की जाने वाली बीमारियां

इस योजना के तहत नीचे दी गई निम्नलिखित गंभीर बीमारियों के उपचार हेतु सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।

  • पैरलिसिस
  • कैंसर
  • पारकिनसन
  • मस्क्युलर डाइस्ट्रफी
  • तलशसेमिया
  • हेमोफिलिया
  • लिवर फेल्यूर

हिमाचल प्रदेश मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना

हिमाचल प्रदेश सहारा योजना का उद्देश्य

प्रदेश सरकार का इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य हिमाचल प्रदेश के गरीब लोगों को उनकी गंभीर बीमारी के समय वित्तीय रूप से सहारा प्रदान करना है। क्योंकि आर्थिक रुप से गरीब परिवारों के लोग पैसों की कमी के कारण अपनी गंभीर बीमारी का इलाज नहीं करवा पाते हैं जिसके कारण उन्हें बहुत दुखद जीवन व्यतीत करते हुए मृत्यु का सामना करना पड़ता है।‌ सरकार द्वारा सहारा योजना हिमाचल प्रदेश के माध्यम से आर्थिक रुप से गरीब बीमार  को हर महीने ₹3000 की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है ताकि वह इस राशि का उपयोग करके अपनी गंभीर बीमारी का अच्छे से उपचार करवा सकें और एक स्वस्थ जीवन जी सकें। हिमाचल प्रदेश सरकार की इस योजना को आरंभ करने की पहल बहुत ही सराहनीय है क्योंकि अब HP Sahara Yojana 2022 के तहत लाभान्वित होकर प्रदेश के गरीब लोग भी अपनी गंभीर बीमारी का लंबे समय तक इलाज करवाने में आर्थिक रूप से सक्षम हो सके हैं।

Himachal Pradesh Sahara Yojana की कुछ मुख्य बातें

  • सरकार ने इस योजना को कुछ चरणों के आधार पर लागू किए जाने का प्रावधान रखा है। जिसके हिसाब से इसके पहले चरण में कम से कम 6000 रोगियों को लाभान्वित करने का लक्ष्य रखा गया था।
  • वित्तीय वर्ष 2019-20 के लिए 14.40 करोड़ रुपए प्रदान किए गए थे जिसके माध्यम से 2020 में पहले चरण में लगभग 9471 गंभीर रोगियों को कवर किया गया है।
  • मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर जी ने इस योजना की घोषणा पहले 2 एचपी बजट 2019-20 के दौरान की थी। फिर से 2020-21 के लिए CMO कार्यालय ने अधिकारिक तौर पर ट्वीट के माध्यम से 11 सितंबर 2021 को इस योजना के तहत रोगियों को लाभान्वित करने की घोषणा की थी।
  • इस योजना के अंतर्गत जिला अस्पताल सहित 14 बड़े अस्पतालों को शामिल किया गया है। इनमें प्रदेश का सबसे प्रसिद्ध अस्पताल इंदिरा गांधी स्वास्थ्य अस्पताल भी शामिल है।
  • हिमाचल प्रदेश सहारा योजना‌ के तहत रोगियों को प्रदान की जाने वाली आर्थिक सहायता का पूरा खर्च राज्य सरकार द्वारा ही वहन किया जाता है।
  • स्तन एवं सर्जिकल कैंसर जैसी बीमारी के इलाज के लिए मोबाइल डायग्नोस्टिक वैन भी प्रदेश में तैनात की जा रही है। यह मोबाइल वैन राजकीय मेडिकल कॉलेजों के साथ मिलकर इन गंभीर बीमारियों को रोकने का काम करेंगी।
  • इस योजना के तहत लाभ प्राप्त करने वाले बीमारों को रेफर करने की ऑनलाइन मॉनिटरिंग का भी प्रावधान रखा गया है।

हिमाचल प्रदेश बेरोजगारी भत्ता

हिमाचल प्रदेश सहारा योजना के लाभ एवं विशेषताएं

  • हिमाचल के सीएम जय राम ठाकुर जी ने अपने राज्य के गरीब लोगों को गंभीर बीमारी के समय आर्थिक सहायता प्रदान करने हेतु हिमाचल प्रदेश सहारा योजना की शुरुआत की है।
  • इस योजना के माध्यम से गंभीर बीमारी से पीड़ित लोगों को उपचार करने के लिए हर महीने ₹3000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती हैं। पहले इस योजना के तहत लाभार्थियों को ₹2000 प्रति माह दिए जाते थे।
  • यह आर्थिक सहायता पैरालिसिस, पार्किंसंस, कैंसर, मस्कुलर डिस्ट्रॉफी, हीमोफिलिया, थैलेसीमिया एवं रीनल फेल्योर जैसी विशिष्ट गंभीर बीमारियों के लिए दी जाती हैं।
  • HP Sahara Yojana के तहत प्रदान की जाने वाली आर्थिक सहायता की धनराशि सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में हस्तांतरित की जाती है।
  • अब इस योजना के तहत लाभान्वित होकर प्रदेश के गंभीर बीमारी से जूझ रहे लोग अपना लंबे समय तक अच्छे से उपचार करवा सकेंगे।

Himachal Pradesh Sahara Yojana के तहत पात्रता मानदंड

  • आवेदक को हिमाचल प्रदेश का मूल निवासी होना अनिवार्य है।
  • आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लोग ही इस योजना के तहत आवेदन करने के पात्र हैं।
  • आवेदक रोगी की सभी स्रोतों से वार्षिक आय 4 लाख रुपए से अधिक की नहीं होनी चाहिए।
  • साथ ही आवेदक को गंभीर बीमारी से पीड़ित होने का निदान साबित करना होगा।

आवश्यक दस्तावेज

  • बीमारी का प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • परिवार का आय प्रमाण पत्र
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • ट्रीटमेंट रिकॉर्ड
  • बैंक खाता विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

हिमाचल प्रदेश‌ सहारा योजना के तहत ऑफलाइन आवेदन कैसे करें?

इस योजना के तहत आवेदन की प्रक्रिया ऑफलाइन रखी गई है  जो प्रदेश के आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, आशा कार्यकर्ताओं द्वारा अपने सहायकों के साथ मिलकर की जाएगी। हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना को लोकप्रिय बनाने के लिए एक अभियान शुरू किया जाएगा। जिसमें मान्यता प्राप्त सामाजिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता (आशा) और अन्य स्वास्थ्य कार्यकर्ता प्रदेश में लाभार्थियों की पहचान करेंगे। पहचान करने के साथ-साथ निर्धारित औपचारिकताओं के साथ उनकी मदद करेंगे। प्रदेश सरकार आशा कार्यकर्ताओं की भागीदारी को प्रोत्साहित करने के लिए ₹200 का पुरस्कार भी प्रदान करेंगी। यानी लाभार्थी को इस योजना का लाभ उठाने के लिए किसी भी सरकारी दफ्तर जाने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि हिमाचल प्रदेश सहारा योजना के तहत आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, आशा कार्यकर्ताओं द्वारा अपने सहायकों के साथ मिलकर ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया की जाएगी।

HP Sahara Yojana ऑनलाइन आवेदन कैसे करें

  • सबसे पहले आपको योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है
  • इसके पश्चात वेबसाइट का होम पेज आपकी स्क्रीन पर खुल जाएगा
HP Sahara Yojana
  • अब आपको होम पेज पर मौजूद न्यू रजिस्ट्रेशन का ऑप्शन पर क्लिक करना है
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा
  • यहां पर आपको अपना आधार नंबर दर्ज करना होगा
  • इसके बाद आपको सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करना है
  • अब आपके सामने रजिस्ट्रेशन फार्म खुल जाएगा
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म में पूछे गए सभी जानकारी प्रदान करें
  • अंत में रजिस्टर के ऑप्शन पर क्लिक करें

Leave a Comment