हरियाणा परिवार पहचान पत्र 2021: meraparivar.haryana.gov.in ऑनलाइन आवेदन, लिस्ट

परिवार पहचान पत्र हरियाणा ऑनलाइन आवेदन | Haryana Parivar Pehchan Patra Application Process | परिवार पहचान पत्र हरियाणा फॉर्म | 14  डिजिट परिवार पहचान पत्र लाभार्थी सूची

सरकार द्वारा सभी वर्ग के लोगों के लिए कई सारी योजनाएं आरंभ की जाती हैं। इन योजनाओं का लाभ सभी लाभार्थियों तक पहुंचे यह सुनिश्चित करने के लिए हरियाणा सरकार ने हरियाणा परिवार पहचान पत्र का आरंभ किया है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से हरियाणा परिवार पहचान पत्र से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जैसे कि हरियाणा परिवार पहचान पत्र क्या है?, इसका उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि। तो दोस्तों यदि आप Haryana Parivar Pehchan Patra से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

Table of Contents

meraparivar.haryana.gov.in Portal

Haryana Parivar Pehchan Patra Yojana का आरंभ हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर जी के द्वारा किया गया था। इस योजना के अंतर्गत हरियाणा के प्रत्येक परिवार को 14 अंकों का विशिष्ट पहचान पत्र प्रदान किया जाएगा। जिसके माध्यम से यह सुनिश्चित किया जाएगा कि सरकार द्वारा प्रदान किए जाने वाली सभी सेवाओं और योजनाओं का लाभ हरियाणा के प्रत्येक नागरिक तक पहुंच रहा है या नहीं। यह परिवार पहचान पत्र संयुक्त तथा अलग परिवारों के लिए तैयार किया जाएगा। हरियाणा पहचान पत्र योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आपको किसी भी सरकारी कार्यालय के चक्कर काटने की जरूरत नहीं है। सरकार द्वारा एक समर्पित पोर्टल हरियाणा परिवार पहचान पत्र बनवाने के लिए आरंभ किया गया है। आप इस पोर्टल के माध्यम से घर बैठे अपना पहचान पत्र बनवाने के लिए आवेदन कर सकते हैं।

Haryana Parivar Pehchan Patra

विभिन्न योजनाओं को जोड़ा जाएगा परिवार पहचान पत्र से

15 सितंबर 2021 को हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी के द्वारा सभी विभाग अध्यक्ष को अपने-अपने विभाग की योजनाओं और सेवाओं को 1 नवंबर 2021 तक परिवार पहचान पत्र से जोड़ने के निर्देश प्रदान दिए गए हैं। इस संबंध में मुख्यमंत्री जी द्वारा एक बैठक का आयोजन भी किया गया। उनके द्वारा यह जानकारी प्रदान की गई कि यह योजना प्रदेश की महत्वाकांक्षी योजनाओं में से एक है। जिसके माध्यम से पात्र परिवारों को सभी सरकारी योजनाओं और सेवाओं का लाभ पहुंचाया जाता है।

इस योजना को अंत्योदय की भावना से आरंभ किया गया है। इस तरह की योजना बनाने वाला हरियाणा देश का पहला राज्य है। आईटी के उपयोग से विभिन्न प्रकार की सेवाओं को सरल बनाया जा रहा है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए परिवार पहचान पत्र योजना का भी शुभारंभ किया गया था। जिससे कि यह सुनिश्चित किया जा सकेगा कि प्रदेश का कौन नागरिक इस योजना का लाभ प्राप्त करने के योग्य है।

सरलता से लिया जा सकेगा कॉलेज में प्रवेश

परिवार पहचान पत्र योजना को लागू करने से यह भी सुनिश्चित किया जाएगा कि योजना का लाभ पात्र नागरिकों तक ही पहुंचे। कई बार अपात्र नागरिक भी कई योजनाओं का लाभ उठा लेते हैं। इसके अलावा सरकारी योजनाओं के कार्यान्वयन में भी पारदर्शिता आएगी। सभी सरकारी योजनाओं का लाभ स्मार्ट कार्ड से जोड़ा जाएगा और स्मार्ट कार्ड को पहचान पत्र से जोड़ा जाएगा। सबसे पहले आयुष्मान भारत, सार्वजनिक राशन वितरण प्रणाली, मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना और पेंशन योजना को स्मार्ट कार्ड से जोड़ा जाएगा।

इसके अलावा यह योजना महाविद्यालयों में छात्रों द्वारा प्रवेश लेने पर महाविद्यालयों के छात्र से संबंधित जानकारी प्रदान करेगी कॉलेज के प्राचार्य द्वारा भी इस योजना की सराहना की गई है। इस योजना के माध्यम से छात्रों के डाटा का ऑटो सत्यापन किया जा सकता है। पहले जो काम करने में 15 मिनट लगते थे वह काम 5 मिनट में पूरा हो जाएगा। छात्रों को भी सत्यापन के लिए इधर उधर जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। मुख्यमंत्री जी द्वारा यह भी बताया गया कि वर्तमान युग सूचना प्रौद्योगिकी का है।

Key Point of Haryana Parivar Pehchan Patra 2021

योजना का नाम हरियाणा परिवार पहचान पत्र
इसके द्वारा लॉन्च की गयी मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर
घोषणा की तारीक 2 जनवरी 2019
आवेदन की तिथि 25 जुलाई 2019
लाभार्थी राज्य के  54  लाख परिवार
वर्ग राज्य सरकार योजना
लक्ष्य विभिन्न नागरिक केंद्रित सेवाओं की स्वचालित डिलीवरी सुनिश्चित करना

हरियाणा परिवार पहचान पत्र नई अपडेट

एडिशनल डिप्टी कमिश्नर संपर्क सिंह द्वारा हरियाणा के सभी नागरिकों से परिवार पहचान पत्र बनवाने का निवेदन किया गया है। उन्होंने यह बताया है कि आने वाले समय में सभी सरकारी योजनाओं का लाभ उठाने के लिए हरियाणा परिवार पहचान पत्र नागरिकों के पास होना अनिवार्य है। नागरिकों से 10 दिसंबर 2020 से पहले हरियाणा परिवार पहचान पत्र बनवाने का आग्रह किया गया है। वह सभी लोग जिन्होंने अपना परिवार पहचान पत्र नहीं बनवाया है वह जल्द से जल्द परिवार पहचान पत्र बनवा लें और जिनके पास परिवार पहचान पत्र पहले से है वह अपना परिवार पहचान पत्र अपडेट करवा ले। यह कार्य सभी सीएससी केंद्रों पर मुफ्त में किया जा रहा है।

  • राज्य की कई सारी योजनाओं को हरियाणा परिवार पहचान पत्र से लिंक किया गया है। जैसे कि ओल्ड एज पेंशन योजना, विडो पेंशन योजना, फैमिली पेंशन योजना, लाडली, मैरिज शगुन योजना, राशन आवंटन आदि। आने वाले समय में हरियाणा परिवार पहचान पत्र को बीपीएल राशन कार्ड के लिए आवेदन करने के लिए, प्रधानमंत्री आवास योजना में आवेदन करने के लिए, बेरोजगारी भत्ता प्राप्त करने के लिए, सक्षम योजना में आवेदन करने के लिए और अन्य सरकारी योजनाओं में आवेदन करने के लिए एक महत्वपूर्ण दस्तावेज के रूप में इस्तेमाल किया जाएगा।
  • हरियाणा के प्रत्येक नागरिक के लिए परिवार पहचान पत्र बनवाना अनिवार्य है। एडिशनल डिप्टी कमिश्नर द्वारा सभी नागरिकों से निवेदन किया गया है कि वह जल्द से जल्द अपना Haryana Parivar Pehchan Patra अपने नजदीकी सीएससी केंद्र से अपडेट करें और सरकारी योजनाओं का लाभ उठाएं।

हरियाणा परिवार पहचान पत्र नई अपडेट

राज्य के लोगो को अब राज्य सरकार की सरकारी योजनाओ का लाभ प्राप्त करने के लिए अनेक दस्तावेज़ों को ज़रूरत नहीं होगी। अब राज्य के नागरिक इस एक ही Haryana Parivar Pehchan Patra के माध्यम से सरकार की सभी सुविधा और योजनाओ का लाभ उठा सकते है। इस पहचान पत्र में सभी परिवार सहित बाकी दस्तावेजों की एकीकृत जानकारी होगी। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये प्रदेश के सभी जिलों में इनका वितरण किया गया। प्रदेश में 56 लाख परिवारों का डाटा जुटाया गया है जिनमें 18 लाख 28 हजार परिवारों के परिवार पहचान पत्र बनाने का काम तेजी से जारी है। अगस्त के अंत तक 20 लाख परिवारों को स्मार्ट कार्ड बनाकर सौंप दिए जाएंगे। तीन महीने बाद किसी भी सरकारी योजना का लाभ उठाने के लिए परिवार पहचान पत्र अनिवार्य होगा।

Haryana Parivar Pehchan Patra Scheme 2021

परिवार पहचान पत्र  सामाजिक-आर्थिक और जाति जनगणना (SECC) -2011 के आधार पर राज्य के  लाभार्थियों को सेवाओं और योजनाओं के सभी लाभों को वितरित करेगा। इस योजना के अंतर्गत राज्य के 54 लाख परिवारों को लाभांवित (54 lakh families of the state will be benefited ) किया जायेगा । हरियाणा सरकार परिवार के विशेष पहचान पत्र में उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार परिवार की पात्रता (The eligibility address of the family as per the data available in the special identity card of the family )  का पता लगाएगी और फिर परिवार को सभी सेवाओ और योजनाओ का लाभ प्रदान करेगी। राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी Haryana Parivar Pehchan Patra बनवाना चाहते है तो उसके लिए उन्हें आवेदन करना होगी । हरियाणा परिवार पहचान पत्र के तहत लाभार्थी का पूरा ब्यौरा दर्ज होगा ।

Haryana Parivar Pehchan Patra

हरियाणा परिवार पहचान पत्र योजना का शुभारम्भ

मुख्यमंत्री मनहर लाल खट्टर जी ने 4 जुलाई 2020 मंगलवार के दिन पंचकूला में 20  परिवारों को परिवार पहचान पत्र देकर इस योजना का शुभारंभ कर दिया है। हरियाणा में सभी परिवारों का एक प्रामाणिक सत्यापित और विश्वसनीय डाटा बेस तैयार  किया जायेगा और इस परिवार पहचान पत्र से सरकार की सभी कल्याणकारी योजनाओ को जोड़ा जायेगा। जिससे राज्य के सभी परिवारों को सरकार द्वारा चलायी जा रही कल्याणकारी योजना का लाभ आसानी से मिल सके। हरियाणा परिवार पहचान पत्र योजना के अंतर्गत राज्य के नागरिको  को उनकी पात्रता के आधार पर ही  योजनाओं का लाभ स्वत: ही मिल जाएगा।

कृषि मंत्री ने 20 परिवारों को दिए परिवार पहचान पत्र

कार्यक्रम के दौरान कृषि मंत्री ने जाटू लोहारी से लाली देवी, मनोज देवी इंदीवाली, मनीषा प्रेम नगर, शकुंतला खरक कलां, सुनीता सिरसी, अनारो देवी कुंगड़, सुनेखा खरक कलां, नरेश शर्मा तिगड़ाना, मुकेश शर्मा घुसकानी, पृथ्वी सिंह भिवानी, बिमला देवराला, ममता खरक कलां, प्रेम देवी खरक कलां, पवन कुमार सूरपुरा कलां, संतोष देवी, राजवंती खरक कलां और मंजू देवी बहल को परिवार पहचान पत्र भेंट किए।कृषि मंत्री जी का कहना है कि  परिवार पहचान पत्र में परिवार की आर्थिक स्थिति या परिवार के सदस्यों की आयु, जाति, शिक्षा, रहन-सहन व संसाधनों आदि का पूरा विवरण होगा। इसी जानकारी व योग्यता के आधार पर नागरिकों को सरकारी योजनाओं का लाभ मिल सकेगा।

हरियाणा परिवार पहचान पत्र 2021 का उद्देश्य

इस परिवार पहचान पत्र के ज़रिये आप पूरे परिवार का डाटा इकठ्ठा कर सकेंगे। Haryana Parivar Pehchan Patra Scheme 2021 के अंतर्गत हरियाणा 14 अंकों के विशिष्ट पहचान पत्र का उद्देश्य नागरिक केंद्रित सेवाओं के वितरण के साथ-साथ भ्रष्टाचार को कम करने और राज्य के नकली लाभार्थी का पता लगाने में पारदर्शिता प्रदान करना है। इस योजना के ज़रिये राज्य में लगभग 54 लाख परिवारों को लाभ प्रदान करना । हरियाणा 14 डिजिट परिवार पहचान पत्र योजना 2020 के ज़रिये पात्र लाभार्थी को सभी सेवाओं और योजनाओं की स्वचालित डिलीवरी सुनिश्चित करना है।

परिवार पहचान पत्र अप्लाई

हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने राज्य में प्रत्येक परिवार को विशिष्ट पहचान प्रदान करने के लिए परिवार पहचान पत्र पोर्टल (meraparivar.haryana.gov.in) लॉन्च किया है। यह पोर्टल सूचना प्रौद्योगिकी का उपयोग करके लोगों को पारदर्शी और आसान तरीके से सरकारी योजनाओं का लाभ प्रदान करने की सुविधा प्रदान करेगा।इस ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से राज्य के लोग परिवार पहचान पत्र बनाने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। स्थानांतरित कर दिया जाता। विकलांगता पेंशन योजना, वृद्धावस्था सम्मान भत्ता और विधवा पेंशन योजना जैसी तीन सेवाओं को परिहार पेचन पत्र (पीपीपी) पोर्टल पर एकीकृत किया गया है।

हरियाणा 14 डिजिट परिवार पहचान पत्र

24 जुलाई 2019 को हाल की बैठक में, जिला कोषालय अधिकारी राजबीर सिंह साहू ने कहा कि हरियाणा सरकार ने सभी स्थायी और अनुबंध आधारित श्रमिकों के लिए एक अधिसूचना जारी की है। इस निर्देश के अंतर्गत , हरियाणा सरकार ने 29 जुलाई 2019 तक अद्वितीय पहचान पत्र बनाने के लिए अपने परिवार के पहचान दस्तावेज प्रस्तुत करने के लिए श्रमिकों को स्पष्ट रूप से एक समय सीमा प्रदान की है । 25 जुलाई 2019 को मुख्यमंत्री जी ने चंडीगढ़ में 14 डिजिट परिवार पहचान पत्र की Official Website को लॉन्च किया। इस Official Website  पर आपको प्रत्येक विवरण जैसे आवेदन पत्र चयनित उम्मीदवार सूची और पंजीकरण प्रक्रिया मिलेगी।

हरियाणा परिवार पहचान पत्र के मुख्य तथ्य

  • हरियाणा परिवार पहचान पत्र में 14 अंक में यूनिक आईडी नंबर होगा।
  • इस कार्ड में लाभार्थी का मोबाइल नंबर भी होगा।
  • सफलतापूर्वक पंजीकरण के बाद हरियाणा परिवार पहचान पत्र प्रत्येक परिवार को प्रदान किया जाएगा।
  • कार्ड के ऊपर फैमिली के हेड का नाम लिखा होगा।
  • हरियाणा परिवार पहचान पत्र पर परिवार से संबंधित अन्य जानकारी भी होगी।
  • पंजीकरण के बाद रजिस्ट्रेशन आईडी तथा पासवर्ड प्रत्येक परिवार को प्रदान किया जाएगा।
  • यदि परिवार को अपनी फैमिली डिटेल्स देखनी है तो उन्हें लॉगइन क्रैडेंशियल्स दर्ज करने होंगे।
  • परिवार पहचान पत्र पर फैमिली डिटेल अपडेट भी की जा सकती हैं।
  • परिवार पहचान पत्र के माध्यम से अधिकारियों द्वारा किसी भी योजना के लाभार्थियों की पहचान की जा सकती है।
  • हरियाणा परिवार पहचान पत्र के माध्यम से पेंशन भी प्राप्त की जा सकती है।
  • इस योजना के अंतर्गत प्रत्येक फैमिली को मॉनिटर किया जाएगा जिससे कि सही लाभार्थी तक स्कीम का लाभ पहुंचाया जा सके।
  • इस योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए सॉफ्टवेयर बनाया गया है। इस सॉफ्टवेयर के माध्यम से लाभार्थियों की पात्रता चेक की जा सकती है।
  • यदि परिवार में किसी का जन्म होता है या फिर किसी की मृत्यु होती है तो उन्हें सर्टिफिकेट के लिए अप्लाई करने की आवश्यकता नहीं है। इस सॉफ्टवेयर के माध्यम से यह जानकारी खुद अपडेट हो जाती है।
  • हरियाणा में किसी भी सरकारी योजना का लाभ उठाने के लिए परिवार पहचान पत्र होना अनिवार्य है।

Parivar Pehchan Patra Yojana Haryana 2021 के लाभ

  • प्रत्येक  परिवार को परिवार पहचान कार्ड में एक यूनिक नंबर दिया जायेगा जो कि 14 अंको का  नंबर है । जो  हर परिवार के लिए यूनिक है।
  • राज्य के  लगभग 54 लाख परिवारों को इस योजना का लाभ मिलेगा।
  • इस परिवार पहचान पत्र के ज़रिये स्कूल कॉलेजो में एडमिशन लेने में सहायता मिलेगी और सरकारी और निजी नौकरियों को प्राप्त करने में भी सहायक मिलेगी ।
  • Parivar Pehchan Patra Yojana Haryana के ज़रिये भष्टाचार में कमी आएगी ।
  • इस पोर्टल के माध्यम से पंजीकरण प्रक्रिया को गति मिलेगी। इस पोर्टल पर सभी लाभार्थियों का डाटा अपलोड किया जाएगा जिसके माध्यम से उन्हें सभी सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाया जाएगा।
  • वे परिवार जिनका नाम सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना या SECC डेटा सूची में पंजीकृत हैं, वे भी परिवार पहचान पत्र के लिए नामांकन फॉर्म भर सकते है |
  • परिवार पहचान पत्र कार्ड के द्वारा यह भी जानकारी मिलेगी परिवार किस क्षेत्र में रहता है | सरकार हर क्षेत्र के लिए अलग कोड बनाएगी. शहर एवं गाँव के लिए अलग कोड होगा |

Haryana Parivar Pehchan Patra के दस्तावेज़ (पात्रता )

  • आवेदक हरियाणा का स्थायी निवासी होना चाहिए ।
  • आधार कार्ड
  • परिवार के  पहचान दस्तावेज़
  • विवाहित स्थिति
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

दस्तावेज सत्यापन में परिवार पहचान पत्र

इस योजना के तहत राज्य सरकार अटल सेवा केंद्र, सरल केंद्रों, तहसील और पंचायत कार्यालय, ब्लॉकों, गैस एजेंसियों, स्कूलों, कॉलेजों, अन्य सरकारी और अर्द्ध सरकारी शैक्षणिक संस्थानों में प्रमाणीकरण के लिए विभिन्न जिले में केंद्र स्थापित करेगी। प्रत्येक जिले में सरकार 54 लाख लाभार्थी डेटा को सत्यापित करने के लिए 500 केंद्र स्थापित करेगी। इन स्थानों पर, राज्य के मूल निवासी आसानी से अपने परिवार के विवरण को सत्यापित और अद्यतन कर सकते है।

परिवार पहचान पत्र के लिए नामांकन की आवश्यकता

  • स्थाई परिवार:– वे सभी परिवार जो स्थाई रूप से हरियाणा में रह रहे हैं। उन्हें हरियाणा परिवार पहचान पत्र बनवाना अनिवार्य है। सभी स्थाई परिवारों को एक परमानेंट 8 अंकों की पारिवारिक आईडी जारी की जाएगी।
  • अस्थाई परिवार:– वे सभी परिवार जो हरियाणा के बाहर रह रहे हैं। लेकिन राज्य की किसी सेवा या योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं। उनको भी परिवार पहचान पत्र बनवाना अनिवार्य है। सभी अस्थाई परिवारों को 9 अंकों की पारिवारिक आईडी जारी की जाएगी।

परिवार पहचान पत्र में नामांकन करने के चैनल

परिवार पहचान पत्र आईडी प्राप्त करने के लिए 3 चैनलों के माध्यम से आवेदन किया जा सकता है। आवेदन करने के लिए आपको किसी भी आवेदन शुल्क भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है। परिवार पहचान पत्र में नामांकन करने के 3 चैनल कुछ इस प्रकार है।

  • सीएससी वीएलई:– ग्राम स्तर उद्यमियों द्वारा प्रबंधित कॉमन सर्विस सेंटर के माध्यम से हरियाणा परिवार पहचान पत्र के लिए आवेदन किया जा सकता है।
  • सरल केंद्र:– राज्य सरकार के अंत्योदय सरल केंद्र के माध्यम से हरियाणा परिवार पहचान पत्र के लिए आवेदन किया जा सकता है।
  • पीपीपी ऑपरेटर:– राज्य के सभी पीपीपी काम के लिए पंजीकृत ऑपरेटर के माध्यम से भी इस योजना के अंतर्गत आवेदन किया जा सकता है।

परिवार पहचान पत्र लाभार्थी सूची कैसे देखे?

  • राज्य के इच्छुक लाभार्थी परिवार पहचान पत्र सूची में अपने परिवार का नाम देखना चाहते है तो उन्हें  सामाजिक आर्थिक और जाति जनगणना (SECC -11 ) वमे अपनी स्थिति की जांच करनी होगी ।
  • यदि आपके परिवार का नाम सामाजिक आर्थिक और जाति जनगणना (SECC -11 ) है तो उन्हें इस योजना के तहत शामिल किया जायेगा ।यदि आप अपने परिवार का नाम SECC-2011 सूची के तहत नहीं हॉट है  तो आपको इस योजना का लाभ उठाने के लिए ऊपर दी गयी प्रक्रिया का पालन करना होगा।
  • इसके बाद, आप हरियाणा 14 डिजिट के परिवार पहचान पत्र का लाभ उठा सकते हो।

हरियाणा परिवार पहचान पत्र के लिए आवेदन कैसे करे?

  • राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी हरियाणा परिवार पहचान पत्र बनवाने के लिए आवेदन करना चाहते है तो उन्हें  एसडीएम कार्यालय, तहसील, ब्लॉक कार्यालय, स्कूलों, राशन डिपो, गैस एजेंसियों आदि में जाकर परिवार पहचान पत्र का फॉर्म प्राप्त करना होगा ।
हरियाणा परिवार पहचान पत्र
  • इसके बाद आवेदन फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे नाम ,पता ,आधार नंबर आदि भरनी होगी । सभी जानकारी भरने के बाद आपको आवेदन फॉर्म  के साथ अपने और अपने परिवार के सभी दस्तावेज़ों को अटैच करना होगा ।
  • फिर उसी कार्यालय में जमा करें जहां से आपके आवेदन फॉर्म लिया है । इस तरह आप इस योजना के तहत आवेदन कर सकते है ।

परिवार पहचान पत्र आवेदन फॉर्म डाउनलोड

परिवार पहचान पत्र योजना में ऑनलाइन आवेदन कैसे करे ?

  • सर्वप्रथम आवेदक को परिवार पहचान पत्र योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।  ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
हरियाणा परिवार पहचान पत्र
  • इस पोर्टल पर राज्य के लोग लोग देख सकते हैं कि विकलांगता, विधवा, वृद्धावस्था पेंशन योजनाओं के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया कैसे लागू की जाए। इसके अनुसार, CSCs के ऑपरेटर फिर पेंशन योजनाओं के आवेदन फॉर्म ऑनलाइन भर सकते हैं।
  • इन परिवार पहचान पत्र योजना रूपों को संबंधित चित्रण द्वारा अद्यतन किया जाएगा। अपडेट करने के बाद, व्यक्ति को दो प्रिंट-आउट निकालने की अनुमति होगी।

Parivar Pehchan Patra अपडेट कैसे करें ?

  • सबसे पहले आपको योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
हरियाणा परिवार पहचान पत्र
  • इस होम पेज पर आपको Update Family Details का ऑप्शन दिखाई देगा आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
हरियाणा परिवार पहचान पत्र
  • इस पेज पर अगर आपके पास अपनी 8 अंकों या पूर्व में जारी 12 अंकों की फ़ैमिली आईडी है तो “YES” पर क्लिक करना होगा  और अपना आधार नंबर डालकर आगे बढ़ें।
हरियाणा परिवार पहचान पत्र
  • अब आपको अपनी 8 अंक (या पूर्व में जारी 12 अंक) की फैमिली आईडी दर्ज करनी होगी। फैमिली आईडी दर्ज करने के बाद परिवार के मुखिया के मोबाइल नम्बर पर एक ओटीपी (वन टाइम पासवर्ड) प्राप्त होगा। यह यह मोबाइल नम्बर होगा जो पीपीपी डेटाबेस में पहले से ही संग्रहित है।
  • अगर आप अपनी फॅमिली आईडी भूल गए हैं तो “Forgot Family ID” के बटन पर क्लिक करें और परिवार के मुखिया का आधार नंबर डालकर ओटीपी Verify करें। अधिक जानकारी के लिए नीचे दिये गए चित्रों की मदद लें।
हरियाणा परिवार पहचान पत्र
  • सही ओटीपी दर्ज करने उपरांत पीपीपी पृष्ठ पर बिन्दु न. 02 के तहत दर्ज की गई फैमिली आईडी में पंजीकृत परिवार के सभी सदस्यों का डेटा दिखाई देगा।
  • अगर आपको पहले से शामिल सदस्य की जानकारी अपडेट करनी है तो सदस्य के नाम के सामने “MEMBER DETAILS” के बटन पर क्लिक करें और यदि आपको नया फॅमिली मेम्बर जोड़ना है तो “Add Member” के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद मेम्बर डिटेल्स फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी भरें और इसे प्रिंट करके इस पर नए सदस्य के हस्ताक्षर करवाएँ और फिर इसे स्कैन / फोटो लेकर अपलोड करें।
  • सभी जानकारी भरने के बाद फॉर्म SUBMIT करें। पीपीपी पोर्टल पर जानकारी अपडेट करने या नया सदस्य जोड़ने पर परिवार के मुखिया के मोबाइल नंबर पर SMS के द्वारा जानकारी पहुंचाई जाएगी।

हरियाणा परिवार पहचान पत्र ऑपरेटर लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको हरियाणा परिवार पहचान पत्र की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको ऑपरेटर लॉगइन के लिंक पर क्लिक करना होगा।
परिवार पहचान पत्र ऑपरेटर लॉगइन
  • अब आपके सामने लॉगइन पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको यूजरनेम, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • अब आपको लॉगिन के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप लॉगिन कर पाएंगे।

पब्लिकेशन देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको परिवार पहचान पत्र, हरियाणा की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको पब्लिकेशन के लिंक पर क्लिक करना होगा।
परिवार पहचान पत्र
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें पब्लिकेशन की सूची होगी।
  • आपको अपनी आवश्यकतानुसार लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे आपके सामने पब्लिकेशन खुलकर आ जाएगी।
  • यदि आप इसे डाउनलोड करना चाहते हैं तो आपको डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।

परिवार पहचान पत्र में संशोधन करने की प्रक्रिया

परिवार पहचान पत्र में नीचे दिए गए दो माध्यमों से संशोधन किया जा सकता है:–

  • सेल्फ अपडेट मोड:– नागरिकों द्वारा मेरा परिवार पोर्टल के माध्यम से परिवार पहचान पत्र में संशोधन किया जा सकता है। इसके लिए आपको अपडेट परिवार विवरण टैब का उपयोग करना होगा। इसके पश्चात आपको अपनी परिवार आईडी दर्ज करनी होगी। अब आपको परिवार के मुखिया के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आया ओटीपी को ओटीपी बॉक्स में दर्ज करना होगा। इसके बाद आप परिवार पहचान पत्र में संशोधन कर पाएंगे।
  • असिस्टेंट मोड:– नागरिकों द्वारा अपने परिवार पहचान पत्र में संशोधन नजदीकी सीएससी, सरल या फिर पीपीपी ऑपरेटर के द्वारा भी करवाया जा सकता है। इसके लिए नजदीकी सीएससी, सरल या फिर पीपीपी ऑपरेटर को सभी महत्वपूर्ण जानकारी देनी होगी। जिसके पश्चात ऑपरेटर द्वारा पहचान पत्र में संशोधन किया जाएगा।

Note: वर्तमान समय में नागरिकों को पीपीपी आईडी डिटेल सेल्फ अपडेट मॉड्यूल से अपडेट करने की अनुमति नहीं है। इस मोड के माध्यम से नई पीपीपी आईडी बनाना भी उपलब्ध नहीं है।

परिवार पहचान पत्र संशोधन करने की संख्या

नागरिक द्वारा परिवार पहचान पत्र में किसी भी समय संशोधन किया जा सकता है। लेकिन इसके लिए सरकार द्वारा कुछ शर्तें निर्धारित की गई है जो कि कुछ इस प्रकार है।

  • विभाग द्वारा समय-समय पर विभिन्न स्रोतों के माध्यम से सत्यापन किया जाता है। यह सत्यापन आवश्यक रूप से किया जाता है। इसके लिए विभाग द्वारा परिवार के द्वारा प्रदान किए गए डाटा की पुष्टि की जाती है। यह सत्यापन पूरा होने के बाद परिवार के द्वारा प्रदान किए गए डाटा को सत्यापित माना जाता है। वह सभी जानकारी जो पहले से विभाग द्वारा सत्यापित की गई है उनमें कोई संशोधन नहीं किया जा सकता है।
  • नागरिक द्वारा हस्ताक्षर करने एवं पोर्टल पर पीपीपी दस्तावेज अपलोड करने के बाद सिर्फ एक बार ही संशोधन किया जा सकता है।

हेल्पलाइन नंबर

1800-2000-023

Leave a Comment