दिल्ली पानी बिल माफी योजना 2024: वन टाइम सेटलमेंट स्कीम से पानी का बिल होगा जीरो

Delhi Pani Bill Mafi Yojana:- दिल्ली सरकार द्वारा पानी के गलत बिल को ठीक करने के लिए एक नई योजना शुरू की जा रही है। जिसके लिए सीएम अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली की जनता को बड़ी खुशखबरी देते हुए कहा है कि कई लोगों के पानी के मीटर के बिल ज्यादा आ रहे हैं, कई मीटर की रीडिंग नहीं हो पा रही है, मीटर रीडर ने गलत रीडिंग भर दी है या गलत बिल लोगों के पास गए। ऐसे सभी लोगों के बिल ठीक किए जाएंगे। इसके लिए दिल्ली पानी बिल माफी योजना का शुभारंभ किया जा रहा है। जिसे वन टाइम सेटेलमेंट योजना का नाम भी दिया गया है। दिल्ली पानी बिल माफी योजना के माध्यम से 11 लाख से अधिक उपभोक्ताओं को फायदा मिलेगा। अगर आप भी दिल्ली के नागरिक हैं और वन टाइम सेटेलमेंट योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको यह आर्टिकल विस्तारपूर्वक अंत तक पढ़ना होगा। क्योंकि आज हम आपको इस  आर्टिकल के माध्यम से दिल्ली पानी बिल माफी योजना से संबंधित संपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराएंगे।

Delhi Pani Bill Mafi Yojana 2023

Delhi Pani Bill Mafi Yojana 2024

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी के द्वारा 13 जून 2023 को पानी के गलत बिलों को ठीक करने के लिए वन टाइम सेटेलमेंट योजना का ऐलान किया गया है। दिल्ली पानी बिल माफी योजना के तहत जिनके बिल में कोई गलती है या गलत मीटर रीडिंग हुई है ऐसे सभी लोगों के बिलों को ठीक किया जाएगा। यह योजना 1 अगस्त 2023 से आरंभ की जाएगी। जिसे 3 महीने के लिए लागू किया जाएगा। वन टाइम सेटेलमेंट योजना के माध्यम से दिल्ली के करीब 11.7 लाख उपभोक्ताओं को इस योजना के माध्यम से लाभान्वित किया जाएगा। जिसमें से 20 हजार लीटर मुफ्त पानी का उपयोग करने वाले उपभोक्ता शामिल होंगे और बिल ठीक होने के बाद करीब 7 लाख उपभोक्ताओं के बिल जीरो हो जाएंगे। उपभोक्ताओं को इसके लिए बोर्ड के ऑफिस जाने के सकता नहीं होगी। मीटर रीडिंग के सिलसिले को खत्म करने के लिए सरकार द्वारा कई कदम उठाए जाएंगे।

दिल्ली फ्री बिजली योजना 

दिल्ली पानी बिल माफी योजना के बारे में जानकारी

योजना का नाम  Delhi Pani Bill Mafi Yojana
शुरू की गईदिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के द्वारा  
योजना का शुभारंभ  1 अगस्त 2023 से
लागू  की जाएगी  3 महीने के लिए
लाभार्थी  दिल्ली के नागरिक  
उद्देश्यपानी के गलत बिलों को ठीक करना  
राज्य  दिल्ली
साल  2024

वन टाइम सेटेलमेंट योजना के अंतर्गत दिल्ली के 11.7 लाख उपभोक्ताओं को मिलेगी राहत

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि दिल्ली में लोगों के पानी के बिल ज्यादा गलत आए हैं। क्योंकि करोना काल के दौरान लोगों के मीटर की रीडिंग नहीं हो पाई थी। जिसके कारण कई मीटर रीडर्स द्वारा गलत मीटर रीडिंग भरी कई लोगों के गलत बिल बने। और बताया कि दिल्ली में करीब 27 लाख पानी के उपभोक्ता है जोकि डोमेस्टिक मीटर है। इनमें से लगभग 11.7 लाख उपभोक्ताओं के बिल में एरियर्स जुड़े हैं। यह लोग किसी न किसी कारण से बिल नहीं भर रहे। वे लोग इन पानी के बिल को लेकर परेशान है।

सीएम केजरीवाल ने कहा कि पानी बिल का 5637 करोड़ रुपए का बकाया है जिसके लिए लोग विधायक और जल बोर्ड के चक्कर काट रहे हैं। और बिल इन सभी कारणों से बढ़ता जा रहा है। इन सभी दिलों को ठीक करना मुमकिन नहीं था इसलिए One Time Settelment Yojana लाई गई है। अगर 3 महीनों में नए बिल के हिसाब से उपभोक्ता बिल भरता है तो वह इस योजना का लाभ उठा सकेगा। वरना 3 महीने बाद पुराने वाले बिल के हिसाब से उपभोक्ताओं को बिल देना होगा।

दिल्ली रोजगार मेला

बकाया बिल को दो श्रेणियों में बांटा गया

Delhi Pani Bill Mafi Yojana के तहत लोगों को लाभ प्रदान करने हेतु बकाया बिलों को दो श्रेणियों में बांटा गया है।

  1. प्रथम श्रेणी

जिन लोगों के दो या दो से ज्यादा ज्यादा मीटर रीडिंग सही है। और मीटर रीडर ने उपभोक्ता के घर जाकर वास्तविक रीडिंग ली है तथा उपभोक्ता संतुष्ट है। जिन उपभोक्ताओं के 2 मीटर रीडिंग है तो दोनों का एवरेज ले लिया जाएगा। अगर दो से ज्यादा रीडिंग है तो बीच वाली मीटर रीडिंग का औसत लिया जाएगा। मगर इसकी अगली रीडिंग डबल से ज्यादा है तो माना जाएगा कि रीडिंग गलत ली गई है। इसके बाद उपभोक्ता के द्वारा जितने महीने का बिल नहीं भरा गया होगा। उनके हर महीने के बिल में औसत बिल को डाल दिया जाएगा और उसी हिसाब से नया बिल बनाकर भेजा जाएगा।

  • दूसरी श्रेणी

 दूसरी श्रेणी में जिन लोगों की कोई औसत रीडिंग मौजूद नहीं है। तो उनके पड़ोसियों का बिल देखा जाएगा क्योंकि उपभोक्ता जिस इलाके में रहता है और उसका 300, 200 या 100 गज का मकान है तो उस एरिया में उसी आकार के जितने घर हो गए उनकी मीटर रीडिंग का औसत निकाला जाएगा उसी के हिसाब से उपभोक्ता के पानी का बिल बना दिया जाएगा। 

पानी के प्रोडक्शन को 1300 एमजीडी तक ले जाना है।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि जब हम सरकार में आए थे तब 850 एमजीडी पानी दिल्ली में उत्पन्न होता था। जिसे हमने 1000 तक पहुंचा है। सरकार का लक्ष्य इससे करीब 1300 MGD तक ले जाना है। इसके लिए बड़ी योजना चलाई जा रही है। जहां नेचुरल रिचार्ज होता है। जिससे पानी की कमी दूर की जाएगी। खासकर यमुना का फ्लैट प्लान, यहां पानी का बड़े स्तर पर ट्यूबवेल लगा रहे हैं। शिविर को ट्रीट करके एसटी में जो पानी निकलता है उसे अभी यमुना में बहाया जाता है। अब इन 35 प्लांट से साफ हुए पानी को कृत्रिम झीलों में डाला जाएगा। जब पानी का लेवल काफी बढ़ेगा तो ट्यूबवेल खोदेंगे और वहां के पानी को निकालकर आरओ से साफ करेंगे और सप्लाई करेंगे। इस प्रकार छोटे-छोटे ट्यूबवेल की जरूरत नहीं पड़ेगी और एक डेढ़ साल में दिल्ली में पानी की कमी नहीं होगी। 

Delhi Berojgari Bhatta

Delhi Pani Bill Mafi Yojana के लिए पात्रता

  • दिल्ली पानी बिल माफी योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए उम्मीदवार को दिल्ली का मूल निवासी होना चाहिए।
  • उम्मीदवार को इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए 3 महीनों में नए बिल के हिसाब से पानी का बिल भरना होगा।

Leave a Comment