यूपी मुख्यमंत्री शिक्षुता प्रोत्साहन योजना 2024: आवेदन प्रक्रिया, लाभ एवं पात्रता

CM Apprenticeship Promotion Scheme:- उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के युवाओं को रोजगार से जोड़ने के लिए मुख्यमंत्री शिक्षुता प्रोत्साहन योजना को शुरू किया गया है। डिप्लोमा के साथ-साथ सभी विधाओं के स्नातक डिग्री धारकों को भी मुख्यमंत्री शिक्षुता प्रोत्साहन योजना के माध्यम से कौशल विकास के साथ रोजगार से जोड़ने के लिए बड़ी पहल की गई है। मंगलवार को कैबिनेट ने Mukhyamantri Shikshuta Protsahan Yojana का विस्तार करते हुए सभी ग्रेजुएट युवाओं को भी इस योजना में जोड़ने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी हैं। साथ ही इसमें स्टाइपेंड की राशि को बढ़ाकर प्रतिमाह 9,000 रुपए कर दिया गया है। इस योजना का लाभ अब राज्य के सभी शिक्षित युवाओं को दिया जाएगा। अगर आप भी उत्तर प्रदेश के निवासी है। और यूपी मुख्यमंत्री शिक्षुता प्रोत्साहन योजना के तहत आवेदन कर लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको यह आर्टिकल विस्तार पूर्वक अंत तक पढ़ना होगा।

CM Apprenticeship Promotion Scheme 2023

CM Apprenticeship Promotion Scheme 2024

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा शिक्षित युवाओं के कल्याण हेतु मुख्यमंत्री शिक्षुता प्रोत्साहन योजना को शुरू किया गया है। Mukhyamantri Shikshuta Protsahan Yojana एक ऐसी योजना है। जिसमें राज्य के नौजवानों को विभिन्न तकनीकी संस्थान और उद्योगों से जोड़ा जाएगा। इसके लिए युवाओं को इस योजना के अंतर्गत ट्रेनिंग दी जाएगी। ट्रेनिंग पूरी होने के बाद युवाओं को रोजगार के अवसर भी प्रदान किए जाएंगे। अब इस योजना में अभियांत्रिकी व तकनीकी क्षेत्र के डिप्लोमा व डिग्री धारकों को अप्रेंटिसशिप करने पर मानदेय के रूप में 9,000 रुपए की राशि हर महीने मुहैया कराई जाएगी।

मुख्यमंत्री शिक्षुता प्रोत्साहन योजना का लाभ अभी तक अभियांत्रिकी व तकनीकी क्षेत्र के डिप्लोमा और डिग्री धारकों को ही मिल रहा था। लेकिन अब इस योजना का लाभ विश्वविद्यालय में डिग्री कॉलेज में किसी भी संकाय के डिप्लोमा डिग्री धारकों को दिया जाएगा इस योजना का लाभ बीए, बीएससी, बीकॉम इत्यादि डिग्री और डिप्लोमा धारक युवा भी उठा सकेंगे। वर्ष 2023 24 में इस योजना के तहत 100 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।

युवा साथी पोर्टल

यूपी मुख्यमंत्री शिक्षुता प्रोत्साहन योजना 2024 के बारे में जानकारी

योजना का नाम  CM Apprenticeship Promotion Scheme
शुरू की गई  उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा
संबंधित विभाग  व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विभाग उत्तर प्रदेश
लाभार्थी  राज्य के 10वीं 12वीं और ग्रेजुएशन करने वाले युवा
उद्देश्य  रोजगार से जोड़ना
मानदेय राशि  9,000  रुपए  हर महीने
लाभ  इंटर्नशिप पूरी होने के बाद रोजगार के अवसर
राज्य  उत्तर प्रदेश
साल  2024
आवेदन प्रक्रियाऑफलाइन  

Mukhyamantri Shikshuta Protsahan Yojana का उद्देश्य

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री शिक्षुता  प्रोत्साहन योजना का मुख्य उद्देश्य सभी शिक्षित युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने हेतु ट्रेनिंग प्रदान करना है। जिसके माध्यम से युवाओं का कौशल विकास होगा। इस योजना के तहत युवाओं को प्रशिक्षण के साथ ही हर महीने 9,000 रुपए  दिए जाएंगे। यह मानदेय राशि हर महीने लाभार्थी के बैंक खाते में भेजी जाएगी। जिसका उपयोग कर युवा अपनी आवश्यकताओं को पूरा कर सकेंगे और उन्हें किसी दूसरे पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा। यह योजना युवाओं को सशक्त एवं आत्मनिर्भर बनाने में कारगर साबित होगी।

10 लाख युवाओं को मिलेगा लाभ

मुख्यमंत्री शिक्षुता प्रोत्साहन योजना का लाभ वित्तीय वर्ष 2023-24 के तहत 10 लाख युवाओं को लाभान्वित किया जाएगा। जिसके लिए गैर तकनीकी डिप्लोमा व डिग्री धारकों को इस योजना का लाभ दिए जाने के लिए युवाओं को राहत देने हेतु 100 करोड़ रुपए के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई है। इस राशि के माध्यम से राज्य के 10 लाख युवाओं को लाभ मिलेगा।

1 साल तक मिलेगा लाभ

इस योजना के तहत पात्र लाभार्थियों को निजी कंपनियों व अधिष्ठानों में अप्रेंटिसशिप करने पर युवा को दी जाने वाली मानदेय  की कुल राशि में से हर महीने 1,000 रुपए की प्रतिपूर्ति राज्य सरकार द्वारा की जाएगी। राज्य सरकार द्वारा हर महीने 1,000 रुपए  की सहायता 1 वर्ष के लिए युवाओं को दी जाएगी। जिसके लिए राज्य सरकार ने वित्तीय वर्ष 2023-24 के बजट में इस योजना के लिए 100 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। जिससे युवाओं को 1 साल के लिए लाभान्वित किया जा सकेगा।

उत्तर प्रदेश रोजगार मेला 

हर महीने मिलेंगे 9 हजार रुपए

इस योजना की जानकारी देते हुए वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने बताया है कि इस योजना के तहत स्नातक पास युवाओं को मानदेय के रूप में हर महीने 9,000 रुपए मिलेंगे। जिसमें से 50% हिस्सा केंद्र सरकार का होगा यानी 4500 रुपए केंद्र सरकार द्वारा दिए जाएंगे जबकि 3500 रुपए उन संस्थाओं द्वारा दिए जाएंगे जिनके यहां ट्रेनिंग कराई जाएगी। बाकी बचे 1,000 रुपए राज्य सरकार की ओर से दिए जाएंगे। इस योजना के तहत उत्तर प्रदेश सरकार युवाओं की रुचि बढ़ाने के लिए अपनी तरफ से हर महीने 1,000 रुपए की राशि देगी।

निजी कंपनियों को बड़ी राहत बढ़ेंगे रोजगार के अवसर

नेशनल अप्रेंटिसशिप ट्रेंनिंग स्कीम के तहत ट्रेनिंग के दौरान लाभार्थियों को मानदेय की धनराशि केंद्र सरकार और निजी कंपनियों द्वारा दी जाती है लेकिन अब यूपी सरकार द्वारा 1,000 रुपए हर महीने दिए जाने से निजी कंपनी को बड़ी राहत मिलेगी। उनका बोझ कम होगा और यह अतिरिक्त आर्थिक सहायता राज्य सरकार की ओर से दिए जाने से निजी संस्थान बड़ी संख्या में युवाओं को अप्रेंटिसशिप करने के लिए प्रोत्साहित होंगे। साथ ही युवाओं को 1 वर्ष तक रोजगार मिल सकेगा जबकि निजी व शासकीय संस्थानों को कुशल कार्मिक मिलेंगे। जिससे उनके कुशल व दक्ष मानव संसाधन तैयार हो सकेंगे।

UP CM Apprenticeship Promotion Scheme 2024 के लाभ एवं विशेषताएं

  • मुख्यमंत्री शिक्षुता  प्रोत्साहन योजना का लाभ अब डिप्लोमा के साथ-साथ सभी विधाओं के स्नातक डिग्री धारकों को भी दिया जाएगा।
  • इस योजना का विस्तार करते हुए सभी ग्रेजुएट युवाओं को भी योजना के अंतर्गत जोड़ा जाएगा।
  • यह योजना युवाओं को ट्रेनिंग प्रदान कर तय अवधि के रोजगार से जोड़ने के लिए शुरू की गई है।
  • राज्य के युवाओं को उद्योगों में प्रशिक्षण के साथ हर महीने स्टाइपेंड दिया जाएगा।
  • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा स्टाइपेंड की राशि बढ़ाकर हर महीने 9,000 रुपए कर दी गई है।
  • युवाओं को इंटर्नशिप पूरी होने के बाद रोजगार के अवसर भी प्रदान किए जाएंगे।
  • मुख्यमंत्री शिक्षुता  प्रोत्साहन योजना के तहत राज्य सरकार की ओर से निजी क्षेत्र को 1,000 रुपए की प्रतिपूर्ति की जाएगी। बाकी शेष राशि केंद्र सरकार एवं निजी क्षेत्र द्वारा उपलब्ध कराई जाएगी।
  • वित्तीय वर्ष 2023-24 के बजट में राज्य सरकार ने इस योजना के लिए 100 करोड़ रुपए का प्रावधान रखा है।
  • इस वर्ष 10 लाख युवा इस योजना के माध्यम से लाभान्वित हो सकेंगे।
  • यह योजना राज्य के डिप्लोमा एवं सभी विधाओं में स्नातक युवाओं  को नेशनल अप्रेंटिसशिप ट्रेंनिंग स्कीम का लाभ दिलाने के लिए निजी संस्थाओं को प्रोत्साहित करेगी।
  • इस योजना के माध्यम से शिक्षित युवाओं को कौशल प्रशिक्षण के साथ ही हर महीने निर्धारित राशि मिल सकेगी।
  • यह योजना न  केवल युवाओं को ट्रेनिंग देगी बल्कि रोजगार के अवसर भी उपलब्ध कराएगी।

मुख्यमंत्री शिक्षुता प्रोत्साहन योजना के लिए पात्रता

  • आवेदक को उत्तर प्रदेश का मूल निवासी चाहिए।
  • इस योजना के तहत आवेदन करने हेतु 10वीं 12वीं पास कर चुके छात्र छात्राएं पात्र होंगे।
  • कॉलेज/विश्वविद्यालय  में पढ़ाई करने वाले छात्र छात्राएं आवेदन करने के लिए पात्र होंगे।
  • उम्मीदवार की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए। 
  • आईटी पास, इंजीनियरिंग, PHD एवं डिप्लोमा धारक युवा भी इस योजना के लिए पात्र होंगे।
  • आवेदक का बैंक खाता आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए।
  • इस योजना के तहत आवेदन करने हेतु उम्मीदवार को बेरोजगार होना चाहिए।

यूपी नि:शुल्क ओ लेवल कंप्यूटर प्रशिक्षण योजना

CM Apprenticeship Promotion Scheme के लिए आवश्यक दस्तावेज

मुख्यमंत्री शिक्षुता प्रोत्साहन योजना के तहत आवेदन करने हेतु उम्मीदवार के पास निम्नलिखित दस्तावेजों का होना आवश्यक है। जिसके आधार पर ही आप इस योजना का लाभ लेने हेतु आवेदन कर सकेंगे।

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आयु  प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • 10वीं 12वीं की मार्कशीट
  • ग्रेजुएशन मार्कशीट
  • बैंक खाता विवरण
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो 

यूपी मुख्यमंत्री शिक्षुता प्रोत्साहन योजना के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया

  • इस योजना के तहत आवेदन करने हेतु सबसे पहले आपको व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विभाग जाना होगा।
  • वहां जाकर आपको संबंधित अधिकारी से मुख्यमंत्री शिक्षुता प्रोत्साहन योजना  का आवेदन फार्म प्राप्त करना होगा।
  • आवेदन फार्म प्राप्त करने के बाद आपको उसमें पूछे गए सभी आवश्यक जानकारी को ध्यानपूर्वक दर्ज करना होगा।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको आवेदन फार्म में मांगे गए जरूरी दस्तावेजों को संलग्न करना होगा।
  • इसके बाद आपको यह आवेदन फॉर्म वापस वहीं जमा कर देना होगा जहां से अपने प्राप्त किया था।
  • आवेदन फार्म जमा होने के बाद संबंधित अधिकारी द्वारा उसकी जांच की जाएगी।
  • आवेदन फार्म के सत्यापित होने पर आपको योजना का लाभ मिलना शुरू हो जाएगा।
  • इस प्रकार आप आसानी से मुख्यमंत्री शिक्षुता  प्रोत्साहन योजना के तहत आवेदन कर सकते हैं। 

CM Apprenticeship Promotion Scheme FAQs

मुख्यमंत्री शिक्षुता प्रोत्साहन योजना  क्या है?

CM Apprenticeship Promotion Scheme के तहत राज्य के युवाओं को रोजगार से जोड़ने के लिए ट्रेनिंग दी जाती है। और ट्रेनिंग के दौरान निर्धारित मानदेय भी दिया जाता है। जिसमें अब डिप्लोमा के साथ-साथ सभी विधाओं के स्नातक डिग्री धारकों को भी जोड़ने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई है।

मुख्यमंत्री शिक्षुता प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा कितने रुपए का बजट निर्धारित किया गया है?

CM Apprenticeship Promotion Scheme के अंतर्गत उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 100 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है।

CM Apprenticeship Promotion Scheme 2024 के तहत स्नातक युवाओं को कितने रुपए का मानदेय दिया जाएगा?

इस योजना के तहत स्नातक युवाओं को हर महीने 9,000 रुपए  का मानदेय दिया जाएगा।

वित्तीय वर्ष 2023-24 के तहत उत्तर प्रदेश के कितने युवाओं को योजना का लाभ मिलेगा?

वित्तीय वर्ष 2023-24 के तहत राज्य के 10 लाख युवाओं को इस योजना का लाभ मिलेगा। 

Leave a Comment