मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन व पंजीकरण प्रक्रिया

Mukhyamantri Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana पंजीकरण प्रक्रिया व आवेदन फॉर्म चेक करे और चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना स्टेटस एवं लॉगिन देखे | सरकार द्वारा देश के नागरिकों के लिए स्वास्थ्य सुविधाएं बेहतर बनाने के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाओं का संचालन किया जाता है। स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए सरकार द्वारा कई बीमा योजनाएं भी संचालित की जाती हैं। आज हम आपको राजस्थान सरकार की ऐसी ही एक योजना से संबंधित जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जिसका नाम Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana है। इस योजना के अंतर्गत प्रदेश के नागरिकों को स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जाएगा। इस लेख को पढ़कर आपको इस योजना से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्राप्त होगी। जैसे कि मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना क्या है?, इसके लाभ, उद्देश्य, पात्रता, विशेषताएं, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि। योजना से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

Table of Contents

Mukhyamantri Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana 2022

राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वारा चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना 1 मई से आरंभ होने जा रही है। इस योजना के अंतर्गत सरकारी एवं योजना से जुड़े निजी अस्पतालों में भर्ती होने पर लाभार्थी को ₹500000 तक के निशुल्क इलाज की सुविधा प्रदान की जाएगी। मुख्यमंत्री जी द्वारा 27 मार्च को एक बैठक का आयोजन किया गया था। इस बैठक में मुख्यमंत्री ने Mukhyamantri Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana की तैयारियों को लेकर समीक्षा की है। मुख्यमंत्री जी द्वारा यह भी बताया गया कि प्रदेश के नागरिकों को मुख्यमंत्री निशुल्क दवा और जांच योजना के माध्यम से ओपीडी में निशुल्क चिकित्सा का लाभ पहले से प्राप्त हो रहा था।

  • अब इस योजना के माध्यम से अस्पताल में भर्ती होने पर भी निशुल्क इलाज प्रदान किया जाएगा। अब प्रदेश के सभी परिवार ₹500000 तक की स्वास्थ्य बीमा का लाभ प्राप्त कर सकेंगे।
  • Mukhyamantri Chiranjeevi Svasthya Bima Yojana 2022 के माध्यम से चिकित्सा में होने वाले बड़े खर्च से लोगों को मुक्ति मिलेगी। इसी के साथ प्रदेश के हर एक नागरिक को बेहतर चिकित्सा सुविधा प्राप्त होगी।
  • इस योजना के अंतर्गत उन परिवारों को पंजीकरण करवाना होगा जो राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम और सामाजिक आर्थिक जनगणना में शामिल नहीं है।
Mukhyamantri Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana

Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana अंतिम तिथि में की गई वृद्धि

राजस्थान सरकार द्वारा देश के नागरिक को Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana के अंतर्गत पंजीकरण करवाने के लिए निरंतर प्रोत्साहित किया जाता है। हाल ही में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने की अंतिम तिथि को भी बढ़ा दिया गया है। अब लाभार्थियों द्वारा इस योजना के अंतर्गत 31 मई 2022 तक आवेदन किया जा सकता है। पहले राजस्थान सरकार द्वारा यह समय सीमा 30 अप्रैल 2022 लेकिन सर्वर डाउन होने के कारण इस तिथि को बढ़ाकर 7 मई 2022 कर दिया गया था। इस योजना के माध्यम से 10 लाख रुपए तक का स्वास्थ्य कवर एवं 5 लाख रुपए तक का दुर्घटना बीमा प्रदान किया जाता है। इसके अलावा इस योजना के अंतर्गत शामिल होने वाले परिवारों की महिला मुख्य को मुख्यमंत्री डिजिटल सेवा योजना के अंतर्गत 3 साल तक मुफ्त इंटरनेट कनेक्टिविटी स्मार्टफोन भी प्रदान किया जाता है।

Key Highlights Of Rajasthan Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana 2022

योजना का नाममुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना
किसने आरंभ कीराजस्थान सरकार
लाभार्थीराजस्थान के नागरिक
उद्देश्य5 लाख रुपए तक का स्वास्थ्य बीमा प्रदान करना
आधिकारिक वेबसाइटजल्द लॉन्च की जाएगी
साल2022
आवेदन का प्रकारऑनलाइन/ऑफलाइन

योजना के अंतर्गत जोड़े गए ऑर्गन ट्रांसप्लांट पैकेज

चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के नए पैकेज के अंतर्गत अब सरकार द्वारा ऑर्गन ट्रांसप्लांट की सुविधा जोड़ने का भी निर्णय लिया गया है। इस बात की जानकारी राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी द्वारा प्रदान की गई। इसके अलावा इस योजना के माध्यम से अब बोन मैरो एवं कोकलियर इंप्लांट की सुविधा भी उपलब्ध करवाई जाएगी। नए पैकेज को लेकर योजना से जुड़े सभी अस्पतालों को दिशा निर्देश जारी कर दिए गए हैं। इसके अलावा सॉफ्टवेयर में भी सभी महत्वपूर्ण बदलाव कर दिए गए हैं। इस योजना के अंतर्गत कोकलियर इंप्लांट के 5 पैकेज, बोन मैरो ट्रांसप्लांट के 9 पैकेज, लिवर ट्रांसप्लांट के 8 पैकेज एवं हार्ट ट्रांसप्लांट के 7 पैकेज ऐड किए गए हैं। पहले इस योजना के माध्यम से 5 लाख रुपए तक का स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जाता था जिसे अब बढ़ाकर 10 लाख कर दिया गया है।

Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana प्रीमियम

 निशुल्क श्रेणी परिवारनिशुल्क श्रेणी परिवारनिशुल्क श्रेणी परिवारनिर्धारित प्रीमियम परिवार
लाभार्थी परिवारराज्य की कृषक, राज्य के खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत पात्र लाभार्थी परिवार, सामाजिक आर्थिक जनगणना 2011 के पात्र परिवारसंविदा कर्मी -प्रदेश के समस्त विभागों/बोर्ड/निगम/सरकारी कंपनी में कार्यरत संविदा कार्मिकराज्य सरकार द्वारा कोविड-19 अनुग्रह राशि भुगतान प्राप्त करने वाले निरीक्षक एवं असहाय परिवारप्रदेश के व अन्य परिवार जो सरकारी कर्मचारी/पेंशनर नहीं है, अर्थात मेडिकल अटेंडेंस नियम के तहत लाभ नहीं ले रहे हैं, वे निर्धारित प्रीमियम का भुगतान कर योजना में सम्मिलित हो सकते हैं।
श्रेणीSMFContractualCovid-19 Ex-GratiaPaid
शुल्कFreeFreeFreeRs 850/-

हृदय रोगियों के मुफ्त उपचार की सुविधा

राजस्थान सरकार द्वारा ह्रदय रोगियों के लिए गुजरात के प्रशांति मेडिकल सर्विस एवं रिसर्च फाउंडेशन के साथ एमओयू पर हस्ताक्षर किए हैं। जिसके अंतर्गत अगले 2 वर्षों में ह्रदय में छेद की समस्या, एंजियोग्राफी, एंजियोप्लास्टी आदि जैसे ह्रदय रोगों का मुफ्त उपचार प्रदान किया जाएगा। सरकार द्वारा लगभग 1000 रोगियों का निशुल्क ऑपरेशन भी करवाया जाएगा। इसके अलावा सभी रोगियों के लिए अस्पताल आने जाने की निशुल्क सुविधा भी उपलब्ध करवाई जाएगी। जिसके लिए सरकार द्वारा मुख्यमंत्री सहायता कोष से ₹5000 रुपए प्रदान किए जाएंगे। सरकार द्वारा प्रदेश की स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार करने का निरंतर प्रयास किया जा रहा है। इस बात की जानकारी राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी द्वारा प्रदान की गई। उन्होंने सभी स्वयं सहायता समूह से भी अपील की कि वह भी लोगों की सहायता करने के लिए आगे आए।

भामाशाह कार्ड राजस्थान

Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana के अंतर्गत दुर्घटना बीमा कवर की वृद्धि

हाल ही में राजस्थान सरकार द्वारा बजट की घोषणा की गई है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा बजट पेश करते समय प्रदेश की चिकित्सा सुविधाओं में विस्तार करने का निर्णय लिया गया है। Chiranjeevi Swasthya Bima Yojanaके अंतर्गत अब तक ₹500000 तक का दुर्घटना बीमा कवर प्रदान किया जाता था। जिसे अब बढ़ाकर ₹1000000 कर दिया गया है। पिछले 9 माह में इस योजना के अंतर्गत 1 करोड़ 33 लाख परिवार जुड़े हैं। जिसमें से 7 लाख 41000 परिवारों ने योजना के अंतर्गत कैशलेस इलाज की सुविधा प्राप्त की है। इसके अलावा कोकलियर इंप्लांट सहित कई बीमारियों के इलाज की सुविधा इस योजना के माध्यम से प्रदान की गई है। जिसमे बोन मैरो ट्रांसप्लांट, ऑर्गन ट्रांसप्लांट आदि शामिल है। इस योजना के अंतर्गत कार्ड ना होने की स्थिति में भी योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।

पात्र लाभार्थियों को योजना से जोड़ने के लिए संचालित किया गया विशेष अभियान

राजस्थान सरकार द्वारा सभी पात्र लाभार्थियों को Rajasthan Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana से जोड़ने के लिए एक विशेष अभियान का संचालन किया जा रहा है। इसके लिए मुख्यमंत्री जी द्वारा 36 करोड़ रुपए के वित्तीय प्रावधान को भी मंजूरी प्रदान की गई है। इस अभियान के माध्यम से सरकार द्वारा यह सुनिश्चित किया जाएगा कि कोई भी पात्र परिवार इस योजना का लाभ प्राप्त करने से वंचित ना रहे। इस योजना के माध्यम से प्रदेश के नागरिकों को यूनिवर्सल हेल्थ कवरेज का लाभ प्राप्त होगा। जिससे कि बीमार होने की स्थिति में उनको अस्पताल में इलाज प्राप्त हो सकेगा।

राजस्थान सरकार द्वारा इस अभियान में आशा सहयोगिनी, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, एएनएम, पंचायत कर्मी जैसे फील्ड स्तर पर सेवाएं दे रहे कर्मचारियों को जोड़ा गया है। इन कर्मचारियों द्वारा सभी वंचित नागरिकों का सर्वे किया जा रहा है। सर्वे के पश्चात सभी पात्र परिवारों को नजदीकी मित्र पर रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। रजिस्ट्रेशन करवाने पर संबंधित कर्मी को प्रति 5 परिवार ₹500 की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी। यह राशि प्राप्त करने के लिए न्यूनतम 5 परिवारों का रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। यदि कर्मी द्वारा पांच से अधिक रजिस्ट्रेशन कराए जाते हैं तो इस स्थिति में ₹100 प्रति परिवार अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि का भुगतान किया जाएगा।

1 करोड़ 33 लाख से अधिक परिवारों को किया गया पंजीकृत

राज्य सरकार द्वारा फील्ड स्तर पर कार्यरत सोसायटी एक्ट 1958 में रजिस्टर्ड गैर सरकारी संस्थाओं को भी जिला कलेक्टर की अनुशंशा पर इस अभियान में भाग लेने के लिए सहमति प्रदान की गई है। जिला कलेक्टर द्वारा इस कार्य के लिए अधिकृत किए गए गैर सरकारी संस्थानों की सूची राज्य स्तर पर भिजवानी होगी। रजिस्ट्रेशन करवाने पर संबंधित एनजीओ को प्रति परिवार ₹500 की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी। यदि एनजीओ द्वारा 5 से अधिक परिवारों का रजिस्ट्रेशन कराया जाता है तो इस स्थिति में ₹100 प्रति परिवार अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी। अब तक इस योजना के अंतर्गत 1 करोड़ 33 लाख से अधिक परिवारों को पंजीकृत किया जा चुका है एवं 6 लाख 73 हजार से अधिक नागरिकों द्वारा निशुल्क उपचार प्राप्त किया जा चुका है। इस योजना में अब तक 788 सरकारी एवं 625 निजी अस्पताल जुड़ चुके हैं।

Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana के अंतर्गत शामिल किए गए 18 नए पैकेज

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना को राजस्थान सरकार द्वारा आरंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से लाभार्थियों को ₹500000 तक का कैशलैस ट्रीटमेंट मोहिया करवाया जाता है। सरकार द्वारा अब इस योजना के अंतर्गत 18 नए पैकेज जोड़ने का निर्णय लिया गया है। जिसमें किडनी ट्रांसप्लांट, एंजियोग्राफी, पेट का स्कैन, हीमोडायलिसिस के लिए आर्यथ्रोपोईटिन इंजेक्शन, एंजियोग्राफी आदि शामिल किए गए हैं। मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत अब पैकेज की संख्या 1597 हो गई है। अस्पतालों की मांग पर 210 पैकेजे के रेट में बढ़ोतरी करने पर भी विचार किया जा रहा है। यदि आप भी इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको जल्द से जल्द इस योजना के अंतर्गत आवेदन करवाना होगा।

 राजस्थान जन आधार कार्ड 

अस्पतालों को प्रदान की जाने वाली प्रतिपूर्ति राशि में की जाएगी वृद्धि

राजस्थान सरकार द्वारा 3 दिसंबर को मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत विभिन्न चिकित्सा प्रक्रियाओं के लिए अस्पतालों को प्रदान की जाने वाली प्रतिपूर्ति राशि में वृद्धि करने की मंजूरी प्रदान कर दी है। इसके अलावा योजना के अंतर्गत कुछ नए स्वास्थ्य पैकेज भी जोड़ें गए हैं। सरकार के इस फैसले से राज्य के बड़े और नए निजी अस्पताल भी इस योजना से जुड़ सकेंगे। लाभार्थियों द्वारा ऑर्गन एंड टिशु ट्रांसप्लांट सर्जरी, एंडोस्कोपी, जनरल सर्जरी, गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ब्लीडिंग, न्यूरो सर्जरी आदि का इलाज निशुल्क कराया जा सकेगा। प्रतिपूर्ति राशि की वृद्धि करने से राज्य सरकार द्वारा 350 करोड़ खर्च किए जाएंगे।

इस योजना को राजस्थान सरकार द्वारा निशुल्क स्वास्थ्य उपचार प्रदान करने के उद्देश्य से आरंभ किया गया था। प्रत्येक लाभार्थी को इस योजना के माध्यम से 5 लाख रुपए तक का स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जाता है। इस योजना के अंतर्गत सरकारी अस्पतालों के साथ-साथ 471 निजी अस्पताल भी पंजीकृत हैं।

14 नवंबर से किया जाएगा स्वास्थ्य शिविरों का आयोजन

Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana के अंतर्गत 14 नवंबर से स्वास्थ्य शिविर लगाने की व्यवस्था की जा रही है। चिकित्सा विभाग, शिक्षा विभाग एवं महिला व बाल विकास विभाग का सहयोग भी इन शिविरों में सुनिश्चित किया जाएगा। यह शिविर प्रत्येक ग्राम पंचायत में आयोजित किए जाएंगे। इस बात की जानकारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ छोटे लाल गुर्जर द्वारा प्रदान की गई है। प्रत्येक ब्लॉक में हर सप्ताह में दो से तीन कैंप आयोजित किए जाएंगे।

इन शिविरों के माध्यम से सभी बीमारियों की जांच एवं उपचार की व्यवस्था की जाएगी। यदि कोई सर्जरी से जुड़ी परेशानी सामने आती है तो उसके लिए चिकित्सा संस्थान में रेफर किया जाएगा। वे सभी नागरिक जिनकी आयु 30 वर्ष से अधिक होगी उनके बीपी, डायबिटीज और कैंसर की जांच की जाएगी। इसके साथ गर्भवती महिलाओं की प्रसव पूर्व जांच होगी। इसके अलावा जननी सुरक्षा योजना एवं राजश्री योजना का भी लाभ प्रदान किया जाएगा।

कैंप के माध्यम से प्रदान किए जाएंगे विभिन्न बीमारियों के उपचार

इस योजना के अंतर्गत आयोजित टेंपो के माध्यम से विभिन्न बीमारियों की जांच एवं उपचार किए जाएंगे। कैंपों के माध्यम से आंखों की जांच भी की जाएगी। वह सभी नागरिक जिनकी कमजोर नजर है या फिर मोतियाबिंद है उनको आवश्यकता के अनुरूप ऑपरेशन कैंप का भी आयोजन जल्द किया जाएगा। वह सभी नागरिक जिनको टीबी है उनके भी टेस्ट एवं उपचार की व्यवस्था कराई जाएगी। इसके अलावा इन शिविरों के माध्यम से सिलिकोसिस और कुष्ठ रोगों की स्क्रीनिंग भी की जाएगी। कोविड टिकट करण भी इन कैंपों के माध्यम से किया जाएगा। वह सभी नागरिक जिन्होंने मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत अपना रजिस्ट्रेशन नहीं करवाया है उनके लिए इन कैंपों के माध्यम से रजिस्ट्रेशन की सुविधा भी प्रदान की जाएगी।

इन शिविरों के माध्यम से बच्चों के स्वास्थ्य की जांच भी विशेषज्ञ चिकित्सक द्वारा की जाएगी। इस अभियान के दौरान ब्लॉक मुख्यालय पर 2 महीने में एक बार मेगा स्तरीय कैंप का आयोजन किया जाएगा। इन कैंपों पर ईएनटी, चर्म रोग, मनोरोग आदि विशेषज्ञ डॉक्टर भी उपलब्ध होंगे। इसके अलावा सुपरस्पेशलिटी के लिए न्यूरोलॉजी, कार्डियोलॉजी, नेफ्रोलॉजी आदि जैसी टेली कंसल्टेंसी सेवाएं भी उपलब्ध करवाई जाएंगी।

1.31 करोड़ परिवारों ने कराया पंजीकरण

मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना की घोषणा बजट के माध्यम से की गई थी। इस योजना के माध्यम से सभी लाभार्थियों को सरकारी एवं एंपैनल निजी अस्पताल ने प्रतिवर्ष ₹500000 तक का मुफ्त इलाज करवाने का प्रावधान है। इस योजना के अंतर्गत लगभग 1576 पैकेज और प्रक्रियाओं को शामिल किया गया है। मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत अब तक 1.31 करोड़ परिवारों ने पंजीकरण कराया है। 1 मई तक लगभग 20000 से अधिक लोगों ने इस योजना के माध्यम से अपना मुफ्त इलाज कराया है।

इस बात की जानकारी राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा प्रदान की गई। उन्होंने उन सभी परिवारों से भी निवेदन किया है जिन्होंने इस योजना के अंतर्गत अभी तक पंजीकरण नहीं करवाया है कि वह 31 मई से पहले पहले पंजीकरण करवा ले। यदि उनके द्वारा  31 मई से पहले पंजीकरण नहीं करवाया गया तो उन्हें पंजीकरण करवाने के लिए 3 महीने का इंतजार करना होगा।

अस्पताल की छुट्टी से पहले एवं बात का खर्च भी किया जाएगा कवर

Rajasthan Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana के अंतर्गत चिकित्सा, परामर्श, प्रशिक्षण, दवाएं और संबंधित पैकेज से संबंधित चिकित्सा व्यय शामिल है। अस्पताल से छुट्टी के 15 दिन बाद का खर्च एवं अस्पताल में भर्ती होने से 5 दिन पहले का खर्च भी इस योजना के अंतर्गत कवर किया गया है। सभी राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम और सामाजिक आर्थिक जनगणना के पात्र लाभार्थियों को पहले से स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ मिल रहा था। लेकिन अब छोटे और सीमांत किसान अथवा संविदा कर्मी भी मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के माध्यम से मुफ्त चिकित्सा का लाभ उठा पाएंगे और राज्य के अन्य परिवार भी केवल ₹850 प्रति वर्ष के प्रीमियम का भुगतान करके इस योजना का लाभ उठा सकेंगे।

अब ब्लैक फंगस के इलाज को भी किया गया योजना में शामिल

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं Mukhyamantri Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana को पिछले माह आरंभ किया गया था। इस योजना के माध्यम से राजस्थान सरकार द्वारा ₹500000 तक का स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जाता है। राजस्थान सरकार ने इस योजना के अंतर्गत कोविड-19 के इलाज को भी कवर किया है। अब प्रदेश में ब्लाक फंगस के बढ़ते मामलों को मद्देनजर रखते हुए राजस्थान सरकार द्वारा ब्लॉक फंगस की बीमारी को भी इस योजना के अंतर्गत शामिल करने का निर्णय लिया गया। ब्लैक फंगस एक प्रकार का फंगल इंफेक्शन होता है यह नाक और आंख के रास्ते से मस्तिष्क तक पहुंच जाता है। अब राजस्थान के नागरिक अन्य बीमारियों के साथ कोविड-19 एवं ब्लैक फंगस का इलाज भी मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के माध्यम से निशुल्क करवा सकेंगे।

Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana के अंतर्गत बड़ी पंजीकरण करवाने की तिथि

मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना को आरंभ करने के बाद एक माह तक इस योजना के अंतर्गत पंजीकरण प्रक्रिया चलने का निर्णय लिया गया था। लेकिन कोविड-19 की दूसरी लहर की वजह से Mukhyamantri Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana के अंतर्गत काफी सारे लोग पंजीकरण नहीं करवा पाए। इसलिए राजस्थान सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत पंजीकरण करवाने की अवधि को 1 माह के लिए और बढ़ा दिया गया है। प्रदेश की वह सब नागरिक जो इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं वह जल्द से जल्द इस योजना के अंतर्गत पंजीकरण करवा ले। पंजीकरण करवाने की पूरी प्रक्रिया आप हमारे इस लेख के माध्यम से देख सकते है।

राजस्थान जन सूचना पोर्टल

लगभग 8496 नागरिकों को पहुंचा लाभ

मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना राजस्थान सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं में से एक योजना है। इस योजना के लागू होने के बाद से अब तक लगभग 5.86 करोड़ रुपए की राशि बुक की जा चुकी है। जिससे कि 8496 नागरिकों को निशुल्क इलाज प्रदान किया जाएगा। इस संबंध में 10,000 से भी ज्यादा क्लेम बीमा कंपनी को सबमिट किए गए हैं। कोरोनावायरस संक्रमण को देखते हुए इस योजना में कुछ संशोधन भी किए गए हैं। इन संशोधनों के अनुसार एंपेनल्ड हॉस्पिटल में कोविड-19 के इलाज के लिए पैकेज की संख्या बढ़ा कर तीन करने का निर्णय लिया गया है। इसके अलावा उपचार पैकेज की दरों को भी बढ़ा दिया गया है।

यह दरें अब ₹5000 प्रतिदिन से लेकर ₹9900 प्रतिदिन कर दी गई है। इस योजना के माध्यम से लाभार्थियों को परामर्श शुल्क, बेड, भोजन, निर्धारित उपचार, नर्सिंग चार्जेस, कोविड-19 टेस्ट आदि जैसी सुविधाएं निशुल्क प्रदान की जाएंगी।

चित्तौड़गढ़ जिले द्वारा प्राप्त किया गया 45.41% का लक्ष्य

राजस्थान सरकार द्वारा प्रत्येक जिले को मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत आवेदन प्राप्त करने का एक लक्ष्य प्रदान किया गया था। सभी जिलों द्वारा यह लक्ष्य प्राप्त करने का पूरा प्रयास किया जा रहा है। इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए चित्तौड़गढ़ जिले ने इस योजना के अंतर्गत दूसरा स्थान हासिल किया है। चित्तौड़गढ़ जिले को 203469 आवेदन प्राप्त करने का लक्ष्य दिया गया था। जिले में अब तक 93315 आवेदन प्राप्त किए गए हैं। यह संख्या टारगेट की 45.41% है।

  • चित्तौड़गढ़ जिले के जिला कलेक्टर द्वारा भी लोगों से बार-बार इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने की अपील की गई थी। क्योंकि इस समय कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर चल रही है और मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के माध्यम से कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज भी निशुल्क करवाया जा सकता है।
  • यदि लाभार्थी इस योजना के अंतर्गत पंजीकृत होगा तो वह आर्थिक तंगी के कारण उपचार से वंचित नहीं रहेगा। चित्तौड़गढ़ में वे सभी परिवार जो पंजीकरण करने में असमर्थ थे उन्हें  संस्था एवं संगठन के माध्यम से पंजीकृत किया गया है।
  • लक्ष्य को प्राप्त करने की रैंकिंग में जयपुर टारगेट का 51.57% हिस्सा हासिल करके पहले स्थान पर है। इसके अलावा चित्तौड़गढ़ जिला दूसरे, टोंग जिला तीसरे, भरतपुर जिला चौथे एवं हनुमानगढ़ जिला पांचवें स्थान पर है।

Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana कोविड-19 उपचार

Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana को राजस्थान सरकार द्वारा आरंभ किया गया था। इस योजना के अंतर्गत प्रत्येक परिवार को ₹500000 तक का स्वास्थ्य बीमा का लाभ प्रदान किया जाता है। इस योजना के अंतर्गत कोविड-19 महामारी का इलाज भी करवाया जा सकता है। सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत पहले कोविड-19 उपचार के लिए दो पैकेज लागू किए गए थे। अब इन दो पैकेज के स्थान पर 3 पैकेज लागू किए जाएंगे।

  • पहले कोविड-19 उपचार पैकेज की दर ₹2000 प्रतिदिन से लेकर ₹4000 प्रतिदिन तक थी। अब इस योजना के 3 नए कोविड-19 उपचार पैकेज के अनुसार इन दरों को ₹5000 प्रति दिन से लेकर ₹9900 प्रति दिन कर दिया गया है। इस बात की जानकारी मुख्य कार्यकारी अधिकारी अरुण राजोरिया ने दी। सभी NABH था नॉन NABH अस्पतालों में अलग-अलग पैकेज की दरें निर्धारित की गई है।
  • इन पैकेज में परामर्श शुल्क, नर्सिंग चार्जेस, बेड, भोजन, निर्धारित उपचार, मॉनिटरिंग, फिजियोथेरेपी शुल्क, दबाए, पीपीई किट, डॉक्यूमेंटेशन, बायोमेट्रिक, पैथोलॉजी आदि जैसी शुल्क शामिल की गई है।
  • सरकार द्वारा इस योजना के कार्यान्वयन में समय-समय पर संशोधन किए जाएंगे। जिसकी जानकारी आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से प्राप्त की जा सकेगी।

जिला नागौर में संचालित किया जाएगा पंजीकरण महा अभियान

राजस्थान सरकार द्वारा राजस्थान के जिले नागौर में 14 अप्रैल से एक महा अभियान संचालित किया जाएगा। यह महा अभियान मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में पंजीकरण करवाने के लिए संचालित किया जाएगा। 12 अप्रैल को जिला कलेक्टर डॉ जितेंद्र कुमार सोनी ने यह महा अभियान संचालित करने के निर्देश सप्ताहिक समीक्षा बैठक में दिए। इसी के साथ जिला कलेक्टर ने इस योजना का उद्देश्य सभी अधिकारियों को समझाया और बताया कि इस योजना के माध्यम से राजस्थान के प्रत्येक नागरिक को स्वास्थ्य बीमा प्राप्त होगा। यह स्वास्थ्य बीमा ₹500000 तक का होगा। उन्होंने अधिकारियों से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि इस योजना के पात्र लाभार्थिबी इस योजना का लाभ प्राप्त करने से वंचित ना रहे।

पंजीयन शिव रोड पर आयोजित किया जाएगा दिवसीय पंजीकरण महाअभियान

Rajasthan Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana के अंतर्गत ग्राम पंचायत मुख्यालय एवं वार्ड स्तर पर राज्य सरकार द्वारा 14 अप्रैल को जो पंजीयन शिविर आयोजित किए जा रहे हैं उस पर दिवसीय पंजीयन महाअभियान के रूप में काम किया जाएगा। जिला कलेक्टर द्वारा इस योजना की प्रगति रिपोर्ट के आधार पर विभाग वार समीक्षा भी की गई। इसी के साथ चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, गृह रक्षा दल, महिला अधिकारिता विभाग रहित अन्य विभाग जिसमें संविदा कर्मी मानदेयकर्मी कार्यरत हैं उनका पंजीयन करने की शत-प्रतिशत निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा लघु एवं सीमांत किसान, एनएफएसए कार्ड धारी परिवार को इस योजना का मुफ्त लाभ प्रदान किया जाएगा। इन सब का पंजीकरण भी ग्राम पंचायत एवं वार्ड क्षेत्र में लगे पंजीकरण शिविरों के माध्यम से किया जाएगा।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत करें निशुल्क आवेदन

इस योजना राजस्थान सरकार ने सभी नागरिकों तक ₹500000 तक का स्वास्थ्य बीमा पहुंचाने के लिए आरंभ किया है। इस योजना का लाभ उठाने के लिए प्रदेश के नागरिकों को ₹850 के प्रीमियम का प्रति वर्ष भुगतान करना होगा। राजस्थान सरकार द्वारा अब यह निर्णय लिया गया है की ई मित्र के माध्यम से पंजीकरण करवाने पर आवेदक को किसी प्रकार के आवेदन शुल्क का भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है। आवेदन शुल्क राजस्थान सरकार द्वारा वहन किया जाएगा। इस बात की घोषणा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा उनके निवास पर हुई समीक्षा बैठक में की गई। लाभार्थियों को अब केवल प्रीमियम की राशि का भुगतान करना होगा।

मुख्यमंत्री जी के द्वारा सभी अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए गए हैं कि वह इस बात का खास ध्यान रखें कि इस योजना का लाभ सभी पात्र लाभार्थियों तक पहुंचे। कोई भी पात्र लाभार्थी इस योजना के लाभ से वंचित ना रहे। मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के माध्यम से प्रदेश के नागरिकों के स्वास्थ्य के लिए होने वाले 3.5 हजार करोड़ रुपए के खर्च को राजस्थान सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।

चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश के सभी नागरिकों को ₹500000 तक का स्वास्थ्य बीमा प्रदान करना है। इस योजना के माध्यम से प्रदेश का कोई भी नागरिक बीमार होने पर उपचार से वंचित नहीं रहेगा। अब प्रदेश का प्रत्येक नागरिक बेहतर चिकित्सा सुविधा प्राप्त कर सकेगा। इसी के साथ प्रदेश के नागरिकों को बीमारी के इलाज में होने वाले बड़े खर्च से मुक्ति मिलेगी। इस योजना का लाभ वह परिवार भी उठा सकते हैं जो राष्ट्रीय खाद सुरक्षा अधिनियम और सामाजिक आर्थिक जनगणना में शामिल नहीं है। Rajasthan Chiranjeevi Svasthya Bima Yojana के माध्यम से अब प्रदेश के नागरिक आर्थिक स्थिति कमजोर होने पर भी अपना अच्छा से अच्छा इलाज करवा पाएंगे।

Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana Statistics

पंजीकृत लाभार्थी परिवार13,517,298
कृषक (लघु और सीमांत)1,542,710
संविदा कर्मी (समस्त विभागों/बोर्ड/निगम/सरकारी कंपनी)76,936
राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम10,489,833
सामाजिक आर्थिक जनगणना के पात्र परिवार1,199
निरक्षित एवं असहारा परिवार298,193
निशुल्क श्रेणी के अलावा सभी परिवार1,108,427
लाभवंती संख्या1,264,314

इन नागरिकों को नहीं करना होगा प्रीमियम का भुगतान

इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को ₹850 के प्रीमियम का भुगतान करना होगा। लेकिन राष्ट्रीय खाद सुरक्षा और सामाजिक आर्थिक जनगणना 2011 में आने वाले 1,10,00,000 परिवार, लघु एवं सीमांत किसान के अंतर्गत आने वाले 13 लाख परिवार एवं संविदा कर्मी के 4 लाख परिवारों को इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए किसी प्रकार के प्रीमियम के भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है। वह इस योजना का लाभ निशुल्क प्राप्त कर सकते हैं।  इनके अलावा अन्य परिवारों को ₹850 के प्रीमियम का भुगतान करना होगा। मुख्यमंत्री जी के द्वारा इस योजना का प्रचार प्रसार करने के भी निर्देश सभी अधिकारियों को दिए गए हैं। जिससे कि सभी पात्र नागरिकों तक इस योजना का लाभ पहुंच सके।

  • राजस्थान प्रदेश के सभी नागरिकों तक स्वास्थ्य बीमा पहुंचाने वाला पहला राज्य बना है। यदि आपने इस योजना के अंतर्गत 30 अप्रैल से पहले पहले पंजीकरण नहीं करवाया तो आपको पंजीकरण करवाने के लिए 3 महीने का इंतजार करना होगा।
  • मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा 10 अप्रैल को दोपहर 12:30 बजे से एक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जनप्रतिनिधि और कर्मियों के साथ इस योजना के संबंध में संवाद किया गया। इस संवाद का विभिन्न सोशल मीडिया चैनल के माध्यम से प्रसारण किया गया।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना टोल फ्री नंबर की सुविधा

इस योजना को राजस्थान सरकार द्वारा राजस्थान के सभी नागरिकों को स्वास्थ्य बीमा प्रदान करने के लिए आरंभ किया गया है। इस योजना के अंतर्गत पंजीकरण प्रक्रिया आरंभ हो गई है। पंजीकरण के दौरान आवेदकों को कई सारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इस वजह से स्वास्थ्य विभाग, राजस्थान द्वारा टोल फ्री नंबर की सुविधा आरंभ की गई है। इस टोल फ्री नंबर पर संपर्क करके आवेदक अपनी समस्याओं का समाधान कर सकते हैं। यह टोल फ्री नंबर 18001806127 है।

  • इस योजना के अंतर्गत पंजीकरण करवाने के लिए 10 अप्रैल तक शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। 10 अप्रैल के बाद भी आवेदकों द्वारा पंजीकरण करवाया जा सकता है।
  • यह पंजीकरण आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से या ईमित्र के माध्यम से 30 अप्रैल तक किया जा सकता है। 1 मई से इस योजना का लाभ मिलना आरंभ हो जाएगा।
  • इस योजना के लाभार्थी कम्युनिटी हेल्थ सेंटर, डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल, सेटेलाइट हॉस्पिटल, मेडिकल कॉलेज से जुड़े हॉस्पिटल, रेलवे हॉस्पिटल, प्राइवेट हॉस्पिटल आदि के माध्यम से इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

राजस्थान के प्रत्येक नागरिक को मिलेगा स्वास्थ्य बीमा कवर

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत आवेदन प्रक्रिया 1 अप्रैल से आरंभ हो गई है। इस योजना के अंतर्गत प्रत्येक परिवार को 5 लाख रुपए तक का स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जाएगा। इस योजना की एक खास बात यह भी है कि इस योजना के अंतर्गत प्रदेश के सभी नागरिकों को स्वास्थ्य बीमा की सुविधा प्रदान की जाएगी। राजस्थान पूरे देश का ऐसा पहला राज्य बना है जहां प्रत्येक नागरिक को सरकार की ओर से स्वास्थ्य बीमा की सुविधा प्रदान की जा रही है। इस योजना की पंजीकरण प्रक्रिया आरंभ होने की जानकारी राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वारा ट्वीट के माध्यम से भी प्रदान की गई।

  • इस योजना के माध्यम से राजस्थान के प्रत्येक नागरिक को चिकित्सा राहत प्राप्त होगी। यदि आप भी इस स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको जल्द से जल्द इस योजना के अंतर्गत आवेदन करवाना होगा।
  • Mukhyamantri Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana के अंतर्गत आवेदन प्रक्रिया 1 अप्रैल से 30 अप्रैल तक चलेगी। 1 मई से सभी लाभार्थियों को इस योजना का लाभ प्राप्त होना आरंभ हो जाएगा।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत पंजीकरण का शुभारंभ

इस योजना के माध्यम से राजस्थान के नागरिकों को ₹500000 तक का स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत खाद्य सुरक्षा अधिनियम तथा सामाजिक आर्थिक जनगणना 2011 के 1.10 करोड़ परिवार शामिल किए गए हैं। इसी के साथ प्रदेश में सभी विभागों में कार्यरत संविदा कर्मियों, लघु एवं सीमांत किसानों को भी इस योजना में शामिल किया गया है। इन सभी परिवारों को पंजीकरण करवाना आवश्यक है। बाकी अन्य परिवार प्रीमियम राशि के प्रति वर्ष 50% भुगतान करके इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana के अंतर्गत सभी पात्र परिवार 1 अप्रैल से लेकर 10 अप्रैल तक पंजीकरण करवा सकते हैं।

इस योजना को 1 मई से आरंभ किया जाएगा। पंजीकरण ऑनलाइन एवं ई मित्र के माध्यम से किया जा सकता है। इस योजना के अंतर्गत पंजीकरण करवाने के लिए सभी ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में 1 अप्रैल से लेकर 10 अप्रैल तक शिविर का भी आयोजन किया जाएगा।

ग्राम पंचायत स्तर पर आयोजित किए जाएंगे पंजीकरण शिविर

इस योजना के अंतर्गत  सभी उपखंड क्षेत्रों में ग्राम पंचायत मुख्यालय पर इन शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। 7 अप्रैल को जिला कलेक्टर के निर्देश अनुसार पंचायत समिति टोंक की ग्राम पंचायत चंदलाई, घास, बमोर, हरचंदेडा, छान, भरनी, सांखला, ताखोली, दाखियां, पालडा, डारडाहिन्द, मेहन्दवास, अरनियाकेदार, देवपुरा, सोरन, मण्डावर,देवली-भांची, बरोनी, हथोना, पराना, अरनियामाल, काबरा, लवादर एवं सोनवा में पंजीकरण शिविरों का आयोजन किया जाएगा। पीपलू पंचायत समिति के ग्राम पंचायत में डोडवाडी, चौगाई, पीपलू, नानेर, जवाली में, पंचायत समिति निवाई की ग्राम पंचायत सीन्दरा, खणदेवत, डागरथल, सीदडा, रजवास, पलेई, बनस्थली, पहाडी, खण्डवा, नटवाडा एवं बिडोली मैं शिविरों का आयोजन किया जाएगा।

इसके अलावा मालपुरा पंचायत समिति की ग्राम पंचायत में लांबाहरिसिंह, लावा, मलिकपुर, मोरला, नगर, पचेवर एवं पारली में, पंचायत समिति देवली की ग्राम पंचायत चारनेट, रामसागर, गुराई, नगरफोर्ट, बालून्दा, बडोली, कनवाडा, चन्दवाड, घाड, चांदसिंहपुरा, धुंआकला, टोकरावास एवं ख्वासपुरा में, पंचायत समिति उनियारा की ग्राम पंचायत खोहल्या, कुण्डेर, सुरेली, बनेठा, रूपपुरा, रूपवास, पलेई, कचरावता, बोसरिया, बीलासपुर, फुलेता, रानीपुरा, ढिकोलिया, मोहम्मदगढ, सूथडा, ककोड, श्योराजपुरा एवं गोठडा में भी शिविरों का आयोजन किया जाएगा।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना पंजीकरण के लिए शिविरों का आयोजन

इस योजना के अंतर्गत 1 अप्रैल से पंजीकरण प्रक्रिया आरंभ हो गई है। इस योजना के अंतर्गत यह पंजीकरण प्रक्रिया 1 अप्रैल से 30 अप्रैल तक चलेगी। इसके बाद 1 मई से इस योजना का लाभ मिलना आरंभ हो जाएगा। Rajasthan Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana 2022 के अंतर्गत आप खुद ऑनलाइन भी आवेदन कर सकते हैं तथा ई मित्र पर जन आधार से लिंग प्लेटफॉर्म के माध्यम से भी आवेदन कर सकते हैं। पंजीयन के लिए ग्रामीण क्षेत्र में ग्राम पंचायत स्तर पर तथा शहरी क्षेत्र में वार्ड स्तर पर शिविर लगाए जाएंगे। इन शिविरों में 1 अप्रैल से 10 अप्रैल तक लाभार्थियों का पंजीयन किया जाएगा। इन पंजीयन के कार्यान्वयन जिला स्तर पर जिला कलेक्टर तथा ब्लॉक स्तर पर संबंधित उपखंड अधिकारी के द्वारा किया जाएगा। यह पंजीयन का कार्य 30 अप्रैल तक चलेगा।

Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana पंजीकरण

इस योजना के लिए स्वयं ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है तथा ई मित्र पर जनाधार से लिंक प्लेटफार्म से भी आवेदन किया जा सकता है। इस योजना के अंतर्गत पंजीकरण प्रक्रिया 1 अप्रैल से आरंभ होने जा रही है। यह पंजीकरण ग्राम पंचायत स्तर पर शिविर के माध्यम से भी किए जाएंगे। इस योजना के अंतर्गत राष्ट्रीय खाद सुरक्षा अधिनियम और सामाजिक आर्थिक जनगणना के पात्र परिवार जो स्वास्थ्य बीमा योजना में पहले से लाभवांती हो रहे हैं उनको पंजीकरण करवाने की आवश्यकता नहीं है। अब प्रदेश का कोई भी नागरिक बीमार होने पर उपचार से वंचित नहीं रहेगा।

मुख्यमंत्री जी द्वारा सभी अधिकारियों को यह दिशा निर्देश दिए गए हैं कि वह Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana का व्यापक प्रचार प्रसार करें। सभी पात्र लाभार्थियों को इस योजना की जानकारी पहुंचाई जाए। इस योजना की एक खास बात यह भी है कि इस योजना का लाभ राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम और सामाजिक आर्थिक जनगणना के पात्र लाभार्थियों के साथ-साथ संविदाकर्मी, लघु एवं सीमांत कृषकों को भी प्रदान किया जाएगा।

पंजीकरण के लिए जनआधार महत्वपूर्ण

सभी राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम और सामाजिक आर्थिक जनगणना के पात्र परिवार जिनको स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ पहले से प्राप्त हो रहा है उन्हें इस योजना के अंतर्गत पंजीकरण करवाने की आवश्यकता नहीं है। मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत पंजीकरण करवाने के लिए लाभार्थियों को अपना जनाधार कार्ड एवं आधार कार्ड लाना अनिवार्य है। वे सभी परिवार जिनके पास जनाधार कार्ड नहीं है उन्हें पहले जन आधार कार्ड के लिए पंजीकरण करवाना आवश्यक है। उसके बाद ही वह मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत पंजीकरण करवा पाएंगे। पंजीकरण करवाने के बाद लाभार्थी द्वारा योजना के सॉफ्टवेयर से पॉलिसी दस्तावेज डाउनलोड किए जा सकते हैं। वह सभी जिले जहां पर आदर्श आचार संहिता लगी हुई है वहा पर अगले आदेशों तक पंजीकरण शिविर नहीं लगाए जाएंगे।

राजस्थान चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना बजट

राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वारा मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना की घोषणा प्रदेश के बजट की घोषणा करते समय 24 फरवरी की गई थी। इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा 3500 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है। इस योजना के अंतर्गत प्रदेश के नागरिकों को चिकित्सा में होने वाले बड़े खर्चों से मुक्ति मिलेगी। इस अवसर पर मुख्यमंत्री जी द्वारा 25 जिला मुख्यालयों पर नर्सिंग कॉलेज की स्थापना की भी घोषणा की गई है। इसी के साथ साथ साथ संभागीय मुख्यालयों में सार्वजनिक स्वास्थ्य महाविद्यालय बनाए जाने की भी घोषणा की गई है। मुख्यमंत्री जी द्वारा एमएलए लोकल एरिया डेवलपमेंट को ढाई करोड़ से 5 करोड़ रूपए करने की भी घोषणा की है।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना प्रीमियम

इस योजना का लाभ उठाने के लिए पात्र परिवार को बीमा प्रीमियम की 50% राशि यानी कि न्यूनतम ₹850 सालाना प्रीमियम के रूप में जमा करना होगा। जिससे कि उन्हें ₹500000 का कैशलेस इलाज प्राप्त होगा। इस योजना के माध्यम से लाभार्थी परिवार को विभिन्न बीमारियों का इलाज प्रदान किया जाएगा। इस योजना में लगभग 1576 पैकेज और प्रोसीजर शामिल किए गए हैं। मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत अस्पताल में भर्ती होने से 5 दिन पहले तथा अस्पताल से डिस्चार्ज होने के 15 दिन बाद का निशुल्क उपचार शामिल है। इस उपचार में चिकित्सा परामर्श, जाचे, दवाइयां आदि शामिल है।

राजस्थान चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के मुख्य तथ्य

  • Mukhyamantri Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana के माध्यम से राजस्थान के प्रत्येक परिवार को ₹500000 तक के कैशलेस इलाज की सुविधा प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम और सामाजिक आर्थिक जनगणना 2011 के लाभार्थियों को पंजीकरण करवाने की आवश्यकता नहीं है।
  • आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से लघु व सीमांत कृषक, संविदा कर्मी एवं अन्य लाभार्थी खुद रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं या फिर ई मित्र पर रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।
  • इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए जन आधार नंबर या जन आधार पंजीयन रसीद होना अनिवार्य है।
  • यदि आपके पास जन आधार कार्ड नहीं है तो आपको इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए सर्वप्रथम जन आधार नामांकन करवाना होगा।
  • इस योजना के अंतर्गत 1 से 10 अप्रैल तक ग्राम पंचायत स्तर पर पंजीकरण के लिए विशेष शिविरों का आयोजन किया जाएगा लाभार्थी द्वारा 1 अप्रैल से लेकर 30 अप्रैल तक खुद या फिर ई मित्र के माध्यम से भी रजिस्ट्रेशन करवाया जा सकता है।
  • इस योजना का लाभ 1 मई से मिलेगा।
  • राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम, सामाजिक आर्थिक जनगणना के पात्र परिवार, लघु एवं सीमांत कृषक व संविदा कर्मी का बीमा प्रीमियम राज्य सरकार द्वारा वाहन किया जाएगा।
  • इसके अलावा अन्य परिवारों को ₹850 प्रति वर्ष प्रीमियम का भुगतान करना होगा।

Mukhyamantri Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana के लाभ तथा विशेषताएं

  • राजस्थान चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना को राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वारा आरंभ किया गया है।
  • इस योजना 1 मई से आरंभ किया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से सरकारी एवं योजना से जुड़े निजी अस्पताल में भर्ती होने पर लाभार्थी को ₹500000 तक की निशुल्क इलाज की सुविधा प्रदान की जाएगी।
  • Mukhyamantri Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana के माध्यम से चिकित्सा में होने वाले बड़े खर्च से प्रदेश के नागरिकों को मुक्ति मिलेगी।
  • अब प्रदेश का प्रत्येक नागरिक बेहतर स्वास्थ्य सुविधा प्राप्त कर सकेगा।
  • इस योजना के अंतर्गत उन परिवारों को पंजीकरण करवाना होगा जो राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम और सामाजिक आर्थिक जनगणना में शामिल नहीं है।
  • Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana के अंतर्गत स्वयं ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है तथा ई मित्र के माध्यम से भी आवेदन किया जा सकता है।
  • इस योजना के अंतर्गत पंजीकरण प्रक्रिया 1 अप्रैल से आरंभ होने जा रही है।
  • यह पंजीकरण ग्राम पंचायत स्तर पर शिविर के माध्यम से भी किए जाएंगे।
  • अब देश का कोई भी नागरिक बीमार होने पर उपचार से वंचित नहीं रहेगा।
  • सभी अधिकारियों द्वारा इस योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। जिससे कि इस योजना की जानकारी सभी पात्र लाभार्थियों तक पहुंचाई जा सके।
  • इस योजना के अंतर्गत राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम और सामाजिक आर्थिक जनगणना के पात्र लाभार्थियों के साथ-साथ संविदाकर्मी, लघु एवं सीमांत कृषक को को भी शामिल किया गया है।
  • सरकार द्वारा इस योजना का बजट 3500 करोड़ रुपए निर्धारित किया गया है।

पात्रता एवं महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आवेदक राजस्थान का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवार से होना चाहिए।
  • आधार कार्ड
  • बैंक खाता विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • आय प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र

Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया

यदि आप Rajasthan Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो आपको निम्नलिखित प्रक्रिया को फॉलो करना होगा।

पहला चरण

  • सर्वप्रथम आपको मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको Registration के Section के अंतर्गत क्लिक हेयर के लिंक पर क्लिक करना होगा।
Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana
  • इसके पश्चात आपको रीडायरेक्ट टू एसएसओ के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana
  • अब यदि आप अपने पोर्टल पर पहले से रजिस्ट्रेशन किया हुआ है तो आपको अपना Login ID, Paasword तथा Captcha Code दर्ज करके लॉगइन के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • यदि आपने पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन नहीं किया हुआ है तो आपको रजिस्ट्रेशन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
Mukhyamantri Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलकर आएगा जिसमें आपको अपनी Category का चयन करना होगा जो कि कुछ इस प्रकार है।
    • सिटीजन
    • उद्योग
    • गवर्नमेंट एम्पलाई

दूसरा चरण

  • इसके पश्चात आपको पंजीकरण करने के लिए नीचे दिए गए विकल्पों में से किसी एक विकल्प का चयन करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खोलकर आएगा जिसमें आपको पूछी गई जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको Submit के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप पोर्टल पर पंजीकरण कर पाएंगे।
  • इसके पश्चात आपको लॉगइन के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपका अपना Username, Paasword तथा Captcha Code दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको login के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खोलकर आएगा जिसमें आपको ABMGRSBY एप्लीकेशन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • यदि आप पुराने यूजर हैं तो आपको अपना Username और Paasword दर्ज करना होगा और यदि आप नए यूजर हैं तो आपको New User के विकल्प पर क्लिक करना होगा और रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी करनी होगी।
  • इसके पश्चात आपके सामने पंजीकरण फॉर्म खुलकर आएगा।
  • आपको पंजीकरण फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि आपका नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि दर्ज करना होगा।
  • अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को Upload करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको Submit के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana के अंतर्गत आवेदन कर पाएंगे।

Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana के अंतर्गत ऑफलाइन आवेदन

  • सर्वप्रथम आपको ग्राम पंचायत स्तर पर या फिर ब्लॉक स्तर पर आयोजित इस योजना के पंजीकरण शिविर में जाना होगा।
  • इसके पश्चात आपको शिविर से मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना का पंजीकरण फॉर्म प्राप्त करना होगा।
  • अब आपको इस फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि आपका नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि दर्ज करना होगा।
  • अब आपको फॉर्म से सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अटैच करना होगा।
  • इसके बाद आपको यह फॉर्म शिविर में जमा करना होगा।
  • इस प्रकार आप मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत ऑफलाइन आवेदन कर पाएंगे।
  • अब आपको शिविर से एक रेफरेंस नंबर प्राप्त होगा।
  • आपको इस रेफरेंस नंबर को संभाल कर रखना होगा।
  • इस रेफरेंस नंबर के माध्यम से आप अपने आवेदन की स्थिति ट्रैक कर सकते हैं।

रजिस्ट्रेशन की स्थिति खोजने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको रजिस्ट्रेशन की स्थिति खोजें के अंतर्गत अपना जनाधार नंबर दर्ज करना होगा।
  • अब आपको सर्च के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • संबंधित जानकारियां की कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी

एंपैनल्ड हॉस्पिटल लिस्ट देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको क्लिक हियर फॉर हॉस्पिटल लिस्ट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना हॉस्पिटल लिस्ट
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर निम्नलिखित ऑप्शन होंगे।
चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना
चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना
Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana
  • आपको अपनी आवश्यकतानुसार लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप लिंक पर क्लिक करेंगे Empanelled Hospital List आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।
  • यदि आप इस List को Download करना चाहते हैं तो आपको डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • Empanelled Hospital List आपके डिवाइस में डाउनलोड हो जाएगी।
  • आपको अपनी आवश्यकतानुसार लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप Link पर क्लिक करेंगे Empanelled Hospital List आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।
  • यदि आप इस लिस्ट को डाउनलोड करना चाहते हैं तो आपको डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • Empanelled Hospital List आपके डिवाइस में डाउनलोड हो जाएगी।

पैकेज लिस्ट देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको क्लिक हियर फॉर पैकेज लिस्ट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana
Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana
Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana
Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana
Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana
  • Duration and cycle for medical oncology
    • Special conditions and popup
  • आपको अपनी आवश्यकतानुसार लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप लिंक पर क्लिक करेंगे पैकेज आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर खुलकर आ जाएगा।
  • यदि आप पैकेज लिस्ट को डाउनलोड करना चाहते हैं तो आपको ऊपर दिए गए डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक करेंगे पैकेज लिस्ट आपके डिवाइस में डाउनलोड हो जाएगी।
  • Duration and cycle for medical oncology
    • Special conditions and popup
  • आपको अपनी आवश्यकतानुसार लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप लिंक पर क्लिक करेंगे पैकेज आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर खुलकर आ जाएगा।
  • यदि आप पैकेज लिस्ट को डाउनलोड करना चाहते हैं तो आपको ऊपर दिए गए डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक करेंगे पैकेज लिस्ट आपके डिवाइस में डाउनलोड हो जाएगी।

जिलेवार पैनलबद्ध अस्पतालों की सूची देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको पैनलबद्ध अस्पताल के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana
  • इसके बाद आपके सामने सभी जिलों की सूची खुलकर आएगी।
  • आपको अपने जिले के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आप के सामने तीन विकल्प खुलकर आएंगे जो की कुछ इस प्रकार है।
    • केंद्र सरकार के पैनलबद्ध अस्पताल
    • राज्य सरकार के पैनलबद्ध अस्पताल
    • निजी पैनलबद्ध अस्पताल
  • आपको अपनी आवश्यकतानुसार विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

डिपार्टमेंट डिटेल देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको डिपार्टमेंटल डिटेल्स के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
डिपार्टमेंट डिटेल
  • इसके पश्चात आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको विभाग के आगे दिए गए विवरण देखें के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

राज्य में Covid 19 उपचार हेतु अस्पताल में बेड की उपलब्धता की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। Official Website पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुलकर आ जायेगा।
Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana
  • इस होम पेज पर आपको राज्य में Covid 19 उपचार हेतु अस्पताल में बेड की उपलब्धता का ऑप्शन दिखाई देगा। आपको इस लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा। इस पेज पर आपको राज्य में Covid 19 उपचार हेतु अस्पताल में बेड की उपलब्धता का ऑप्शन दिखाई देगा।
  • आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगले पेज पर Covid 19 उपचार हेतु अस्पताल के बिस्तर स्थिति आपके सामने खुलकर आ जाएगी।

जिलों में Covid 19 उपचार हेतु अस्पताल में बेड की उपलब्धता

  • सबसे पहले आपको योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। Official Website पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुलकर आ जायेगा।
  • इस होम पेज पर आपको राज्य में Covid 19 उपचार हेतु अस्पताल में बेड की उपलब्धता का ऑप्शन दिखाई देगा। आपको इस लिंक पर क्लिक करना होगा।
 अस्पताल में बेड की उपलब्धता
  • लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा। इस पेज पर आपको जिलों में Covid 19 उपचार हेतु अस्पताल में बेड की उपलब्धता का विकल्प दिखाई देगा।
  • आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा। विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा। इस पेज पर आपको Covid-19 Hospital-Wise Bed Position-Whole Rajasthan का ऑप्शन दिखाई देगा। आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने आगे का पेज खुल जायेगा।
Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana
  • इस पेज पर आपको जिले को सेलेक्ट करना होगा और फिर हॉस्पिटल का नाम और अस्पताल के बिस्तर की उपलब्धता आदि का  चयन करना होगा।  इसके बाद आपके सामने जिलों में Covid 19 उपचार हेतु अस्पताल में बेड की उपलब्धता की स्थिति आ जाएगी।

प्राइवेट अस्पताल नोडल अधिकारी सूची देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। Official Website पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज के ऊपर एक पेज खुलकर आ जायेगा।
  • इस पेज पर आपको प्राइवेट अस्पताल नोडल अधिकारी सूची का ऑप्शन दिखाई देगा आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। ऑप्शन पर क्लिक करने करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको प्राइवेट अस्पताल नोडल अधिकारी सूची का ऑप्शन दिखाई देगा आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगले पेज पर प्राइवेट अस्पताल नोडल अधिकारी सूची की पीडीएफ खुल जाएगी। 
प्राइवेट अस्पताल नोडल अधिकारी सूची

बायोमेट्रिक गाइडलाइन डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको Registration के Section के अंतर्गत Click Here के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
बायोमेट्रिक गाइडलाइन डाउनलोड
  • इसके पश्चात आपको Download For Biometric Guidelines के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप इस विकल्प पर क्लिक करेंगे Biometric Guidelines आपकी डिवाइस में डाउनलोड हो जाएंगी।

पैकेज से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट  पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको योजना का विवरण के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको योजनार्न्तगत पैकेज के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
पैकेज से संबंधित जानकारी
  • अब आपके सामने सभी पैकेज की सूची खुलकर आ जाएगी।
  • आपको अपनी आवश्यकतानुसार पैकेज के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप पैकेज पर क्लिक करेंगे आपके सामने PDF Format में पैकेज से संबंधित सभी जानकारी खुलकर आ जाएगी।

पॉलिसी वर्ष से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको योजना का विवरण के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको पॉलिसी वर्ष पर क्लिक करना होगा।
Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आप Policy वर्षा संबंधित सभी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana की पात्रता देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • अब आपको योजना का विवरण के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको योजनान्तर्गत पात्रता के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आप योजना की पात्रता देख सकते हैं।

लाभार्थियों से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको योजना का विवरण के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको योजना के लाभार्थी के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
लाभार्थियों से संबंधित जानकारी
  • जैसे ही आप इस विकल्प पर क्लिक करेंगे आपके सामने योजना के लाभार्थियों से संबंधित जानकारी खुलकर आ जाएगी।

Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana जिलावार पैनलबद्ध अस्पतालों की सूची

जिलों के नामडायरेक्ट लिंक
अजमेरयहां क्लिक करें
अलवरयहां क्लिक करें
बांसवाड़ायहां क्लिक करें
बारांयहां क्लिक करें
बाड़मेरयहां क्लिक करें
भरतपुरयहां क्लिक करें
भीलवाड़ायहां क्लिक करें
बीकानेरयहां क्लिक करें
बूंदीयहां क्लिक करें
चित्तौड़गढ़यहां क्लिक करें
चुरूयहां क्लिक करें
दौसायहां क्लिक करें
धौलपुरयहां क्लिक करें
डूंगरपुरयहां क्लिक करें
हनुमानगढ़यहां क्लिक करें
जयपुरयहां क्लिक करें
जैसलमेरयहां क्लिक करें
जालौरयहां क्लिक करें
झालावाड़ायहां क्लिक करें
झंझुनूंयहां क्लिक करें
जोधपुरयहां क्लिक करें
करौलीयहां क्लिक करें
कोटायहां क्लिक करें
नागौरयहां क्लिक करें
पालीयहां क्लिक करें
प्रतापगढ़यहां क्लिक करें
राजसमंदयहां क्लिक करें
सीकरयहां क्लिक करें
सिहौरीयहां क्लिक करें
गंगानगरयहां क्लिक करें
सवाई माधोपुरयहां क्लिक करें
उदयपुरयहां क्लिक करें
टोंकयहां क्लिक करें

संपर्क विवरण देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको संपर्क करें के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
संपर्क विवरण
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आप संपर्क विवरण देख सकते हैं।

Contact Information

हमने अपने इस लेख के माध्यम से आपको मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान कर दी है। यदि आप अभी भी किसी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं तो आप हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं। हेल्पलाइन नंबर 18001806127 है।

Leave a Comment