(ई-पंजीकरण) बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री: जमीन रजिस्ट्री के नियम, फीस व ऑनलाइन चेक

Bihar Property Registration Process | बिहार ई-सेवा पोर्टल क्या है | ऑनलाइन प्रॉपर्टी रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया | प्रॉपर्टी-जमीन रजिस्ट्री बिहार

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं सरकार द्वारा डिजिटलीकरण की प्रक्रिया तेजी से लागू की जा रही है। कई सारी सरकारी सुविधाएं ऑनलाइन प्रदान की जा रही हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए बिहार सरकार ने बिहार संपत्ति पोर्टल रजिस्ट्री का आरंभ किया है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री पोर्टल से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जैसे कि बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री क्या है?, इसका लाभ, उद्देश्य, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, प्रॉपर्टी रजिस्ट्री करने की ऑनलाइन प्रक्रिया आदि। तो दोस्तों यदि आप Bihar Property Registration से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

बिहार ई-सेवा पोर्टल क्या है ?

बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री पोर्टल की शुरूआत बिहार सरकार ने की है। इस पोर्टल के माध्यम से अब बिहार के नागरिक अपनी जमीन का रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। अब बिहार के नागरिकों को अपनी जमीन का रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए किसी भी सरकारी कार्यालय के चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। वह घर बैठे अपनी प्रॉपर्टी का रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। इस सुविधा से समय और पैसे दोनों की बचत होगी तथा प्रणाली में पारदर्शिता आएगी। Bihar Property Registration Portal का नाम ई रजिस्ट्रेशन ऑफ प्रॉपर्टी रखा गया है। इस पोर्टल के माध्यम से प्रॉपर्टी के रजिस्ट्रेशन करने के साथ- साथ प्रॉपर्टी से संबंधित संपूर्ण जानकारी भी प्राप्त की जा सकती है।

कई बार ऐसा होता है कि भूमाफिया जमीन पर कब्जा कर लेते हैं और ऐसे में यह पता लगाना मुश्किल होता है कि किसी जमीन का असली मालिक कौन है। अब जमीन के असली मालिक की जानकारी प्राप्त करना इस पोर्टल के माध्यम से सरल हो गया है। बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री पोर्टल को ई सेवा पोर्टल भी कहा जाता है।

Bihar Apna Khata

बिहार ई सेवा पोर्टल का उद्देश्य

बिहार सरकार ने इस बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री पोर्टल को आरम्भ इसीलिए किया है ताकि बिहार के नागरिकों को अच्छी सुविधाएं मुहैया करा सके ताकि बिहार के नागरिक इस सुविधा का लाभ ऑनलाइन उठा सकें। इस पोर्टल के द्वारा बिहार के नागरिक अपनी जमीन या प्रॉपर्टी का रजिस्ट्रेशन घर बैठ कर ही ऑनलाइन करा सकते हैं। आपको रजिस्टार ऑफिस में चक्कर लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी आपको सिर्फ इसकी ऑनलाइन सुविधा के पोर्टल पर जाकर क्लिक करना होगा और आप बड़ी आसानी से इस पर अपनी भूमि या प्रॉपर्टी का रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं इससे आपकी टाइम की बचत भी होगी।

बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री ऑनलाइन प्रक्रिया

बिहार राज्य के नागरिकों के लिए बिहार सरकार ने ई सेवा पोर्टल को शुरू किया है जिसके द्वारा आप ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं इसके लिए आपको निम्नलिखित स्टेप फॉलो करने पड़ेंगे।

  • इसके लिए आपको सबसे पहले इसकी Official Website पर जाना होगा |
बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री
  • इस वेबसाइट के लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने इसका होमपेज दिखाई देगा।
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर ‘ई-सर्विसेज का ऑप्शन दिखाई देगा जिस पर आप को क्लिक करना है।
  • ई-सर्विसेज के ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने ‘लैंड रजिस्ट्रेशन’ का ऑप्शन दिखाई देगा जिस पर आप को क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपके सामने लॉगइन पेज ओपन हो जाएगा।
  • इस पेज पर आपको अपनी लॉगिन आईडी बनाने के लिए अपनी ईमेल आईडी और फोन नंबर को डालना होगा।
  • इसके बाद आपके मोबाइल नंबर पर या ईमेल आईडी पर एक ओटीपी प्राप्त होगा और ओटीपी भरकर आप अपना अकाउंट वेरीफाई कर सकते हैं।
  • इसके बाद लॉगिन करें। लॉग इन करने के बाद आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आएगा
  • इस फोर्म को ध्यान से पढ़ें और सभी जानकारी सही तरीके से भरनी होगी।
  • इसके बाद आपको इससे संबंधित कागजात  को अपलोड करना है।
  • यह कागजात आप किसी वकील से बनवा सकते हैं या इस पोर्टल से उसका फॉर्मेट डाउनलोड करके प्रिंट कर सकते हैं।कागजात को आप खुद भी भर सकते हैं।
  • इसके बाद सारे कागजातों को अपलोड कर दें।

अभी आप की रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी नहीं हुई है इसके बाद आपको इसकी फीस का भुगतान करना होगा जो हम आपको नीचे बता रहे हैं।

बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री फीस

फीस देने के 2 तरीके हो सकते हैं पहले यह कि आप अपने रजिस्ट्रेशन फॉर्म को डाउनलोड करके प्रिंट कर लें और वह दिखा कर बैंक में उसकी फीस जमा कर सकते हैं। दूसरा तरीका है कि आप इस पोर्टल पर भी फीस जमा कर सकते हैं एक ऑनलाइन प्रक्रिया होगी जिसे आप अपने क्रेडिट कार्ड के द्वारा भी कर सकते हैं वह धनराशि आपके अकाउंट से कट जाएगी और फिर उस पोर्टल से आपका जानकारी मिलेगी कि आपको रजिस्ट्री ऑफिस कब जाना है

रजिस्ट्री ऑफिस में मांगे जाने वाले डॉक्यूमेंट

  • प्रॉपर्टी खरीदने वाले और बेचने वाले दोनों के पहचान प्रमाण पत्रों का होना जरूरी है इसके साथ ही फॉर्म- 4,
  • फार्म-13,
  • दोनों के पैन कार्ड और फोर्म 60/61और ई-फिलिगं रसीद का होना भी आवश्यक है
  • यह सब चीजें जमा करने के पश्चात आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाएगा।

Leave a Comment