Bharat Nyay Yatra 2024: राहुल गांधी की भारत न्याय यात्रा 14 जनवरी से शुरू

Bharat Nyay Yatra:- पूर्व कांग्रेस नेता राहुल गांधी अब भारत जोड़ो यात्रा के बाद एक नई यात्रा शुरू करने जा रहे हैं। जिसका नाम भारत न्याय यात्रा है। इस यात्रा को कुछ ही दिनों में शुरू किया जाएगा। कांग्रेस सरकार इस यात्रा को लोकसभा चुनाव होने से पहले शुरू करने जा रही है क्योंकि इस यात्रा को सरकार चुनाव के लिए महत्वपूर्ण मानती है। राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा ठीक 1 साल पहले खत्म हुई थी। जिसके तहत उन्होंने तमिलनाडु में कन्याकुमारी से लेकर कश्मीर तक की यात्रा की थी। भारत जोड़ो यात्रा के दौरान शामिल नहीं किए गए राज्यों को भारत न्याय योजना में प्राथमिकता दी जाएगी।

राहुल गांधी की भारत न्याय यात्रा कब शुरू होगी और कितने राज्य और जिलों से होकर गुजरेगी। इसके अलावा Bharat Nyay Yatra के दौरान कितने किलोमीटर दूरी तय की जाएगी इन सभी से जुड़ी जानकारी के लिए आपको यह आर्टिकल विस्तार पूर्वक अंत तक पढ़ना होगा। तो आईए विस्तार से जानते हैं भारत न्याय यात्रा के बारे में।

Bharat Nyay Yatra 2024 क्या है?

Bharat Nyay Yatra 2024 क्या है?

पूर्व कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी की आगामी भारत न्याय यात्रा 14 जनवरी से शुरू होने जा रही है। जो कि देश के 14 राज्यों से होकर गुजरेगी। 14 राज्यों में से इस यात्रा के मार्ग में आने वाले कुछ राज्यों को अतिरिक्त महत्व दिया जाएगा जिनमें उत्तर प्रदेश और गुजरात शामिल है। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे इंफाल में हरी झंडी दिखाकर भारत न्याय यात्रा को शुरू करेंगे। यह यात्रा पूरब से पश्चिम यानी मणिपुर से होकर मुंबई तक जाएगी। 14 जनवरी से शुरू होने वाली यह यात्रा 20 मार्च तक चलेगी यानी 2024 के लोकसभा चुनाव होने से थोड़े दिनों पहले तक यह यात्रा खत्म की जाएगी।

राहुल गांधी भारत न्याय यात्रा लोगों को आर्थिक असमानता, सामाजिक और राजनीतिक तानाशाही के प्रति जागरूक करने के लिए शुरू की जा रही है। इस यात्रा के माध्यम से देश में लोकतंत्र और संविधान की रक्षा के प्रति लोगों को जागरूक किया जाएगा। Bharat Nyay Yatra के दौरान देश में नागरिकों को सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक रूप से न्याय दिलाने पर जोर दिया जाएगा।

परीक्षा पे चर्चा 2024 रजिस्ट्रेशन

भारत न्याय यात्रा 2024 के बारे में जानकारी

आर्टिकल का नाम  Bharat Nyay Yatra
शुरू की गईकांग्रेस पार्टी द्वारा  
यात्रा का नेतृत्व  राहुल गांधी द्वारा
यात्रा की शुरुआत  14 जनवरी
यात्रा की अंतिम तिथि  20 मार्च
यात्रा का सफर  14 राज्य
शामिलदेश के नागरिक  
उद्देश्य  नागरिकों को सामाजिक, राजनीतिक और आर्थिक रूप से न्याय दिलाना
यात्रा की दूरी6200 किलोमीटर  

Bharat Nyay Yatra को शुरू करने का उद्देश्य

कांग्रेस पार्टी द्वारा भारत न्याय यात्रा को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य देश के लोगों को आर्थिक, सामाजिक एवं राजनीतिक रूप से  न्याय दिलाना है। इस यात्रा के दौरान राहुल गांधी युवाओं, महिलाओं और सड़कों पर पड़े लोगों से मुलाकात करेंगे। भारत न्याय यात्रा को भारत जोड़ो यात्रा दूसरे संस्करण बताया जा रहा है। यात्रा को बस के माध्यम से किया जाएगा ताकि अधिक से अधिक लोगों से मिला जा सके तथा बीच-बीच में यात्रा का सफर पैदल चलकर भी किया जाएगा।

हिट एंड रन, एक्सीडेंट जैसे नियमों में बड़ा बदलाव

14 राज्यों से होकर गुजरेगी राहुल गांधी की भारत न्याय यात्रा

राहुल गांधी की भारत में यात्रा 14 राज्यों को कर करेगी। यह यात्रा 67 दिनों में 14 राज्यों से होकर गुजरेगी। भारत न्याय योजना के दौरान राहुल गांधी 14 राज्यों के 85 जिलों से गुजरकर यात्रा को पूरा करेंगे। यात्रा मणिपुर से शुरू होकर नागालैंड, असम, मेघालय, पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड, उड़ीसा, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात से गुजरते हुए महाराष्ट्र में मुंबई पर समाप्त होगी। उम्मीद की जा रही है कि पिछले साल की भारत जोड़ो यात्रा से यह यात्रा अलग होगी जो कि स्थानीय कांग्रेस इकाइयों को एकजुट करेगी। यह यात्रा राहुल गांधी की अखिल भारतीय पहुंच को बढ़ाएगी और साथ ही पार्टी के घोषणा पत्र के लिए 2024 के लोकसभा चुनाव के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी देगी।

यूपी और गुजरात में 6 से 7 दिन

राहुल गांधी की यात्रा की योजना में शामिल होने वाले दो नेताओं ने कहा है कि पिछले साल भारत जोड़ो यात्रा के अंतर्गत जिन राज्यों को शामिल नहीं किया गया था उन राज्यों को इस यात्रा के दौरान प्राथमिकता दी जाएगी। उन्होंने बताया की यात्रा के दौरान यूपी और गुजरात दोनों को महत्वता दी जाएगी। भारत जोड़ो यात्रा ने गुजरात को नहीं छुआ था और यूपी में सिर्फ तीन दिन बिताए थे लेकिन इस बार भारत न्याय योजना यूपी और गुजरात दोनों में 6 से 7 दिन बिता सकती है। 

प्रतिदिन औसतन 120 किलोमीटर की दूरी तय की जाएगी।

भारत न्याय यात्रा 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले बस द्वारा दो महीने तक चलेगी और कहीं-कहीं पदयात्रा भी की जाएगी। इस यात्रा को पोस्टर बैनर के साथ निकाला जाएगा।  यात्रा के दौरान लगभग 6200 किलोमीटर की दूरी तय की जाएगी। भारत न्याय यात्रा प्रतिदिन औसतन 120 किलोमीटर की दूरी तय करेगी। इसके लिए 8 जनवरी को बैठक में अंतिम रूट तय किया जाएगा। अस्थाई रूट के मुताबिक पश्चिम बंगाल में प्रवेश करने से पहले मणिपुर और नागालैंड में सिर्फ एक दिन और असम में तीन से चार दिन का समय तय किया जाएगा।  

पेटीएम एजेंट कैसे बने

Bharat Nyay Yatra FAQs

भारत न्याय योजना कब से शुरू होगी?

भारत न्याय योजना 14 जनवरी से शुरू होकर 20 मार्च को खत्म की जाएगी। इस यात्रा का सफर मणिपुर से होकर मुंबई तक तय किया जाएगा।

Bharat Nyay Yatra का रूट कितने राज्यों से होकर गुजरेगा?

भारत न्याय यात्रा का रूट देश के 14 राज्यों से होकर गुजरेगा।

Bharat Nyay Yatra का नेतृत्व कौन करेगा?

Bharat Nyay Yatra का नेतृत्व कांग्रेस पार्टी के नेता राहुल गांधी द्वारा किया जाएगा।

भारत न्याय यात्रा कैसे निकाली जाएगी?

भारत न्याय यात्रा बस के माध्यम से तथा बीच-बीच में यात्रा का सफर पैदल चलकर किया जाएगा। जोकि 6200 किलोमीटर का सफर तय करेगी। 

Leave a Comment