BC सखी योजना रजिस्ट्रेशन: (Sakhi Yojana) ऑनलाइन पंजीकरण, UP बैंकिंग सखी

UP बैंकिंग सखी योजना रजिस्ट्रेशन | BC सखी योजना ऑनलाइन पंजीकरण | UP Banking  Sakhi Scheme  Online Form | BC Sakhi Yojana In Hindi

BC सखी योजना को  उत्तर प्रदेश के मख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी के द्वारा 22 मई 2020 को राज्य की महिलाओ को लाभ पहुंचाने के लिए शुरू की गयी है | इस योजना के अंतर्गत राज्य की महिलाओ को राज्य सरकार द्वारा  रोजगार के अवसर प्रदान  किये जायेगे | इस योजना के तहत उत्तर प्रदेश सरकार  ने ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकिंग कॉरेस्पॉन्डेंट सखी तैनात करने का फैसला किया गया है। अब ग्रामीण लोगो को बैंक में यात्राएं नहीं करनी पड़ेंगी क्योंकि “सखी” घर पर पैसे की डिलीवरी करेगी। आइये आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से इस उत्तर प्रदेश बैंकिंग सखी स्कीम से जुड़ी सभी जानकारी प्रदान करने जा रहे है अतः हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े |

UP Banking Sakhi Yojana

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि UP Banking Sakhi Yojana के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों की महिलाएं अब डिजिटल मोड के माध्यम से लोगों के घर पर बैंकिंग सेवाएं और पैसे का लेनदेन करेंगी। जिससे ग्रामीण लोगो को भी सुविधाएं होंगी और महिलाओ को भी रोजगार मिलेगा | नई यूपी बैंकिंग संवाददाता सखी योजना से ग्रामीण महिलाओं को कमाई के लिए काम करने में मदद मिलेगी | इन महिलाओ को (बैंकिंग कॉरेस्पॉन्डेंट सखी) को 6 महीने तक 4 हजार रुपये की धनराशि प्रति माह सरकार द्वारा दी जाएगी | इसके अलावा बैंक से भी महिलाओ को  लेनदेन पर कमिशन मिलेगा | जिससे उनकी हर महीने आय निश्चित हो जाएगी।

BC सखी योजना

बीसी सखी योजना 640 ग्राम पंचायतों में तैनाती

प्रदेश के ग्रामीण नागरिकों को बैंकिंग सुविधाएं प्रदान करने के लिए Sakhi Yojana का आरंभ किया गया था। इस योजना के अंतर्गत बैंक से संबंधित सुविधाओं को प्रत्येक ग्रामीण नागरिक के घर तक पहुंचाया जाएगा। यह काम बीसी सखी द्वारा किया जाएगा। प्रथम चरण में इस योजना के अंतर्गत 682 में से 640 ग्राम पंचायतों में बीसी सखी योजना की तैनाती की जा रही है। इसके पश्चात उनको प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। प्रत्येक गांव में इस योजना के अंतर्गत एक महिला को बीसी सखी के रूप में प्रशिक्षित किया जाएगा। जो गाव के नागरिकों को बैंक से संबंधित सुविधाएं प्रदान करेंगी।

  • इस योजना के अंतर्गत रूरल सेल्फ एंप्लॉयमेंट ट्रेंनिंग इंस्टीट्यूट द्वारा 6 दिन का प्रशिक्षण भी प्रदान किया जाएगा। जिसके पश्चात सभी चिन्हित महिलाओं को परीक्षा देनी होगी। परीक्षा के बाद महिलाओं को प्रमाण पत्र प्रदान किया जाएगा और प्रमाण पत्र की प्राप्ति के बाद वह गांव में जाकर बैंकिंग सुविधाएं प्रदान कर सकेंगी।
  • इस योजना के अंतर्गत प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए 30 महिलाओं का बैच बनाया गया है। प्रशिक्षण के दौरान महिलाओं को बैंकिंग से जुड़े अन्य सॉफ्टवेयर के बारे में भी बताया जाएगा। इसके साथ-साथ फोन में एटीएम, गूगल आदि चलाने की भी जानकारी प्रदान की जाएगी।
  • BC Sakhi Yojana के अंतर्गत महिलाओं को प्रति माह ₹4000 प्रदान किए जाएंगे। अच्छा काम करने पर उन को प्रोत्साहन राशि भी प्रदान की जाएगी। समूह से जुड़ी महिलाओं को स्टाइपेंड भी प्रदान किया जाएगा। इस योजना के माध्यम से प्रदेश की महिलाएं आत्मनिर्भर बनेंगी।

Sakhi Yojana Uttar Pradesh Highlights

योजना का नाम BC सखी योजना
इनके द्वारा शुरू की गयी मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी के द्वारा
लॉन्च की तारीक 22 मई 2020 को
लाभार्थी राज्य की महिलाये
उद्देश्य रोजगार प्रदान करना |

बीसी सखी योजना का उद्देश्य

बीसी सखी योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में घर-घर बैंकिंग सेवाएं पहुंचाई जाएंगी। जिससे कि लोगों को घर बैठे बैंकिंग सुविधा प्राप्त करने का लाभ मिलेगा तथा इससे कई सारी महिलाओं के लिए रोजगार के अवसर भी उत्पन्न होंगे।

उत्तर प्रदेश बीसी सखी योजना जनवरी अपडेट

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं बीसी सखी योजना के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों तक बैंकिंग सखियों के माध्यम से बैंकिंग सुविधाएं प्रदान की जाएंगी। जिससे की लेनदेन में आसानी होगी। इस योजना के लिए ग्रामीण इलाकों में 58 हजार बैंकिंग सखियां तैनात की जाएगी। इन सखियों को 6 माह तक ₹4000 प्रतिमाह ग्रामीण आजीविका मिशन द्वारा प्रदान किए जाएंगे तथा जरूरी उपकरण भी उपलब्ध कराए जाएंगे। इन बैंकिंग सखियों को हार्डवेयर खरीदने के लिए ₹75000 का ऋण भी प्रदान किया जाएगा। उत्तर प्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन द्वारा ग्रामीण क्षेत्र के लिए बैंकिंग सखी की चयन प्रक्रिया आरंभ हो गई है। यह चयन प्रशिक्षण के माध्यम से किया जाएगा। BC Sakhi Yojana के अंतर्गत प्रशिक्षण कार्यक्रम भी आरंभ हो गया है। यह प्रशिक्षण रूरल सेल्फ एंप्लॉयमेंट इंस्टीट्यूट द्वारा किया जा रहा है।

इस योजना के अंतर्गत 6 दिन ट्रेनिंग के बाद महिलाओं की परीक्षा होगी। इस परीक्षा में जो महिला पास करेंगी उन्हें बैंकिंग सखी के रूप में काम करने का मौका मिलेगा। यदि महिला इस परीक्षा में फेल होती हैं तो दूसरे नंबर की महिला को प्रशिक्षण के लिए भेजने की व्यवस्था की जाएगी।

बीसी सखी योजना ऑनलाइन प्रशिक्षण तथा तैनाती

Sakhi Yojana के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकिंग सुविधाएं पहुंचाने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने महिलाओं को नियुक्त करने का फैसला किया है। इस योजना के पहले चरण में 56,875 अभ्यर्थियों का चयन किया गया है। इस योजना के अंतर्गत 15 दिसंबर 2020 से प्रशिक्षण शुरू हो जाएगा। प्रशिक्षण के बाद ऑनलाइन परीक्षा और पुलिस सत्यापन के बाद अभ्यार्थी की तैनाती कार्यस्थल पर कर दी जाएगी। मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा यह निर्देश दिया गया है कि अभ्यर्थियों का जल्द से जल्द प्रशिक्षण किया जाए और उन्हें कार्य स्थल पर तैनात किया जाए। जिससे कि ग्रामीण क्षेत्रों में बैकिंग सुविधाएं जल्द से जल्द उपलब्ध हो।

  • BC Sakhi Yojana के माध्यम से काफी सारी महिलाओं को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। मुख्य सचिव श्री मनोज कुमार सिंह जी के द्वारा यह भू बताया गया कि प्रत्येक ग्राम पंचायत से एक अभ्यर्थी को शॉर्टलिस्ट किया गया है। इन शॉर्टलिस्टेड अभ्यार्थी को पहले प्रशिक्षण दिया जाएगा उसके बाद सर्टिफिकेशन के लिए आईआईबीएफ द्वारा एक ऑनलाइन परीक्षा करवाई जाएगी।
  • यदि अभ्यर्थी परीक्षा पास नहीं कर पाता है तो उसका नाम वेटिंग लिस्ट में भेजा जाएगा और उन्हें प्रशिक्षण पर भेजा जाएगा। सर्टिफिकेशन के बाद अभ्यर्थी का पुलिस वेरिफिकेशन करवाया जाएगा और उसके बाद उन्हें कार्यस्थल पर तैनात किया जाएगा। बीसी सखी योजना के अंतर्गत 6 माह तक ₹4000 प्रतिमाह डिपेंड भी मिलेगा।

बीसी सखी योजना दिसंबर अपडेट

BC सखी योजना के माध्यम से प्रदेश की महिलाओं को रोजगार के अवसर प्रदान किए जाएंगे तथा ग्रामीण क्षेत्रों तक बैंकिंग सुविधाएं पहुंचाई जाएंगी। इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश मुख्य सचिव नवनीत सहगल जी ने बताया है कि बीसी सखी योजना आरंभ कर दी गई है तथा इस योजना के पहले चरण में प्रति 58000 महिला अभ्यर्थियों का चयन कर लिया गया है। इन महिलाओं को प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है जिसके बाद इन्हें कॉरस्पॉडेंट सखी के रूप में ग्रामीण क्षेत्रों में तैनात किया जाएगा। BC सखी योजना को आरंभ करने के उद्देश्य प्रदेश में रोजगार के अवसर प्रदान करना भी है।

श्री नवनीत सहगल जी के द्वारा यह भी बताया गया कि उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य है जहां महिलाओं को रोजगार प्रदान करने के लिए कोई इस प्रकार की योजना का आरंभ किया गया है। उनके द्वारा यह भी बताया गया कि सरकार द्वारा महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं तथा आर्थिक गतिविधियों में तेजी लाने के लिए और रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा 8.18 लाख से अधिक इकाइयां काम कर रही हैं।

यूपी बीसी सखी योजना 58 हजार महिलाओं का चयन

इस योजना के माध्यम से ग्रामीण इलाकों में बैंकिंग सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं। इस योजना के अंतर्गत केवल महिलाएं ही काम कर सकती हैं। प्रदेश में काफी सारी महिलाओं ने इस योजना के अंतर्गत आवेदन किया है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 58 हजार महिलाओं का चयन बीसी सखी योजना के अंतर्गत कर लिया गया है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महिलाओं को प्रशिक्षित करके उन्हें कार्यस्थल पर तैनात करने का निर्देश दिया है और उन्होंने यह भी कहा है कि इस योजना के माध्यम से ग्राम स्तर पर महिला को रोजगार मिलेगा। बीसी सखी पंचायत भवन से अपना काम करेंगी। इस योजना के माध्यम से ग्रामीण लोगों तक बैंक सुविधाएं पहुंचेंगी।

BC Sakhi Scheme मोबाइल ऍप

कपड़ा तथा महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी द्वारा अमेठी जिले से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 16 अगस्त 2020 को सखी एप का उद्घाटन किया गया है। इस मौके पर अमेठी जिले के 151 आंगनवाड़ी केंद्र को उत्कर्ष आंगनवाड़ी केंद्र में विकसित किया गया है। इस ऐप के माध्यम से आंगनबाड़ी बीसी सखी योजना के अंतर्गत आने वाली सुविधाएं प्रदान कर पाएंगी। यह आंगनबाड़ी केंद्र बोस्टन कंसलटिंग ग्रुप के द्वारा उत्कर्ष आंगनबाड़ी केंद्रों में परिवर्तित किए गए हैं।

BC Sakhi Scheme

बोस्टन कंसलटिंग ग्रुप इन आंगनवाड़ी केंद्रों को सखी एप से सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करेगा। जिससे कि आंगनबाड़ी बीसी सखी योजना की सुविधाएं लोगों तक घर-घर प्रदान कर पाएंगी। स्मृति ईरानी ने यह भी बताया कि आने वाले 1 साल में 500 और आंगनवाड़ी केंद्रों को उत्कर्ष आंगनवाड़ी केंद्रों में बदला जाएगा। अमेठी जिले में 1 हजार 943 आंगनवाड़ी केंद्र है। जिसमें से पहले चरण में 151 आंगनवाड़ी केंद्रों को उत्कर्ष आंगनवाड़ी केंद्र में विकसित किया गया है। जिसमें से जगदीशपुर में 30, तोलाई ब्लॉक 30, बहादुरपुर ब्लाक में 12, भेदुआ में 11, सिंहपुर ब्लाक में 11, अमेठी बाजार शुक्ल में 10, गौरीगंज में 10, मुसाफिरखाना में 10, शाहगढ़ के हैर ब्लॉक में 10, तथा भादर ब्लॉक ब्लॉक में 06 आंगनवाड़ी केंद्रों को उत्कर्ष आंगनवाड़ी केंद्र में विकसित किया गया है।

बीसी सखी योजना के अंतर्गत दी जाने वाली सैलरी

  • बीसी सखी योजना के अंतर्गत पहले 6 महीने तक ₹4000 प्रतिमाह दिए जाएंगे।
  • बैंकिंग डिवाइस खरीदने के लिए अलग से ₹50000 दिए जाएंगे।
  • इसके अलावा बैंकिंग कार्यों के लिए एक कमीशन भी प्रदान की जाएगी।
  • 6 महीने पूरे होने के बाद उस कमीशन के माध्यम से कमाई की जाएगी।

BC सखी योजना नई अपडेट

उत्तर प्रदेश सरकार ने इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करने की तारीक को बढ़ा दिया है। इस योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तारीक को 31 जुलाई से बढ़कर 17 अगस्त 2020 कर दिया गया है। राज्य के इच्छुक लाभार्थी महिलाये इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करने से रह गयी है और वह इस योजना का लाभ उठाना चाहती है तो वह 17 अगस्त 2020 तक इस योजना के तहत आवेदन कर सकती है तथा जो उम्मीदवार आवेदन कर चुके हैं उन्हें चयन रिजल्ट का इंतजार अब 17 अगस्त तक करना होगा।

UP बैंकिंग सखी

अब लोगो को घर बैठे बैंकिंग प्रदान की जा रही है | इस योजना के तहत जिन महिलाओ को रोजगार प्रदान  किया जायेगा  वह ग्रामीण इलाको में घर घर जाकर लोगो को बैंक से जुड़ी सभी सुविधाएं जैसे पैसो का लें दें , जानकारी आदि सभी प्रदान करेंगी | UP Banking Sakhi Yojana का उद्देश्य महिलाओ को रोजगार प्रदान करना और बैंक खाताधारक का तनाव कम करना |अब राज्य के लोगों को बैंक में लाइनों में नहीं लगना पड़ेगा |

उत्तर प्रदेश बैंकिंग सखी के मुख्य तथ्य

  • इस योजना के तहत उत्तर प्रदेश की ग्रामीण महिलाओ को रोजगार के अवसर प्रदान किये जायेगे |
  • Uttar Pradesh Banking Sakhi Yojana के अंतर्गत लगभग 58 हज़ार महिलाओ को रोजगार प्रदान किया जायेगा |
  • सरकार द्वारा  इस योजना के तहत चुनी गयी महिलाओ को नौकरी मिलेगी और अगले 6 महीने तक प्रतिमाह 4000 रूपये की धनराशि सैलरी के रूप में दी जाएगी |
  • डिजिटल डिवाइस खरीदने के लिए 50000  रूपये की सहायता धनराशि प्रत्येक बैंक सखी को दी जाएगी |
  • बैंक उन्हें निश्चित गारंटी मासिक आय सुनिश्चित करने के लिए डिजिटल मोड के माध्यम से किए गए प्रत्येक लेनदेन पर कमीशन प्रदान करेंगे।
  • इन महिलाओं की जिम्मेदार गांव-गांव जाकर लोगों को बैंकिंग के प्रति जागरूक बनाना है। यही नहीं, घर बैठे ग्रामीणों के बैंक से जुड़े जरूरी काम भी निपटाएंगी।
  • एक बैंकिंग करेस्पांडेंट सखी को तैयार करने में कुल 74 हजार रुपये का खर्च आएगा। छह महीने का प्रोत्साहन राशि इसलिए दिया जाएगा कि ताकि महिलाएं आर्थिक दिक्कतों के कारण इस काम को छोड़े नहीं |
  • ग्रामीण क्षेत्रों से संबंधित महिलाओं को अपने दरवाजे पर लोगों को बैंकिंग सेवाएं प्रदान करने के लिए प्राथमिकता मिलेगी।
  • इस योजना के तहत रोजगार प्राप्त करने के लिए सभी महिलाओ को आवेदन करना होगा

BC सखी योजना का कार्यन्वयन

यूपी बैंकिंग संवाददाता सखी योजना को लागू करने के लिए लगभग 35,938 स्वयं सहायता समूहों (एसएचजी) को 218.49 करोड़। यह राशि 22 मई 2020 को राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (एनआरएलएम) के तहत जारी की गई है। इस निधि से उन गैर-सरकारी संगठनों में काम करने वाली महिलाओं को मदद मिलेगी जो मास्क, प्लेटें, मसाले पैदा कर रही हैं और सिलाई / क्राफ्टिंग का काम कर रही हैं। उत्तरप्रदेश बीसी सखी के लिए आज 31 जुलाई 2020 आवेदन करने की अंतिम तिथि है जो उम्मीदवार आवेदन करना चाहते हैं वह जल्द से जल्द आवेदन कर ले।

यूपी बीसी सखी योजना का कार्य

  • जनधन सेवाएं
  • लोगो को लोन मुहैया कराना
  • लोन रिकवरी कराना
  • बीसी सखी का मुख्य कार्य बैंक खाते से घर -घर जाकर जमा व् निकासी करवाना है।
  • स्वयं सहायता समूह के सदस्यों की सेवाएं प्रदान करना है।

बीसी सखी योजना की पात्रता

  • इस योजना के तहत महिलाएं उत्तर प्रदेश की मूल निवासी होने चाहिए।
  • महिला आवेदक दसवीं पास होनी चाहिए।
  • महिला बैंकिंग सेवाओ को समझ सके।
  • उम्मीदवार महिलाएं पैसो का लेन-देंन करने में सक्षम होनी चाहिए।
  • नियुक्त महिला को इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस चलाने की समझ होनी चाहिए।
  • उत्तर प्रदेश सखी योजना के अंतर्गत उन महिलाओं को नियुक्त किया जायेगा जो बैंकिंग के काम-काज को समझ सके और पढ़ -लिख सके।

BC Sakhi Mobile App डाउनलोड करके आवेदन कैसे करे?

इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए सरकार ने एक मोबाइल ऍप लॉन्च किया है जो इच्छुक लाभार्थी ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है तो वह नीचे दिए गए तरीके को फॉलो करे।

  • सबसे पहले लाभार्थियों को अपने एनरोइड मोबाइल के गूगल प्ले स्टोर को ऑप्शन करना होगा। गूगल प्ले स्टोर के सर्च बार से  BC Sakhi App को सर्च करना होगा।
  • ऍप सर्च करने के बाद ऍप के लिंक पर क्लिक करना होगा और फिर आपको BC Sakhi App Downlaod करना होगा।
BC Sakhi
  • आपके सामने होम पेज खुल जायेगा। इसके पश्चात् आपको  अपना फोन नंबर दर्ज करना होगा।उसके बाद आपके रजिस्टर मोबाइल नंबर पर एक 6 नंबर का ओटीपी आ जायेगा आपको ओटीपी दर्ज करना होगा।
BC सखी योजना
  • ओटीपी दर्ज करने के बाद आपकी स्क्रीन पर कुछ दिशा -निर्देश आजायेंगे। आपको सारे दिशा -निर्देश ध्यान से पढ़ने होंगे उसके बाद आप नेक्स्ट पर क्लिक कर दे।
BC सखी योजना
  • नेक्स्ट पर क्लिक करते ही आप नए पेज पर पहुंच जायेंगे।सबसे पहले आपको बेसिक प्रोफाइल पर क्लिक करना होगा उसके बाद आप पूछी गयी सारी जानकारी दर्ज करनी होगी। जानकारी दर्ज करने के बाद आप सेव और सब्मिट कर दे।
  • ऐसे ही आपको सारे भाग में दी हुयी जानकारी दर्ज करनी होगी उसके बाद आप सब्मिट के बटन पर क्लिक करते जाएँ। और साथ ही यदि आप सब्मिट के बटन पर क्लिक नहीं करते है तो आप अगले भाग में नहीं जा पाएंगे। इसके बाद आपको अपने मांगे गए सारे दस्तावेज भी अपलोड करने होंगे।
  • आपको यहाँ कुछ साधारण से प्रश्नो के उत्तर भी देने होंगे , सभी प्रश्नो के उत्तर बहुविकल्पीय होंगे। प्रश्न सरल होने जो की हिंदी व्याकरण , गणित , अंग्रेजी से पूछे जायेंगे।
  • आवेदन की प्रक्रिया समाप्त होने पर एप्प के मेसेज पर आपको सूचना मिल जाएगी। चयनित उम्मीदवार या जो चयनित नहीं हो पाएंगे उन्हें एप्प के माध्यम से सूचना दे दी जाएगी।

Contact Information

हमने अपने इस लेख के माध्यम से आपको बीसी सखी योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान कर दी है। यदि आप अभी भी किसी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं तो आप हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं। हेल्पलाइन नंबर 8005380270 है।

Leave a Comment