आयुष्मान भवः अभियान क्या है ? 35 करोड़ लोगों का होगा फायदा, कैसे मिलेगा लाभ देखें

Ayushman Bhava:- हर साल 17 सितंबर को पीएम नरेंद्र मोदी का जन्मदिन मनाया जाता है। इस साल पीएम के जन्मदिन को खास बनाने के लिए कई तरह के कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के उपलक्ष्य में स्वास्थ्य मंत्रालय 17 सितंबर से 2 अक्टूबर तक सेवा पखवाड़ा मनाएगा। इसी बीच राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू आयुष्मान भव: कैंपेन का उद्घाटन करेंगी। राष्ट्रपति कार्यक्रम का शुभारंभ ऑनलाइन करेगी। जिसका सीधा प्रसारण जिला और ब्लॉक स्तर पर दिखाया जाएगा। इस कार्यक्रम के तहत नए परिवार को स्वास्थ्य बीमा का लाभ मिलेगा। जिसके लिए देश में लाखों हेल्थ और वैलनेस सेंटरों पर आयुष्मान मेले का आयोजन किया जाएगा। साथ ही आयुष्मान भारत कार्ड भी लोगों को दिए जाएंगे।

आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से आयुष्मान भव कार्यक्रम से संबंधित संपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराएंगे जैसे इस अभियान में क्या खास होगा और कितने लोगों को आयुष्मान भारत कार्ड मिलेंगे। इन सभी से जुड़ी जानकारी के लिए आपको यह आर्टिकल विस्तारपूर्वक अंत तक पढ़ना होगा।

Ayushman Bhava Abhiyan 2023

Ayushman Bhava Abhiyan 2023

देश  के नागरिकों के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय के एक बड़े अभियान आयुष्मान भव (Ayushman Bhava) की शुरुआत राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू 13 सितंबर को करेंगी। स्वास्थ्य मंत्रालय की योजनाओं का फायदा हर व्यक्ति तक पहुंचाने के मकसद के साथ यह अभियान शुरू किया जा रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार यह अभियान 13 सितंबर को शुरू किया जाएगा। लेकिन इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन 17 सितंबर को शुरू होने वाले ‘सेवा पखवाड़े’ के दौरान पेश किया जाएगा।

Ayushman Bhava Abhiyan के तीन मुख्य स्तंभ होंगे, जिसमें देश में लाखों हेल्थ और वेलनेस सेंटरों पर आयुष्मान मेले का आयोजन किया जाएगा। इसके अलावा आयुष्मान कार्ड बांटने की प्रक्रिया में तेजी लाई जाएगी और आयुष्मान सभाओं का आयोजन होगा। स्वास्थ्य के क्षेत्र में मिसाल पेश करने वाले गांवों को इस आयोजन के दौरान आयुष्मान गांव भी घोषित किया जाएगा।

17th Sept Update:- आयुष्मान भव अभियान का आगाज, 35 करोड़ लोगों का होगा फायदा

देश के लोगों को स्वास्थ्य सेवाओं का तोहफा देने के लिए 17 सितंबर 2023 को प्रधानमंत्री के जन्मदिन के मौके पर आयुष्मान भव कैंपेन की शुरुआत की जा रही है। आयुष्मान भव कैंपेन के तहत सरकार की स्वास्थ्य सेवाओं और योजनाओं के बारे में बताया जाएगा और स्वास्थ्य समस्याओं के प्रति आम लोगों को जागरूक किया जाएगा। इस कैंप के माध्यम से देश के 35 करोड़ लोगों तक लाभ पहुंचाया जाएगा। इस अभियान को शुरू करने का लक्ष्य आयुष्मान भारत योजना को लोगों तक पहुंचना है ताकि लोगों को 5 लाख रुपए तक के मुफ्त इलाज की सुविधा मिल सके। आयुष्मान भव अभियान तीन चरणों में काम करेगा पहले आयुष्मान आपके द्वारा 3.0, दूसरा आयुष्मान मेला और तीसरा आयुष्मान सभा। इस दौरान स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर आयुष्मान मेले और हर गांव और पंचायत में आयुष्मान सभा जैसे कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। ताकि देश के सभी लोगों को स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ आसानी से मिल सके। 

आयुष्मान भारत योजना लिस्ट

आयुष्मान भव: अभियान 2023 के बारे में जानकारी

आर्टिकल का नामAyushman Bhava
योजना का नाम  आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना
कार्यक्रम की लॉन्चिंग13 सितंबर 2023  
कार्यक्रम का शुभारंभ  प्रधानमंत्री के जन्मदिन पर
लाभार्थीदेश के नागरिक  
उद्देश्यदेश के हर नागरिकों को स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ पहुंचाना
श्रेणी  केंद्र सरकारी योजना
साल  2023

आयुष्मान भव अभियान  का उद्देश्य

आयुष्मान भव कार्यक्रम को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य विशेष शिविर लगाकर 60 हजार लोगों को आयुष्मान कार्ड वितरित करना है। ताकि देश में सभी स्वास्थ्य योजनाओं का व्यापक और पूर्ण विस्तार सुनिश्चित किया जा सके। जिससे हर पात्र नागरिकों को स्वास्थ्य सुविधा का लाभ मिल सके। इसके लिए केंद्र सरकार द्वारा सभी लोगों तक सरकारी स्वास्थ्य योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए आयुष्मान भव कार्यक्रम शुरू किया जा रहा है। 

60 हजार लोगों को मिलेंगे आयुष्मान भारत कार्ड

स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर मनसुख मांडविया ने बताया है कि देश के नागरिकों की स्वास्थ्य सेवाओं तक पहुंचे और जागरूकता को बढ़ाने के लिए सेवा पखवाड़ा के दौरान कई कार्यक्रमों की योजना बनाई गई है। इस अभियान में आयुष्मान आपके द्वारा, आयुष्मान मेला और आयुष्मान सभा जैसे कार्यक्रम आयोजित होंगे। आयुष्मान भव अभियान में आयुष्मान आपके द्वारा 3.0 के तहत 17 सितंबर से सभी आयुष्मान लाभार्थियों को कार्ड वितरण किए जाएंगे। आयुष्मान भारत कार्ड 60 हजार लोगों को दिए जाएंगे।

डॉ मानवीय ने कहा है कि हमने तय किया है कि प्रधानमंत्री के जन्मदिन के मौके पर आयुष्मान भव अभियान चलाएंगे और उसके माध्यम से हम आरोग्य लक्ष्य सेवा का प्रचार प्रसार करेंगे। हमारे देश में हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर 1.17 लाख से अधिक है इन सभी सेंटर पर आयुष्मान भव अभियान के तहत आयुष्मान मेला लगेगा। जिससे सभी गरीब और मध्यम वर्ग के लोगों का उपचार हो सकेगा। इसके अलावा देश के सभी सार्वजनिक स्वास्थ्य सुविधाओं पर स्वच्छता अभियान चलाया जाएगा।

आयुष्मान मित्र बनने के लिए आवेदन ऐसे करें

आयुष्मान भव अभियान में क्या है खास?

इस अभियान की खासियत बताते हुए मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा है कि इस अभियान के तहत देश में एक लाख 17 हजार से अधिक हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर पर आयुष्मान मेला आयोजित किया जाएगा। जहां पर नागरिक अपने स्वास्थ्य की जांच करा सकेंगे। और बीपी, शुगर की जांच भी आयुष्मान मेले में की जाएगी। इसके बाद मरीज को जरूरत पड़ने पर रविवार को सीएचसी मेला का आयोजन किया जाएगा। सभी ब्लॉक स्तर के अस्पताल में मेडिकल कॉलेज भी हेल्थ कैंप लगाएंगे। हेल्थ कैंप में आने वाले लोगों को जांच के बाद इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज भी रेफर किया जा सकेगा। देश के सारे अस्पतालों डिस्पेंसरी और गांव में पखवाड़ा के दौरान स्वच्छता अभियान चलाया जाएगा। सभी ग्राम पंचायत, जेएसएस,आरकेएस के सहयोग से प्राथमिकता, माध्यमिक और तृतीय स्वास्थ्य देखभाल स्तरों पर स्वास्थ्य अभियान आयोजित किया जाएगा।

2 अक्टूबर को सभी गांव में सभा का आयोजन

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया है कि आयुष्मान भव अभियान के तहत देश के सभी गांव में 2 अक्टूबर को आयुष्मान सभा का आयोजन किया जाएगा। जिसमें आयुष्मान गांव भी घोषित किए जाएंगे। उन गांव को आयुष्मान गांव घोषित किया जाएगा। जिस गांव में आयुष्मान भारत कार्ड का फायदा हर लाभार्थी को हुआ होगा, गांव में सभी को 100 फीसदी कोविड वैक्सीनेशन किया गया होगा। और कोई भी टीवी या कुष्ठ रोग का केस उस गांव में नहीं हुआ होगा। केंद्र सरकार ऐसे गांव को आयुष्मान गांव घोषित करेगी। आयुष्मान गांव घोषित होने पर देश में उन गांवों को आयुष्मान गांव के रूप में प्रसिद्धता मिलेगी।

यह अभियान भी चलेंगे

  • इस अभियान के दौरान अंगदान संकल्प अभियान भी चलाया जाएगा।
  • रक्तदान शिविर भी आयोजित किए जाएंगे।
  • टीबी मरीजों को गोद लिया जाएगा जिससे उनकी दवा और भोजन में सहायता की जा सके।
  • सेवा पखवाड़ा योजना के तहत स्वच्छता अभियान चलाया जाएगा। 

बनाए जाएंगे आयुष्मान कार्ड

आयुष्मान पखवाड़े के दौरान चलने वाले कार्यक्रमों में 17 सितंबर से 2 अक्टूबर तक आयुष्मान लाभार्थियों के गोल्डन कार्ड बनाए जाएंगे। आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन के तहत लोगों को आयुष्मान कार्ड दिए जा रहे हैं। लाभार्थियों को जागरूक करने के लिए सीएचसी पीएचसी स्तर पर निर्देश दिए गए हैं। आयुष्मान भारत मिशन के तहत देशवासियों को 5 रुपए तक की स्वास्थ्य सुरक्षा उपलब्ध हो रही है। नए परिवारों के भी गोल्डन कार्ड आयुष्मान पखवाड़े के दौरान बनाए जाएंगे। डिजिटल प्लेटफॉर्म का प्रयोग करके आयुष्मान कार्ड प्राप्त किया जा सकते हैं। जिसके लिए उन्हें कहीं भटकना नहीं पड़ेगा। इसके अलावा आयुष्मान ऐप के माध्यम से भी कार्ड हासिल किया जा सकता है। 

Ayushman Bhava Abhiyan 2023 के लिए पात्रता

  • आयुष्मान भव अभियान के तहत लाभ प्राप्त करने हेतु आवेदक को भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • इस योजना के अंतर्गत सभी आय, जाति वर्ग के नागरिक लाभ प्राप्त करने हेतु पात्र होंगे।
  • देश के सभी गरीब और मध्यम वर्ग के लोग इस अभियान के दौरान उपचार कराने के लिए पात्र होंगे।
  • सभी उम्र के नागरिक इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

Ayushman Bharat Hospital List

आयुष्मान भव अभियान  के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • स्वास्थ्य संबंधित दस्तावेज
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

Ayushman Bhava Abhiyan 2023 में आवेदन कैसे करें?

आयुष्मान भव कार्यक्रम के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आपको कहीं भी जाने की आवश्यकता नहीं होगी। क्योंकि इस कार्यक्रम के दौरान विशेष जिला स्तरीय, नगर स्तरीय, ग्रामीण स्तरीय, स्वास्थ्य कार्यकर्ता, आशा, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता समन्वय बनाकर जन-जन को जागरूक करेंगे। इस कार्यक्रम के दौरान शिविर लगाए जाएंगे। जहां पर जाकर उम्मीदवार आयुष्मान भारत कार्ड प्राप्त कर सकेंगे। और जो आयुष्मान भारत मिशन के तहत 5 लाख रुपए का स्वास्थ्य बीमा का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं। वे सभी नए परिवार भी इस कार्यक्रम के दौरान अपने गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए आवेदन कर सकेंगे। आपको अपने साथ जरूरी दस्तावेजों को ले जाकर शिविर में जमा करना होगा। जिसके बाद अधिकारी द्वारा आपका आवेदन कर दिया जाएगा।

Ayushman Bhava Abhiyan FAQs

आयुष्मान भव अभियान को कब शुरू किया जाएगा?

आयुष्मान भव अभियान को प्रधानमंत्री के जन्मदिन 17 सितंबर को सेवा पकवाड़े के दौरान शुरू किया जाएगा।

Ayushman Bhava Abhiyan 2023 का उद्घाटन कौन करेगा?

आयुष्मान भव अभियान का उद्घाटन राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू द्वारा किया जाएगा।

Ayushman Bhava Abhiyan के तहत कितने लोगों को आयुष्मान भारत कार्ड मिलेंगे?

इस अभियान के तहत 60 हजार लोगों को आयुष्मान भारत कार्ड मिलेंगे।

आयुष्मान भव अभियान कब से कब तक चलेगा?

Ayushman Bhava Abhiyan 17 सितंबर से 2 अक्टूबर 2023 तक चलेगा। 

आयुष्मान भव अभियान के तहत देश के सभी गांव में आयुष्मान सभा का आयोजन कब होगा?

आयुष्मान भव अभियान के तहत देश के सभी गांव में आयुष्मान सभा का आयोजन 2 अक्टूबर को किया जाएगा जिसमें आयुष्मान गांव भी घोषित किए जाएंगे।

Ayushman Bhava Abhiyan 2023 के तहत कौन-कौन से अभियान चलाए जाएंगे?

Ayushman Bhava Abhiyan के तहत स्वच्छता अभियान, रक्तदान शिविर और अंगदान संकल्प अभियान चलाया जाएगा। इसके अलावा सभी सार्वजनिक स्वास्थ्य सुविधाओं पर स्वच्छता अभियान भी चलाया जाएगा।

Leave a Comment