आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना 2021: रजिस्ट्रेशन, पात्र लाभार्थी लिस्ट

Ayushman Bharat Mahatma Gandhi Health Scheme Apply | आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना रजिस्ट्रेशन | Ayushman Bharat Mahatma Gandhi Swasthya Bima Yojana Form

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं आज के समय में स्वास्थ्य चिकित्सा बहुत महंगी होती जा रही है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए राजस्थान सरकार द्वारा आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना का आरंभ किया गया है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से इस योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जैसे कि आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना क्या है?, इसके लाभ, उद्देश्य, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, विशेषताएं, आवेदन प्रक्रिया आदि। तो दोस्तों यदि आप Ayushman Bharat Mahatma Gandhi Health Yojana 2021 से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

Table of Contents

Ayushman Bharat Mahatma Gandhi Swasthya Bima Yojana

इस योजना राजस्थान सरकार के द्वारा आरंभ की गई है। इस योजना के अंतर्गत ₹500000 का स्वास्थ्य कवर लाभार्थियों को प्रदान किया जाएगा। इस योजना का लोकार्पण राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा 30 जनवरी 2021 को किया गया है। आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत 1 करोड़ 10 लाख परिवारों को लाभ पहुंचेगा। इस योजना के अंतर्गत स्वास्थ्य कवर पहले ₹330000 था अब इसे बढ़ाकर ₹500000 कर दिया गया है। Ayushman Bharat Mahatma Gandhi Health Scheme 2021 के अंतर्गत सामान्य बीमारियों के लिए ₹50000 तथा गंभीर बीमारियों के लिए ₹500000 तक का इलाज मिल सकता है। इस योजना के अंतर्गत प्राइवेट तथा सरकारी अस्पतालों दोनों से इलाज करवाया जा सकता है।

आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना

आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना 2021 प्रीमियम

इस योजना के अंतर्गत अस्पताल में भर्ती से 5 दिन पहले तथा 15 दिन बाद तक का मेडिकल खर्च भी कवर किया गया है। इस योजना का लाभ उठाने के लिए लाभार्थियों को अपना आधार कार्ड या जन आधार कार्ड दिखाना अनिवार्य है। Ayushman Bharat Mahatma Gandhi Swasthya Bima Yojana के अंतर्गत कुल वार्षिक प्रीमियम 1750 करोड़ रुपए का है जिसमे से लगभग 80% जो कि 1400 करोड़ है राज्य सरकार द्वारा वाहन किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत पहले 1401 पैकेज उपलब्ध थे जो कि अब बढ़ाकर 1576 कर दिए गए है। जल्द इस योजना के अंतर्गत स्टेट पोटेबिलिटी भी शुरू की जाएगी। इस पोर्टेबिलिटी के माध्यम से लाभार्थियों का दूसरे राज्यों में भी मुफ्त इलाज करवाया जा सकेगा।

Key Highlights Of Ayushman Bharat Mahatma Gandhi Health Yojana 2021

योजना का नामआयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा
किस ने लांच कीराजस्थान सरकार
लाभार्थीराजस्थान के नागरिक
उद्देश्यइंश्योरेंस कवर प्रदान करना।
आधिकारिक वेबसाइटयहां क्लिक करें
साल2021
इंश्योरेंस कवर₹500000
लाभार्थियों की संख्या1 करोड़ 10 लाख

आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा का बड़ा दायरा

पहले आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना के नाम से संचालित की जाती थी। तब इस योजना के अंतर्गत केवल राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के परिवार पात्र थे। लेकिन अब इस योजना के अंतर्गत सामाजिक आर्थिक जनगणना के पात्र परिवारों को भी शामिल किया गया है। जिससे कि इस योजना का दायरा बड़ा है। राजस्थान सरकार द्वारा प्रदेश में प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना को संचालित नहीं किया जाता है। क्योंकि आयुष्मान भारत बीमा योजना में सामाजिक आर्थिक सर्वे 2011 में शामिल परिवार ही पात्र थे। Ayushman Bharat Mahatma Gandhi Health Scheme 2021 के अंतर्गत सामाजिक आर्थिक जनगणना तथा राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा दोनों के पात्र परिवारों को शामिल किया गया है।

Ayushman Bharat Mahatma Gandhi Swasthya Bima कैशलैस ट्रीटमेंट

इस योजना की एक खास बात यह है कि इस योजना के अंतर्गत कैशलैस ट्रीटमेंट प्रदान किया जाता है। इसका अर्थ यह है कि कोई भी प्रकार का इलाज कराने के लिए लाभार्थियों को अस्पताल में पैसे जमा करने की जरूरत नहीं है। आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना 2021 के अंतर्गत उन्हें एक कार्ड प्रदान किया जाएगा। यह कार्ड उन्हें अस्पताल में दिखाना होगा। जिसके पश्चात उनका इलाज कैशलेस माध्यम से किया जाएगा। इलाज का पूरा खर्च राजस्थान सरकार द्वारा वहन किया जाएगा। यदि आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको जल्द से जल्द आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन करवाना होगा। इस योजना के अंतर्गत कैशलैस ट्रीटमेंट केवल एंपेनल्ड हॉस्पिटल के द्वारा ही प्रदान किया जाता है।

Ayushman Bharat Mahatma Gandhi Swasthya फैमिली फ्लोटर प्लान

इस योजना एक फैमिली फ्लोटर प्लान है। इसका अर्थ यह है कि इस योजना के अंतर्गत बीमे की राशि का उपयोग परिवार के सभी सदस्यों के द्वारा किया जा सकता है। यह अन्य योजनाओं की तुलना में फायदेमंद होती है। आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत लाभार्थी के परिवार के किसी भी सदस्य के द्वारा एम पैनल हॉस्पिटल में ₹500000 तक का इलाज कैशलेस माध्यम से करवाया जा सकता है। इस योजना के अंतर्गत प्री एवं पोस्ट हॉस्पिटलाइजेशन खर्च भी कवर्ड है। इस योजना के अंतर्गत कई सारे एंपेनल्ड हॉस्पिटल राज्य में है तथा जल्द राज्यों के बाहर भी इस योजना का दायरा बढ़ाया जाएगा।

आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना का उद्देश्य

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं राजस्थान में कई सारे लोग ऐसे हैं जो अपनी आर्थिक स्थिति के कारण अपना इलाज नहीं करवा पाते हैं। ऐसे सभी लोगों के लिए राजस्थान सरकार द्वारा Ayushman Bharat Mahatma Gandhi Swasthya Bima Yojana लॉन्च की है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य राजस्थान के सभी पात्र नागरिकों को इंश्योरेंस कवर प्रदान करना है। जिससे कि वह अपना इलाज किसी भी सरकारी या प्राइवेट अस्पताल में करवा सकें। अब राजस्थान के नागरिक पैसे की फिक्र किए बिना अपना ₹500000 तक का इलाज मुफ्त में करवा पाएंगे। इस योजना के माध्यम से प्रदेश के नागरिकों के स्वास्थ्य में भी सुधार आएगा।

आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना के लाभ तथा विशेषताएं

  • Ayushman Bharat Mahatma Gandhi Swasthya Bima Yojana को राजस्थान सरकार द्वारा आरंभ किया गया है।
  • इस योजना के अंतर्गत ₹500000 तक का स्वास्थ्य कबर लाभार्थियों को प्रदान किया जाएगा।
  • आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना का लोकार्पण राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा 30 जनवरी 2021 को किया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से 1 करोड़ 10 लाख परिवारों को लाभ पहुंचेगा।
  • पहले इस योजना के अंतर्गत स्वास्थ्य कवर ₹330000 था अब इसे बढ़ाकर ₹500000 कर दिया गया है।
  • इस योजना के अंतर्गत सामान्य बीमारियों के लिए ₹50000 तथा गंभीर बीमारियों के लिए ₹500000 तक का इलाज मिल सकता है।
  • आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत प्राइवेट तथा सरकारी दोनों अस्पतालों में अपना इलाज करवाया जा सकता है।
  • इस योजना के अंतर्गत अस्पताल में भर्ती से 5 दिन पहले तथा 15 दिन बाद तक का मेडिकल खर्च कवर किया जाता है।
  • Ayushman Bharat Mahatma Gandhi Swasthya Bima Yojana का लाभ उठाने के लिए लाभार्थियों का अपना आधार कार्ड या जन आधार कार्ड दिखाना अनिवार्य है।
  • इस योजना के अंतर्गत वार्षिक प्रीमियम 1750 करोड़ रुपए है जिसमें से 1400 करोड रुपए राज्य सरकार द्वारा वाहन किया जाएगा।
  • पहले इस योजना के अंतर्गत 1401 पैकेज उपलब्ध थे जिसे बढ़ाकर 1576 कर दिया गया है।
  • जल्द इस योजना के अंतर्गत स्टेट पोटेबिलिटी भी आरंभ की जाएगी। इसका मतलब यह है कि अब इस योजना के लाभार्थी दूसरे राज्यों में भी अपना मुफ्त इलाज करवा सकेंगे।
  • पहले इस योजना को भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना के नाम से जाना जाता था।
  • इस योजना के अंतर्गत सामाजिक आर्थिक सर्वे 2011 तथा राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा के पात्र परिवारों को शामिल किया गया है।
  • इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों का कैशलैस ट्रीटमेंट किया जाएगा।
  • यह योजना फैमिली फ्लोटर योजना है।

आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत क्या चीजें कवर नहीं है?

  • किसी भी नशीले पदार्थ के अति प्रयोग के कारण चिकित्सा से संबंधित खर्च।
  • जन्मजात बाहरी रोग, विसंगतियां आदि।
  • आत्म हत्या या आत्महत्या का प्रयास किए जाने से उत्पन्न हुई बीमारियां।
  • अनावश्यक प्लास्टिक सर्जरी।
  • इस योजना के अंतर्गत टीकाकरण शामिल नहीं है।
  • अनावश्यक स्थिति में अस्पताल भर्ती
  • हॉरमोन रिप्लेसमेंट थेरेपी सहित विपरीत लिंग के समान होने के लिए सर्जिकल प्रक्रिया है।
  • अनावश्यक डेंटल ट्रीटमेंट।
  • अनावश्यक विटामिन तथा टॉनिक।

Ayushman Bharat Mahatma Gandhi Health Scheme 2021 क्लेम सेटेलमेंट

लाभार्थियों को अपनी चिकित्सा के दौरान इस योजना के अंतर्गत कुछ आवश्यक दस्तावेजों को रखना होगा। इन दस्तावेजों के माध्यम से लाभार्थी अपना इलाज अस्पताल में करवा पाएंगे। अस्पताल द्वारा दस्तावेज का सत्यापन किया जाएगा। जिसके पश्चात अस्पताल बीमा कंपनी से संपर्क करके क्लेम सेटल करेगा। यह महत्वपूर्ण दस्तावेज भामाशाह कार्ड, नामांकन पर्ची तथा मरीज का आधार कार्ड है। इस योजना का लाभ उठाने के लिए मरीज के भामाशाह कार्ड को आधार कार्ड से जुड़ा होना अनिवार्य है। दावे के समय परिवार की एचएच आईडी नंबर की भी आवश्यकता पड़ सकती है। सत्यापन के बाद लाभार्थी को 5 लाख रुपए तक का कैशलैस ट्रीटमेंट प्रदान किया जाएगा।

आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना पैकेज लिस्ट

पैकेजस्पेशलिटीकोड
Septoplasty + FESSENT39020001
AppendicectomyGeneral Surgery39010001
Prolapse Uterus LeFort’sObstetrics & Gynecology39040001
Lensectomy + VitrectomyOphthalmology39070001
Pacemaker implantation – TemporaryCardiology & CTVS19120001A
PneumonectomyChest Surgery29140002A
FistulectomyDentistry19110001A
Colonoscopy with BiopsyGastrology29190001A
Chelation Therapy for Thalassemia MajorGeneral Medicine19100001A
PemetrexedMedical Oncology29160020A

महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना की पात्रता

  • लाभार्थी राजस्थान का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए लाभार्थी के पास आधार कार्ड और जन आधार कार्ड होना अनिवार्य है।
  • लाभार्थी सामाजिक आर्थिक सर्वे 2011 था राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा के पात्र परिवारों में शामिल होना चाहिए।
  • लाभार्थी आर्थिक रूप से गरीब परिवार से होना चाहिए।

महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • जन आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • निवास का प्रमाण
  • आयु का प्रमाण
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर

आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना में ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया

आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको अप्लाई ऑनलाइन के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक एप्लीकेशन फॉर्म खुलकर आएगा।
  • आपको इस एप्लीकेशन फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इसके पश्चात आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अटैच करना होगा।
  • अब आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप Ayushman Bharat Mahatma Gandhi Swasthya Bima Yojana के अंतर्गत आवेदन कर पाएंगे।

आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा के अंतर्गत ऑफलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको अपने जिले के स्वास्थ्य विभाग में जाना होगा।
  • अब आपको स्वास्थ्य विभाग से इस योजना का फॉर्म लेना होगा।
  • इसके पश्चात आपको इस फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको फॉर्म से सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अटैच करना होगा।
  • इसके बाद आपको यह फॉर्म स्वास्थ्य विभाग में जमा करना होगा।
  • इस प्रकार आप Ayushman Bharat Mahatma Gandhi Swasthya Bima Yojana के अंतर्गत आवेदन कर पाएंगे।

एंपेनल्ड हॉस्पिटल की लिस्ट देखने की प्रक्रिया

एंपेनल्ड हॉस्पिटल की लिस्ट

नोडल ऑफिसर लिस्ट देखने की प्रक्रिया

नोडल ऑफिसर लिस्ट
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे आपके सामने नोडल ऑफिसर लिस्ट खुलकर आ जाएगी।

लाभार्थी सूची देखने की प्रक्रिया

आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना
लाभार्थी सूची
  • इसके पश्चात आपको नगर निकाय, क्षेत्र तथा जिले का चयन करना होगा।
  • अब आप को खोजें के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • लाभार्थी सूची आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

योजना की पात्रता देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको जनसूचना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको योजना की पात्रता की लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको योजना में आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना का चयन करना होगा।
  • जैसे ही आप योजना का चयन करेंगे आपके सामने पात्रता खुलकर आ जाएगी।

बेनिफिशियरी आईडेंटिफिकेशन फॉर्म भरने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको एसएसओ राजस्थान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
बेनिफिशियरी आईडेंटिफिकेशन फॉर्म
  • होम पेज पर आपको अपना यूजरनेम, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करके लॉगइन करना होगा।
  • अब आपको सर्च बॉक्स में AB MGRSBY सर्च करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको AB MGRSBY के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने डैशबोर्ड खुलकर आएगा।
  • इस डैशबोर्ड पर आपको TMS पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको बेनिफिशियरी आईडेंटिफिकेशन फॉर्म के लिंक पर क्लिक करना है।
  • अब आपके सामने एक फॉर्म खुल कर आएगा।
  • आपको इस फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अटैच करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप बेनिफिशियरी आईडेंटिफिकेशन फॉर्म भर पाएंगे।

प्री ऑथराइजेशन रिक्वेस्ट फॉर्म भरने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको एसएसओ राजस्थान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको अपना यूजरनेम, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करके लॉगइन करना होगा।
प्री ऑथराइजेशन रिक्वेस्ट फॉर्म
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको सर्च बॉक्स में AB MGRSBY सर्च करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको AB MGRSBY के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। अब आपके सामने डैशबोर्ड खुलकर आएगा।
  • इस डैशबोर्ड पर आपको TMS पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको प्री ऑथराइजेशन रिक्वेस्ट फॉर्म के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने फॉर्म खुलकर आएगा।
  • आपको इस फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप आप प्री ऑथराइजेशन रिक्वेस्ट फॉर्म भर पाएंगे।

क्वेरी चेक करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको एसएसओ राजस्थान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
क्वेरी चेक
  • होम पेज पर आपको अपना यूजरनेम, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करके लॉगइन करना होगा।
  • अब आपको सर्च बॉक्स में AB MGRSBY सर्च करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको AB MGRSBY के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने डैशबोर्ड खुलकर आएगा।
  • इस डैशबोर्ड पर आपको TMS पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको क्वेरी पैनल के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खोलकर आएगा जिसमें आपको पेशेंट की T.I.D. दर्ज करनी होगी।
  • इसके पश्चात आपके सामने क्वेरी खुलकर आ जाएगी।
  • इसके पश्चात आपको मिसिंग डॉक्यूमेंट अपलोड करना होगा।
  • अब आप को सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप क्वेरी चेक कर पाएंगे।

पेशेंट एडमिशन फॉर्म भरने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको एसएसओ राजस्थान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको अपना यूजरनेम, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करके लॉगइन करना होगा।
पेशेंट एडमिशन फॉर्म
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको सर्च बॉक्स में AB MGRSBY सर्च करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको AB MGRSBY के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। अब आपके सामने डैशबोर्ड खुलकर आएगा।
  • इस डैशबोर्ड पर आपको TMS पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको पेशेंट एडमिशन फॉर्म के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खोलकर आएगा जिसमें आपको पूछी गई सभी जानकारी जैसे कि पेशेंट की T.I.D, पेशेंट का नाम, ब्लड ग्रुप, ब्लड प्रेशर आदि दर्ज करना होगा।
  • अब आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप पेशेंट एडमिशन फॉर्म भर पाएंगे।

पेशेंट डिसचार्ज एंड क्लेम सबमिशन फॉर्म भरने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको एसएसओ राजस्थान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको अपना यूजरनेम, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करके लॉगइन करना होगा।
पेशेंट डिसचार्ज एंड क्लेम सबमिशन फॉर्म
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको सर्च बॉक्स में AB MGRSBY सर्च करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको AB MGRSBY के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। अब आपके सामने डैशबोर्ड खुलकर आएगा।
  • इस डैशबोर्ड पर आपको TMS पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको पेशेंट डिस्चार्ज एंड क्लेम सबमिशन फॉर्म के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको पेशेंट की TID दर्ज करनी होगी और सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने पेशेंट की डिटेल्स खुलकर आएंगी।
  • अब आपको पूछी गई सभी जानकारी जैसे कि डेट ऑफ डिस्चार्ज, टाइम ऑफ डिस्चार्ज, डिस्चार्ज स्टेटस आदि दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको पेशेंट की फोटो, पेशेंट डिस्चार्ज समरी, फीडबैक फॉर्म आदि अपलोड करना होगा।
  • अब आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।

केस स्टेटस ट्रैक करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको एसएसओ राजस्थान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको अपना यूजरनेम, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करके लॉगइन करना होगा।
blank
  • अब आपको सर्च बॉक्स में AB MGRSBY सर्च करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको AB MGRSBY के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने डैशबोर्ड खुलकर आएगा।
  • इस डैशबोर्ड पर आपको TMS पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको केस स्टेटस ट्रैकर करके लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको पेशेंट की TID नंबर, जिला, पैकेज तथा स्टेटस का चयन करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सर्च क्राइटेरिया के बटन को चलना होगा।
  • अब आपको पेशेंट की टीआईडी पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक पेज खुल कर आएगा जिसमें पेशेंट की सारी डिटेल्स होंगी।

प्री ऑथराइजेशन डिसीजन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको एसएसओ राजस्थान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको अपना यूजरनेम, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करके लॉगइन करना होगा।
प्री ऑथराइजेशन डिसीजन
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको सर्च बॉक्स में AB MGRSBY सर्च करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको AB MGRSBY के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। अब आपके सामने डैशबोर्ड खुलकर आएगा।
  • इस डैशबोर्ड पर आपको TMS पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको प्री ऑथराइजेशन डिसीजन के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको पेशेंट का टीआईडी नंबर दर्ज करना होगा।
  • अब आपके सामने पेशेंट से संबंधित सभी जानकारी खुलकर आ जाएगी।
  • अब सभी डॉक्यूमेंट चेक करने के बाद यदि सारे डॉक्यूमेंट सही है तो अप्रूव पर क्लिक करना होगा यदि गलत है तो रिजेक्ट पर क्लिक करना होगा और यदि कोई क्वेरी करनी है तो क्वेरी पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।

क्लेम एनालाइज करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको एसएसओ राजस्थान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
क्लेम एनालाइज
  • होम पेज पर आपको अपना यूजरनेम, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करके लॉगइन करना होगा।
  • अब आपको सर्च बॉक्स में AB MGRSBY सर्च करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको AB MGRSBY के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने डैशबोर्ड खुलकर आएगा।
  • इस डैशबोर्ड पर आपको TMS पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको क्लेम एनालाइजर फॉर्म पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको टीआईडी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने पेशेंट से संबंधित सभी डिटेल खुल कर आ जाएंगे।
  • आपको सभी डिटेल चेक करनी होगी।
  • यदि आपको क्लेम अप्रूव करना है तो आपको अप्रूव के बटन पर क्लिक करना होगा, रिजेक्ट करना है तो रिजेक्ट के बटन पर क्लिक करना होगा तथा क्वेरी करनी है तो क्वेरी के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको पूछी गई जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात अब यह फॉर्म सुपरवाइजर के पास जाएगा।

क्लेम सेटल्ड करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको एसएसओ राजस्थान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
क्लेम सेटल्ड
  • होम पेज पर आपको अपना यूजरनेम, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करके लॉगइन करना होगा।
  • अब आपको सर्च बॉक्स में AB MGRSBY सर्च करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको AB MGRSBY के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने डैशबोर्ड खुलकर आएगा।
  • इस डैशबोर्ड पर आपको TMS पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको क्लेम सेटेलमेंट के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खोलकर आएगा जिसमें टीआईडी नंबर दर्ज करके सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने पेशेंट की सभी डिटेल खुलकर आ जाएंगी।
  • इसके पश्चात आपको सभी डिटेल चेक करनी होंगी।
  • अब यदि आपको अप्रूव करना है तो अप्रूव के बटन पर क्लिक करना होगा रिजेक्ट करना है तो रिजेक्ट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको संबंधित जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • अब आप को सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।

फीडबैक फॉर्म भरने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको एसएसओ राजस्थान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
फीडबैक फॉर्म
  • होम पेज पर आपको अपना यूजरनेम, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करके लॉगइन करना होगा।
  • अब आपको सर्च बॉक्स में AB MGRSBY सर्च करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको AB MGRSBY के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने डैशबोर्ड खुलकर आएगा।
  • इस डैशबोर्ड पर आपको TMS पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको फीडबैक फॉर्म के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खोलकर आएगा जिसमें आपको T.I.D. नंबर दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको पेशेंट के नाम पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने फीडबैक फॉर्म खुलकर आएगा।
  • यह फीडबैक फॉर्म पेशंट द्वारा भरा जाएगा।
  • पेशेंट को फीडबैक फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करके साइन करना होगा।
  • यह फीडबैक फॉर्म हॉस्पिटल द्वारा पेशेंट डिस्चार्ज एंड क्लेम सबमिशन फॉर्म भरते समय अपलोड किया जाएगा।

Contact Information

हमने अपने इस लेख के माध्यम से आपको आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना से संबंधित सभी प्रकार की महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान कर दी है। यदि आप अभी भी किसी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं तो आप हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं। हेल्पलाइन नंबर 1800 180 6127 है।

Leave a Comment