अन्‍त्‍योदय अन्‍न योजना 2020: ऑनलाइन आवेदन, पात्रता, स्टेटस व लाभार्थी सूची

Antyodaya Anna Yojana 2020 Apply | अन्‍त्‍योदय अन्‍न योजना ऑनलाइन आवेदन | अन्‍त्‍योदय अन्‍न योजना लाभार्थी सूची | Antyodaya Anna Yojana In Hindi

अन्‍त्‍योदय अन्‍योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा देश के गरीब नागरिको को लाभ पहुंचाने के लिए किया गया है। अन्‍त्‍योदय अन्‍न एक राशन कार्ड है जो देश के उन लोगो को प्रदान किये जाते है जो गृहस्थी श्रेणी से बाहर हो अर्थात बहुत ही गरीब है। अन्त्योदय अन्न योजना (एएवाय) केंद्र सरकार द्वारा 25  दिसंबर 2000 को खाद्य आपूर्ति और उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय के तहत दस लाख गरीब परिवारों के लिए शुरू की गई योजना है। इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा देश के अधिक गरीब परिवार के साथ साथ  दिव्यांगों को भी प्रति माह 35 किलो अनाज प्रति परिवार को प्रदान किया जायेगा। प्यारे दोस्तों आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से इस Antyodaya Anna Yojana से जुडी सभी जानकारी जैसे आवेदन प्रक्रिया ,पात्रता आदि प्रदान करने जा रहा है अतः हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

 Antyodaya Anna Yojana 2020

केंद्र सरकार द्वारा इस योजना के तहत दिव्यांगों को भी शामिल करने का निर्णय लिया है अंत्योदय अन्न योजना राशन कार्ड और प्राथमिकता वाले परिवार राशन कार्ड के अंतर्गत कौन लाभार्थी होंगे इसकी जवाबदेही राज्य सरकार पर है। इस Antyodaya Anna Yojana के अंतर्गत अंत्योदय कार्ड धारक को हर महीने 35 किलो राशन जिसमे 20 किलो गेहूं और 15 किलो चावल शामिल है। सभी राज्यों की सरकारों का यह कहना है कि देश  का कोई भी दिव्यांग व्यक्ति इस योजना से वंचित न रहे है।  सभी दिव्यांगों  को इस योजना का लाभ प्रदान किया जाये।  शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के गरीब परिवार को इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएंगा। इस योजना के अंतर्गत देश के लाभार्थियों  को 35 किलोग्राम गेहूं 2 रुपये प्रति किलोग्राम और धान 3 रुपये प्रति किलोग्राम के हिसाब से प्रदान किया जाएंगा।

अन्‍त्‍योदय अन्‍न योजना

एक देश एक राशन कार्ड योजना

अन्‍त्‍योदय अन्‍योजना 2020 का उद्देश्य

जैसे कि आप लोग जानते है देश में बहुत से ऐसे लोग है जो आर्थिक रूप से बहुत ज़्यादा कमज़ोर होने के कारण खाने के लिए राशन नहीं खरीद पाते है। उनके लिए सरकार द्वारा अंत्योदय कार्ड को जारी किया गया है और देश दिव्यांगों को भी अपनी आर्थिक ज़रूरतों को भी पूरा करने के बहुत मुश्किल होती है इन सभी परेशानियों को देखते हुए केंद्र सरकार ने अंत्योदय अन्न योजना को शुरू किया है इस योजना के अंतर्गत देश के दिव्यांग व्यक्तियों को खाने के लिए खाद्य पदार्थ सस्ती दरों पर प्रदान करना। इस योजना के ज़रिये दिव्यांगों को प्रति परिवार 35 किलो अनाज हर महीने प्रदान किया जायेगा।इस योजना के ज़रिये  सभी राज्यों से सुनिश्चित करने को कहा है कि कोई भी दिव्यांग इससे वंचित न रहे।

अन्‍त्‍योदय अन्‍योजना 2020 के लाभ

  • इस योजना का लाभ देश के अंत्योदय कार्ड धारको और दिव्यांग व्यक्तियों को प्रदान किया जायेगा।
  • लाभार्थी को प्रति माह सस्ती कीमत पर खाद्य प्रदान किया जाएंगा।
  • Antyodaya Anna Yojana 2020 के तहत लाभार्थी को 35 किलोग्राम गेहूं 2 रुपये प्रति किलोग्राम और धान 3 रुपये प्रति किलोग्राम के हिसाब से प्रदान किया जाएंगा।
  • अन्त्योदय अन्न योजना मुख्य रूप से गरीबों के लिए आरक्षित है, शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के गरीब परिवार को इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएंगा।
  • अन्त्योदय परिवार के लिए चुने गए आवेदक के परिवार को “अन्त्योदय राशन कार्ड” मान्यता प्राप्त करने के लिए अद्वितीय कोटा कार्ड प्रदान किया जाएंगा।
  • AAY में राज्यों के भीतर TPDS के अंतर्गत आने वाले BPL परिवारों की संख्या से गरीब परिवारों के एक करोड़ गरीबों की पहचान शामिल है, और उन्हें 2 रु। / – प्रति किलो की अत्यधिक रियायती दर पर खाद्यान्न उपलब्ध करा रहे हैं।
  • केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान जी का कहना है कि अंत्योदय अन्न योजना राशन कार्ड और प्राथमिकता वाले परिवार कि राशन कार्ड के अंतर्गत कौन लाभार्थी होंगे इसकी जवाबदेही राज्य सरकार पर है।
  • AAY योजना के बाद से गरीब परिवारों के 2.50 करोड़ गरीबों को कवर करने के लिए विस्तार किया गया है |

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना

परिवारों की पहचान करने के क्रम में अपनाए गए मापदंड

इस योजना के अंतर्गत परिवारों की पहचान करने के कुछ मापदंड है जो हमने नीचेदिए हुए है उन्हें विस्तारपूर्वक पढ़े।

  • भूमि हीन कृषि मजदूर, सीमांत किसान, ग्रामीण शिल्पकार/कारीगर जैसे कुम्‍हार, चमड़ा कारीगर, बुनकर, लोहार, बढ़ई, झुग्‍गी में रहने वाले तथा अनौपचारीक क्षेत्र में दैनिक आधार पर कार्य करने वाले व्‍यक्ति जैसे दरबान, कुली, रिक्‍शा चालक, रेहड़ी वाले, फल-फूल बेचने वाले, सपेरे, कूड़ा उठाने वाले, मोची, बेसहारा और ग्रामीण तथा शहरी क्षेत्रों में इस तरह के अन्‍य श्रेणियों के लोग शामिल है।
  • विधवाओं के परिवार या बीमार व्‍यक्ति/विकलांग/60 वर्ष या उससे अधिक आयु के व्‍यक्ति जिनके पास निर्वाह अथवा सामाजिक सहायता के लिए कोई सुनिश्चित साधन नहीं है।
  • विधवा या बीमार व्‍यक्ति या विकलांग व्‍यक्ति या 60 साल से अधिक के व्‍यक्ति जिनके पास निर्वाह अथवा सामाजिक सहायता के लिए कोई सुनिश्चित साधन न हो।

Antyodaya Anna Yojana 2020 के दस्तावेज़ (पात्रता )

  • आवेदक गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाला होना चाहिए।
  • आवेदक  नामित प्राधिकारी द्वारा जारी अन्त्योदय राशन कार्ड के लिए चयनित होना चाहिए।
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पहचान प्रमाण पत्र
  • संबंधित पटवारी द्वारा जारी किया लाभार्थी का आय प्रमाण पत्र
  • आवेदक के इस आशय का एक हलफनामा कि उसने पहले कोई राशन कार्ड धारण नहीं किया है।
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

अन्‍त्‍योदय अन्‍योजना 2020 में आवेदन कैसे करे ?

देश के जो इच्छुक लाभार्थी इस योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदन करना चाहते है तो अपने क्षेत्र के खाद्य आपूर्ति विभाग में जाकर आवेदन कर सकते है। इसके लिए आपको सबसे पहले खाद्य आपूर्ति विभाग में जाकर अंत्योदय अन्न योजना के आवेदन  के लिए आवेदन फॉर्म प्राप्त कर ले।  आवेदन फॉर्म लेने के बाद आपको उसमे पूछी गयी सभी जानकारी जैसे नाम पता , आय मोबाइल नंबर आदि भरनी होगी। सभी जानकारी भरने के बाद आपको आवेदन फॉर्म में सभी सभी ज़रूरी दस्तावेज़ों को अटैच करना होगा। इसके बाद आपको आवेदन फॉर्म जमा करना होगा। इसके बाद  आपके आवेदन फॉर्म की जांच की जाएगी उनके बाद विभाग के अधिकारी द्वारा निर्णय लिया जायेगा की वो इस योजना में लाभ प्राप्त करने के योग्य है या नहीं। इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के बाद आप आवेदन की स्थिति और लाभार्थी में अपने नाम की जांच कर सकते है।

Antyodaya Anna Yojana 2020 State Wise List

आंध्र प्रदेशयहाँ क्लिक करे
बिहारयहाँ क्लिक करे
छत्तीसगढ़यहाँ क्लिक करे
दिल्लीयहाँ क्लिक करे
गुजरातयहाँ क्लिक करे
हरियाणायहाँ क्लिक करे
हिमाचल प्रदेशयहाँ क्लिक करे
जम्मू कश्मीरयहाँ क्लिक करे
झारखण्डयहाँ क्लिक करे
कर्नाटकयहाँ क्लिक करे
केरलायहाँ क्लिक करे
मध्य प्रदेशयहाँ क्लिक करे
महाराष्ट्रयहाँ क्लिक करे
ओडिशायहाँ क्लिक करे
पंजाबयहाँ क्लिक करे
राजस्थानयहाँ क्लिक करे
तमिलनाडुयहाँ क्लिक करे
उत्तर प्रदेशयहाँ क्लिक करे
उत्तराखंडयहाँ क्लिक करे
वेस्ट बंगालयहाँ क्लिक करे

Leave a Comment